रांची : दवा उपकरण के लिए मिले अनुदान से खरीदी जाएगी स्वास्थ्य मंत्री के लिए गाड़ी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 13 अक्तूबर 2020

रांची : दवा उपकरण के लिए मिले अनुदान से खरीदी जाएगी स्वास्थ्य मंत्री के लिए गाड़ी

rims-ranchi
विजय सिंह ,रांची ,आर्यावर्त डेस्क ,13 अक्टूबर, झारखंड के रांची में स्थित रांची इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस ( रिम्स ) में सरकार से दवा और उपकरण के लिए मिले अनुदान के पैसों से  स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के लिए लक्ज़री गाड़ी खरीदने की तैयारी की जा रही है।  इस आशय का एक प्रस्ताव शासी परिषद के लिए तैयार दस्तावेज में शामिल किया गया है, जबकि मंत्री ने एनएचएम से भी अतिरिक्त गाड़ी ले रखी है. यह पहला मौका है जब सरकार के अनुदान पर चलने वाली कोई स्वतंत्र इकाई किसी मंत्री के लिए गाड़ी खरीदने की तैयारी में है। ज्ञातव्य है कि राज्य के मंत्रियों के लिए गाड़ी खरीदने और उन्हें उपलब्ध कराने का अधिकार मंत्रिमंडल सचिवालय समन्वय विभाग के पास है और यह केंद्रीय कृत होता है।  सरकार का कोई भी विभाग अलग से  मंत्री के लिए वाहन नहीं खरीद सकता है। लेकिन  रिम्स में सरकार से मिली अनुदान की राशि का विचलन करते हुए मंत्री के लिए गाड़ी खरीदने की अनुमति शासी परिषद से लेने की तैयारी की गयी है।हालाँकि  मंत्री के लिए गाड़ी खरीदने के प्रस्ताव मेें इसका उल्लेख नहीं किया है कि किस मॉडल व कंपनी की  गाड़ी खरीदी जायेगी। गाड़ी खरीदी ,प्रोन्नति , शुल्क निर्धारण समेत 35 प्रस्ताव के अतिरिक्त मंत्री बनना गुप्ता द्वारा प्रतिधारण शुल्क पर  नियुक्त किये गये चार अधिवक्ताओं पर शासी परिषद की सहमति लेने का प्रस्ताव भी शामिल है।  गाड़ी खरीद से संबंधित प्रस्ताव में ब्लड मोबाइल एंड ट्रांसपोर्टेशन वैन के अलावा स्वास्थ्य केंद्र डोरंडा के लिए एक मिनी बस और स्वास्थ्य मंत्री के लिए गाड़ी खरीदने के मामले भी शामिल किये गयेे हैं  जिस  पर शासी परिषद से मंजूरी का इंतजार है। वैसे झारखण्ड में कुछ भी संभव है।जनता भी इन कारनामों से अभ्यस्त हो चुकी है।विगत दिनों कोरोना संक्रमण संकट काल में ही झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के लिए बी एम डब्लू कार खरीदी गयी थी । स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के लिए प्रस्तावित वाहन खरीद पर प्रतिक्रिया देते हुए बहरागोड़ा के पूर्व विधायक व झारखण्ड भाजपा प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी ने टिपण्णी की कि "ऐसी दीवानगी मैंने देखी नहीं कहीं ,इसलिए तेरा नाम सर रख दिया।  यही है कांग्रेस का काला जादू। पहले मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी को कोरोना काल में बी एम डब्लू की सवारी करा दी ,अब मरीजों को बेड ,वेंटीलेटर ,पी पी ई किट की कमी की बात पर यह सब ,वाकई हिम्मत है। " इस मामले में मंत्री की प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी।

कोई टिप्पणी नहीं: