दरभंगा : दो महीने से महिला थाना में दर्ज मुक़दमे में कार्रवाई नहीं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 30 नवंबर 2020

दरभंगा : दो महीने से महिला थाना में दर्ज मुक़दमे में कार्रवाई नहीं

बेलही व आधारपुर के घटना को लें इंसाफ मंच ने वरीय पुलिस अधीक्षक के समक्ष किया प्रदर्शन/धरना..

not-fir-lodge-bihar
लहेरियासराय। दो महीने से महिला थाना में दर्ज 57/20 मुक़दमे में कार्रवाई नहीं होने पर इंसाफ मंच खफा है।इंसाफ मंच ने जघन्य महिला उत्पीड़न के सिलसिले में कार्रवाई  करने में विलम्ब करने वाली थानाध्यक्ष को निलंबित करने की मांग है।  दरभंगा को शर्मसार करने वाली जघन्य महिला उत्पीड़न घनश्यामपुर थाना के अधारपुर के अंतर्गत घटित है।इसके मुख्य अभियुक्त छुट्टे साढ़ की तरह विचरण कर रहा है। इस मुख्य अभियुक्त की गिरफ्तारी करने व अन्य मांगो को लेकर इंसाफ मंच व अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन(ऐपवा) के बैनर तले दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक के समक्ष प्रदर्शन/धरना का आयोजन किया गया।  प्रदर्शनकारियों ने सदर प्रखंड के बेलही में नाबालिग लड़की के साथ हुये दुष्कर्म के अभियुक्तों की गिरफ्तारी, पीड़िता व उसके परिजनों को धमकाने वाले सरपंच मो. आफताब, मास्टर पप्पू और निजामुद्दीन पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग करते रहे।  इस धरना-प्रदर्शन का नेतृत्व इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद, मक़सूद आलम"पप्पू खां, पूर्व वार्ड पार्षद नफिसुल हक "रिंकू, मो जमशेद, ऐपवा जिला सचिव शनिचरी देवी, रसीदा खातून आदि ने किया। धरना में पीड़िता व उसकी मां भी धरना पर बैठी। धरनास्थल पर मक़सूद आलम"पप्पू खां की अध्यक्षता में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए भाकपा(माले) के राज्य कमिटी सदस्य अभिषेक कुमार ने कहा कि मोदी-नीतीश सरकार "बेटी पढ़ाओ, बेटी बढाओ" का ढोंग करती हैं और दूसरी तरफ बलात्कारियों को सरंक्षण देती हैं।नीतीश सरकार की पुलिस बलात्कारियों बचाने में  लगी हैं। बेलही में नाबालिग लड़की के साथ हुए दुष्कर्म के मुकदमा हुए दो महीने से ऊपर हो जाने के बाद भी अभी तक अभियुक्त की गिरफ्तारी नहीं होना पुलिस की भूमिका को कटघरे में खड़ा करता हैं। वरीय पुलिस अधीक्षक को जवाब देना होगा।  सभा को सम्बोधित करते हुए इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद ने कहा कि दरभंगा जिला प्रशासन अविलम्ब बेलही- आधारपुर के अभियुक्तों को गिरफ्तार करें नहीं तो आंदोलन तेज होगा। इंसाफ मंच के मक़सूद आलम"पप्पू खां ने कहा कि  पीड़ितों को धमकाने वाले सरपंच मो आफताब, मास्टर पप्पू व मो निजामुद्दीन पर कानूनी कार्रवाई किया जाय। पूर्व वार्ड पार्षद नफिसुल हक"रिंकू ने धरना को सम्बोधित करते हुए कहा कि दुष्कर्म पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लड़ाई में अंतिम मुकाम तक साथ देंगे। ऐपवा जिला सचिव शनिचरी देवी व रसीदा खातून ने कहा कि पीड़िता के अभियुक्तों को अगर जल्द गिरफ्तारी नहीं हुआ तो महिलाओं को बेलही  चलों का आह्वान करेंगे और बेलही में ही महिला अदालत लगाने को बाध्य होंगे।  सभा को इंसाफ मंच के मनोज पासवान, राजा पासवान, मो इम्तियाज, आलिया फातमा, फिजा खां, आश मोहम्मद, मोतिउर रहमान, मो0 शकील,मो0 कुर्बान, भाकपा(माले) के जिला स्थाई समिति सदस्य अशोक पासवान, शिवन यादव, एक्टू के उमेश प्रसाद साह, विनोद सिंह, नीरस दास, ऐपवा मधु सिन्हा, प्रमिला देवी, रीता देवी आदि ने भी संबोधित किया। धरना के माध्यम से 5 सूत्री मांग पत्र वरीय पुलिस अधीक्षक को सौंपा गया।

कोई टिप्पणी नहीं: