विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 22 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 22 सितंबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 22 सितम्बर

फसल बीमा की क्लेम राशि से वंचित किसानों द्वारा राष्ट्रीय राज्य मार्ग पर चक्काजाम कर अपना विरोध प्रदर्शन किया।

विदिशाः- आज विदिशा तहसील के विभिन्न ग्रामों के फसल बीमा 2019 की क्षतिपूर्ति राशि से वंचित सैकेडो किसानों ने धतूरिया चैराहे पर राष्ट्रीय राज्य मार्ग विदिशा सागर जबलपुर मार्ग पर एकत्रित होकर चक्काजाम कर धरना प्रदर्शन किया किसानों की मांग थी कि विदिशा तहसील के ग्राम रूसल्ला, कराखेड़ी, मदनखेड़ी, धारूखेड़ी, डाबर, चिड़ौरिया, खाईखेड़ा, मिर्जापुर, पाझ, कुआखेड़ी, सन, भैरोखेड़ी, पड़रात, धतूरिया, पीपरहुठा, अबेला, तिलक, भदारबड़ा गाॅव, हिरनई, खरी, काफ, मुडरा, ठर्र, सहित अनेक गाॅव के किसान इस विरोध प्रदर्शन चक्काजाम कार्यक्रम में उपस्थित रहे । मौके पर उपसंचालक कृषि विदिशा ने लिखित में किसानों को आश्वस्त किया कि हमने फसल बीमा करने वाली कम्पनियों से चर्चा की उनके द्वारा कहाॅ गया कि अन्य पटवारी हल्को की बीमा क्लेम राशि का निर्धारण कार्य अभी जारी है प्रावधान अनुसार शेष अन्य पटवारी हल्को में भी पात्रता अनुसार फसल बीमा की क्लेम राशि प्रदाये की जायेगी। इसके बाद ही किसानों द्वारा अपना आन्दोलन स्थागित किया इस अवसर पर प्रमुख रूप से उपस्थित रहने वालों में क्षेत्र के कृषक डाॅ. राजेन्द्र सिंह दांगी, नरेन्द्र रघुवंशी, सुनील रघुवंशी, नन्दकिशोर शर्मा, दीवान किरार, तोरन सिंह सरपंच, राजेश दांगी, प्रकाश दांगी, महेन्द्र सिंह, देवेन्द्र राठौर, पोपसिंह, कैलाश सिंह, राकेश सिंह सरपंच, अवतारसिंह, रामबाबू सिंह, देवेन्द्र सिंह, नरेन्द्र सिंह, राकेश ंिसह, आकाश ंिसह, शक्तिसिंह सरपंच, कुलदीप मीणा, विनय मीणा, मनोज जैन, चंन्द्रभान सिंह राजपूत, कैलाश यादव, बृजेश ंिसह जितेन्द्र सिंह वीरेन्द्रसिंह दांगी, शुभम, वीरसिंह बलवीर सिंह सुरेन्द्र सिंह सहित बड़ी सख्या में क्षेत्र के कृषकगण उपस्थित रहे। उन्होने कहाॅ कि यादि हमारी मांग नही मानी गई तो हम फिर एक बार आन्दोलन को बाध्य रहेगे इसकी नैतिक जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

विदिशा जिले के 171 पटवारी हल्कों में फसल बीमा की राशि सं वंचित कृषकों को राशि का भुगतान एवं बीमा योजना की विसंगतियों को यथाशीघ्र दूर किया जाये-शशांक भार्गव़  

विदिशाः- विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने भारत के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी एवं कृषि मंत्री भारत सरकार श्री नरेन्द्र सिंह तोमर एवं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवजराज सिंह चैहान जी को पत्र लिखकर मांग की है कि विदिशा जिले में कुल 587 पटवारी हल्कों में से 416 पटवारी हल्कों को ही वर्ष 2019-20 की बीमा राशि का भुगतान किया है। फसल बीमा योजना की विसंगतिपूर्ण नीति के चलते 171 पटवारी हल्कों के किसान फसल बीमा की राशि पाने से वंचित रहे। उन्होंने कहा कि अधिकारियों एवं अन्य माध्यमों से चर्चा करने पर यह जानकारी प्राप्त हुई कि बीमा कंपनियाॅ किसी भी किसान को क्षतिपूर्ति राशि देने के लिये 5 वर्ष की क्षति को आधार मानकर उसके ऐवरेज से क्लेम राशि का भुगतान करती है जबकि हमारा किसान प्रतिवर्ष प्रीमियम की राशि देता है तो उसका अधिकार है कि उसको उस वर्ष हुई फसल की क्षति का क्लेम अनिवार्य रूप से मिलना चाहिए। इस प्रकार 5 वर्ष की वाध्यता अनुचित एवं औचित्यहीन है, इससे किसानों को काफी अधिक नुकसान हुआ है। भार्गव ने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय पिछले वर्ष कलेक्टर के माध्यम से सम्पूर्ण जिले में 75 प्रतिशत से अधिक फसल को हुई क्षति के संबंध में अधिसूचना जारी करवाकर फसल कटने के पहले ही रिपोर्ट सौंप दी गई थी, फिर भी जिले के 171 पटवारी हल्कों में किसानों को बीमा की क्लेम राशि नहीं मिलना असंतोष एवं आश्चर्य की बात है। शासन की नीति और नियत दोनो ही विसंगतिपूर्ण है किसानों के साथ इस प्रकार का अन्याय अनुचित है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षाे से किसानों को कर्ज से उवारने के नाम पर सिर्फ दिखावा किया जा रहा है। वास्तव में किसान की नियती बन गई कि कर्ज में जीना है और कर्ज में ही मरना है। उन्होंने कहा कि जिन पटवारी हल्कों में बीमा की क्लेम राशि भुगतान किया भी गया है वह भी असमानतापूर्ण, भेदभावपूर्ण है, उसकी विसंगति का उदाहरण है कि किसी किसान को 5 रूपये बीघा तो किसी को 10 रूपये बीघा तक का एवं किसी को 2000 रूपये तक का भुगतान किया जाना इस बात का स्पष्ट उदाहरण है। उन्होंने प्रधानमंत्री, कृषि मंत्री भारत सरकार एवं मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश शासन से फसल बीमा की विसंगतिपूर्ण नीतियों को संशोधित किये जाने एवं विदिशा जिले के फसल बीमा क्लेम राशि से वंचित 171 पटवारी हल्कों के कृषकों को क्लेम राशि यथाशीघ्र दिये जाने की मांग करते हुये कहा कि केन्द्र सरकार एवं प्रदेश सरकार ने कृषकों के हित में शीघ्र निर्णय नहींे लिया तो हम किसानों के हित में सडकों पर उतरकर आंदोलन करने को वाध्य होंगे जिसकी नैतिक जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।    

सबको साख-सबका विकास का आयोजन
सरकार किसी को निराश नही होने देंगी-मंत्री सुश्री मीना सिंह  कृषकों को केसीसी प्रदाय 
vidisha news
गरीब कल्याण सप्ताह के तहत आज मंगलवार को जिले में ‘‘सबको साख-सबका विकास’’ का आयोजन किया गया। जिसमें सहकारी साख समितियों के सदस्य कृषको को फसल ऋण वितरण, प्रधानमंत्री सम्माननिधि, पशुपालको एवं मत्स्य पालन हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड प्रदाय किए गए है। जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम स्थल पर  मुख्यमंत्री जी के उद्बोधन का लाइव प्रसारण देखने, सुनने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए थे। कार्यक्रम में मौजूद मंत्री सुश्री मीना सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधियों, हितग्राहियों एवं गणमान्य नागरिकों ने मुख्यमंत्री जी के द्वारा हितग्राहियों से किए गए संवाद, लघु फिल्म तथा मुख्यमंत्री जी के उद्बोधन का लाइव प्रसारण देखा है। प्रदेश की आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विभाग की मंत्री सुश्री मीना सिंह ने जिला मुख्यालय पर एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में आयोजित कार्यक्रम का शुभांरम मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया। मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि सरकार सभी वर्गो का ध्यान रख रही है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान किसी को भी निराश नही होने देंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी द्वारा हर रोज नवाचार कर वर्ग विशेष के हितग्राहियों को लाभांवित कराया जा रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के पूर्व कार्यकाल में किए गए जनकल्याण कार्यो व योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मध्यप्रदेश आत्म निर्भरता की ओर अग्रसर हो रहा है। इस कार्य में सबसे पहले किसान बंधुओं की आमदनी दुगनी हो को मूर्तरूप देने के कार्य सम्पादित हुए है। खेती के क्षेत्र में नवाचार की ख्याति से मध्यप्रदेश जाना जाने लगा है। प्रदेश में कोरोना अवधि के दौरान भी रिकार्ड तोड़ समर्थन मूल्य पर गेंहू की खरीदी कर सहकारी साख समितियों के उत्कृष्ट कार्यो को दर्शाता है। मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के जन्म दिवस को सेवा सप्ताह के रूप में आयोजित कर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के गरीब सर्वहारा वर्ग को विकास की कड़ी में जोड़ते हुए एक श्रृंखला को मूर्तरूप दिया है। हर रोज किसी ना किसी विभाग की योजनाओं का लाभ प्रदेश के संबंधित पात्रताधारियों को दिलाया जा रहा है। मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि गांव-गांव में घर-घर तक पीने का पानी पहुंचे इसके लिए भारत जल विकास निगम के द्वारा प्रदेश में किए जा रहे कार्यो को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि अब गांव की महिलाएं पीने का पानी भरने के लिए घर से बाहर जाने से मुक्त होती जा रही है। अब घर में ही नल चालू करों और पानी पाओ को मूर्तरूप दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी द्वारा गरीबो के कल्याण हेतु जो भी योजनाएं बनाई जा रही है उनका प्रचार-प्रसार अब गांव-गांव तक मिनटो में हो रहा है। प्रचार के इस नए संसाधन तंत्र का अधिक से अधिक उपयोग कर हम संबंधितों तक योजना का लाभ लेने के बाद आए परिवर्तन पर भी फोकस करें। मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि कोई भी किसान केसीसी से वंचित ना हो के पुख्ता प्रबंध प्रदेश में सुनिश्चित किए गए है। अब पहली बार पशुपालन व मत्स्यपालन कार्यो को मूर्तरूप देने वालो को केसीसी जारी हो रहे है। इसके पीछे सरकार की मंशा है कि राशि के अभाव में कोई भी हितग्राही स्वरोजगार के क्षेत्र में पीछे ना रह पाए। उनकी आत्मनिर्भरता और आर्थिक सबलता से ही समाज आत्म निर्भर होगा और समाजो के आत्म निर्भर होने से प्रदेश आत्म निर्भर होगा। यही कड़ी पूरे देश को आत्म निर्भरता की ओर अग्रसर कर रही है। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान सदैव किसानो की आमदनी दुगनी हो के लिए चिन्तित रहते है और इस ओर नवाचारो के माध्यमों से पैदावार अधिक से अधिक हो की ओर किसानो को सहुलियते मुहैया करा रहे है। खेती के साथ-साथ अन्य उत्पादको जैसे दुग्ध व मत्स्यपालन को बढावा देने के लिए किए गए नवाचारो से संबंधित लाभांवित हो रहे है। उन्हें किसानो की तर्ज पर बैंको से केसीसी जारी हो रहे है। ऋण सुविधा मिलने से निश्चित ही दुग्ध उत्पादन सहित अन्य क्षेत्रों में वृद्वि होने की पूरी संभावना है। अब किसानो की आर्थिक समृद्वि के लिए अन्य संसाधनो की सुविधाएं पहले से अधिक सुगमता से मिल रही है। विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि सहकारिता का सीधा संबंध समय पर खाद, बीज की उपलब्धता को सुनिश्चित कराता है। प्रदेश के किसानो को बिना ब्याज के ऋण मुहैया कराने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य है। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा के अनुसार छोटे लघु सीमांत कृषकों को खेती के दौरान किसी भी प्रकार की तकलीफ ना हो को ध्यान में रखते हुए योजनाओं का संचालन किया जा रहा है जिसका किसान भाई भरपूर दोहन कर आत्म निर्भरता की ओर अग्रसर हो रहे है। जिले के किसानो की आमदनी दुगनी हो इसके लिए तैयार किए गए रोडमेप कार्ययोजना के अनुसार किसानो के साथ-साथ पशुपालक एवं मत्स्यपालन हितग्राहियों को सहकारिता के माध्यम से केसीसी वितरण कर शासकीय सहायता से सबको साख-सबका विकास हो को मूर्तरूप दिया जा रहा है। कार्यक्रम को भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ राकेश जादौन ने भी सम्बोधित किया।

हितग्राही लाभांवित हुए 
मंत्री सुश्री मीना सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधियों के द्वारा जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में प्रतीक स्वरूप प्रधानमंत्री सम्माननिधि योजना के चार हितग्राहियो को तथा पशुपालन योजना के अंतर्गत छह हितग्राहियों को एवं मत्स्यपालन योजनातंर्गत एक हितग्राही को  केसीसी वितरित की गई। 

प्रतिवेदन
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह ने कार्यक्रम के शुभांरभ में सबको साख-सबका विकास के तहत जिले में शासकीय सहायता प्रदाय के संबंध में किए गए कार्यो पर आधारित प्रतिवेदन का वाचन किया। उन्होंने बताया कि विदिशा जिले में लाभांवित होने वाले नवीन हितग्राहियों में पीएम किसान सम्माननिधि के लाभांवित 7031 कृषको के केसीसी में राशि 63.15 करोड़ की साख सीमा स्वीकृत, उक्त स्वीकृत साख सीमा से 7031 कृषकों को राशि 35.99 करोड़ का फसल ऋण वितरण किया जा रहा है। दुग्ध सहकारी समितियों के अतिरिक्त अन्य पशुपालकों की संख्या 1033 को राशि 185.22 लाख के क्रेडिट कार्ड वितरित किए जा रहे है। दुग्ध सहकारी समितियों से संबंद्ध 175 पशुपालको को राशि 36.99 लाख के क्रेडिट कार्डो का वितरण इसके अलावा मत्स्य सहकारी समितियों के 16 सदस्यों को मछली पालन हेतु केसीसी जीरो ब्याज दर पर जारी किए गए है। उन्होंने फसल ऋण की वर्षवार वितरण हेतु जारी की गई राशि पर भी प्रकाश डाला है। एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में सम्पन्न हुए उक्त कार्यक्रम में कलेक्टर डॉ पंकज जैन, पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा के अलावा श्री संदीप सिंह डोंगर, श्री बाबू लाल ताम्रकार, श्री श्यामसुन्दर शर्मा, श्री राजेश जैन, श्री राकेश शर्मा, श्री सुरेन्द्र सिंह चौहान तथा सहकारी संस्थाएं के उप पंजीयक श्री केके द्विवेदी समेत विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी, मीडियाकर्मी, हितग्राही एवं गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

आपका संबल, आपकी सरकार का आयोजन आज 

गरीब कल्याण सप्ताह के तहत आज बुधवार 23 सितम्बर को जिले में ‘‘आपका संबल, आपकी सरकार’’ कार्यक्रम का आयोजन निकाय एवं जनपदों पर एक साथ किया गया है। प्रदेशयापी कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ‘‘मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना’’ गरीबो का सुरक्षा कवच के हितग्राहियों को सिंगल क्लिक के माध्यम से राशि वितरित कर हितग्राहियों से चर्चा करेंगे। विदिशा जिले की नगरीय निकायो एवं जनपदों में आयोजित होने वाले कार्यक्रमो की जानकारी देते हुए जिला श्रम पदाधिकारी श्री सुधीश कमल ने बताया कि विदिशा जिले के 103 हितग्राहियों के बैंक खातो में दो करोड़ 31 लाख रूपए की राशि जमा की जाएगी। उक्त राशि 23 मई 2020 से 20 अगस्त 2020 तक की अवधि की है।

ग्रामीण स्ट्रीट वेण्डर को ऋण वितरण कार्यक्रम गुरूवार को

गरीब कल्याण सप्ताह के तहत गुरूवार को जिले में ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत ग्रामीण स्ट्रीट वेण्डर्सो को मुख्यमंत्री जी द्वारा ऋण वितरण सिंगल क्लिक से किया जाएगा। ग्रामीण आजीविका मिशन के जिला प्रबंधक श्री देवेन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि 24 सितम्बर की पूर्वान्ह 11.30 बजे से आयोजित कार्यक्रम में ग्रामीण स्ट्रीट वेण्डर ऋण वितरण कार्यक्रम के माध्यम से दस-दस हजार रूपए का ब्याज ऋण हितग्राहियों के खातो में जमा किया जाएगा। प्रधानमंत्री जी के जन्म दिवस अवसर पर गरीब कल्याण सप्ताह के तहत आयोजित ग्रामीण स्ट्रीट वेण्डर कार्यक्रम का आयोजन जिले के सभी जनपद मुख्यालयों पर एक साथ आयोजित किया जाएगा।

कलेक्टर द्वारा तैयारियों का जायजा

vidisha news
अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय में चिकित्सा सुविधा एक अक्टूबर से शुरू कराए जाने के संबंध में भोपाल संभागायुक्त द्वारा दिए गए निर्देशो के परिपालन में अब तक क्रियान्वित व्यवस्थाओं का मौके पर जायजा कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा मंगलवार की दोपहर में लिया गया है। मेडिकल कॉॅलेज में मेटरनिटि वार्ड एवं शिशु रोग विभाग द्वारा की गई तैयारियों का कलेक्टर डॉ जैन एवं पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा ने संयुक्त रूप से भ्रमण कर जायजा लिया है। इस दौरान मेडीकल कॉलेज के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर एवं एमडी डॉ प्रशांत बडगवालकर ने अब तक की गई तैयारियों के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि संभागायुक्त के निर्देशो के अनुपालन में मेडीकल कॉलेज में चिकित्सीय सुविधाएं एक अक्टूबर से शुरू कर जिला चिकित्सालय के अतिरिक्त भार को कम किया जाएगा। कलेक्टर डॉ जैन ने मेडिकल कॉलेज में संचालित जिला कोविड कमाण्ड और कंट्रोल सेन्टर में पहुंचकर क्रियान्वित व्यवस्थाओ का जायजा लिया। होम आइसोलेटेट मरीजो से वीडियो कॉलिंग पर सम्पर्क करने हेतु किए गए प्रबंधो की उनके द्वारा क्रास मानिटरिंग कर परीक्षण किया गया है।

सफलता की कहानी : केसीसी व पीएम सम्माननिधि मिलने से खुश है कृषक विश्वनाथ राव

खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा किसानो को विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभांवित किया जा रहा है इसी कड़ी के तहत आज सबको साख-सबका विकास कार्यक्रम में मंत्री सुश्री मीना सिंह ने प्रधानमंत्री सम्माननिधि के केसीसी धारको को पत्र प्रदाय किए है। विदिशा विकासखण्ड के ग्राम छीरखेडा के प्रगतिशील कृषक विश्वनाथ राव पिता रामचरण राव को भी आज प्रधानमंत्री सम्माननिधि योजना के तहत छह हजार रूपए और किसान क्रेडिट कार्ड सहित कुल एक लाख 54 हजार साख का केसीसी मिलने से कृषक के चेहरे पर प्रसन्नता झलक रही थी। लाभांवित कृषक विश्वनाथ राव ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना तथा केसीसी और प्रधानमंत्री किसान सम्माननिधि योजना की राशि मिलने से क्षतिग्रस्त हुई सोयाबीन फसल से उबरने तथा रबी फसल के लिए समय पर खाद, बीज सहित अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए साहूकारो से उधार लेने की अब जरूरत नही पडेगी। सरकार की मदद से में आगामी फसलों को सुगमता से ले सकूंगा।

लालिमा दिवस पर स्वच्छता एवं पोषण की जानकारी दी गई

vidisha news
राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत चौथे मंगलवार को किशोरी बालिकाओ के लिए आयोजित होने वाले कार्यक्रम तहत लालिमा दिवस का आयोजन किया गया है जिसमें एकीकृत बाल विकास सेवाएं विदिशा शहरी क्षेत्र के परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह ने आयोजन का जायजा लिया। उन्होंने किशोरी बालिकाओं के लिए स्वच्छता एवं पोषण के महत्वता से अवगत कराते हुए ऐसी बालिकाएं जिनमें हीमोग्लोबिन की कमी है उन्हें पोषक तत्वयुक्त भोजन के साथ-साथ आयरन टेबलेट्स अनिवार्यतः उपलब्ध कराई जाए साथ ही सेवन करने से होने वालो फायदो से अवगत कराया गया। विदिशा नगर के हीरापुरा में स्थित आंगनबाडी केन्द्र क्रमांक 35/77 में आज आयोजित किए गए लालिमा दिवस कार्यक्रम में शामिल बालिकाओं और महिलाओं के लिए स्वच्छता और पोषण आहार के संबंध में जानकारी दी गई। वही थाली में किन-किन पोषक तत्वों का होना जरूरी है कि थाली सजाओं प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह ने इस प्रकार के आयोजन की महत्वता से सभी को अवगत कराने तथा किन ही कारणो से यहां शामिल नही हो पाई बालिकाओं एवं महिलाओं को उनकी सहयोगियों द्वारा जानकारी दी जाए। यदि किसी बालिका अथवा महिला में खून की कमी है तो चिकित्सक से संपर्क कर उन्हें दी जाने वाली दवाओं का सेवन भी साथ-साथ कराया जाए। कार्यक्रम को पर्यवेक्षिका प्रज्ञा पटेल ने भी सम्बोधित किया। आंगनबाडी केन्द्र पर कार्यकर्ता श्रीमती दुर्गेश यादव के अलावा समीपवर्ती क्षेत्रों की महिलाएं एवं किशोरी बालिकाएं मौजूद थी। 

कोरोना से बचाव के उपाय
कार्यक्रम के दौरान कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बचाव संसाधन की जानकारी दी गई। जिसमें मास्क पहनने, सोशल डिस्टेन्सिग का पालन करने तथा समय अंतराल पर हाथो को साबुन से धोने अथवा सेनेटाइजर करने से अवगत कराया गया है। उपस्थित महिलाओं एवं किशोरी बालिकाओं का इस बात की भी जानकारी दी गई कि यदि किसी को सर्दी, जुकाम, बुखार है तो फीवर क्लीनिक में जांच अवश्य कराएं। चिकित्सक द्वारा यदि कोरोना को सेम्पल लिया जाता है तो देने में ना हिचकें।

कोई टिप्पणी नहीं: