कोरोना के नये वैरिएंट से 20 संक्रमित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 30 दिसंबर 2020

कोरोना के नये वैरिएंट से 20 संक्रमित

new-covid-varient-20-posetive
नयी दिल्ली 30 दिसंबर, ब्रिटेन में पाये गये कोरोना वायरस के नये वैरिएंट से देश में संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़कर अब 20 हो गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार मंत्रालय ने आज इस बाबत जानकारी देते हुए कहा कि 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच ब्रिटेन से भारत आये जिन यात्रियों की कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई, उनके नमूने आगे की जांच के लिए इन्साकॉग की अलग-अलग लैब में भेजे गये। इन 10 लैब में से छह लैब ने अब तक ऐसे कुल 107 नमूनों की जांच की , जिनमें से 20 नमूने नये वैरिएंट से संक्रमित पाये गये। सबसे अधिक 50 नमूनों की जांच पुणे स्थित एनआईवी में हुई और वहां मात्र एक यात्री का नमूना नये वैरिएंट से संक्रमित पाया गया। एनसीडीसी दिल्ली में जांच किये गये 14 नमूनों में से आठ, एनआईबीजी कल्याणी, कोलकाता में जांच किये गये सात नमूनों में से एक, निम्हांस में जांच किये गये 15 नमूनों में से सात, सीसीएमबी में जांच किये गये 15 नमूनों में से दो और आईजीआईबी में जांच किये गये छह नमूनों में से एक नमूना ब्रिटेन के वैरिएंट से संक्रमित पाया गया। डीबीटी पुणे, आईएलएस भुवनेश्वर, एनसीसीएस, पुणे और डीबीटी बेंगलुरू में एक भी नमूना जांच के लिए नहीं भेजा गया था। गौरतलब है कि डेनमार्क, नीदरलैंड, इटली, फ्रांस, जर्मनी आदि कई देशों में ब्रिटेन का कोरोना वायरस का नया वैरिएंट पाये जाने पर केंद्र सरकार ने भी ब्रिटेन से 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच भारत आये यात्रियों की ट्रैकिंग शुरू कर दी। मंत्रालय ने मंगलवार को बताया था कि 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच ब्रिटेन से भारत में करीब 33 हजार यात्री आये। विभिन्न राज्य और केेंद्र शासित प्रदेश इन यात्रियों की ट्रैकिंग करके आरटी-पीसीआर टेस्ट कर रहे हैं। कोरोना के नये वैरिएंट से संक्रमित इन सभी व्यक्तियों को आइसोलेशन में संबंधित राज्य सरकारों द्वारा रखा गया है। उनके नजदीकी संपर्क के व्यक्ति भी क्वारंटाइन हैं। उनके साथ के सह यात्रियों, परिजनों और संपर्क में आये अन्य व्यक्तियों की ट्रैकिंग की जा रही है। फिलहाल संक्रमित यात्रियों के जिनोम सिक्वेसिंग का काम जारी है। ब्रिटेन का यह नया वैरिएंट अब तक डेनमार्क, नीदरलैंड, आस्ट्रेलिया, इटली, स्विट्जरलैंड, फ्रांस, स्वीडन, स्पेन, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान और सिंगापुर में भी पाया गया है। सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान में भी यह वैरिएंट पाया गया है। केंद्र सरकार ने मौजूदा स्थिति को देखते हुए ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानें 23 दिसंबर से 31 दिसंबर तक निलंबित कर दी हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: