बिहार : जिस अफसर पर जांच, उसे नीतीश ने दिया पुरस्कार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 17 जनवरी 2021

बिहार : जिस अफसर पर जांच, उसे नीतीश ने दिया पुरस्कार

taintained-officer-awarded-by-nitish
पटना : रुपेश हत्याकांड को लेकर जाप नेता पप्पू यादव ने नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा है। पप्पू यादव ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि रूपेश की हत्या में कुछ बड़े लोग संलिप्त हैं। इसलिए अभी तक मामले का खुलासा नहीं हो रहा है और न ही पुलिस हत्यारे तक पहुँच पा रही है। सरकारी विभागों में प्रशासनिक अनियमितता का आरोप लगाते हुए पप्पू यादव ने कहा कि वर्ष 2018 में बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड की ओर से पांच ऐसी महिलाओं को विदेश प्रशिक्षण के लिए भेजा गया जो योग्य नहीं थीं। ये सब कॉर्पोरेशन के सीएमडी प्रत्यय अमृत के इशारों पर हुआ। कटिहार में जिस आई.ए.एस. अधिकारी को डीएम बनाया गया उनपर पहले से सीबीआई जांच चल रही थी। अब वे छुट्टी पर क्यों चले गए हैं? उन्हें जल्द से जल्द बर्खास्त किया जाए. नीतीश के शासन में सिर्फ भ्रष्ट अधिकारियों को बड़े पदों पर नियुक्त किया गया है। इसके साथ ही पप्पू यादव ने कटिहार डीएम पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने 70 अपराधी को लाईसेंस दिया है। जाप सुप्रीमो ने कहा कि जिस आईएएस अधिकारी के ऊपर जांच चल रही थी, उसे नीतीश कुमार ने सचिवालय में बड़ा पद दिया, इसके बाद उसे डीएम बनाया गया। साथ ही यादव ने कहा कि रुपेश सिंह की हत्या पीएचईडी में ठेकेदारी को लेकर हुआ, जिसमें कई बड़े आईएएस शामिल हैं। वहीं, जाप नेता ने नीतीश कुमार से आग्रह किया है कि वे प्रदेश के सारे आईएएस-आईपीएस, चीफ अभियंता तथा ठेकादारों की सम्पति का जाँच कराएं।

कोई टिप्पणी नहीं: