सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 08 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 8 दिसंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 08 दिसंबर

हो रहीं है पापड़ अगरवत्ती और दोने पत्तल से कमाई, वार्ड मित्रों ने मिलकर दिया महिलाओं को रोजगार


sehore news
सीहोर। शहर में स्थित श्रीराम कॉलोनी की बेरोजगार महिलाओं को मित्र मंडली ने मिलकर रोजगार उपलब्ध करा दिया। सिलाई बुनाई कड़ाई और पापड़ अगरवत्ती दोने पत्तल बनाकर महिलाओं ने अपने आप को सबल बना लिया। महिलाओं के परिवारों की आर्थिक स्थितियों में जहां परिवर्तन आया वहीं दूरदराज की परिचित महिलाओं को भी रोजगार से लगा दिया। मंगलवार को स्वरोजगार सर्जन में सक्रिय मित्र मंडल के कार्यकर्ताओं ने विधिवत पूजा अर्चना कर पापड़ और दोने पत्तल बनाने की मशीनों को जरूरतमंद महिलाओं को प्रदान किया।   संस्था प्रमुख राजेश मेवाड़ा ने बताया की संस्था के द्वारा वार्ड क्रमांक 25 के श्रीराम कॉलोनी, रेलवे कॉलोनी,सुभाष नगर, जनता कॉलोनी, शिवाराध्य कॉलोनी कांछी मोहल्ला आदि क्षेत्र में रहने वाली दो सौ से अधिक महिलाओं को योग्यता के अनुसार बीेते महिनों में स्वरोजगार सर्जन के तहत सिलाई कड़ाई बुनाई के लिए सिलाई मशीन, पापड़ निर्माण मशीन, अगरवत्ती बनाने की मशीन, दोना पत्तल निर्माण मशीन प्रदान की गई है। संस्था के द्वारा महिलाओं का आत्मबल बढ़ाने और उनको आत्मनिर्भर बनाने के लिए उक्त पुनित  कार्य  किया  जा रहा है महिलाओं के द्वारा निर्मित उत्पादों को बाजार भी उपलब्ध कराया जा रहा है। महिलाओं के द्वारा  उत्पादित सामान को  सहीं दाम भी मिल इस के लिए भी संस्था के कार्यकर्ताओं के द्वारा प्रयास किया जा रहा है जिस से की महिलाओं को अधिकतम आर्थिक लाभ प्राप्त हो रहा है।  उल्लेखनीय है की संस्था प्रमुख श्री मेवाड़ा विभिन्न सामाजिक धार्मिक संगठनों से जुड़े हुए है। क्षेत्र में होने वाले जनहितैशी कार्यो में विशेष भूमिका रखते है। बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराना हीं उनका प्रमुख उददेश्य रहा है। लाभांवित राजश्री चौहान, भाग्यश्री आयज़्, अंकिता कुशवाह ,रेखा कुशवाह, रमा कौशल,ममता कौशल ,सरस्वती कुशवाह ,सावित्री महेश्वरी, नेहा मेवाड़ा संगीता जयसवाल, संतरी मेवाड़ा चिंता मेवाड़ा ,गोदावरी बाई कोमल मेवाड़ा, राधा मेवाड़ा सहित अन्य महिलाओं ने संस्था के राजेश मेवाड़ा, दीपक पाटीदार, ब्रिजेश पारासर, राजकुमार कुशवाहा, बिजेश राय, सुरेश  आयज़्, अजुज़्न विश्वकमाज़् आदि का आभार व्यक्त किया है। 


पुलिस ने आंदोलनकारी किसानों को बाजार में नहीं दिया घुसने, लगाए बेरीकेट्स खड़े किए ब्रज वाहन,तैनात किए सशस्त्र जवान
  • किसान हित में का दिखाई दिया असर, दोपहर 12 बजे के बाद खुली दुकाने
  • कलेक्ट्रेट में एकत्रित हुए राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के सेकड़ों कार्यकर्ता , किसानों ने नारेबाजी कर दिया उपर कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन
  • गल्ला व्यापारियों ने बंद का किया समर्थन,अनाज बेचने मंडी नहीं पहुंचे किसान, दिल्ली जाएंगे जिले से दो हजार से अधिक किसान,केंद्र के खिलाफ देंगे धरना

sehore news
सीहोर।
पुलिस ने मंगलवार को केंद्र सरकार के द्वारा पारित अध्यादेशों का  विरोध कर रहे किसानों को बाजार में घुसने नहीं दिया। पुलिस के द्वारा जिले भर में अनेक प्रमुख स्थानों पर बेरीकेट्स खड़े किए गए और ब्रज वाहन,के  साथ सशस्त्र जवान तैनात किए गए। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ ने सोमवार को सड़क पर उतर कर देश व्यापी आहवान पर बाजार बंद कराने रैली निकालने ज्ञापन देने की सूचना जिला प्रशासन को दी थी जिस के बाद पुलिस प्रशासन के द्वारा मंगलवार को पुख्ता इंतजाम कर राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ,अखिल भारतीय किसान महासभा,राष्ट्रीय किसान मोर्चा, किसान स्वराज संगठन, बहुजन क्रांति मोर्चा,भारत मुक्ती मोर्चा,भारतीय युवा मोर्चा,राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा,भारतीय विद्यार्थी मोर्चा,ओबीसी महासभा के कार्यकर्ताओं की मेहनत पर पानी फेर दिया। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ सहित दो दर्जन विभिन्न संगठनों ने किसान हित में भारत बंद का समर्थन किया था। व्यापारियों दुकानदारों से दुकाने प्रतिष्ठान बंद रखने  की अपील की गई थी। जिला मुख्यालय सहित इछावर, आष्टा, जावर बुधनी, श्यामपुर, दोराहा अहमदपुर, नसरूल्लागंज रेहटी आदि में  कई व्यापारियों ने दोपहर तक किसानों के समर्थन में अपनी दुकाने बंद रखकर किसानों को साथ दिया। कृषि गल्लामंडी में किसी भी प्रकार की खरीददारी व्यापारियों के द्वारा नहीं की गई। अनाज बेचने किसान भी नहीं पहुंचे मंडी में सन्नाटा पसरा रहा है। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ सहित अखिल भारतीय किसान महासभा,राष्ट्रीय किसान मोर्चा, किसान स्वराज संगठन, बहुजन क्रांति मोर्चा,भारत मुक्ती मोर्चा,भारतीय युवा मोर्चा,राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा,भारतीय विद्यार्थी मोर्चा,ओबीसी महासभा ने केंद्रीय कार्यकारिणी के आहवान पर केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ  तीनों कृषि कानून बिलो के विरोध में भारत बंद का समर्थन करते हुए  कलेक्ट्रेट पहुंचकर नारेबाजी कर राष्ट्रपति के नाम अपर कलेक्टर को ज्ञापन दिया। तीनों कानूनों को तत्काल वापस लेने की मांग की गई ज्ञापन देते समय बलराम मुकाती,प्रहलाद सिंह भगत, जसवन्तसिंह मेवाड़ा, प्रदलाददास  बैरागी, विनयसिंह दांगी, चांद सिंह मेवाड़ा, नारायणसिंह ठाकुर, मांगीलाल पटेल. रमेश परमार,आत्माराम चंद्रवंशी, भानू प्रताप मेवाड़ा   एहसान खान,राजकुमार बडोदिया, मनोहर यादव, धमेंद्र सिंह, कृपाल सिंह, धन सिंह मेवाड़ा, देवकरण मेवाड़ा, मुकेश दादा, सहित  विभिन्न संगठनों  के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं सहित किसान मौजूद रहे।  

भोली भाली जनता के स्वास्थ के साथ खिलवाड

sehore news
आज संपूर्ण विश्व एवं हमारा देश एक भयंकर कोविड नामक महामारी के दौर से गुजर रहा है लेकिन सरकार मिक्सोपथी का कानून पास कर के आयुर्वेदिक डॉक्टर्स को ऑपरेशन की परमिशन देकर इस देश को किस दिशा मे ले जाना चाहती है ये समझ के परे है | इस प्रकार देश की संस्था भारतीय चिकित्सा केंद्रीय परिषद के दिशा निर्देशों के निर्देशों का सरासर उल्लंघन होगा,  एवं नैदानिक साहित्यिक चोरी  होगी जिससे एक मेडिकल जगत का इलाज खीचडियाय हो जायेगा एवं भोली भाली जनता के स्वास्थ के साथ खिलवाड होगा जिसके लिए नीति आयोग की मिक्योपैथी की नीति जिम्मेदार होगी | इस देश के IMA के सभी सदस्य इसका पुरजोर विरोध करते है एवं  सभी मेडिकल जगत के संगठनो के साथ मिलकर जैसे JDA, मेडिकल टीचर्स एसोशिएशन, शासकीय चिकित्सक संगठन  मंगलवार  8.12.20  को बैनर के द्वारा शांतिपूर्ण  प्रदर्शन एवं शुक्रवार, दिनांक 11 दिसम्बर 2020 को सुबह 6 बजे से सायं 6 बजे तक इमर्जेंसी के अलावा सभी कार्य सांकेतिक रूप से बंद रखने का आग्रह किया है एवं अगर इस कानून मे बदलाव नही किया तो देश की सभी स्वास्थ सेवाएं पूर्ण रूप से बंद कर दी जायेगी|  यह आयोजन राष्ट्रीय अद्यक्ष के निर्देशों पर किया जा रहा है|

9वीं से 12वीं तक के बच्‍चों के स्‍वागत के लिए हो रहे तैयार

कक्षा 9वी से लेकर 12वीं तक के विद्यार्थियों के शंका समाधान के लिए स्कूल नियमित रूप से पूरे निर्धारित समय तक के लिए खुले रहेंगे और विद्यार्थी माता-पिता/अभिभावक की सहमति से शंका समाधान एवं मार्गदर्शन के लिए विद्यालय आ सकेंगे। कक्षा 10वीं और 12 वीं की मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंण्डल की परीक्षाएं नियत समय पर संपन्न होगी। कक्षा 10वीं और 12वीं की कक्षाओं में एक सप्‍ताह के पश्‍चात से नियमित रूप से शैक्षणिक कार्य संचालित किया जायेगा । 9वीं  व 11वीं कक्षा के विद्यर्थियों के लिए विद्यालय में उपलब्ध स्थान के अनुसार सप्ताह में दो से तीन बार नियमित शैक्षणिक कार्य हेतु कक्षाएं संचालित की जायेगी। सप्ताह में कितने दिन विद्यार्थियों को बुलाया जाना है इस बारे में विद्यालय स्वंय निर्णय लेंगे। आवश्यकतानुसार कक्षा को दो सेक्शन में बांटा जा सकेगा। विद्यार्थी माता-पिता/अभिभावक की सहमति से ही विद्यालय आयेंगे। ऑनलाइन अध्यापन की गतिविधियां पूर्ववत जारी रहेंगी। सभी विद्यालय कोविड-19 संक्रमण के संबंध में जारी स्टेण्डर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर का पालन अशासकीय एवं शासकीय दोनों प्रकार के विद्यालय करेंगे। जिला कलेक्‍टर द्वारा समय समय पर आवश्‍यकतानुसार विद़धार्थियों और शैक्षणिक तथा गैर शैक्षणिक स्‍टाफ के लिए कोविड टेस्‍ट सम्‍पन्‍न कराया जायेगा। इस संबंध में रविवार 6 दिसंबर को क्राइसेस मेनेजमेन्‍ट ग्रुप की बैठक बलाई गई जिसमें सभी बिन्‍दुओं के पालन पर सहमति व्‍यक्‍त की गई तथा कलेक्‍टर द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी सीहोर को आदेशित किया गया कि वे सीहोर जिले के समस्‍त शैक्षणिक संस्‍थाओं को इन निर्देशों का पालन किये जाने के लिए समस्‍त आवश्‍यक कार्यवाही सुनिश्चित करें। 

किसान खेत पाठशाला का द्वितीय चरण प्रारंभ

किसान खेत पाठशाला का द्वितीय चरण दिनॉंक 05/12/2020 से प्रारंभ हो चुका है। पाठशाला के तृतीय दिवस तक जिले की 497 पंचायतों में से 198 पंचायतों में पाठशालाऐ आयोजित की जा चुकी हैं। द्वितीय चरण की पाठशालाएं ग्राम पंचायत भवन में आयोजित ना होकर गांव की चौपाल, गौशाला या किसी प्रगतिशील कृषक के खेत पर आयोजित की जा रही हे। इन पाठशालाओं में गेहूं में सिंचाई, जडमाउ कीट के प्रकोप दिखाई देने पर औषधि का छिडकाव, चने में सिचाई एवं उर्वरक प्रबंधन, चने में इल्लियों के जैविक नियंत्रण हेतु टी या वाई आकार की खुंटियां प्रति एकड 40 से 50 खुंटी, जिसपर पक्षियों के बैठने का स्‍थान बन जावेगा जो इल्लियों को चुन चुन को समाप्‍त कर देंगे। उद्वधनिकी के अन्‍तर्गत लहसुन एवं प्‍याज में सिंचाई, निंन्‍दाई-गुडाई, उर्वरक उपयोग तथा खरपतवार नियंत्रण, पशुपालन के अंतर्गत पशुशाला को सूखा रखने, ठंडी के मौसम में पशुओं को शीत लहर से बचाने के उपाय, पशुओं में होने वाले रोग तथा उनके उपचार पशुओं का स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण, नवजात पशुओं की देखभाल की सलाह के साथ-साथ टीकाकरण का कार्य भी किया जा रहा है। पाठशाला में कृषि बिल पर भी चर्चा की जा रही है खेतपाठशाला में कोविड-19 के निर्देशों का पालन किया जा रहा है।

तनाव से मुक्ति दिलाने और भावनात्मक सहयोग देने में मददगार साबित हो रही है हेल्पलाइन 1800-233-0175  
कोरोना के कारण अवसादग्रस्त व्यक्तियों के परिजनों को मनोवैज्ञानिक परामर्श स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन सक्रिय

कोविड 19 कोरोना वायरस संक्रमण से उपजे संकट और लॉकडाउन का प्रभाव व्यक्ति की जीवनशैली के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी पड़ा है। इन परिस्थितियों में आमजन तनावग्रस्त और अवसादग्रस्त न हों इसके लिए भोपालवासियों को मनोवैज्ञानिक परामर्श हेल्पलाइन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।  स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन नंबर 1800—233—0175 पर कॉल करके व्यक्ति मनोवैज्ञानिक परामर्श ले सकता है।  यह सुविधा लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत संचालित की जा रही है। संस्थागत क्वारंटाइन या होम आइसोलेट किए गए व्यक्तियों और उनके परिजनों को भी इस सुविधा के जरिए अपनी मनोवैज्ञानिक परेशानी का समाधान विशेषज्ञों द्वारा प्राप्त हुआ है। लॉकडाउन के कारण अकेलेपन या एक ही स्थान पर रहने के कारण अवसादग्रस्त हुए लोगों ने भी अपने मन की बात विशेषज्ञों से साझा की और उन्हें तनावमुक्ति के लिए उचित परामर्श दिया गया है। मनोवैज्ञानिक परामर्श हेल्पलाइन पर कॉल करने वाले लोगों के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव के तरीके भी साझा किए जाते हैं। साथ ही उन्हें यह भी बताया जाता है कि संक्रमण से बचते हुए क्वारंटाइन या आइसोलेट किए गए व्यक्ति के साथ कैसे व्यवहार करना है। उन्हें समझाया जाता है कि इस समय हमें एक दूसरे के साथ और सहयोग की आवश्यकता है और इसी से हम इस कोरोना महामारी को हरा सकते है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी सैनिक कल्याण के लिए दान राशि

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सशस्त्र सेना झण्डा दिवस पर सैनिक कल्याण के लिए सहयोग राशि भेंट की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सामाजिक संगठनों, नागरिकों और जनप्रतिनिधियों को सैनिक परिवारों के सहयोग का आव्हान भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान को संचालक सैनिक कल्याण (से.नि.) ब्रिगेडियर श्री अरुण सहगल ने फ्लैग लगाया और दान राशि प्राप्त की। इस अवसर पर सैनिक कल्याण संचालनालय के (सेवानिवृत्त) कमांडर श्री उदयसिंह, श्री संजय नायडू, श्री सुमित लाल और श्री अमित कुमार उपस्थित थे।

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान 17 से 19 जनवरी तक

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान का केवल एक चरण 17 से 19 जनवरी तक प्रदेश के समस्त जिलों के साथ ही भोपाल जिले में भी आयोजित किया जाएगा। अभियान के तहत शून्य से पांच वर्ष तक के सभी बच्चो को सूचीबद्व कर "दो बूंद जिदंगी की'' की यानि पल्स पोलियो खुराक दी जाएगी। जिले में अभियान की सूक्ष्म कार्ययोजना निर्माण, प्रशिक्षण, अंतर्राविभागीय समन्वय, जिला टास्क फोर्स की बैठक, वृहत प्रचार-प्रसार, प्रिन्टिंग, कोल्ड चैन प्लान, फ्रीजिंग प्लान एवं अभियान के लिए अन्य गतिविधियों के सफल संचालन के लिए समय-सीमा तथा अधिकारी, कर्मचारियों की जबावदेही का निर्धारण किया गया है।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया ने दिए निर्देश
पंचायत सचिव व रोजगार सहायक सोमवार गुरुवार को पंचायत मुख्यालय में उपस्थित रहे

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया ने प्रदेश के सभी ग्राम पंचायत सचिवो व रोजगार सहायकों को निर्देश दिए है कि वे सप्ताह में प्रत्येक सोमवार और गुरुवार को ग्राम पंचायत मुख्यालय में बैठ कर कार्य संपादित करें। मंत्री श्री सिसोदिया ने सभी जनपद पंचायत के कार्यपालन अधिकारियों को इस संबंध में सतत निरीक्षण करने के निर्देश भी दिए है। सभी सचिव व रोजगार सहायक ग्राम पंचायत मुख्यालय में रहकर शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को देवे जानकारी के अभाव में ग्रामीण जन योजनाओं का लाभ होने से वंचित रह जाते है वे वहां उपस्थित रहकर उनके आवेदन आदि प्राप्त करे। यदि नियत दिनांक को ग्राम पंचायत मुख्यालय पर ग्राम पंचायत सचिव तथा ग्राम रोजगार सहायक उपस्थित नहीं रहते है तो ऐसी दशा में संबंधित जनपद पंचायत व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को उत्तरदायी माना जाकर उनके विरूद्ध भी कार्यवाही की जाएगी। 

14 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 114 है


sehore news
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले पिछले 24 घंटे के दौरान 14 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के  दांगी स्‍टेट,वार्ड क्रमांक 25, नेहरू कॉलोनी, रेल्‍वे कॉलोनी , गंज से 9 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्‍त हुई है। इछावर के कालापीपल से 1 व्‍यक्ति संक्रमित मिला है एवं नसरूल्‍लागंज के छिंदगांव मौजी,  बंजरंग कुटी,  स्‍थानीय नसरूल्‍लागंज से 4 व्‍यक्तियों की रिपोर्ट संक्रमित प्राप्‍त हुई है ,  जिले में एक्टिव/संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 114 है। आज कुल 16 व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया। कुल रिकवर की संख्या 2311 है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 445  सैम्पल लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से 50 सैम्पल लिए गए, नसरूल्लागंज 86 , आष्टा से 84 , इछावर से 60, श्यामपुर से 120,  बुदनी से 45 सैम्पल लिए गए है।    आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2473 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2311 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 114 है। आज 445 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 47623 हैं जिनमें से 44634 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 351 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 445 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति या उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है। 

कोई टिप्पणी नहीं: