बिहार : भोजपुरी फीचर फिल्म 'गोरिया तोहरे खातिर' कल रिलीज़ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 जनवरी 2021

बिहार : भोजपुरी फीचर फिल्म 'गोरिया तोहरे खातिर' कल रिलीज़

goriya-tohre-khatir-release-tomorow
पटना. पहले सिनेमा हॉल और थिएटर अधिकतम 50 प्रतिशत की क्षमता के साथ खुल रहे थे लेकिन अब उन्हें ज़्यादा क्षमता के साथ खोल सकेंगे. इसके लिए सूचना और प्रसारण मंत्रालय, गृह मंत्रालय के साथ परामर्श कर संशोधित एसओपी जारी करेगा. विक्टर मूवीज के बैनर तले निर्मित भोजपुरी  फीचर फिल्म 'गोरिया तोहरे खातिर' पटना के साथ राज्य के अन्य जिलों के सिनेमा हॉल में रिलीज़ होने जा रही है. इस फिल्म के  निर्माता,निर्देशक और लेखक विक्टर फ्रांसिस ने संवाददाताओं को जानकारी दी है कि कल सुपर फ्राइडे को हमारी भोजपुरी फीचर फिल्म गोरिया तोहरे खातिर एक साथ रिलीज़ हो रही है.1.पटना-वीणा, 2.बेतिया-पितांबर,3. सिवान-कृष्णा, 4.नवादा  विजय, 5.समस्तीपुर-लक्ष्मी,6. दरभंगा -लाईट हाउस 7. फारबिसगंज -ज्योति, 8.विक्रमगंज-ममता,9. सुपौल-प्रसाद,10 मुजफ्फरपुर-शेखर,11बक्सर-दुर्गा, 12, बेगुसराय- अलका,13. मसौढ़ी-संध्या,14, काटी   -अमित,15,जनकपुर- मिथिला. इस फिल्म के  निर्माता,निर्देशक और लेखक विक्टर फ्रांसिस ने गोरिया तोहरे खातिर भोजपूरी फीचर फिल्म को देखना न भूलें. इसे अपने दोस्तों और कलाकारों को शेयर करना न भूलें.आप अगर इन शहरों में अभी नहीं हैं,और आपके मित्र उन शहरों में हैं तो उनसे अनुरोध करें कि वे जरूर अपने नजदीकी सिनेमाघरों में जाकर इस फिल्म को जरूर देखें.मैं आपके बीच का ही रहने वाला हूं और आप जानते हैं कि विगत कई वर्षों से फिल्म के क्षेत्र में सक्रिय हूं.काफी सघर्ष के बाद यह फिल्म रिलीज़ हो रही है.एक बार फिल्म को जरूर देखें. उन्होंने कहा कि पटना के दर्शक वीणा सिनेमा हॉल में  29 जनवरी से प्रतिदिन तीन शो में देख सकते हैं.पहले दिन यानी 29 जनवरी के शो में आप इस फिल्म के मुख्य कलाकारों से भी मिल सकते हैं.इस फिल्म के मुख्य कलाकार हैं नन्द किशोर मेहता,मुस्कान राज, अनिल कुमार, अजय कुमार, प्रवीण नयन, तनिषा कश्यप, पूनम सिंह राठौर,  पिकी सिंह,अकांछा सिन्हा,राकेश कपूर,  महेंद्र चोधरी ,एस एन त्रिपाठी, वीणा गुप्ता, उर्मिला सिंह, डॉ राजा बाबू, डॉली (आईटम गर्ल), कृष्ण कुमार, जीतन जोशी, डॉ तारिक सोहेल, मुन्ना कुमार, रांझा सागर, दुआ राज, संतोष कुमार,अभिषेक, आराधना श्री, निभा कुमारी, मानवी कुमारी, नसीम अंसारी, अंजलि कुमारी, नवीनचंद्र, सूरज कुमार, मुन्ना कुमार, विनोद कुमार,वेंकेश बाबा, आर.नरेंद्र, मनोज पाण्डेय, बॉबी प्रेमजोट, रोहन राज, के अलावे बिहार के अन्य कलाकारों ने भूमिका निभाई है इस फिल्म के संपादक : मनोज कुमार, संगीतकार : आलोक झा, गीतकार : महेंद्र चौधरी, वेंकटेश बाबा, अनिल कुमार, गायक:  आलोक कुमार,खुशबू उतम, अमृता हैं। मारधाड़ : सेंसाई  प्रिंस मिश्रा, नृत्य निर्देशक : अर्चना सोनी, आर्यन   कैमरामैन  :संजय कुमार, अनिल कुमार. बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना के कारण बन्द हुए सिनेमा हॉल और थियेटरों को ज़्यादा क्षमता के साथ खोलने की अनुमति दे दी है. इसके लिए मंत्रालय ने नये दिशा निर्देश जारी किए हैं. यह दिशा निर्देश 1 फरवरी से लागू किया जाएगा. इन निर्देशों के मुताबिक सभी राज्यों के अंदर या एक राज्य से दूसरे राज्य में आने जाने पर किसी तरह की पाबंदी नहीं होगी और न ही किसी से अनुमति लेने की ज़रूरत होगी. इन दिशा निर्देशों में कंटेनमेंट जोन के बाहर कुछ चीजों को छोड़कर सभी गतिविधियों को अनुमति मिलने के साथ साथ मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) का भी पालन करना होगा. सामाजिक, धार्मिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक जमावड़े को हॉल में अधिकतम 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोलने की पहले ही अनुमति दी जा चुकी है.वहीं स्वीमिंग पूलों को भी सबके लिए खोलने की मंजूरी दे दी गई है. बन्द जगहों पर 200 लोग इकट्ठा हो सकते हैं. इन गाइडलाइंस में बताया गया है कि संबन्धित राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेश की एसओपी के मुताबिक लोगों को इकट्ठा होने की अनुमति दी जाएगी. पहले सिनेमा हॉल और थिएटर अधिकतम 50 प्रतिशत की क्षमता के साथ खुल रहे थे लेकिन अब उन्हें ज़्यादा क्षमता के साथ खोल सकेंगे. इसके लिए सूचना और प्रसारण मंत्रालय, गृह मंत्रालय के साथ परामर्श कर संशोधित एसओपी जारी करेगा. पहले सिर्फ खिलाड़ियों के लिए स्विमिंग पूल खोलने की अनुमति थी. अब सभी के लिए खुलेगा.युवा और खेल मामलों का मंत्रालय, केंद्रीय गृह मंत्रालय के साथ परामर्श कर इसके लिए संशोधित मानक संचालन प्रक्रिया जारी करेगा.पहले सिर्फ कारोबारी प्रदर्शनी की अनुमति थी अब अभी तरह की प्रदर्शनी की अनुमति है. इसके लिए वाणिज्य विभाग, केंद्रीय गृह मंत्रालय के साथ परामर्श कर एसओपी जारी करेगा.

कोई टिप्पणी नहीं: