विशेष समय में विशेष प्रयास कर ऋण उपलब्ध करायें बैंकर्स : कुंदन कुमार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जनवरी 2021

विशेष समय में विशेष प्रयास कर ऋण उपलब्ध करायें बैंकर्स : कुंदन कुमार

  • बेतिया माॅडल को विकसित करने में बैंकर्स की अपेक्षित सहयोग है जरूरी
  • * सभी बैंकर्स को तीव्र गति से ऋण संबंधित मामलों का निष्पादन करने का निर्देश।

bankres-try-for-better-loan
बेतिया. लाॅकडाउन के दौरान जिले में वापस लौटे कामगारों/श्रमिकों को इसी जिले में रोजगार उपलब्ध कराने में सभी बैंक प्रबंधकों द्वारा सराहनीय कार्य किया गया है। पश्चिम चम्पारण जिले के सभी संबंधित अधिकारी एवं कर्मियों के समन्वित प्रयास से ही बेतिया माॅडल को विकसित किया गया है तथा चनपटिया में स्टार्टअप जोन का अधिष्ठापन कराया गया है। स्टार्टअप जोन में प्रोडक्शन चालू है तथा देश-विदेश में पश्चिम चम्पारण जिले के बने उत्पाद भेजे जा रहे हैं। यहां के उत्पाद इतने गुणवता से लैश हैं कि दिन-प्रतिदिन इनकी डिमांड बढ़ती जा रही है। स्टार्टअप जोन को क्रियाशील देखकर अन्य इच्छुक व्यक्ति द्वारा भी यहां कार्य करने की इच्छा जतायी जा रही है। इन सभी को रोजगार उपलब्ध कराने में बैंकर्स की अपेक्षित सहयोग की आवश्यकता जिलाधिकारी कुंदन कुमार समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित समीक्षात्मक बैठक में जिले के विभिन्न बैंकर्स को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बैंकर्स को निर्देश दिया कि स्टार्टअप जोन अंतर्गत अपना उद्यम शुरू करने के इच्छुक व्यक्तियों को तीव्र गति से ऋण उपलब्ध करायी जाय ताकि वापस लौटे कामगार/श्रमिक अपना रोजगार चालू कर सकें तथा पश्चिम चम्पारण जिले का विकास तीव्र गति से हो सके। उन्होंने बैंकर्स को हिदायत दिया कि वेबजह कामगारों/श्रमिकों को परेशान करने वाले बैंकर्स के विरूद्ध सख्त कार्रवाई भी की जायेगी। उन्होंने कहा कि बैंकर्स द्वारा जिन ऋण आवेदनों को अस्वीकृत किया गया है, उसका रिव्यू पुनः करें तथा प्रयास करें कि शीघ्र ही आवेदकों को ऋण उपलब्ध कराया जा सके। समीक्षा के क्रम में वैसे आवेदक जिनके ऋण आवेदन किन्हीं कारणों से सेंशन नहीं हुए हैं अथवा अन्य कारणों से उन्हें अबतक ऋण उपलब्ध नहीं हो पाया है, की सीधी वार्ता संबंधित बैंकर्स से करायी गयी। अधिकांशतः मामलों का आॅन द स्पाॅट निष्पादन कराया गया। बैंकर्स ने आश्वासन दिया कि एक सप्ताह/जनवरी माह तक ऋुण की राशि उपलब्ध करा दी जायेगी।  जिलाधिकारी ने एलडीएम को एक काॅमन चेकलिस्ट बनाने का निर्देश दिया है, जिसमें पीएमजीईपी के तहत ऋण लेने के लिए आवश्यक कागजातों की जानकारी हो। काॅमन चेकलिस्ट को सभी बैंकों को उपलब्ध कराने को कहा गया है ताकि बैंकर्स को ऋण उपलब्ध कराने में सहूलियत हो सके।  जिलाधिकारी ने कहा कि यह जिले के लिए गौरव की बात है कि शीघ्र ही फैब्रिक का निर्माण भी इसी जिले में होगा। अभी टेक्सटाईल उद्यम के लिए फैब्रिक बाहर के राज्यों से मंगाया जाता है। अपने जिले में फैब्रिक का निर्माण होने से उद्यमियों को काफी राहत मिलेगी तथा उन्हें ज्यादा मुनाफा भी होगा। फैब्रिक का निर्माण करने वाले पावरलूम कामगारों को ऋण की आवश्यकता है। इच्छुक लोगों द्वारा इस के लिए विभिन्न बैंकों में आवेदन सौंपा गया है। पावरलूम का कार्य करने वाले व्यक्तियों को अविलंब ऋण उपलब्ध करायी जाय। इस अवसर पर सीबीआई, आईसीआईसीआई, बैंक आॅफ बड़ौदा, एसबीआई, इंडियन बैंक, इलाहाबाद बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, आंध्रा बैंक, केनरा बैंक, यूको बैंक, यूनियन बैंक आॅफ इंडिया, सेन्ट्रल बैंक आॅफ इंडिया आदि के प्रबंधक/प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: