झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 19 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 19 नवंबर 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 19 नवम्बर

स्वर्गीय श्री दिलीपसिंहजी भूरिया की प्रतिमा स्थल पर किये जा रहे अतिक्रमण को हटाने,बाउण्ड्रीवाल बनाने एवं नियमित साफसफाई की व्यवस्था को लेकर कलेक्टर को सौपा ज्ञापन ।

 

jhabua news
झाबुआ । आदिवासी हितरक्षक समिति झाबुआ द्वारा बुधवार को आदिवासियो के मसीहा स्वर्गीय श्री दिलीपसिंह भूरिया की मेघनगर नाका स्थित प्रतिमा के इर्द गिर्द किये जा रहे अतिक्रमण को हटाने एवे बाउण्डरीवाल बनाने के साथ ही नियमित साफ सफाई कराने को लेकर कलेक्टर झाबुआ को एक ज्ञापन सोपा गया  ज्ञापन के अनुसार झाबुआ जिले के छोटे से ग्राम माछलिया मे जन्म लेकर देश की राष्ट्रीय राजनीति मे अपने पराक्रम से आदिवासी समाज की दशा एवं दिशा सुधारने मे अहम भूमिका अदा की है। और इसी कारण उनके सम्मान मे अवसान के पश्चात उनकी आदमकद प्रतिमा जिला मुख्यालय झाबुआ के मेघनगर नाके पर स्थापित की गई है। इस प्रतिमा स्थल को विकसित करने के लिये प्रतिमा अनावरण के समय तत्कालीन नगरीय प्रशासन मंत्री लालसिंह आर्य ने एक करोड रूपये देने की घोषणा की गई थी किन्तु आचार संहिता लगने से स्थानीय प्रशासन द्वारा इस संबध मे ठोस कार्यवाही नही की गई और विकास का कार्य आज दिनांक तक नही हुआ है। ज्ञापन के अनुसार दिलीपसिंह भूरिया आदिवासी समाज के सर्वमान्य राष्ट्रीय नेता रहे है। उनके द्वारा अपने संसदीय कार्यकाल मे आदिवासीयो के हित संरक्षण के लिये बहुतेरे कानून बनवाये गये है, जिससे देश के आदिवासियो को सीधे लाभ मिला है। सहकारिता के माध्यम से आदिवासियो को शोषण से मुक्ति दिलवाई तो पेसा कानून बनाकर सत्ता मे सीधे-सीधे आदिवासियो की भागीदारी और उनके अधिकार संरक्षित किये गये है।उन्होने झाबुआ रतलाम संसदीय क्षैत्र के विकास के लिये उनके द्वारा ठोस कार्ययोजना बनाकर विभिन्न विकास और रोजगार मुलक कार्य प्रारम्भ करवाये गये है झाबुआ जिला उस समय सूखे के दंश से ग्रस्त था तब माही सिंचाई परियोजना का निर्माण करवाया गया काम के बदले अनाज योजना घर-घर  विद्युत कनेक्शन देना हो या गांव-गाव तक शिक्षा के प्रचार प्रसार के लिये नये स्कूल खोलने व भवन सहित अन्य संसाधन निर्मित कराये गये सडको का विस्तार करवाया गया तो झाबुआ-दाहोद रेलवे लाईन की स्वीकृति मेघनगर मे सुपर फास्ट ट्रेनो का स्टापे सहित जिले मे अनेक विकास के कार्य कराने वाले श्री दिलीपसिंहजी भूरिया के अनुयायी देश भर से झाबुआ आकर उनकी प्रतिमा के दर्शन कर माल्यापर्ण करते है। परन्तु अत्यंत दुःख होता है कि आदिवासी समाज एवं जिले के लिये अपना सम्पूर्ण जीवन समर्पित करने वाले आदिवासियो के मसीहा की प्रतिमा तो हमने स्थापित कर दी किन्तु उसकी देखरेख के अभाव मे प्रतिमा स्थल की दुर्दशा हो रही है चारो और की बाउण्ड्रीवाल को तोडकर अतिक्रमण किया जा रहा है गंदगी की भरभार है वही वाहनो के धुये से प्रतीमा पर धूल जम रही है जिसे देखकर हम सभी का मन अपार वेदना से व्यथित हो जाता है। ज्ञापन के माध्यम से माग की गई है कि आदिवासी समाज के मसीहा स्वर्गीय श्री दिलीपसिंहजी भूरिया की प्रतिमा की नियमित साफ-सफाई की जाने और प्रतिमा स्थल पर किये गये अतिक्रमण को तुरन्त हटाकर बाउण्ड्रीवाल का निर्माण किया जावे तथा इस सम्पूर्ण परिसर मे श्री दिलीपसिंहजी भूरिया के नाम पर गार्डन विकसित करने की कार्ययोजना बनाकर स्थल को विकसित कराने का कष्ट करे। ज्ञापन आदिवासी हितरक्षक समिति के कैलाश भूरिया, अल्केश मेडा, रमेश भाबोर, सुरभान गुण्डिया, मांगीलाल भूरिया , जोगावर डामोर एव कानजी भूरिया ने सौपा ।

दीपावली पर्व के बाद थांदला में कोरोना की दस्तक - 29 केस आये सामने

थांदला। दीपावली पर्व की धूम में थांदला व आसपास की जनता शासन के सारे नियम ध्वस्त करते दिखाई दी। नगर में चारों तरफ केवल भीड़ ही दिखाई दे रही थी जहाँ न फिजिकल डिस्टेंश था न मास्क था न ही किसी को सेनेटाइजर का उपयोग करते देखा गया। कोरोना को हल्के में लेने का खामियाजा तीन दिनों में 29 केस के रूप में सामने आया है। हालांकि वर्तमान समय मे कोविड की जाँच में भी शिथिलता दिखाई दे रही है जिसके कारण भी केस कम हुए है लेकिन एक बार फिर कम जाँच में भी 29 केस चिंता का विषय है।  थांदला में एक बार फिर नगर के सक्रिय जनप्रतिनिधी व उसके परिवार के 3 अन्य सदस्य को कोविड हुआ है। वही उनके निकट 3 अन्य को भी कोरोना हो गया है। नगर के मुख्य मार्ग एम जी रोड़ पर एक परिवार के 4 सदस्य व एक 9 वर्षीय बालक कोरोना पोजेटिव पाए गए है। उससे सटे वागडिया फलिया में 1 सफाई कर्मचारी, एक 23 वर्षीय मुस्लिम युवा भी कोरोना ग्रस्त हो गए है। ब्राम्हण मोहल्ले में जैन परिवार के 3 सदस्य, एक 36 वर्षीय बोहरा, 1 ब्राम्हण परिवार के युवा सदस्य को भी कोविड हो गया है। नगर के ही व्यस्ततम मार्ग नयापुरा में कपड़ा व्यापारी के भाई व भाभी को भी कोरोना हो गया है। थांदला के निकट ग्राम खवासा में मेहता परिवार के 3 सदस्य, नोगावा में 4 जबकि सेमलपडा, मोरझरी व सजेली में 1-1 सदस्य को कोविड हुआ है। कुल मिलाकर यदि यू कहा जाए कि कोरोना से नगर का हर वर्ग प्रभावित हुआ है तो यह कहना गलत नही होगा। शासन प्रशासन ने पूरी ढिलाई दे रखी है अब तो केवल अमिताभ की आवाज कभी कभी सुनाई देती है जो जब तक दवाई नही तब तक ढिलाई की नसीहत देते नजर आती है लेकिन उसके अलावा नगरीय प्रशासन हो जा जिला प्रशासन सभी ने कोरोना व उसकी भयावह स्थिति आने तक आराम करने की ठान रखी है।


रोटरी क्लब मेन एवं इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुंआ शक्ति द्वारा 20 नवंबर को निःषुल्क रांगोली प्रतियोगिता का होगा आयोजन, झाबुआ के 18 वार्डों में आयोजन कर प्रथम-द्वितीय पुरस्कार वितरण भी होगा

jhabua news
झाबुआ। भारतीय संस्कृति और सभ्यता को बढ़ावा देने हेतु रोटरी क्लब ‘मेन’ झाबुआ एवं इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुआ शक्ति द्वारा संयुक्त रूप से 20 नवंबर, शुक्रवार को झाबुआ शहर के समस्त 18 वार्डों मंे निःषुल्क रांगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें कोरोनाकाल में प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले समस्त प्रतिभागी घर पर ही अपनी-अपनी रांगोली बनाते हुए फोटो एवं वीडियो व्हाट्स-एप के माध्यम से भेजंेगे। पूरे आयोजन की जानकारी देते हुए रोटरी क्लब ‘मेन’ अध्यक्ष मनोज अरोरा एवं सचिव कार्तिक नीमा ने बताया कि प्रतियोगिता हेतु 18 वार्डों में प्रभारी बनाए गए है। जो रांगोली स्थल पर पहुंचकर निरीक्षण करने के साथ संबंधित प्रतिभागी उनके मोबाईल नंबर पर रांगोली का फोटो एवं बनाने समय वीडियो की क्लिपिंग सेंड कर सकेंगे। प्रत्येक वार्ड से दो प्रतिभागियों का चयन किया जाएगा। इस प्रकार कुल 18 वार्डों मंे 36 आकर्षक पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। रांगोली का चयन फोटो एवं वीडियों के साथ वार्ड प्रभारियांे द्वारा निरीक्षण कर किया जाएगा। आगामी 27 नवंबर, शुक्रवार को पुरस्कार वितरण समारोह में किया जाएगा। प्रतिभागियांे को फोटो एवं वीडियो वार्ड के प्रभारियों को 20 नवंबर को रात्रि 9 बजे से पूर्व भेजना होंगे। आयोजन में वार्ड के पार्षदों का भी सहयोग लिया जाएगा।

यह है नियम एवं शर्तें

इन्हरव्हील क्लब आॅफ शक्ति की संस्थापक डाॅ. शैलू बाबेल एवं अध्यक्ष रितू सोडानी ने बताया कि प्रतियोगियांे में कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा, यह प्रतियोगिता पूर्णतः निषुल्क रहेगी। सभी प्रतिभागियांे को रांगोली के नीचे रोटरी क्लब ‘मेन’ एवं इनरव्हील क्लब आॅफ शक्ति झाबुआ लिखना अनिवार्य होगा। उसके नीचे प्रतिभागी स्वयं का नाम एवं वार्ड क्रमांक का नाम का उल्लेख करे। रांगोली मंे प्रतिभागियों को स्वयं के रंगों एवं सामान का उपयोग करना होगा। प्रत्येक वार्ड में प्रतिभागी को रांगोली प्रारंभ करते हुए एवं रांगोली पूर्ण होने पर फोटो एवं 30 सेकेंड का वीडियो रांगोली बनाते हुए सेंड करना होगा। प्रथम एवं द्वितीय पुरस्कार प्रत्येक वार्ड के रोटरी एवं इनरव्हील क्लब के निर्णायकों द्वारा निर्णित किए जाएंगे। निर्णायकों का निर्णय अंतिम एवं सर्वमान्य होगा। आयोजक संस्थाओं को नियम में संषोधन एवं सुधार का पूर्ण अधिकार रहेगा। आयोजन संस्थाआंे द्वारा रांगोली बनाते हुए भौतिक निरीक्षण भी किया जाएगा।


संस्कार भारती झाबुआ इकाई द्वारा रांगोली प्रतियोगिता एवं ज्ञान पूजन का आयोजन 19 नवंबर को शहर के मध्य राजवाड़ा पर

झाबुआ। संस्कार भारती इकाई झाबुआ द्वारा 19 नवंबर, गुरूवार को रांगोली प्रतियोगिता एवं ज्ञान पूजन का आयोजन दोपहर 11 से 3 बजे शहर के मध्य राजवाड़ा चैक पर किया गया है। प्रतियोगिता में पहले आओ पहले पाओं की आधार पर एंट्री रखी गई है। जानकारी देते हुए संस्कार भारती इकाई झाबुआ के अध्यक्ष प्रदीप ओएल जैन एवं महामंत्री श्रीमती स्मृति (मोना) भट्ट ने बताया कि प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु प्रतियोगी अपने नाम एवं पता संस्कार भारती की मातृ शक्ति प्रमुख श्रीमती प्रिया सारोलकर को मोबाईल नंबर 94066-10835 एवं युवा सदस्य योगेष्वर कहार को मोबाईल नंबर 81094-88729 पर दे सकते है। प्रतियोगिता के संयोजक संस्था की सदस्य श्रीमती ज्योति रांका, महामंत्री श्रीमती स्मृति भट्ट एवं संगठन मंत्री रविराजसिंह राठौर तथा अध्यक्ष प्रदीप ओएल जैन है। ज्ञान पूजन आयोजक संस्था के साहित्य प्रमुख पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय द्वारा करवाई जाएगी। साथ ही इस दौरान ज्ञान पंचमी के महत्व को भी प्रतिपादित किया जाएगा।

यह है प्रतियोगिता के नियम एवं शर्ते

अध्यक्ष श्री जैन एवं महामंत्री श्रीमती भट्ट ने बताया कि प्रतियोगियों को रांगोली का सामान स्वयं लाना होगा। दी गई तय जगह पर रांगोली अंकित करना है। एक प्रतिभागी स्वयं एक ही रांगोली अंकित करेगा। आयोजक संस्था किसी भी नियम में परिवर्तन करने के लिए स्वतंत्र है। प्रतियोगिता दो वगोर्,ं जूनियर व सीनियर में आयोजित होगी। निर्णायको का निर्णय अंतिम एवं सर्वमान्य होगा। सभी प्रतिभागी मास्क पहनकर सम्मिलित होने के साथ आयोजनस्थल पर सोष्यल डिस्टेनसिंग का भी पालन करेंगे। समय से 15 मिनट पूर्व आयोजनस्थल पर पहुंचना अनिवार्य होगा।


वरिष्ठ व्याख्याता एमके खुराना शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ के उप-प्राचार्य नामांकित, गरिमामय कार्यक्रम का आयोजन कर किया गया स्वागत एवं दी गई शुभकामनाएं

jhabua news
झाबुआ। स्थानीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ के वरिष्ठ व्याख्याता महेंद्रकुमार खुराना को संस्था के उप-प्राचार्य पद पर नामांकित होने पर विद्यालय परिवार द्वारा हर्ष व्यक्त किया गया है। श्री खुराना की नियुक्ति पर स्टाॅफ सदस्यों में हर्ष और उल्लास व्याप्त है। गरिमामय कार्यक्रम आयोजित कर विद्यालय स्टाफ द्वारा श्री खुराना का पुष्पमालाओं से स्वागत किया एवं उनके सफल कार्यकाल हेतु अग्रिम शुभकामनाएं प्रेषित की। श्री खुराना ने अपने उद््बोधन में विद्यालय परिवार का आभार माना और संस्था के समस्त् विद्यार्थियों के हितार्थ कार्य करते रहने की बात कहीं।

यह रहे उपस्थित

इस अवसर पर श्रीमती अमीना खान वरिष्ठ व्याख्याता, श्रीमती सीमा चैहान उच्च माध्यमिक शिक्षक, अजय कुशवाह उच्च माध्यमिक शिक्षक, प्रतापसिंह मोर्य उच्च माध्यमिक शिक्षक, शरद गुप्ता उच्च माध्यमिक शिक्षक, हरिश  कुंडल उच्च माध्यमिक शिक्षक, केएल ढाकिया उच्च माध्यमिक शिक्षक, राकेश परमार उच्च श्रेणी शिक्षक, सुशीमकुमार जायसवाल उच्च श्रेणी शिक्षक, मधु कोठारी उच्च श्रेणी शिक्षक, मुस्तफा खान उच्च श्रेणी शिक्षक, रेमसिंह डामोर सहायक शिक्षक, हेमेंद्र टेलर सहायक शिक्षक, कार्यालय स्टॉफ से कपिल बरमंडलिया, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी श्रीमती शकुंतला पंवार, प्रकाश नायक आदि उपस्थित थे। संचालन वरिष्ठ षिक्षक हरिश कुंडल ने किया।


मनकामेष्वर महादेव मंदिर पर मंषा महादेवजी का व्रत एवं पूजन के लिए लगी रहीं भक्तों की भीड़, उद्यापन बाद आरती कर प्रसादी वितरण हुआ

jhabua news
झाबुआ। शहर के छोटे तालाब के समीप स्थित श्री मनकामेश्वर महादेव मंदिर पर चतुर्थी के पावन पर्व पर मंषा महादेवजी व्रत करने वाले श्रद्धालुओं का ताता लगा रहा। जानकारी देते हुए श्री मनकामेष्वर महादेव मंदिर समिति के कोषाध्यक्ष रविराजसिंह राठौर ने बताया कि 17 एवं 18 नवंबर की मध्य रात करीब 2 बजे ही से पूजा, आतिशबाजी एवं ढोल-धमाकों का क्रम प्रारंभ होकर सुबह 10 बजे तक मंदिर में मंषा महादेवजी पूजन के लिए भक्तों की भीड़ रहीं। इस दौरान सैकड़ों भक्तों, जिन्होंने अपनी मनोकामना पूर्ति हेतु एवं जिनकी मनोकामना पूर्ण हो चुकी है, उन सभी ने मंषा महादेवजी का व्रत कर पूजा अर्चना की। मंदिर में आतिशबाजी भी की गई।

आरती कर प्रसादी वितरण किया

उद्यापन बाद समापन पर आरती कर प्रसादी का वितरण किया गया। कथा विधि-विधान से मंदिर के सेवक देवेंद्रपूरी गोस्वामी ने संपन्न करवाई। इस अवसर पर मुख्य रूप से विक्रम सांकला, अरविंद सांकला, मनोज सोनी, ललित राठौर, अशोक जैन, ज्योति राठौर आदि उपस्थित थे।


ग्राम पालेड़ी में पदस्थ पटवारी एवं उसकी पत्नि के मनमाने और तानाषाही रवैये को लेकर तीन गांवांे के ग्रामीण अत्यधिक परेषान, ग्रामीणांे ने भाजपा जिलाध्यक्ष, कलेक्टर, एसडीएम एवं बजरंग सेना को ज्ञापन सौंपकर पटवारी का अन्यत्र स्थानांतरण की मांग की

jhabua news
झाबुआ। ग्राम पालेड़ी, रूपाखेड़ा एवं आमलीपाड़ा के अनेकांे ग्रामीणांे ने 17 नवंबर, मंगलवार को भाजपा जिलाध्यक्ष, जिला कलेक्टर, एसडीएम, बजरंग सेना एवं अन्य हिन्दू संगठनों को ज्ञापन सौंपकर बताया है कि ग्राम पालेड़ी में पदस्थ पटवारी द्वारा कार्य करवाने के एवज में रिष्वत की मांग करने एवं उसकी पत्नि द्वारा भी मनमाना और तानाषाहीपूर्ण रवैया अपनाने से तीनो गांवों के ग्रामीणजन अत्यधिक परेषान है। ज्ञापन में मांग करते हुए कहा कि उक्त पटवारी का यहां से स्थानांतरण कर गांव में दूसरे पटवारी की पदस्थापना की जाए। तीनों ग्राम के ग्रामीण कमलसिंह, जगदीष, कृष्णा कुंवर, सुनिता आदि के साथ अन्य ग्रामीण महिला-पुरूषांे ने भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक, जिला मुख्यालय पर जिला कलेक्टर एवं एसडीएम के साथ बजरंग सेना के जिलाध्यक्ष मयूर पंवार, जिला उपाध्यक्ष बंसी गुर्जर एवं नगर मीडिया प्रभारी स्वीट गोस्वामी को ज्ञापन सौंपकर बताया कि ग्राम पालेड़ी में विगत 4 वर्षों से पदस्थ पटवारी जमीर खान द्वारा ग्राम पालेड़ी मंे ही रहकर भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त उक्त पटवारी ग्रामवासियों को आपस में लड़वाने का भी काम करता है। पटवारी खान के साथ उसकी पत्नि भी मनमाना एवं तानाषाही पूर्ण रवैया अपनाती है। वह ग्रामीणों से पटवारी से काम करवाने के नाम पर स्वयं रिष्वत मांगती है।

पूर्व में भी की जा चुकी है षिकायत

ज्ञापन में आगे बताया गया कि पटवारी गांव में जिस मकान मंे रह रहा है। वह भी भी अवैध रूप से खरीद रखा है। जिसकी रजिस्ट्री भी अब तक नहीं हुई है। ग्रामवासियों द्वारा पटवारी के रिष्वत मांगने एवं समय पर काम नहीं करके देने का विरोध करने पर उसके द्वारा उच्च स्तर पर संपर्क होने की बात कहीं जाती है। इस संबंध में ग्रामीणों ने पहले भी एसडीएम को आवेदन देकर पटवारी के स्थानांतरण अन्यत्र करने की षिकायत की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। पटवारी उच्च स्तर का हवाला देकर अपना स्थानांतरण रूकवा लेता है।

चार वर्ष होने के बाद भी स्थानांतरण नहीं

ज्ञापन में ग्रामीणांे ने बताया कि उक्त पटवारी को ग्राम पालेड़ी में 4 वर्ष हो चुके है, जबकि शासन के नियमानुसार 3 वर्ष से अधिक किसी भी एक जगह पर पदस्थापना नहीं हो सकती है। मांग की गई कि पटवारी का स्थानांतरण कहीं भी अन्यत्र स्थान पर कर ग्राम पालेड़ी में नए पटवारी की पदस्थापना की जाए, अन्यथा मजूबर होकर ग्रामीणों को आंदोलन करने को भी बाध्य होना पड़ेगा।


कलेक्टर श्री सिंह द्वारा शासकीय जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण, जीर्णोद्धार के कार्य में और अधिक गति लाने के निर्देश

jhabua news
झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने मंगलवार को यहां शासकीय जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण किया। श्री सिंह ने चिकित्सालय परिसर में पार्किंग स्थल का अवलोकन किया। इसके पश्चात फीवर क्लीनिक, जिला कोविड कमाण्ड एवं नियंत्रण केन्द्र का अवलोकन किया। श्री सिंह ने वृद्धजनवार्ड में मरीजों के लिए की गई व्यवस्थाओं का अवलोकन किया और आवश्यक निर्देश दिए। साथ ही इस वार्ड में खिड़की की पुरानी जाली के स्थान पर नई जाली लगाने तथा अग्निशामक यंत्र का कलर करने  के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने आकस्मिक चिकित्सा कक्ष, पुरूष मेडिकल कक्ष, फिजियोथेरेपी यूनिट, पैथालोजी विभाग, बायोकैमेस्ट्री कक्ष, का अवलोकन किया और बरामदें में जाली लगाने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने कोविड-19 के लिए स्थापित आई.सी.यू. वार्ड का अवलोकन किया। आई.सी.यू. वार्ड का निमार्ण कार्य पूर्व में दिए गए निर्देशों के अनुरूप पूर्ण हो गया है। श्री सिंह ने सर्जीकल वार्ड तथा अतिरिक्त वार्ड का निरीक्षण किया और अतिरिक्त वार्ड का भी सुधार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने भ्रमण के दौरान प्राईवेट कक्षों को भी देखा और इन कक्षों में रंगाई-पुताई कराने तथा विद्युत की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसके बाद श्री सिंह ने प्लस्टर रूम पहुंचे और वहां की व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए। उन्होने एनआरसी का अवलोकन किया और एनआरसी में भर्ती बच्चों तथा माताओं को दिए जाने वाले चाय, नाश्ता, भोजन के संबंध में आवश्यक जानकारी प्राप्त की और मैनू अनुसार भोजन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए ताकि बच्चों को कुपोषण से मुक्त किया जा सकें। बच्चों के साथ-साथ माताओं का भी भोजन की  उपलब्धता में विषेश ध्यान रखने तथा मैन्यू की सूची लगाई जाने के निर्देश दिए। उन्होने वजन मापने की मशीन का भी अवलोकन किया और आवश्यक निर्देश दिए। कलेेक्टर श्री सिंह ने पूर्व में दिए गए निर्देशों के क्रियान्वयन की स्थिति का जायजा लिया और जीर्णोद्धार का कार्य संतोष जनक नहीं पाए जाने पर ठैकेदार को नोटिस देने के निर्देश दिए। साथ ही ठैकेदार को जिला चिकित्सालय का जीर्णोद्धार का कार्य तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने जिले के ग्रामीण क्षेत्र में स्थापित आरोग्य केन्द्रों में उपलब्ध दवाईयों की सूची लगाने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह इसके पूर्व बाल सम्प्रेषण गृह का आकस्मिक निरीक्षण किया और बाल सम्प्रेषण भवन की मरम्मत कराने तथा रंगाई-पुताई शीघ्र कराने के निर्देश दिए। भ्रमण के दौरान मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जयपाल सिंह ठाकुर, सिविल सर्जन डाॅ. बी.एस.बघेल, नायब तहसीलदार श्री हर्षल बोहरानी तथा जिला चिकित्सालय के अन्य चिकित्सक भी साथ थे।

डिप्टी कलेक्टर डाॅ.खरारी को नोडल अधिकारी नियुक्त

झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने राज्य शासन के निर्देशों के परिपालन में जिले के विभिन्न विभागों के आधिपत्य में अनुपयोगी शासकीय परिसम्पत्तियों के प्रबंधकन के लिए चिन्हांकन एवं पोर्टल पर इन्द्राज करने हेतु डिप्टी कलेक्टर डाॅ. अभय सिंह खरारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।


ग्राम पंचायत सचिव श्री मेड़ा को तत्काल प्रभाव से निलंबित

झाबुआ। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ने जनपद पंचायत राणापुर की ग्राम पंचायत धामनीचमना के सचिव श्री ओमकारसिंह मेड़ा को अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाही एवं उदासिन्ता बरतने, ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं तथा कार्यक्रमों के अंतर्गत ग्रामीण जनों को लाभान्वित नहीं करने, वरिष्ठ कार्यालय के निर्देशों की अवहेलना करने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाकर विभागीय जांच संस्थित की है। निलंबन अवधि में श्री मेड़ा का मुख्यालय जनपद पंचायत राणापुर रहेगा तथा इन्हें नियमानुसार निलंबन भत्ते की पात्रता अर्जित रहेगी।


कलेक्टर श्री सिंह द्वारा मेघनगर तथा थांदला तहसील के विभिन्न गांवांें का भ्रमण


झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने मेघनगर तहसील के ग्राम नौ गांवा में उन्नत कृषक श्रीमती शान्ती खुशाल के खेत का अवलोकन किया। कृषक श्रीमती खुशाल ने किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग से तकनिकी की जानकारी प्राप्त कर सवा एकड़ जमीन में सुरजना फली की खेती की जा रही है। इस पर लगभग 55 हजार रूपये का खर्च आया है। कलेक्टर श्री सिंह ने इस महिला कृषक से रू-ब-रू चर्चा की और उन्नतशील महिला कृषक से आधुनिक तरीके से खेती कर आमदनी बढ़ाने की ललक को देख कर उनकी सहराहना की और कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे कृषक को खेती के विकास में आगे बढ़ाने के लिए आवश्यक मदत करें। कृषि विभाग द्वारा इस महिला कृषक को राज्य स्तरीय उत्कृष्ट कृषक पुरूस्कार के तहत 50 हजार रूपयें का लाभ दिया जा चुका है। कलेक्टर श्री सिंह ने इस अवसर पर ग्रामीणों की समस्याएं जानी। ग्रामीणों ने उद्यानिकी विभाग से अनुदान का लाभ नही मिलने की शिकायत की इस शिकायत का परीक्षण करने तथा शिकायत सही पाए जाने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की जावे। साथ ही ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत सचिव के पंचायत कार्यालय में उपस्थित न होने की शिकायत की कलेक्टर श्री सिंह ने पंचायत सचिव को निर्देश दिए हैं कि वे प्रति दिन ग्राम पंचायत के उपस्थिति रजिस्टर में हस्ताक्षर के लिए सुनिश्चित करें। श्री सिंह ने पूर्व पंच श्री लालचन्द्र खपेड़ द्वारा हैण्डपम्प सुधारने के कार्य में बाधा उत्पन्न करने पर उनके विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने सुदूर सड़क बनाने की ग्रामीणों की मांग पर सड़क का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत हितग्राहियों के कार्ड बनाने के कार्य की प्रगति की जानकारी प्राप्त की और पात्र हितग्राहियों के कार्ड बनाने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने ग्रामीणों को इस योजना के लाभ के बारे में विस्तार से अवगत कराया। श्री सिंह ने सभी पटवारियों ग्राम पंचायत सचिव तथा रोजगार सहायकों को निर्देश दिए हैं कि वे आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत कार्ड बनाने के कार्य में पूरा सहयोग करें। कलेक्टर श्री सिंह ने फूटतालाब के पास स्थित स्कूल के सामने शासकीय जमीन पर बसें खड़ी पाई जाने पर नाराजगी जाहिर की और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर को निर्देश दिए हैं कि वे इन बसों पर एक-एक हजार रूपये का अर्थ दण्ड लगाएं और भविष्य में इस तरह वाहन न खड़े करने की चैतावनी भी दी जावे। श्री सिंह ने ग्राम बोरवा की नर्सरी का अवलोकन किया और पांच महिला स्व सहायता समूह को एक-एक हैक्टर क्षेत्र में पौध रोपण करने के लिए आवंटित करने के निर्देश दिए ताकि महिला स्व सहायता समूह इन पौधों से अपनी आय बढ़ा सकेें। श्री सिंह ने इसके पश्चात ग्राम पंचायत परवलिया में 1 लाख एक हजार रूपये की लागत से बनने वाले पशु शेड, 7 लाख 80 हजार रूपये की लागत से बनने वाली आंगनवाड़ी भवन का अवलोकन किया तथा इन भवनों का निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने ग्राम पंचायत कार्यालय का भी अवलोकन किया। कलेक्टर ने ग्राम सुतरेटी में कार्तिक जैविक आदान उत्पादन केन्द्र का अवलोकन किया और ज्योति महिला स्व सहायता समूह तथा सर्वोदय महिला संकूल संगठन की महिला हितग्राहियों से रू-ब-रू चर्चा की और महिला स्व सहायता समूह द्वारा जैविक खाद्य, सोया टानिक, पांच पत्ति काढ़ा, बायोहिट काढ़ा, बायोहिट, व्याधि नियंत्रक औषधि के उपयोग करने के विधि की जानकारी ली और महिलाओं को व्याधि नियंत्रक औषधि के प्रचार-प्रसार करने के लिए आवश्यक सलाह दी। साथ ही जैविक खाद्य थैलियों में पेकिंग कर विक्रय करने के लिए प्रेरित किया। श्री सिंह ने सुदूर सड़क अभी तक स्वीकृत नहीं करने पर नाराजगी जाहिर की और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत तथा रोजगार सहायक को शौकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने उन्नतशील कृषक श्री गौरव अनिल सोनी की गौशाला का भी अवलोकन किया और आवश्यक जानकारी प्राप्त की तथा उप संचालक कृषि को उन्नत किसान की संगोष्टी आयोजित करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने कृषक रामचन्द्र मिठु मावी के खेत में ब्रोकोलीकल्टीवेशन का अवलोकन किया। इसके पश्चात कड़क नाथ मुर्गी पालन केन्द्र का अवलोकन किया और मुर्गी पालन से होने वाले लाभ के बारे में जानकरी प्राप्त की। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री एल.एन.गर्ग, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्री प्रशांत आर्या, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जयपाल ठाकुर, उप संचालक किसान कल्याण एवं कृषि विकास श्री एन.एस.रावत, परियोजना संचालक आत्मा श्री जी.एस. त्रिवेदी, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डाॅ. विल्सन डावर, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा, जिला परियोजना प्रबंधक एनआरएलएम श्री विशाल राॅय तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री अजय सिंह चैहान, तहसीलदार श्रीमती ललिता गाडरिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री हालू सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


कलेक्टर श्री सिंह ने थांदला तहसील के तडवियों तथा कोटवारों की बैठक ली


झाबुआ,। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने बुधवार को थांदला जनपद पंचायत सभा कक्ष में थांदला तहसील के कोटवारों तथा तडवियों की बैठक ली और उनकी समस्याएं सूनी। श्री सिंह ने कोटवारों को निर्देश दिए हैं कि आगामी बैठक में वर्दी में आए अन्यथा जो कोटवार वर्दी में नहीं आएगें उनकी सेवाएं समाप्त कर दी जावेगी। श्री सिंह ने कहा कि तडवियों का कोटवार आवश्यक सहयोग करें और सूचनाएं दें। वे अपने क्षेत्र में स्थित शासकीय उचित मूल्य दूकानों पर नजर रखें और काला बाजार होने पर तत्काल इसकी सूचना दें। श्री सिंह ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत 30 रूपये में फार्म भरे जाते है। इस योजना के तहत 5 लाख रूपये तक की चिकित्सा सूविधा उपलब्ध कराई जाती है। इसलिए पात्र सभी व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनवालें। इस बैठक में तडवियों ने अवगत कराया कि क्षेत्र में आदिवासी समाज में दहेज प्रथा, शराब का उपयोग तथा डीजे अधिक प्रचलित है। समाज में इन तीनों कुरीतियों को समाप्त करने की आवश्यकता पर जोर दिया। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि इस संबंध में आगामी बैठक में आवश्यक निर्णय लिया जावेगा। इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री अनिल भाना, तहसीलदार श्रीमती ललिता गाडरिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री हालू सहित अन्य अधिकारी तडवी तथा कोटवार उपस्थित थे।


कलेक्टर श्री सिंह द्वारा थांदला में स्थित सिविल हाॅस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण


झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने बुधवार को थांदला में स्थित सिविल हाॅस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण किया और आवश्यक व्यवस्थाएं देखी। श्री सिंह ने सिविल हाॅस्पिटल में पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने इस अवसर पर पुरूष वार्ड, महिला वार्ड, पैथोलाजी लैब तथा फीवर क्लीनिक का अवलोकन किया और आवश्यक निर्देश दिए। श्री सिंह ने मरीजों के लिए पर्याप्त मात्रा में पलंग व बिस्तर  की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जयपाल सिंह ठाकुर, डाॅ. राजाराम खन्ना, सहित अन्य डाॅक्टर व अधिकारी उपस्थित थे।


कलेक्टर श्री सिंह द्वारा थांदला तथा मेघनगर में आयोजित कराटे के प्रशिक्षण का जायजा


झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने बुधवार को थांदला में स्थित बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तथा मेघनगर में शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर में आयोजित कराटे के प्रशिक्षण का जायजा लिया। श्री सिंह ने टेªनरों को निर्देश दिए हैं कि वे छात्र - छात्राओं, शिक्षक - शिक्षिकाओं को कराटे का बेहतर प्रशिक्षण दें। श्री सिंह ने इस प्रशिक्षण में भाग लेने वाले बालक-बालिकाओं तथा शिक्षक - शिक्षिकाओं को लगन से इस विधा का प्रशिक्षण प्राप्त करने का आवहान किया। साथ ही कराटे की विधा का प्रशिक्षण प्राप्त कर तहसील, जिले, संभाग, प्रदेश, का नाम रोशन करें। इस अवसर पर  अपल कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री एल.एन. गर्ग, सहायक आयुक्त जनजाति कार्यविभाग श्री प्रशांत आर्या, उप संचालक कृषि श्री एन.एस.रावत, परियोजना संचालक आत्मा श्री जी.एस. त्रिवेदी, तहसीलदार श्रीमती ललिता गाडरिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


कांग्रेस ने इंदिराजी की 103वीं जयंती को एकता दिवस के रूप में मनाया


झाबुआ 19 नवंबर। देश की महान नेता व पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इन्दिरा गांधी की 103 वीं जयंति जिला कांग्रेस द्वारा एकता दिवस के रूप में उत्साह के साथ मनाई गई। गोपाल काॅलोनी स्थित विधायक कार्यालय पर पूर्वाहन साढे 11.30 बजे आयोजित की गई। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप जिला कांगे्रस अध्यक्ष निर्मल मेहता एवं कार्यवाहक अध्यक्ष रूपसिंह डामोर विशेष रूप उपस्थित थे । सर्वप्रथम अतिथियों द्वारा इन्दिराजी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण किया गया। तत्पश्चात उपस्थित पदाधिकारियों एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इन्दिराजी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हे स्मरण किया । इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने अपने उदबोधन में कहा कि देश की यशस्वी पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्न स्व. श्रीमती इन्दिरा गांधी एक महान नैत्री थी। उन्होने देश को आत्मनिर्भर बनाया और देश के स्वाभिमान के लिये तथा राष्ट्र के निर्माण मे महती भूमिका निभाई। उनके द्वारा किये गये कार्यो को देश कभी नही भूल पायेगा। उन्होने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी का लंबा इतिहास रहा है। हर पार्टी मे उतार चढाव तो होते रहते है। कांग्रेस पार्टी का आधार स्तंभ मजबूत है। हम सब एक जूट होकर बिना किसी भेद भाव के मिल कर साम्प्रदायिक ताकतो से मुकाबला करना है। जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष रूपसिंह डामोर ने कहा कि इन्दिराजी हमेशा आदिवासियों के विकास हेतु तत्पर रहती थीं। हम सब उसी पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता है जिसकों इंदिराजी ने अपने समस्त साथियों के सहयोग से खडा कर पूरे देश में कांग्र्रेस पार्टी का झंडा उंचा उठाया। शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना ने इंदिरा जी को याद करते हुए कहा कि हमे इन्दिराजी के बताये मार्ग पर चल कर सोनिया गांधी एवं राहूल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस को एक जूट होकर मजबुत करना यही हमारी इन्दिराजी के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भटट् ने इंदिरा जी जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जन्म 19 नवंबर 1917 को प्रयागराज में हुआ था । माह जनवरी 1966 से मार्च 1977 वे इंदिरा जी देश की प्रधानमंत्री रही, इसके बाद 1980 में वह दोबारा देश की प्रधानमंत्री बनी उन्हें प्रिय दर्शिनीय एवं देश की आयरन लेडी के नाम से पूकारा जाता है उन्होंने बैंकों का राष्ट्रीयकरण, किया एवं प्रीवीपरस को भी समाप्त किया, उन्होंने हरित और श्वेत क्रांती को बढ़ावा दिया, परमाणु कार्य को कार्यक्रम बढ़ावा दिया सन 1971 में पाकिस्तान के साथ युद्ध का ऐलान कर पाकिस्तान को करारी श्किस्त दी एवं नया बंलगादेश बनवाने में सहयोग दिया उन्होंने देश हित में अनेक साहिसिक कदम उठाकर देश के विकास में योगदान देकर देश को उन्नतीशील राष्ट्र बनाने का कार्य भी किया गया । कार्यक्रम का संचालन जिला एनएसयुआई अध्यक्ष विनय भाबोर ने किया एवं आभार कांग्रेस नेता जितेन्द्र शाह ने माना इस अवसर पर वरिष्ठ कांगे्रस नेता नाथु भाई ठेकेदार, कालुसिंह रेहन्दा, प्रतिक मेहता, प्रकाश बामनिया, किलु भूरिया, रमेश भूरिय, प्रभु भाबोर ढेबर बड़ी, मुन्ना पंदा आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।


इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुआ शक्ति के कार्यों से अभिभूत एवं प्रसन्नचित हुई डिस्ट्रीक्ट 304 की चेयरमेन शषि गुप्ता, पोस्ट होल्डर्स में लिखा एक्सीलेंट और ग्रेट वर्क 

  • अधिकारिक दौर पर आई शषि गुप्ता का झाबुआ शक्ति ने किया आत्मीय स्वागत-अभिनंदन और मीटींग का हुआ आयोजन

झाबुआ। इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुआ युवा शक्ति मंे विजिट पर आई क्लब की डिस्ट्रीक्ट 304 की चेयरमेन शषि गुप्ता का झाबुआ शक्ति ने आत्मीय स्वागत एवं अभिनंदन कर बाद डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन ने क्लब की मीटींग ली। जिसमें झाबुआ शक्ति के कार्यों को जानकर चेयरमेन श्रीमती गुप्ता अत्यंत प्रसन्नचित हुई तथा क्लब के पोस्ट होल्डर्स फाईल पर एक्सीलेंट और ग्रेट वर्क जैसे शब्द लिखे। इस दौरान क्लब ने एक बालिका को आत्मनिर्भर बनाने एवं रोजगार के साधन उपलब्ध करवाते हुए डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन के आतिथ्य मंे सिलाई मषीन भी प्रदान की। ज्ञातव्य रहे कि डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन गुप्ता का मप्र के पूरे डिस्ट्रीक्ट 304 में से पहला विजिट का सौभाग्य इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुआ शक्ति को प्राप्त हुआ। जिसे झाबुआ शक्ति ने कोविड के नियमों का पालन के साथ बखूबी यादगार बनाया। सर्वप्रथम इंदौर से पधारी चेयरमेन गुप्ता का स्वागत प्रवेष द्वार पर  पुष्प वर्षा कर और रांगोली बनाकर किया गया। डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन को क्लब की ओर से तुलसी का पौधा प्रदान किया गया। बाद कार्यक्रम का प्रारंभ इनरव्हील की प्रार्थना से हुआ, जो क्लब की आईएसओ निक्की  जैन ने करवाई। बाद अधिष्ठापन के तहत क्लब अध्यक्ष ऋतु सोडानी को क्लब सचिव रक्षा गादिया ने काॅलर पहनाई। तत्पष्चात् क्लब अध्यक्ष सोडानी ने डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन गुप्ता को काॅलर पहनाकर अभिनंदन किया।

दो नवीन सदस्याआंे को सदस्यता ग्रहण करवाई

कोविड के कारण संक्षिप्त मीटींग का आयोजन क्लब की कोषाध्यक्ष नेहा संघवी के निवास पर हुआ। जिसमें डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन शषि गुप्ता ने क्लब द्वारा अब तक किए गए कार्यों की प्रगति रिपोर्ट की फाईल का अवलोकन किया। सभी पोस्ट होल्डर्स चेक करने के बाद फाईल के मुख्य पृष्ठ पर चेयरमेन ने ‘‘एक्सीलेंट और ग्रेट वर्क’’ शब्दों का प्रयोग किया। इस दौरान क्लब से जुड़ने वाली दो नवीन सदस्या दीपा सोनी एवं निधि रूनवाल को चेयरमेन ने पिन लगाकर सदस्यता ग्रहण करवाई।

निःषुल्क सिलाई मषीन प्रदान की

बैठक बाद शहर की एक बालिका को आत्मनिर्भर बनाने एवं रोजगार के अवसर प्रदार करने के उद्देष्य से निःषुल्क सिलाई मषीन प्रदान की गई, जो स्वयं डिस्ट्रीक्ट चेयरेमन ने अपने हाथों से प्रदान की। क्लब अध्यक्ष ऋतु सोडानी ने बताया कि क्लब का हमेषा यह प्रयास रहता है कि वह सामाजिक-रचनात्मक और षिक्षा तथा स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करने के साथ महिलाओं और बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनाने के क्षेत्र में सत्त कार्य करता रहे। कोविड के कारण पूरे आयोजन में झाबुआ क्लब के 5-6 पदाधिकारी-सदस्यों ने ही सहभागिता की। कार्यक्रम का सफल संचालन क्लब की संस्थापक डाॅ. शैलू बाबेल ने किया एवं आभार क्लब सचिव रक्षा गादिया ने माना। कार्यक्रम में क्लब की एडिटर विधि धारीवाल भी विषेष रूप से उपस्थित थी।


मप्र में पहली बार बनने जा रहा गौ-मंत्रालय, राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ ने मप्र के मुख्यमंत्री का माना आभार एवं प्रदेष अध्यक्ष पवन दुबे के मार्गदर्षन और प्रयासांे को सराहा


झाबुआ। भारत में गौ-माता को राष्ट्रीय पशु का दर्जा दिया गया है वहीं हिन्दू संप्रदाय में गौ-माता को अत्यधिक पूजनीय माना गया है। जिसे ध्यान में रखते हुए मप्र के मुख्यमंत्री षिवराजसिंह चैहान ने प्रदेष में पहली बार पृथक से गौ-मंत्रालय बनाने की घोषणा की है। प्रदेष के मुखिया की यह घोषणा संपूर्ण हिन्दू संप्रदाय, हिन्दू संगठनों, गौ-माता के संरक्षण एवं संवर्धन के क्षेत्र में कार्य करने वाली संस्थाओं, गौ-भक्तों के लिए अत्यंत सुखदायी एवं प्रसंषनीय है। मप्र में विधिवत् रूप से गौ-मंत्रालय बनने के बाद संभवतः मप्र देष का पहला राज्य होगा, जहां गौ-माता के संरक्षण और संवर्धन के लिए गौ-मंत्रालय गठित होकर गौ-माताआंे का मान-सम्मान बढ़ाने के क्षेत्र मंे कार्य होगा। इसी क्रम में गौ-सेवा के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तरीय पर कार्य करने वाली संस्था राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ ने भी मप्र शासन और उनके मुखिया षिवराजसिंह चैहान के उक्त कार्यों की भूरी-भूरी प्रसंषा की है। आरजीएएस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेष मानसिंहका, राष्ट्रीय संगठन मंत्री दिलीप धनराज गुप्ता एवं राष्ट्रीय संरक्षक महंत 1008 श्री कृष्णानंदजी महाराज ने मप्र सरकार के इस कार्य को सराहा है। वहीं आरजीएसएस के मप्र अध्यक्ष पवन दुबे के अथक प्रयासांे एवं समय-समय पर उनके द्वारा गौ-मंत्रालय और गौ-सरंक्षण तथा गौ-संवर्धन के क्षेत्र में सरकार से उचित घोषणा और कार्य करवाने की मांग और प्रयास सत्त किए जाते रहे है।

आरजीएसएस की जिला इकाई ने माना आभार

मप्र सरकार और उनके मुखिया की इस महत्वपूर्ण घोषणा पर राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ की जिला इकाई के वरिष्ठ मार्गदर्षक राकेष शाह, जिलाध्यक्ष राजेष चैहान, जिला पदाधिकारी गजरासिंह चैहान (दादुभाई), रितेष शर्मा, सतीष लाखेरी, देवेन्द्र व्यास, जिला मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, जिला कार्यकारिणी सदस्य कृष्णा जायसवाल, संघ की महिला इकाई से डाॅ. कंचन चैहान, योगिता पाठक आदि ने मप्र शासन और प्रदेष के मुख्यमंत्री षिवराजसिंह चैहान का आभार मानने के साथ आरजीएसएस के मप्र अध्यक्ष पवन दुबे, जिनके अथक प्रयासों से यह काफी हद तक संभव हो सका, उनके प्रयासांे और संस्था को मिल रहे मार्गदर्षन को सराहा है।


अब जिला प्रषासन व्हाट्स-एप चाॅटबोट पर, लोक सेवा प्रबंधन के साथ कई अन्य आवष्यक जानकारियां मिल सकेगी व्हाट्स-एप पर ही

  • भीड़ और असुविधाआंे से बच सकेंगे उपभोक्ता, झाबुआ जिला ‘‘व्हाट्स-एप चाॅट-बोट’’ बनाने वाला देष का पहला जिला बना

झाबुआ। व्यापक जनकल्याण से संबंधित सुझावों के निर्देश के संबंध में मपन्र लोक सेवा गारंटी अधि‍नियम 2010 के तहत प्राप्त आवेदनों को नवीन तकनीकी के माध्यम से नागरिको को प्रदान करने के संबंध मे अति-महत्वूर्ण जनकल्याणकारी सेवाओं को विकासखंड स्तर पर स्थित लोक सेवा केंद्रो के माध्यम से सशुल्क प्रदान किया जाता है। सोष्यल डिस्टेनसिंग, कांटेक्ट लेस वर्क एवं टाईम बोंड सेवाओं को प्रदान करने के लिए जिला प्रशासन झाबुआ में ‘अब व्हाट्स-एप चाॅटबोट के माध्यम से लोक सेवा गारंटी अधिनियम 2010 के तहत सेवा एवं अन्य आवश्यक सेवाओं को आम नागरिको तक पहुचाने का निर्णय लिया जाकर ‘व्हाट्स-एप चाटबोट के माध्यम से लोक सेवा केंद्रो एवं आधार सेंटर पर आने वाले नागरिकों को न्यूनतम आवागमन पर जिले मे इन सेवाओं को विगत 9 नवंबर 2020 से प्रदान किया जाना प्रारंभ किया जा चुका है।

समय एवं पैसे दोनो की बचत होगी

इस सिस्टम का उपयोग कर आम नागरिक नवीन तकनीक द्वारा सेवाओं का लाभ ले सकते है। इस एप्लीकेशन के उपयोग से आम नागरिको का समय एवं पैसे दोनो की बचत होगी। साथ ही प्रशासन वर्तमान परिदृश्य में सर्वोच्च सुलभ तकनीकी का उपयोग कर समय-सीमा में सेवा उपलब्ध करवाने में नई ऊंचाईयां हासिल करेगा।

देष का पहला झाबुआ जिला बना

जिला प्रशासन झाबुआ द्वारा निर्मित व्हाट्सएप चाॅटबोट सर्विस में आपका स्वागत है। इस चाटबोट के माध्यम से लोक सेवा प्रबंधन की सेवाएं आप अपने मोबाइल से प्राप्त कर सकते है। इस प्रकार झाबुआ लोक सेवाओं को व्हाट्सएप बींजइवज के माध्यम से प्रदान करने वाला देश का पहला जिला बन चुका है। कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों में ‘व्हाट्स एप चाॅटबोट’ सेवा का उपयोग हमे भीड़ से बचने में और अनावश्यक घर से बाहर निकलने से बचने में सहयोगी साबित होगा।

क्या है इस सुविधा मंें खास .... !

झाबुआ जिले ने अपना अधिकारिक ‘व्हाट्स एप चाॅटबोट’ विकसित किया ळें यह पहली बार होगा की आवेदक ‘व्हाट्स एप चाॅटबोट’ के माध्यम से अपना आवेदन भी दर्ज कर सकता है। आवेदक अपने शुल्क का भुगतान भी व्हाट्सएप के माध्यम से कर सकेगा। लोक सेवा के सभी प्रकार के सर्टिफिकेट, डाक्यूमेंट अधिकारिक ‘व्हाट्स एप चाॅटबोट’ के माध्यम से लोगों को प्रेषित किया जाएगा। आवेदक हार्ड कॉपी मे अपने डाॅक्यमेंट, सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए घर पहंुच सेवा की रिकवेस्ट भी कर सकेगा। इस चाॅटबोट के माध्यम से नागरिक अपने चयनित सर्टिफिकेट कभी भी कही से 24 घंटे अपने मोबाईल पर प्राप्त कर सकते है। यह ‘व्हाट्स एप चाॅटबोट’ शासन के विभिन्न योजनाओ की जानकारी आपके व्हाट्स-एप पर प्रदान करेगा। यह ‘व्हाट्स एप चाॅटबोट’ सेवा संपूर्ण मप्र के लिए उपयोगी होगा। इसके साथ ही आवेदन जैसे व्हाट्सअप के द्वारा आवेदन दर्ज करना, आवेदन की स्थिति जानना, सर्टिफिकेट अपने व्हाट्सएप पर 24 घंटे प्राप्त करना, के अतिरिक्त आप लोक सेवा गारंटी अधिनियम, समाधान एक दिवस सेवा, जनसुनवाई, सीएम हेल्पलाईन 181, आधार कार्ड, आयुष्मान भारत कार्ड आदि अन्य उपयोगी सेवाओं की जानकारी अपने व्हाट्सए-पर प्राप्त कर सकते है।

किसके लिए कौन सी की दबाएं ... ?

1 से 13 तक के अंक टाइप कर रिप्लाई करे। 1 व्हाट्स-एप के माध्यम से आवेदन दर्ज करे। 2 वेबसाइट के माध्यम से आवेदन दर्ज करे। 3 अपना प्रमाण पत्र (डिजिटल सर्टिफिकेट) डाउनलोड करे। 4 आवेदन की स्थिति जाने। 5 आधार से जुड़ी सेवाओं की जानकारी के बारे मे जाने। 6 सीएम हेल्पलाईन, 7 जनसुनवाई, 8 अपना सर्टिफिकेट हार्ड कॉपी में प्राप्त करे, 9 सेवाओ के परिपत्र डाउनलोड करे। 10 समाधान एक दिवस सेवा के बारे मे जाने, 11 लोक सेवा गारंटी अधिनियम के बारे मे जाने, 12 आयुष्मान कार्ड के बारे में जाने एवं 13 फिडबेक दे के लिए रखा गया है।

जिला कलेक्टर एवं जिपं सीईओ का मार्गदर्षन

इस कार्य को करने हेतु विगत 6-7 माह से जिला कलेक्टर रोहितसिंह की अध्यक्षता मे जिला पंचायत सीईओ सिद्धार्थ से प्रेरणा और मार्गदर्षन लेकर लोक सेवा प्रबन्धक द्वारा बनाया गया है। इस प्रोजेक्ट को शासन स्तर से भी पूरे मध्यप्रदेश के लिए बनाए जाना का प्रस्ताव भेजा गया था। जिसको आत्मनिर्भर मप्र मे सम्मिलित किया गया है।


संस्कार भारती बालक-बालिकाओं में छुपी हुई कलाओं को निखारने का बखूबी कार्य कर रहा -ः वरिष्ठ समाजसेवी यषवंत भंडारी

  • भारतीय संस्कृति एवं परंपरा को बनाए रखने के लिए रांगोली जैसी प्रतियोगिताओं का आयोजन बहुत जरूरी -ः वरिष्ठ साहित्यकार पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय
  • संस्कार भारती इकाई झाबुआ ने भव्य रांगोली प्रतियोगिता एवं ज्ञान पूजन का किया आयोजन, विजेता प्रतियोगियों को पुरस्कार प्रदान किए गए

झाबुआ। संस्कार भारती इकाई झाबुआ द्वारा भारतीय संस्कृति एवं परंपरा को बढ़ावा देने एवं शहर के बालक-बालिकाओं की छुपी हुई प्रतिभाआंे को निखारने के उद्देष्य से 19 नवंबर, गुरूवार को दोपहर 11 बजे से शहर के मध्य राजवाड़ा पर भव्य रांगोली प्रतियोगिता एवं मां सरस्वती तथा शास्त्रों की पूजन का आयोजन किया गया। आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला बाल कल्याण समिति (न्याय पीठ) के वरिष्ठ सदस्य यषवंत भंडारी, श्वेतांबर जैन समाज के श्रावक रत्न एवं श्री संघ के पूर्व व्यवस्थापक धर्मचन्द मेहता तथा संस्कार भारती संस्था के वरिष्ठ मार्गदर्षक पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय और विद्वान रमेष शर्मा उपस्थित थे। जानकारी देते हुए संस्कार भारती अध्यक्ष प्रदीप ओएल जैन एवं महामंत्री श्रीमती स्मृति (मोना) भट्ट ने बताया कि प्रतियोगिया दोपहर 11 से 2.30 बजे तक चली। जिसमें झाबुआ शहर के कुल 15 प्रतिभागियांेने सहभागिता की। प्रतियोगियों ने राजवाड़ा पर निर्धारित किए गए अपने-अपने स्थान पर रंग-बिरंगांे रंगों से आकर्षक एवं मनमोहक रांगोलियां बनाकर अतिथियों की दाद बटोरने के साथ संस्कार भारती के पदाधिकारी‘-सदस्यों ने भी इन रांगोलियांे को काफी सराहा एवं प्रसंषा की। मुख्य रांगोली का निर्माण दिपांषी कटारा ने राजवाड़ा मंच के बीच में करते हुए 19 नवंबर को वीरांगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की जयंती होने से उनकी सुंदर रांगोली उकेरी, जिसे काफी सराहना मिली। इसके अलावा नेचुरल रांगोली और तरह-तरह की रांगोली प्रतियोगियांे ने बनाई।

मां सरस्वती एवं शास्त्रों की पूजन की

दोपहर 2.15 बजे आयोजन स्थल पर मंच पर मां सरस्वतीजी एवं भागवत गीता और रामायणजी ग्रंथ विराजमान कर विधि-विधान से इनकी पूजन अतिथियों में वरिष्ठ यषवंत भंडारी, धर्मचन्द मेहता, पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय, जर्नादन शुक्ला, पं. रमेष शर्मा ने करते हुए मां सरस्वतीजी को तिलक लगाकर एवं धूप-दीप प्रज्जवलन कर मां सरस्वती एवं गं्रथों पर पुष्पमाला अर्पण करते हुए उन्हें नमन किया। प्रतियोगिता एवं पूजन की व्यवस्था में विषेष सहयोग अध्यक्ष श्री जैन, महामंत्री श्रीमती भट्ट के साथ संगठन मंत्री रविराजसिंह राठौर, वचना परमार, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, पं. जैमिनी शुक्ला, वर्षा शुक्ला आदि का रहा।

बच्चों को भारतीय संस्कृति से जोड़े रखना बहुत जरूरी

बाद अपने संक्षिप्त उद्बोधन में पं. गणेष प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि यदि हमे अपनी प्राचीन संस्कृतियांे और परंपराआंे को सजोए रखना है, तो इस तरह की प्रतियोगिताआंे का आयोजन निरंतर होते रहना चाहिए। आज के बच्चांे में संस्कार और सभ्यता खत्म होकर वह आधुनिकता की चकाचैंध में बहुत तेजी से आकर्षित हो रहे है। मुझे बहुत खुषी है कि आज एक प्रतिभागी ने महारानी लक्ष्मीबाई की भी सुंदर रांगोली बनाकर उनका आज भी लोगों में जीवंत होने का उदाहरण प्रस्तुत किया है। वरिष्ठ समाजसेवी श्री भंडारी ने अपने उद्बोधन में संस्कार भारती के कार्यों की प्रसंषा करते हुए कहा कि उक्त संस्था झाबुआ शहर के होनहार और प्रतिभावान बालक-बालिकाओं मंे छुपी हुई प्रतिभाओं और कलाओं को निखारने का कार्य पूरी निष्ठा के साथ कर रहीं है। साथ ही उन्होंने उपस्थित बालक-बालिकाओं से एसएमएस अर्थात कोरोना के बढ़ते संक्रमण से बचाव हेतु साबुन से हाथ धोना, मास्क पहनना और सोष्यल डिस्टेनसिंग का आवष्यक रूप से पालन करने और सभी से करवाने का संदेष दिया।

पुरस्कार प्रदान किए गए

प्रतियोगिता एवं ज्ञान पूजन बाद अतिथियों द्वारा विजेता बालक-बालिकाओं को पुरस्कार प्रदान किए गए। यह पुरस्कार संस्कार भारती से जुड़ी एवं इनरव्हील क्लब ‘मेन’ की संस्थापक ज्योति रांका, अर्चना सिसौदिया, वीणा कटारिया आदि ने अतिथियांे एवं संस्कार भारती के पदाधिकारी-सदस्यों के माध्यम से प्रदान किए। प्रतियोगिता दो वर्गों जूनियर एवं सीनियर वर्ग मंे रखी। जूनियर वर्ग मंे प्रथम कु. कुमकुम सोनी, द्वितीय आयुषी कटारा एवं तृतीय आभा कटारा रही। वहीं सीनियर वर्ग मंे  प्रथम श्रीमती विधि ठाकुर (पंवार), द्वितीय कु. जूही कोरानवे एवं तृतीय स्थान निधि सारेालकर ने प्राप्त किया। इसके अलावा बेस्ट रांगोली पुरस्कार झांसी की रानी की रांगोली बनाने पर कु. दिपांषी कटारा को प्रदान किया गया। इसके साथ ही सभी प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार के रूप मंें प्रमाण-पत्र संस्कार भारती संस्था की ओर से प्रदान किए गए। कार्यक्रम का सफल संचालन संस्था अध्यक्ष प्रदीप जैन ने किया एवं आभार संस्था की मातृ शक्ति प्रमुख प्रिया सारोलकर ने माना। 


श्री मनकामेष्वर महादेव मंदिर मंे सात दिवसीय संगीतमय भागवत कथा 21 नवंबर से, 27 नवंबर को भगवान को छप्पन भोग लगाकर महाआरती की जाएगी


झाबुआ। शहर के छोटा तालाब स्थित श्री मनकामेष्वर महोदव मंदिर में 21 नवंबर से सात दिवसीय संगीतमय भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। इसके साथ ही प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव और अन्नकूट प्रसादी का भी आयोजन होगा। जानकारी देते हुए मंदिर के सेवक देवेन्द्र पूरी गोस्वामी ने बताया कि श्री मनकामेष्वर महादेव मंदिर समिति के सहयोग मंदिर मंे प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 21 नवंबर से सात दिवसीय संगीतमय भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान मंदिर में अष्ट धातु से निर्मित कछुआं, अष्ट धातु की जलाधारी ध्वजा, दंड शिखर आदि की प्राण-प्रतिष्ठा भी धूमधाम से की जाएगी। अंतिम दिन 27 नवंबर को शाम 7 बजे से कथा की पूर्णाहूति पर मनकामेष्वर महादेवजी का सुंदर श्रृंगार कर अन्नकूट (छप्पन भोग) लगाया जाएगा। महाआरती कर छप्पन भोग का प्रसाद सभी भक्तों को वितरित किया जाएगा। शहर के सभी भक्तजनों से अधिकाधिक लाभ लेने की अपील मंदिर समिति द्वारा की गई है।


“जिला न्यायालय परिसर में वाहन पार्किंग का उद्घाटन”


झाबुआ,। जिला न्यायालय परिसर झाबुआ में जिला न्यायाधीश श्री राजेश कुमार गुप्ता के कर कमलों से गुरूवार को वाहन पार्किंग स्थल का उद्घाटन किया गया। लंबे समय से परिसर में पृथक से वाहन पार्किंग स्थल न होने से पक्षकारों एवं अधिवक्तागणों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा था अब जिला न्यायालय परिसर के मुख्य दरवाजे के पास ही दायी ओर सर्वसुविधायुक्त पार्किंग का निर्माण कराया गया हैं। पार्किंग के फर्स में पेवर्स ब्लाक लगाये गये है सीमेन्ट का स्लोप एवं शेड के साथ पार्किंग को वाउन्ड्रीवाल से सुरक्षित किया गया हैं। न्यायालय परिसर में मामलों की सुनवाई के लिए आने वाले पक्षकारों एवं अधिवक्ताओं के चार पहिया एवं दुपहिया वाहनों को सुरक्षित तथा सुविधाजनक तरीके से पार्क किया जा सकेगा एवं आगंतुक आमजन एवं पक्षकारों तथा अधिवक्ताओं को वाहन पार्किंग के लिये सुविधा रहेगी। वाहन व्यवस्थित रूप से रखे जाने के लिए पार्क में पर्याप्त जगह छोड़ी गई हैं। नवीन पार्किंग के बन जाने से जिला न्यायालय परिसर में यातायात और पैदल आवागमन भी पहले से अधिक सुविधापूर्ण एवं सुरक्षित रहेगा। वाहन पार्किंग स्थल उद्घाटन कार्यक्रम में विषेष न्यायाधीश श्री महेश शर्मा, अपर जिला जज एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री राजेश देवलिया एवं संजय चैहान, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री गौरव प्रज्ञानन, न्यायिक मजिस्टेªट श्री राजकुमार चैहान, श्री हर्ष ठाकुर, सुश्री प्रतिभा वास्कले, श्रीमती तनवी ठाकुर, श्री अमन सुलिया एवं अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री बी.एल. सोनी एवं अन्य अधिवक्तगण तथा पक्षकारगण मौजूद थे।


आयुष्मान भारत योजना की नियमित समीक्षा के लिए जिले को 34 कलस्टरों में विभाजित, प्रत्येक कलस्टर पर समीक्षा के लिए अधिकारी नियुक्त


झाबुआ, 19 नवम्बर 2020। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अंतर्गत निरामय आयुष्मान भारत योजना में पात्र हितग्राही के कार्ड बनाने के कार्य की नियमित मानिटरिंग एवं समीक्षा के लिए पूर्व में जारी आदेश में आंशिक संशोधन किया है। इस आदेश के तहत जिले में 6 विकास खण्डों में कुल 34 कलस्टर बनाकर इतने की अधिकारियों को मानिटरिंग एवं समीक्षा के लिए अधिकारियों को जवाब देही सौंपी गई है। झाबुआ विकास खण्ड के अंतरवेलिया कलस्टर के लिए कार्यपालन यंत्री म.प्र.वि.म., देवझिरी पण्डा के लिए जिला परिवहन अधिकारी, ढेकल बड़ी के लिए सहायक संचालक जन संपर्क , कल्याणपुरा के लिए उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं, करडावद बडी कलस्ट के लिए उप संचालक कृषि को जवाब देही सौंपी गई है। मेघनगर विकास खण्ड के मदरानी कलस्टर के लिए कार्यपालन यंत्री जल संसाधन, माण्डवी के लिए कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, अगराल के लिए खनिज अधिकारी, नौ गांवा के लिए अधीक्षक भू-अभिलेख, बावडी फारेस्ट के लिए जिला आपूर्ति अधिकारी, पेटलावद विकास खण्ड के बामनिया कलस्टर के लिए जिला पंजीयक, बोलासा के लिए जिला योजना अधिकारी, रायपुरिया के लिए कार्यपालन यंत्री आरईएस, बरवेट के लिए महिला एवं बाल विकास अधिकारी, रूपगढ़ के लिए जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी, सारंगी के लिए कोषालय अधिकारी, करवड़ के लिए आबकारी अधिकारी, झकनावदा के लिए अधीक्षण यंत्री म.प्र.वि.म., रामा विकास खण्ड के उमरकोट कलस्टर के लिए श्रम निरीक्षक, रोटला के लिए कार्यपालन यंत्री पीएचई, पारा के लिए जिला खेल अधिकारी, रजला के लिए महाप्रबंधक सीसीबी, खेडा के लिए सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग, राणापुर विकास खण्ड के कंजावानीखास कलस्टर के लिए डीएमओ मार्कफ्रेड, कुंनदनपुर के लिए जिला आयुष अधिकारी, डाबलाई के लिए महाप्रबंधक ग्रामीण सड़क प्राधिकरण, अंधारवाड के लिए उप संचालक आत्मा, ढोल्यावाड के लिए उपायुक्त सहकारिता तथा थांदला विकास खण्ड के हरिनगर कलस्टर के लिए जिला ऊर्जा अधिकारी, काकनवानी के लिए डीपीएम ग्रामीण आजीविका मिशन, परवलिया के लिए परियोजना यंत्री पीआईयू, खजूरी के लिए सीएमएचओ, खवासा के लिए जिला रोजगार अधिकारी तथा नारेला कलस्टर के लिए प्रार्चाय आईटीआई को नियमित मानिटरिंग एवं समीक्षा के लिए जिम्मेदारी सौंपी गई है। कलेक्टर श्री सिंह ने जिला स्तरीय प्रगति रिपोर्ट के लिए लोक सेवा प्रबंधक को कार्यकारी नोडल नामांकित किया है। इसी प्रकार विकास खण्ड स्तरीय नियमित समीक्षा के लिए ई-गर्वनेंश मेनेजर, प्रभारी महात्मा गांधी ग्राम सेवा केन्द्र, सीएससी जिला समन्वयक तथा समन्वयक आयुष्मान भारत को जिम्मेदारी सौंपी गई है।


शासकीय रिवाल्वर गुम होने के संबंध में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश


झाबुआ। जिला दण्डाधिकारी श्री रोहित सिंह ने थाना काकनवानी से शासकीय रिवाल्वर जिसका बट नं. 09 बाॅडी नं.41430 गुम होने की सम्पूर्ण घटना क्रम की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। ज्ञात हो कि इस घटना में दोषी कर्मचारी प्रआर. मोहर्रिर सुमित यादव के विरूद्ध थाना काकनवानी पर अपराध क्रमांक 180/2019 धारा 409 भादवि का पंजीबद्ध अनुसंधान में लिया गया है। श्री सिंह ने घटना की दण्डाधिकारी जांच अनुविभागीय दण्डाधिकारी थांदला श्री अनिल भाना को सौंपी है। जांच अधिकारी निम्न बिन्दुओं पर जांच कर पूर्ण प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे। जांच के बिन्दु इस प्रकार है। रिवाल्वर किन परिस्थितियों में गुम हुआ है अथवा अन्य कोई कारण रहा है का निर्धारण। रिवाल्वर किसकी अभिरक्षा में था। रिवाल्वर किस स्थान से गुम हुआ है तत्समय कौन-कौन मौजूद थे। जिम्मेदार कर्मचारी/अधिकारी के नाम एवं उनके विरूद्ध क्या कार्यवाही की गई है। भविष्य के लिए सुरक्षात्मक कदम। अन्य प्रासंगिक विषय या बिन्दुओं को जांच अधिकारी उचित समझे। जांच के निष्कर्श जांच अधिकारी के अभिमत/अनुशंसा सहित पूर्ण प्रतिवेदन 30 दिवस में प्रस्तुत कि जावे। इस घटना के संबंध में यदि कोई भी व्यक्ति लिखित या मौखिक साक्ष्य प्रस्तुत करना चाहें तो 28 नवम्बर 2020 तक अनुविभागीय दण्डाधिकारी थांदला श्री अनिल भाना को कार्यालनीयन समय में प्रस्तुत कर सकता है।


“लोक अदालत का है यह नारा दोनों जीते कोई न हारा”


झाबुआ, 19 नवम्बर 2020। जिला न्यायालय परिसर झाबुआ एवं तहसील न्यायालय पेटलावद एवं थांदला में 12 दिसम्बर को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा हैं। जिसकी तैयारी के लिए बुधवार को राजेश कुमार गुप्ता जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ की अध्यक्षता में सभी न्यायाधीशगण एवं अधिवक्तागणों की एक बैठक आयोजित की गई। जिसमें लोक अदालत के माध्यम से अधिक से अधिक राजीनामा के आधार पर निराकरण कराने हेतु विचार-विमर्श किया गया। लोक अदालत के माध्यम से एक्सीडेंट क्लेम प्रकरण, चैक बाउन्स के मामले, भरण-पोषण तथा सिविल मामले एवं अन्य प्रकार के सभी राजीनामा योग्य प्रकरणों का आपसी सुलह समझौते के आधार पर निराकरण किया जावेगा। जिला जज के द्वारा बैठक में सम्बोधित करते हुए बताया कि पक्षकारों के हित में ज्यादा से ज्यादा मामले निराकृत कराने का सभी मिलजुल कर प्रयास करें, जिससे लाॅकडाउन की अवधि के रूके हुए प्रकरणों में पक्षकारों को न्याय दिलाये जा सके। उन्होने कहा कि ‘‘लोक अदालत का है यह नारा दोनो जीते कोई न हारा‘‘ विशेष न्यायाधीश श्री महेश शर्मा ने अपने सम्बोधन में बताया कि लोक अदालत के माध्यम से पक्षकार को तत्काल ही क्षतिपूर्ति राशि एवं चैक राशि प्राप्त हो जाती हैं और पक्षकारो के समय एवं धन की बचत होती हैं। अपर जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री राजेश देवलिया ने बैठक में बताया कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से लोक अदालत के संबंध में सभी प्रकार की निःशुल्क विधिक सहायता एवं सलाह पक्षकारों एवं अधिवक्ताओं को दी जा रही है। राजीनामा वाले मामलों में कोर्ट फीस भी पक्षकार को वापिस प्राप्त हो जाती हैं। लोक अदालत में बैंक वसूली, नगर पालिका कर वसूली, विधुत विभाग, बी.एस.एन.एल. आदि विभागों के प्रीलिटिगेशन एवं वसूली मामले भी रखे जावेगे जिनमें पूर्व की भाॅती नियमानुसार छूट प्राप्त रहेगी। बैठक में अपर जिला न्यायाधीश श्री संजय चैहान, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री गौरव प्रज्ञानन, न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री राजकुमार चैहान, श्री हर्ष ठाकुर, सुश्री प्रतिभा वास्कले, श्रीमती तनवी ठाकुर, श्री रवि तंवर, श्री अमन सुलिया एवं अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री बी.एल. सोनी, अधिवक्ता श्री हेमेन्द्र अग्निहोत्री, श्री हरीश खतेड़िया, श्री उमंग सक्सेना, श्री मनीष कानूनगो, श्री योगेश जोशी, श्री युनूस लोधी, श्री अखिलेश संघवी एवं अन्य अधिवक्तागण उपस्थित थे।


ज्ञान पंचमी पर अ. भा. चन्दना श्राविका मण्डल डुंगरप्रांत द्वारा हुआ खीर पूड़ी के सामूहिक एकासन का भव्य आयोजन

सद्गुरु से ली गई शिक्षा जीव को भव से पार लगाती है - प्रवर्तक जिनेन्द्रमुनिजी

थांदला। जिन शासन में ज्ञान पंचमी का विशेष महत्व है। इस दिन आराधक नया ज्ञान सीखने के लिए लालायित रहते है व पुराने ज्ञान की आवृत्ति करते है। उक्त धर्म प्रवचन जिन शासन गौरव जैनाचार्य पूज्य श्रीउमेशमुनिजी ष्अणुष् शिष्य प्रवर्तक श्रीजिनेंद्रमुनिजी ने विशाल धर्म सभा को सम्बोधित करते हुए कहे। पूज्यश्री ने कहा कि सद्गुरु से प्राप्त किया गया ज्ञान जीव को भव से पार लगा देती है। प्रवर्तक देव ने कहा कि जिस प्रकार गुरु के प्रति सच्ची निष्ठा भक्ति से द्रोणाचार्य की प्रतिमा से भी एकलव्य ने शिक्षा प्राप्त कर ली थी तो फिर सद्गुरु के चरणों में उनकी कृपा से जीव का मोक्ष द्वार खुल जाने में कोई अतिश्योक्ति नही है। पूज्यश्री ने महामोहनीय कर्म बन्ध के कारणों पर चिंतन फरमाते हुए कहा कि सद्गुरु की निंदा से जीव महामोहनीय कर्म का बन्ध कर लेता है जिससे उसकी भव परम्परा बढ़ जाती है। गौशालक ने भगवान महावीर प्रभु व उनकी वाणी की निंदा कर अपना पतन कर लिया वैसे ही ज्ञान के अहंकार से ज्ञानी की निंदा करने से जीव हानि उठाता हुआ नरक व तिर्यंच का मेहमान बन जाता है। धर्मसभा में युवा गिरिशमुनिजी ने उत्तराध्ययन के 14 वें अध्ययन पर भाव व्यक्त करते हुए कहा कि जीव आलस्य व प्रमाद के कारण धर्म नही करता हुआ निद्रा में रहता है। आगम कहता है कि जो रात्रि  धर्म मे व्यतीत होती है वहीं सफल है,शेष निष्फल है।निद्रा व आहार घटाने से घटते है व बढाने से बढ़ते है इसलिए इस पर नियंत्रण आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पिछली रात्रि में धर्म जागरणा करें तो वेगो वेगो मोक्ष में जाता है। महापुरुषों के जीवन के उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि निद्रा त्याग करते हुए धर्म आराधना करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है। धर्मसभा में विदुषी महासती निखिलशीलाजी आदि ठाणा की उपस्थिति में ज्ञान पंचमी की आराधना करने वालें लगभग 300 तपस्वियों ने उपवास, आयम्बिल, निवि, एकासन आदि तप की आराधना की। 


ज्ञान पंचमी पर खीर पूड़ी के सामूहिक एकासन का भव्य आयोजन


चातुर्मास काल के 10 दिन शेष होने से विशेष आराधना चल रही है। इसी तारतम्य में अखिल भारतीय चन्दना श्राविका मण्डल ने थांदला में पहली बार लाभ पंचमी के अवसर पर खीर-पुड़ी के सामूहिक एकासन का भव्य आयोजन स्थानीय महावीर भवन पर रखा गया। जानकारी देते हुए डुंगरप्रांत अध्यक्ष इंदु कुवाड़ व किरण पावेचा, स्वीटी जैन ने बताया की थांदला में पहली बार होने वाले भव्य आयोजन में पहली बार 250 से अधिक आराधक केवल एक समय एक ही बैठक पर खीर -पूड़ी व दूध मसालें से एकासन तप कर रहे है। वही ज्ञान पंचमी पर गुरुदेव द्वारा विवेचित साहित्य समकित छप्पनी की परीक्षा का आयोजन भी किया गया जो इस डूंगर मालवा में अभी तक नही हुआ है। उक्त सामूहिक एकासन का लाभ कुमठ परिवार थांदला-उज्जैन द्वारा लिया गया। धर्मसभा का संचालन श्रीसंघ अध्यक्ष जितेंद्र घोड़ावत ने किया वही तपस्वियों के प्रति संघ प्रवक्ता पवन नाहर ललित जैन नवयुवक मंडल अध्यक्ष कपिल पिचा ने आभार व्यक्त किया।

कोई टिप्पणी नहीं: