किसानों के समर्थन में पदयात्रा 17 दिसम्बर से - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 दिसंबर 2020

किसानों के समर्थन में पदयात्रा 17 दिसम्बर से

भारत के कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी के संसदीय क्षेत्र मुरैना से

foot-march-in-farmer-favour
मुरैना. गांधी,विनोबा,जयप्रकाश,अम्बेडकर को आदर्श मानने वाले पदयात्रा करके मुरैना से दिल्ली जाएंगे.किसानों के समर्थन में पदयात्रा 17 दिसम्बर से भारत के कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी के संसदीय क्षेत्र मुरैना से शुरू होगी.  इसके पहले 13 दिसंबर से ही गांधीवादी विचारक व एकता परिषद के संस्थापक राजगोपाल पी वी तिल्दा, छत्तीसगढ़ से यात्रा शुरू कर दिये हैं.यह यात्रा कवर्धा, मंडला, डिंडोरी, उमरिया, कटनी, दमोह, सागर, ललितपुर, झाँसी, दतिया, ग्वालियर होते हुए  मध्यप्रदेश पहुँच गयी है.सागर ज़िले के ग्राम तोड़ा गोतमिया से यात्रा के तीसरे दिन की शुरुआत, कल 17 दिसम्बर को मुरैना से दिल्ली की ओर शुरु होने वाली पदयात्रा मे शामिल हो जाएंगे. आज सुबह प्रयोग आश्रम तिल्दा, रायपुर से एकता परिषद के संस्थापक एवं सर्वोदय समाज के समन्वयक पी. वी. राजागोपाल जी किसान आंदोलन के समर्थन में मुरैना से शुरू होने जा रही पदयात्रा में शामिल होने के लिए सड़क मार्ग से निकले.उसी तरह कवर्धा, मंडला, डिंडौरी, उमरिया होते हुए रात्रि विश्राम कटनी में होगा.किसानों के समर्थन में पदयात्रा 17 दिसम्बर से भारत के कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी के संसदीय क्षेत्र मुरैना से शुरू होगी. बता दें कि एकता परिषद के संस्थापक राजगोपाल पी वी (सर्व सेवा संघ, सर्वोदय समाज, भारत पुनर्निर्माण अभियान, जल बिरादरी, एकता परिषद एवं अन्य संगठन) ने मिलकर यह तय किया था कि हमलोग 17 दिसंबर को किसान आन्दोलन के समर्थन में कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर के संसदीय क्षेत्र मुरैना से दिल्ली की ओर पैदल यात्रा शुरू करेंगे. मुरैना में हमारे साथ मुरैना के किसान एवं देश भर के साथी पैदल यात्रा में साथ जुड़ेंगे. एकता परिषद के संस्थापक राजगोपाल पी वी ने अपने साथियों को , सामाजिक संगठनों से और सामाजिक संस्थाओं का आह्वान किया है जो लोग  पहुँच सकते हैं मुरैना तो पहुँच जाएँ. 17 दिसंबर की सुबह हम मुरैना से पैदल चलना शुरू करेंगे. जो नहीं पहुँच सकते वे अपने अपने स्तर पर उपवास करेंगे, छोटे -छोटे आंदोलन करेंगे और निवेदन करेंगे कलेक्टर से, तहसीलदार से, जिनसे मिल सकते हैं उनसे मिलेंगे एवं विभिन्न कार्यक्रमों को 14 दिसम्बर से शुरू करें.जो जारी है. मुजफ्फरपुर बिहार के विजय गौरेया ने कहा है आदरणीय राजा जी के वीडियों को कुछ गड़बड़ी के कारण सुन-देख तो नहीं पाये. लेकिन आपके अभियान के समर्थन में उत्तर बिहार के मुजफ्फरपुर और मधेपुरा (मुरलीगंज) में हमने कार्यक्रम प्लान किया है.MSP को केंद्र में रखकर दोनों जगह समान फॉरमेट पर गाँव-टोला में पहुँचकर हस्ताक्षर अभियान तय किया है.मुजफ्फरपुर में 14 से 31 दिसंबर के बीच में आर्थात् यहाँ कल से अभियान जारी है.  मधेपुरा में 17 दिसंबर से शुरू होगा.

कोई टिप्पणी नहीं: