दरभंगा : गणतंत्र में अधिकार के साथ कर्तव्य भी महत्वपूर्ण : कुलपति - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 26 जनवरी 2021

दरभंगा : गणतंत्र में अधिकार के साथ कर्तव्य भी महत्वपूर्ण : कुलपति

  • 30 पाल्यों को नियुक्ति पत्र देकर विश्वविद्यालय ने इतिहास रचा !! 

lnmu-vc-hoist-flag
दरभंगा   26 जनवरी, ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय मुख्यालय पर झंडोत्तोलन करने के बाद कुलपति प्रोफेसर एसपी सिंह ने शिक्षकों कर्मचारियों एवं छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन अपने बलिदानी स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करने का दिन है। उन्हीं के कारण हमें गणतंत्र का सुख मिल रहा है। उन्होंने कहा कि गणतंत्र के पीछे के बलिदान को हमें नहीं भूलना चाहिए। प्रोफेसर सिंह ने कहा कि संविधान ने हमें कई महत्वपूर्ण अधिकार दिए हैं लेकिन हमें इसके साथ-साथ अपने कर्तव्यों का भी भान होना चाहिए। प्रोफेसर सिंह ने मिथिला विश्वविद्यालय को राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाने हेतु सबको मिलकर कठिन परिश्रम करने की अपील की। कुलसचिव डॉ मुस्ताक अहमद ने झंडोत्तोलन में कुलपति का सहयोग किया।   आज का दिन विश्वविद्यालय के इतिहास में इस मायने में ऐतिहासिक रहा की 30 मृत शिक्षाकर्मियो के पाल्यों को नियुक्ति पत्र दिया गया। इस अवसर पर प्रति कुलपति डॉ डोली सिन्हा, नगर विधायक संजय सरावगी, पूर्व विधान पार्षद प्रोफेसर विनोद कुमार चौधरी सिंडिकेट सदस्य क्रमश डॉक्टर बैद्यनाथ चौधरी बैजू, श्रीमती मीना झा, प्रोफेसर जितेंद्र नारायण सहित विश्वविद्यालय के अधिकारी शिक्षक एवं कर्मचारी उपस्थित थे। पूर्व विधान पार्षद एवं सिंडिकेट सदस्य प्रोफेसर विनोद कुमार चौधरी ने कहा कि वर्षों से सिंडिकेट में मृत शिक्षाकर्मियो के पाल्यों को बहाल करने को लेकर हंगामा होता रहा लेकिन आज विश्वविद्यालय ने 30 पाल्यों को एक साथ नियुक्ति पत्र देकर एक इतिहास रचा है। कुलसचिव प्रो० मुस्ताक ने कहा कि कुछ पाल्यों को तकनीकी कारणों से नियुक्ति पत्र आज नही मिला है जिन्हें बाद में दिया जाएगा। जिस समय कुलपति, प्रति कुलपति एवं सिंडिकेट के सदस्यों द्वारा नियुक्ति पत्र बांटा जा रहा था तो नियुक्ति पत्र पाने वालों के चेहरे पर अपूर्व खुशी की झलक देखने को मिल रही थी। बाद में कुलपति आवास में कुलपति ने, नरगोना परिसर में प्रति कुलपति एवं कर्मचारी संघ कार्यालय पर कुलसचिव ने झंडोत्तोलन किया। झंडोत्तोलन के समय कोरोनावायरस प्रोटोकॉल पालन का प्रयास होते देखा   गया।।

कोई टिप्पणी नहीं: