94 विधानसभा के 1463 प्रत्‍याशियों की किस्‍मत EVM में कैद - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 नवंबर 2020

94 विधानसभा के 1463 प्रत्‍याशियों की किस्‍मत EVM में कैद

rabri-devi
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव चुनाव के दूसरे चरण के मतदान में 17 जिलों के 94 विधानसभा क्षेत्रों में 1463 प्रत्‍याशियों की किस्‍मत ईवीएम में कैद हो गई. कोरोना संक्रमण के काल में वोट का फीसद कम रहा. इस दौरान कोई बड़ी घटना नहीं हुई.अब आगे सात नवंबर को तीसरे चरण की वोटिंग के बाद 10 नवंबर को मतगणना होगी. दूसरे चरण में सायं पांच बजे तक सर्वाधिक 57.08 फीसद मतदान मुजफ्फरपुर में हुआ। जबकि राजधानी पटना में न्‍यूनतम मतदान रिकार्ड किया गया. बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान सायं छह बजे समाप्‍त हो गया. इस दौरान सायं पांच बजे तक के मिले आंकड़ों के अनुसार कुल 51.58 फीसद मतदान रिकार्ड किया गया. निर्वाचन आयाेग ने अभी तक मतदान का अंतिम आंकड़ा जारी नहीं किया है, लेकिन इसके बीते चुनाव से कम रहने की उम्‍मीद है. दूसरे चरण में कम मतदान के पीछे कोरोना संक्रमण को बड़ा कारण माना जा रहा है. दोपहर बाद से मतदान के लिए बूथों पर कतारें कम होने लगी.राजधानी के शहरी इलाकों में भी मतदान को लेकर उदासीनता पर अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने चिंता जताई है. जिन महत्वपूर्ण दिग्गजों की किस्मत इवीएम में कैद हो गयी उनमें विधानसभाध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, ग्रामीण विकास एवं संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार, नेता विरोधी दल तेजस्वी प्रसाद यादव, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव, योजना एवं विकास मंत्री महेश्वर हजारी, खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री पदन सहनी, पीएचइडी मंत्री विनोद नारायण झा, पथ निर्माण मंत्री नंद किशेार यादव, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मो खुर्शीद उर्फ फिरोज, समाज कल्याण मंत्री राम सेवक सिंह, पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकि , पूर्व मंत्री चंद्रिका राय, पूर्व मंत्री हरिनारायण सिंह, विधायक जितेंद्र राय, उमेश सिंह कुशवाहा आदि प्रमुख हैं. इनके अलावे रामसेवक सिंह, लालू यादव के समधी चंद्रिका राय, काली पांडेय, नितिन नवीन, कांग्रेस नेता एवं अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा के पुत्र लव सिन्हा, राजद के प्रधान महासचिव एवं पूर्व मंत्री आलोक कुमार मेहता, पूर्व सांसद लवली आनंद, पूर्व सांसद रामा सिंह की पत्नी बीना सिंह, शशि यादव की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है.


बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के चुनाव को लेकर वोट डालने पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. वोट डालने के बाद मुख्यमंत्री बिना मीडिया से बात किए वापस लौट गए.आपको बता दें कि बीते दिन सुपौल के त्रिवेणीगंज, पिपरा और राघोपुर और मधेपुरा के आलमनगर व उदाकिशुनगंज में एनडीए उम्मीदवार के समर्थन में सभाओं को संबोधित करते उन्होंने कहा था कि उन्होंने कहा कि हमने सब क्षेत्र और समाज के सभी लोगों का विकास किया है. कोई ऐसा नहीं कर सकता है कि मेरे समाज के लोगों का ख्याल नहीं रखा गया. समाज के अंतिम व्यक्ति तक विकास की रोशनी पहुंचाई गई.  सीएम नीतीश ने कहा कि अगर उन्हें आगे काम करने का मौका मिला तो वह हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने, नई टेक्नोलॉजी को गांव-गांव तक पहुंचाने, युवक-युवतियों को इसका प्रशिक्षण दिलाने का प्रयास करेंगे. बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए मां राबड़ी देवी के साथ पोलिंग बूथ नंबर 160 पर वोट डालने पहुंचे तेजस्‍वी. इस दौरान राबड़ी देवी ने कहा कि बिहार में बदलाव चाहिए.आपको बता दें कि महागठबंधन की ओर से तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं. प्रदेश में आज होने वाली पीएम मोदी की रैली को लेकर उन्होंने एक पत्र भी जारी किया है जिसमें उन्होंने कुछ सवालों के जवाब मांगेे हैं. बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के चुनाव को लेकर वोट डालने पहुंचे हसनपुर सीट से विधानसभा चुनाव में चुनाव लड़ रहे राजद नेता और लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने कहा कि जनता बिहार में बदलाव चाहती है। मैं लोगों से वोट डालने की अपील करता हूँ. बिहार विधान सभा चुनाव के दूसरे चरण में पटना के 160 नंबर बूथ पर  मतदान करने पहुंचे नेता प्रतिपक्ष  ने दावा किया कि लोग अपने वोट की ताकत से बदलाव लाएंगे.उन्होंने कहा कि मैं लोगों से लोकतंत्र के इस त्योहार में हिस्सा लेने की अपील करता हूं. मुझे विश्वास है कि लोग अपने वोट की ताकत से बदलाव लाएंगे. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव की पत्नी और एवं परसा विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार पूर्व मंत्री चंद्रिका राय की पुत्री ऐश्वर्या राय मंगलवार को मतदान करने के लिए अपने पिता, मां और भाई-बहन के साथ परसा के बूथ संख्या 240 पर मतदान करने पहुंची.मतदान केंद्र से निकलने के बाद ऐश्वर्या ने कहा कि महागठबंधन सिर्फ सपने देख रहा है। बिहार में फिर एनडीए की सरकार बनने जा रही है.


पहले बातचीत करने से वे कतरा रही थीं.लेकिन साथ में रहे पिता चंद्रिका राय ने हौसला बढ़ाया तो उन्होंने कहा कि एनडीए को विकास के नाम पर वोट मिल रहा है.एक सवाल के जवाब में लालू परिवार की बहू ने कहा कि आज का मतदाता जुमले को खूब समझता है. उसने देख लिया है कि पंद्रह साल नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने बिहार का समुचित विकास किया है.रोजी-रोजगार की दिशा में भी संसाधनों के अनुपात में आगे बढ़ रही है. ऐश्वर्या के साथ रहे उनके पिता चंद्रिका राय ने कहा कि सभी जगह एनडीए की लहर चल रही है.राजद की असलियत सभी जान चुके हैं.तेजस्वी यादव के 10 लाख रोजगार देने की बात पर कहा कि यह सिर्फ चुनावी जुमला है. एक झटके में कहीं भी 10 लाख नौकरी देना संभव नहीं है. राजद ऐसी बयानबाजी कर लोगों को गुमराह कर रहा है. अगर यह संभव होता तो दूसरी पाटियां भी इस तरह की घोषणा कर सकती थीं.जिस बूथ पर चंद्रिका राय व उनके परिवार के लोगों ने वोट डाला है.उस बूथ की कमान पूरी तरह से उनकी पत्नी पूर्णिमा राय संभाल रखी थी.  वैशाली जिले के लालगंज विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 191 पर सुरक्षा में तैनात बीएसएफ के सब इंस्पेक्टर केआर भाई की हार्ट अटैक होने से मौत हो गई. मतदान की प्रक्रिया शुरू होने के ऐन वक्त पर इस सब इंस्पेक्टर को सीने में अचानक तेज दर्द शुरू हो गया.इसकी सूचना उन्होंने अपने बीएसएफ के सेंटर भगवानपुर में दी. तब बीएसएफ सेंटर के जवानों ने इलाज के लिए हाजीपुर सदर अस्पताल इलाज के लिए लेकर आए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया रास्ते में ही उनकी मौत हो गई. स्थानीय पुलिस ने इस घटना के संबंध में बीएसएफ के जवानों का बयान दर्ज करते हुए पोस्टमार्टम की कार्रवाई शुरू करा दी है.मृतक सब इंस्पेक्टर केयर भाई गुजरात बीएसएफ में पदस्थापित थे.वह गुजरात राज्य के वडोदरा शहर के रहने वाले थे.

कोई टिप्पणी नहीं: