बिहार में भी मनाई गई पंडित नेहरू की जयंती - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 15 नवंबर 2020

बिहार में भी मनाई गई पंडित नेहरू की जयंती

nehru-anniversiry-in-bihar-nitish-tribute
पटना 14 नवंबर, देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की 131वीं जयंती आज पूरे बिहार में मनाई गई। राजधानी पटना में मुख्यमंत्री आवास स्थित नेक संवाद कक्ष में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंडित नेहरू के तैल चित्र पर माल्यार्पण और नमन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी । कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम समेत प्रदेश के सभी जिला कांग्रेस कार्यालय में भी पंडित नेहरू की जयंती मनाई गई । कांग्रेस मुख्यालय, सदाकत आश्रम में आयोजित जयंती समारोह की अध्यक्षता प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.मदन मोहन झा ने की। इस मौके पर सदाकत आश्रम के उद्यान में स्थित पंडित नेहरू की प्रतिमा पर कांग्रेस नेताओं ने माल्यापर्ण किया । बाद में डॉ. झा ने पंडित जवाहर लाल नेहरू को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि देश के नवनिर्माण में पंडित नेहरू के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। आधुनिक भारत के वह निर्माता थे । उन्होंने देश में बड़े-बड़े कल-कारखाने की स्थापना की । बिजली घरों का निर्माण, रेल और सड़कों का जाल बिछाया, उच्च शिक्षा के लिये विश्वविद्यालय अनुदान आयोग भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) और भारतीय प्रबंधन संस्थान ( आइआइएम) की स्थापना की।  

कोई टिप्पणी नहीं: