बिहार में लोकतंत्र की रक्षा हो : पुष्पम प्रिया चौधरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 17 अक्तूबर 2020

बिहार में लोकतंत्र की रक्षा हो : पुष्पम प्रिया चौधरी

प्लूरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी ने ट्वीट कर महामहिम राष्ट्रपति जी से अनुरोध है कि बिहार में लोकतंत्र की रक्षा करें और चुनाव क्रिमिनल अनैतिक राजनीतिज्ञों के बजाय 'राष्ट्रपति शासन' में कराएँ... 

pushapam-demand-president-rule-in-bihar
पटना। जो अनुमान लगाया जा रहा था,वह सामने आ ही गया। हां बिहार की राजनीति में सीधे विज्ञापन के जरिए खुद को सीएम कैंडिडेट बताने वाली पुष्पम प्रिया चौधरी के निर्दलीय चुनाव लड़ेगीं।हालांकि उन्होंने पटना के हॉटेस्ट सीट बांकीपुर से खुद को द प्लूरल्स पार्टी का उम्मीदवार बताते हुए नामांकन किया था। पुष्पम प्रिया इस पार्टी की अध्यक्ष भी हैं, लेकिन पटना के चुनाव अधिकारियों ने जब उनकी पार्टी का रजिस्ट्रेशन का ब्यौरा ढ़ूंढ़ा तो वह नहीं मिला। पुष्पम प्रिया की पार्टी का रजिस्ट्रेशन आॅनलाइन उपलब्ध नहीं होने के आधार पर जिला निर्वाचन कार्यालय ने उन्हें निर्दलीय घोषित कर दिया है। वैसे पुष्पम प्रिया ने अपने एफिडेविट में अपनी पार्टी का नाम ‘द प्लूरल्स पार्टी’ भरा है। उनकी पार्टी रजिस्टर्ड तो है लेकिन उसे फिलहाल चुनाव आयोग की मान्यता प्राप्त नहीं हुई है। लिहाजा उनका चुनाव चिह्न भी तय नहीं है। पुष्पम प्रिया ने अपने लिए शतरंज बोर्ड, लूडो या कैरम बोर्ड में से कोई एक चुनाव चिन्ह की मांग की है।बता दें बिहार के दो विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ रही पुष्पम प्रिया चौधरी ने चुनाव आयोग के समक्ष जो शपथ पत्र दाखिल किया है, उसमें उन्होंने कहा है कि उनके पास सिर्फ 8 हजार रुपए कैश हैं। सनद रहे कि पटना की हॉटेस्ट सीट बांकीपुर पर शनिवार को हंगामा मच गया। ‘द प्लूरल्स पार्टी’ की अध्यक्ष और खुद को मुख्यमंत्री की दावेदार बताने वाली पुष्पम प्रिया की पार्टी का रजिस्ट्रेशन आॅनलाइन उपलब्ध नहीं होने के आधार पर जिला निर्वाचन कार्यालय ने उन्हें निर्दलीय घोषित कर दिया है ।इस बीच प्लूरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी ने ट्वीट कर महामहिम राष्ट्रपति जी से अनुरोध है कि बिहार में लोकतंत्र की रक्षा करें और चुनाव क्रिमिनल अनैतिक राजनीतिज्ञों के बजाय 'राष्ट्रपति शासन' में कराएँ। 

कोई टिप्पणी नहीं: