विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 जनवरी 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जनवरी

सेवादल सहित सभी कांग्रेसियों ने नेता जी सुभाषचंद्र बोस को किया याद 


vidisha news
विदिशाः- आजाद हिन्द फौज के संस्थापक एवं स्वतंत्रता सेनानी नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के अवसर पर कांग्रेस सेवादल ने कलेक्ट्रेट स्थित प्रतिमा पहुॅचकर माननीय विधायक श्री शषांक भार्गव सहित सभी वरिष्ठ नेताओं ने नेता जी सुभाषचंद्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और नेता जी सुभाषचंद्र बोस द्वारा किये गये कार्यो और उनका स्वतंत्रता संग्राम में दिए गए योगदान को याद किया।  कांग्रेस सेवादल ग्रामीण मुख्य संगठक गोविंद भार्गव ने बताया इस अवसर पर जिला कांग्रेस प्रभारी राकेष कटारे, गौरव दांगी, ब्लाक कंाग्रेस अध्यक्ष दीवान किरार, अजय कटारे, देवेन्द्र राठौर, षिवराज पिपरोदिया, सेवादल कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष महेन्द्र किरार, डाॅ. राजेन्द्र दांगी, महेन्द्र यादव, ब्रजेन्द्र वर्मा, नरेन्द्र दांगी, कमलेष शर्मा, जितेन्द्र तिवारी, सौदान दांगी, रमेष तिवारी, शेरा मालवीय, सोनू राजपूत रूसल्ली, विनोद राजपूत, पर्वत गौड़, भोलाराम अहिरवार, नारायणप्रसाद शर्मा, डी.के. रैकवार, दषरथ सेन, सुनील रघुवंषी, बाबू पाल, राजेन्द्र मुडेले, सोनू राजपूत मोहनगिरी, दिनेष विष्वकर्मा, दिनेष मालवीय, नीरज यादव, शहजाद खाॅ, भूरा पाल, संजीव ठाकुर आदि कांग्रेसजन उपस्थित रहे।    

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज आंगनबाडी केन्द्रो और वन स्टाप सेन्टरो का करेंगे लोकार्पण  

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान रविवार 24 जनवरी को प्रदेश के विभिन्न जिलो में 503 नए आंगनबाडी केन्द्रो और 12 वन स्टाप सेन्टरो का लोकार्पण करेंगे।  मुख्यमंत्री श्री चौहान राष्ट्रीय बालिका दिवस पर अपरान्ह तीन बजे भोपाल के मिन्टो हाल में आयोजित ‘‘पंख अभियान’’ के शुभांरभ कार्यक्रम के दौरान वर्चुअल माध्यम से नए आंगनबाडी केन्द्रो को लोकार्पित करेंगे जिसमें विदिशा जिले की दो आंगनबाडी केन्द्र क्रमशः नटेरन जनपद पंचायत अंतर्गत आंगनबाडी भवन केन्द्र नकतरा का तथा बासौदा में नवीन आंगनबाडी भवन केन्द्र बजरिया भी शामिल है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि उपरोक्त दोनो आंगनबाडी केन्द्रो का निर्माण स्थानीय ग्राम पंचायत के द्वारा कराया गया है प्रत्येक भवन की लागत क्रमशः सात लाख अस्सी हजार रूपए है।

पंख अभियान का आयोजन आज 

बेटी बचाओ, बेटी पढाओ योजनातंर्गत 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जिला स्तरीय पंख अभियान कार्यक्रम का आयोजन सिटी कोतवाली वन स्टाप सेन्टर विदिशा के परिसर में प्रातः 11 बजे से आयोजित किया गया है कि जानकारी देते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने संबंधितों को आयोजन स्थल पर नियत समय पर उपस्थित होने का आग्रह किया है।

लोक सेवा एवं सुशासन के क्षेत्र में बढते कदम कार्यक्रम 25 को

लोक सेवा एवं सुशासन के क्षेत्र में बढते कदम कार्यक्रम 25 जनवरी सोमवार को आयोजित किया गया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के मुख्य आतिथ्य में उपरोक्त कार्यक्रम मिंटो हाल भोपाल में आयोजित किया गया है।  लोक सेवाओं के प्रदान गारंटी अधिनियम 2010 के सफलतम दस वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर मुख्यमंत्री जी द्वारा कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्थाओं व्यक्तियों का सम्मान एवं नवाचार का शुभांरभ किया जाएगा।  लोक सेवा गारंटी के जिला प्रबंधक श्री अमित अग्रवाल ने बताया कि प्रदेशयापी कार्यक्रम का लाइव प्रसारण जिला मुख्यालय पर किया जाएगा। लोक सेवा एवं सुशासन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले जिला स्तर पर चयनित तहसीलदार सिरोंज श्रीमती अलका सिंह, लोक सेवा केन्द्र शमशाबाद एवं बासौदा के संचालक को तथा कृषि विभाग के एसएडीओ श्री ओपी राय को संभाग स्तर पर प्रशस्ति पत्र प्रदाय कर सम्मानित किया जाएगा। 

आयोग ने किया जिला जेल विदिशा का औचक निरीक्षण , बंदियो की सुरक्षा एवं उपचार की पुख्ता व्यवस्थाओं के निर्देश दिए

vidisha news
मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के माननीय अध्यक्ष श्री नरेन्द्र कुमार जैन एवं सदस्य श्री सरबजीत सिंह ने आज जिला जेल विदिशा का औचक निरीक्षण किया। मौके पर संबंधित जिलाधिकारी भी मौजूद रहें। जिला जेल विदिशा के निरीक्षण के दौरान आयोग के पदाधिकारियों ने बंदियो की स्वास्थ्य सुरक्षा हेतु उपचार की व्यवस्था की जानकारी ली। बताया गया कि यहां स्थायी (नियमित) डाक्टर की नियुक्ति नहीं है। एक शासकीय चिकित्सक की टेम्पररी डयूटी लगाई गई है जो आवश्यकतानुसार जेल आकर बंदियो का उपचार करते है। इस पर आयोग अध्यक्ष श्री जैन ने जिला प्रशासन और जेल प्रबंधन को जेल में बंदियो के स्वास्थ्य की सुरक्षा हेतु सभी जरूरी जांच एवं उपचार की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित कर यहां नियमित डाक्टर नियुक्त करने के निर्देश दिए।  आयोग अध्यक्ष श्री जैन ने बंदियो को दी जाने वाली विधिक सहायता (लीगल एड), पैरोल, रेफरल प्रोसेस, बैरको में उपलब्ध सुविधाओं, पेयजल, भोजन निर्माण एवं संवितरण व्यवस्था, साफ सफाई, परिजनों से मुलाकात सहित अन्य विषयों पर भी विस्तार से जानकारी ली। जेल में निरूद्ध बंदी रजिस्टर चेक कर बंदियो की स्वास्थ्य पुस्तिका के संबंध में भी समुचित निर्देश दिए। बताया गया कि जिला जेल में इस समय कुल 272 बंदी है। आयोग के पदाधिकारियों ने कलेक्टर डॉ पंकज जैन से आंगनबाडी केन्द्रो के संचालन संबंध में भी विस्तार से चर्चा की। कलेक्टर ने आयोग को कोविड 19 प्रोटोकाल (गाईड लाइन) के संदर्भ में वस्तुस्थिति से अवगत कराया है। जेल निरीक्षण के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री संजय साहू, एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा, नायब तहसीलदार श्री प्रमोद उईके, जेलर के अलावा अन्य अधिकारी कर्मचारी साथ मौजूद रहें।

गणतंत्र दिवस पर जिला मुख्यालय पर कलेक्टर डॉ पंकज जैन करेंगे ध्वजारोहण

जिले में 26 जनवरी 2021 गणतंत्र दिवस को जिला मुख्यालय स्थित पुलिस परेड ग्राउण्ड पर मुख्य समारोह में कलेक्टर डॉ पंकज जैन ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे। मुख्य समारोह पुलिस परेड ग्राउण्ड पर प्रातः 9.00 बजे से आयोजित होगा। जनपद मुख्यालयों, नगर पंचायतों, ग्राम पंचायतों आदि में भी गणतंत्र दिवस समारोह आयोजित किया जाएगा। 

कार्यक्रम की रूपरेखा
जिला मुख्यालय पर पुलिस परेड ग्राउण्ड में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में प्रातः 8.58 बजे मुख्य अतिथि का आगमन, प्रातः 9.00 बजे मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण, सलामी, राष्ट्रगान एवं मध्यप्रदेश गान, 9.08 बजे मुख्य अतिथि द्वारा परेड का निरीक्षण, 9.15 बजे मुख्यमंत्री जी के संदेश वाचन, 9.35 बजे परेड मार्च पास्ट, 09.50 झांकियों का प्रदर्शन, 10.15 बजे पुरस्कार वितरण तथा इसके बाद कार्यक्रम का समापन होगा। 

गिरदावरी कार्य सम्पन्न, दावे आपत्तियां तीस तक आमंत्रित

अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि विदिशा जिले के सभी ग्रामो में पटवारियों के द्वारा फसलो की गिरदावरी का कार्य सम्पन्न किया जा चुका है। फसल गिरदावरी के संबंध में दावे आपत्तियां तीस जनवरी तक प्राप्त की जाएगी।  रबी उपार्जन हेतु गिरदावरी में दर्ज फसल के अनुसार पंजीयन किया गया है कृषक बोई गई फसल की जानकारी निम्नानुसार प्राप्त कर सकते है उसमें एमपी किसान एप गिरदावरी जानकारी आप्शनल के माध्यम से तथा संबंधित राजस्व अधिकारी एवं हल्का पटवारी के माध्यम से, किसान स्वंय एमपी किसान एप में फसल स्व-घोषणा दावा आपत्ति आप्शन के माध्यम से दावा आपत्ति दर्ज कर सकते है। इसके अलावा संबंधित अधिकारियों के पास भी दावे आपत्तियां तीस जनवरी तक दर्ज कराई जा सकती है। नियत तिथि के उपरांत फसल गिरदावरी के संबंध में प्रस्तुत दावे आपत्तियां विचार योग्य नही होगी।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 को एसएटीआई में

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 25 जनवरी 2021 को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जायेगा। उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कुमार शानू देवडिया ने बताया कि विदिशा जिला मुख्यालय पर राष्ट्रीय मतदाता दिवस समारोह का आयोजन एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में प्रातः साढे दस बजे से आयोजित किया गया है। जिले के सभी मतदान केन्द्रों पर बीएलओ, युवा मतदाताओं को मताधिकार का प्रयोग करने एवं स्वतंत्र निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से मतदान में मदद करने तथा लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाए रखने संबंधी शपथ दिलायेंगे। इस कार्यक्रम में कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन करने के निर्देश भी उप जिला निर्वाचन अधिकारी  ने दिए है।

पिंक निःशुल्क ड्रायविंग लायसेंस शिविर 29 को 

बालिका एवं महिलाओ के लिए निःशुल्क ड्रायविंग लायसेंस जारी करने हेतु 29 जनवरी को पिंक ड्रायविंग लायसेंस शिविर का आयोजन जिला परिवहन कार्यालय विदिशा में आयोजित किया गया है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने ड्रायविंग लायसेंस के लिए इच्छुक मध्यप्रदेश की निवासी महिला बालिका आवेदको को 29 जनवरी को अथवा इसके पूर्व ड्रायविंग लायसेंस हेतु ऑन लाइन आवेदन कर उस आवेदन का प्रिन्ट लेकर 29 जनवरी को कार्यालय समय में जिला परिवहन कार्यालय मुखर्जीनगर विदिशा में दस्तावेज सहित उपस्थित होने का आग्रह किया गया है। आवेदन के साथ मूल एवं स्वहस्ताक्षरित छाया प्रति तथा स्वंय के दो पासपोर्ट साइज के फोटोग्राफ्स एवं जन्मतिथि प्रमाण पत्र हेतु कोई भी मार्कशीट, जन्म प्रमाण पत्र निवास प्रमाण पत्र हेतु आधार कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट, एलआईसी पॉलिसी इत्यादि के साथ उपस्थित हो।  आवेदक ड्रायविंग लायसेस के ऑन लाइन आवेदन हेतु परिवहन विभाग की बेवसाइटू www.mptransport.org पर जाकर अथवा किसी एमपी ऑन लाइन कियोस्क की सहायता से आवेदन कर सकते है इसके अलावा एंड्रायड फोन के माध्यम से भी आवेदन मोबाइल फोन में एम-सेवा एप्लिकेशन एप को डाउनलोड कर मोबाइल से भी आवेदन कर सकते है। ततसंबंध में अन्य किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए जिला परिवहन कार्यालय में पदस्थ सहायक ग्रेड तीन श्रीमती पान कुशवाह का मोबाइल नम्बर 8109167943 पर सम्पर्क कर समाधान प्राप्त किया जा सकता है। ततसंबंध में कन्या महाविद्यालयों के प्राचार्यो से भी आग्रह किया गया है। 

’विद्युत सुरक्षा हेतु सावधानियां - ग्राम निवासी अवश्य ध्यान दें’

विद्युत लाइनों, उपकरणों एवं खंभों से छेड़खानी करना विद्युत अधिनियम 2003 के अंतर्गत दण्डनीय अपराध है। जरा-सी असावधानी या छेड़खानी से बड़े-बड़े खतरे पैदा हो सकते हैं। ऐसी लाइनें जिनमें विद्युत शक्ति प्रवाहित होती है यदि आंधी तूफान या अन्य किसी कारण से अकस्मात् उन्हें छूकर खतरा मोल न लें। आवश्यक बात यह है कि लाइन टूटने की सूचना शीघ्र ही निकटस्थ बिजली कंपनी के अधिकारी को अथवा विद्युत कर्मचारी को दें। संभव हो तो किसी आदमी को उस जगह, अन्य यात्रियों को चेतावनी देने के लिये रखें। नये घर बनाते समय विद्युत पारेषण अथवा वितरण लाइन से समुचित दूरी रखें। यह कानून की दृष्टि से भी आवश्यक है। खेतों खलिहानों में ऊॅंची-ऊंची घास की गंजी, कटी फसल की ढेरियॉं, झोपड़ी, मकान अथवा तंबू आदि विद्युत लाइनों के नीचे अथवा अत्यंत समीप न बनायें। विद्युत लाइनों के नीचे से अनाज, भूसे आदि की ऊूंची भरी हुई गाड़ियॉं न निकालें, इससे आग लगने एवं प्राण जाने का खतरा है। लाइनों में फंसी पतंग निकालने के लिए बच्चों को कभी भी खंभे पर चढ़ने न दें। लाइन पर तार या झाड़ियां न फेकें। यदि कोई ऐसा करता है तो इसकी सूचना पास के पुलिस थाने या विद्युत कंपनी के वितरण केन्द्र में दें। विद्युत लाइनों के पास लगे वृक्ष या उनकी शाखा न काटें। यदि कटी डाल लाइन पर गिरे तो आपके लिए घातक सिद्ध हो सकती है। बिजली के तारों पर कपड़े आदि डालना दुर्घटना को निमंत्रण देना है। अपने खेत खलिहान पर या संपत्ति की सुरक्षा हेतु अवरोधक तारों (फेन्सिंग वायर्स) में विद्युत प्रवाहित न करें। यह कानूनी अपराध भी है। इस प्रकार विद्युत का उपयोग करने वालों पर कानूनी कार्यवाही की जा सकती है। बिजली के खंभों पर कदापि न चढ़ें एवं स्टे-वायर आदि विद्युत उपकरणों से छेड़खानी न करें। ऐसा करने से आपका जीवन संकट में पड़ सकता है। बिजली के खंभों या स्टे-वायर से जानवर आदि न बांधे और न ही इससे जानवरों को रगड़ने दें। इससे जनधन की हानि हो सकती है। यदि कोई व्यक्ति सजीव (चालू लाइन के) तारों के संपर्क में आ जाता है तो निम्न सावधानी बरतनी चाहिए रू स्विच से विद्युत प्रवाह तुरंत बंद कर दें। यदि स्विच बंद न कर सकें तो दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति को सूखी रस्सी, सूखा कपड़ा या सूखी लकड़ी की सहायता से सजीव तारों से अलग करें। ऐसा न करने से सहायता करने वाले को भी झटका (शॉक) लग सकता है। दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति को सजीव तारों से शीघ्र ही अलग करें क्योंकि एक सेकेण्ड की भी देरी घातक हो सकती है। दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति को सूखी जमीन या सूखे फर्श पर लिटायें एवं कृत्रिम सांस देकर उसका प्रथमोपचार करें। डॉक्टर को तत्काल बुला कर कृत्रिम श्वॉंस देवें अथवा उसे शीघ्र अस्पताल पहॅुंचावें। घरों में बिजली के तार सुव्यवस्थित ढंग से लगावें। अव्यवस्थित एवं ढीले-ढाले या झूलते तार खतरे से खाली नहीं है। सभी विद्युत यंत्रों के उपयोग में सावधानी बरतें। विद्युत तारों अथवा उपकरणों की खराबी दूर करने के लिए तथा बिजली का फ्यूज सुधारने के लिये किसी जानकार की ही सहायता लें। इससे एक ओर जहॉं दुर्घटना को टाला जा सकेगा वहीं दूसरी ओर आप आर्थिक हानि से भी बच सकेंगे। घरेलू उपकरणों एवं विद्युत फिटिंग का अर्थिंग करना अति आवश्यक है। सही अर्थिंग न होने से विद्युत दुर्घटना हो सकती है। प्रकाशध्थ्रेशर चलाने के लिये लम्बे एवं जोड़ वाले तारों का उपयोग न करें। थ्रेशर के तारों को बिजली कंपनी की लाइनों से अनधिकृत रूप से न जोड़ें। ऐसा करने से दुर्घटना हो सकती है एवं आपके विरूद्ध विद्युत चोरी का इल्जाम लगाया जा सकता है और कानूनी कार्यवाही की जा सकती है।

’बकाया राशि का भुगतान देय तिथि से पहले करें’

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बकाया राशि वसूली के लिए सघन प्रयास किये जा रहे हैं। इन प्रयासों के अंतर्गत बकाया राशि वसूली के लिए घर-घर जाकर बिजली कर्मचारी और अधिकारी राजस्व वसूली में लगे हैं। कंपनी के सभी वृत्त कार्यालयों में समीक्षा बैठकें आयोजित कर मैदानी स्तर पर राजस्व वसूली की वृद्धि के प्रयास तेज कर दिये गये हैं। सभी मैदानी अधिकारियों को बकाया राशि वसूली करने, भू-राजस्व संहिता के अंतर्गत सी-फार्म एवं कुर्की करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं।  मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने यह भी निर्देश दिये हैं कि विजीलेंस द्वारा बनाये गये प्रकरणों में बकाया राशि की वसूली भी तेज की जाए। इसके अलावा ऑडिट द्वारा निकाली गई बकाया राशि और अन्य कारणों से बकाया राशि को उपभोक्ता के बिल में जोड़कर राजस्व वसूली की जाए। साथ ही काटे गये कनेक्शनों की रात्रि में चेकिंग की जाए ताकि बकायादार उपभोक्ता अवैध रूप से बिजली का उपयोग न करें और यदि कोई उपभोक्ता ऐसा करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध बिजली अधिनियम-2003 की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण बनाया जाए। कंपनी ने अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा है कि टीम भावना से कार्य कर लक्ष्य की प्राप्ति करें। 

’बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह, बकाया राशि कंपनी में जमा कराएं’

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बकायादार बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि बिजली कनेक्शन विच्छेदन की अप्रिय कार्यवाही से बचने के लिए विद्युत बिलों का भुगतान तत्काल सुनिश्चित करें। कम्पनी ने क्षेत्रीय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि शहर संभागों और संचारण-संधारण संभागों में राजस्व संग्रहण के लिए केश काउन्टर अवकाश के दिनों में तथा निर्धारित समय से अतिरिक्त समय तक खोलने की व्यवस्था करें। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के निर्णयानुसार भोपाल क्षेत्र द्वारा राजधानी के सभी संभागीय कार्यालयों में स्थित केश काउन्टर को रविवार तथा अवकाश के दिन उपभोक्ताओं की सेवा के लिए खोला जा रहा है। इसी प्रकार की व्यवस्था ग्वालियर शहर में भी की गई है। इसके अलावा बिलों के भुगतान की सुविधा एम.पी.ऑनलाईन, कॉमन सर्विस सेन्टर, कंपनी पोर्टल portal.mpcz.in (नेट बैंकिंग, क्रेडिट, डेबिट कार्ड, यूपीआई, ईसीएस, बीबीपीएस, कैश कार्ड एवं वॉलेट आदि) पेटीएम एप एवं उपाय मोबाइल एप के माध्यम से उपलब्ध है। उपभोक्ता अपने क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, कैश कार्ड या 50 से अधिक बैंकों की इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से भी बिजली बिलों का भुगतान कर सकते हैं।  कंपनी के द्वारा बकायादारों के विरूद्ध बड़े स्तर पर बिजली कनेक्शन विच्छेदन की कार्यवाही में ‘‘आपरेशन एवं मेंटेनेंस‘‘ अमले के साथ-साथ ‘‘विजीलेंस‘‘ को भी जोड़ा गया है।

’मध्यप्रदेश राज्य रूपंकर कला पुरस्कार प्रदर्शनी के लिए 5 फरवरी तक कलाकृतियाँ मान्य होंगी’

उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी, मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद भोपाल द्वारा मध्यप्रदेश राज्य रूपंकर कला पुरस्कार प्रदर्शनी-2021 का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन में अकादमी द्वारा मध्यप्रदेश के ख्यातिलब्ध कलाकारों के नाम से स्थापित रूपंकर एवं ललित कलाओं के 10 पुरस्कारों के लिये कलाकृतियाँ आमंत्रित की जा रहीं हैं। प्रत्येक पुरस्कार की राशि 51 हजार रूपये होगी। कलाकृतियों के साथ प्रदर्शनी में प्रवेश शुल्क 200 रूपये नगद जमा कराने होंगे। प्रदर्शनी में 3 कलाकृतियाँ मान्य की जायेंगी तथा 25 से 55 वर्ष तक की आयु के कलाकार भाग ले सकेंगे। जनवरी 2019 के बाद सृजित कलाकारों की मौलिक कृतियाँ ही मान्य की जायेंगी।  कला प्रदर्शनी की विवरणिका कला वीथिका-ग्वालियर, राजा मान सिंह तोमर संगीत एवं कला विश्वविद्यालय-ग्वालियर, शासकीय ललित कला महाविद्यालय जबलपुर, धार, खण्डवा, इंदौर, ग्वालियर, कालिदास अकादमी उज्जैन तथा अकादमी कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है। कलाकृतियाँ उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी रवीन्द्र नाथ ठाकुर मार्ग, बाणगंगा चौराहा भोपाल एवं ललित कला अकादमी जबलपुर, ग्वालियर, इंदौर में 5 फरवरी 2021 शाम 5 बजे तक जमा होंगी। इसके बाद प्राप्त होने वाली कलाकृतियाँ स्वीकार नहीं की जायेंगी। अकादमी की वेबसाइटू www.kalaacademymp.com/ या https://www.facebook.com/kalamitrabpl/ एवं अन्य माध्यम से डाउनलोड आवेदन विवरणिका की फोटो प्रतियाँ (ए-4 साइज) भी प्रवेश-पत्र के रूप में स्वीकार की जाएगी।

’संपूर्ण देश के स्पेशल हैण्डलूम उत्पाद अब राजधानी भोपाल में’ ’स्पेशल हैण्डलूम एक्सपो 2 फरवरी तक गौहर महल में’

संपूर्ण देश में बुनकरों द्वारा उत्पादित किए जाने वाले हैण्डलूम उत्पाद अब भोपाल वासियों को गौहर महल में उपलब्ध कराए गए हैं। उल्लेखनीय है कि कोविड महामारी के चलते बुनकरों को आई समस्याओं के निराकरण के लिए हाथकरघा वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार एवं म.प्र. हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम के संयुक्त तत्वाधान में ष्मृगनयनी एम्पोरियमश्श् द्वारा देश-प्रदेश के बुनकरों को विपणन उपलब्ध कराने के लिए गौहर महल में 2 फरवरी 2021 तक स्पेशल हैण्डलूम एक्सपो का आयोजन किया जा रहा है। मेले का शुभारंभ बनारस (यूपी) के मास्टर बुनकर श्री नजीर अहमद द्वारा किया गया। एक्सपो में 11 राज्य आंध्रप्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड, बिहार, कर्नाटक, पं. बगाल, मध्यप्रदेश, झारखंड, गुजरात, जम्मू कश्मीर, उड़ीसा के बुनकर सहकारी समितियों द्वारा भाग लिया गया है। श्री राजीव शर्मा हाथकरघा आयुक्त, सह प्रबंधक संचालक मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम ने बताया कि बुनकरों को रोजगार देने एवं नगर वासियों को संपूर्ण भारत के हाथकरघा उत्पाद उपलब्ध कराने के लिए इस स्पेशल हैण्डलूम एक्सपो का आयोजन किया जा रहा है। एक्सपो में मध्यप्रदेश के चंदेरी महेश्वरी एवं सौंसर की कॉटन साड़ी, वारा सिवनी की कोसा साड़ी एवं सूट्स उपलब्ध रहेंगे। हैण्डलूम एक्सपो प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुला रहेगा। प्रतिदिन सायं को 6 से 8 बजे तक विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएगे। इस दौरान कोविड -19 संक्रमण से बचाव की गाइड लाइन का सख्ती से पालन किया जाएगा।

’विश्व उपभोक्ता दिवस पर राज्य एवं संभाग स्तरीय पुरस्कार हेतु प्रविष्ठियां आमंत्रित’

विश्व उपभोक्ता दिवस 15 मार्च 2021 के लिए राज्य एवं संभाग स्तरीय पुरस्कार के लिए प्रविष्टियां आमंत्रित की गई हैं। राज्य स्तरीय पुरस्कार उपभोक्ता संरक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्था या व्यक्ति आवेदन 1 जनवरी 2020 से 31 दिसंबर 2020 के दौरान प्रत्येक माह की गई गतिविधियों के प्रमाण और विस्तृत विवरण सहित जिला कार्यालय कलेक्टर खाद्य शाखा में 31 जनवरी तक प्रस्तुत करने होंगे । विलंब से प्रस्तुत आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे । आवेदन में उपभोक्ताओं की समस्या एवं शिकायतों के प्रतितोषण, प्रश्नमंच, प्रदर्शनियों का आयोजन, संगोष्ठियोंध्  उपभोक्ता मेला, नुक्कड़ नाटक,ग्रामीण क्षेत्र में विशेष रूप से जागरूकता हेतु प्रयास करना, उपभोक्ता हित से संबंधित विषय तथा संस्था का पंजीयन प्रमाण प्रस्तुत करना होगा । संस्था, व्यक्ति द्वारा उपभोक्ता फोरम में किए गए कार्य, प्रयास ,ग्रामीण, आदिवासी पिछड़े क्षेत्र में कार्यरत संगठनों को प्राथमिकता दी जाएगी । इनके लिए प्रथम पुरस्कार 1 लाख11 हजार, द्वितीय पुरस्कार 51 हजार एवं तृतीय पुरस्कार 25000 रूपए मय प्रशस्ति पत्र के दिए जाएंगे । ’पोस्टर और निबंध प्रतियोगिता 6 फरवरी को’  राज्य स्तरीय पोस्टर एवं निबंध पुरस्कार में उपभोक्ता अधिकारों के प्रति जागृति उत्पन्न करने एवं छात्र छात्राओं को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से जिलों में 6 फरवरी 2021 तक जिला शिक्षा अधिकारी के सहयोग से शालाओं में राज्य स्तरीय पोस्टर एवं निबंध प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी । उपभोक्ता संरक्षण के क्षेत्र में जिलों से प्राप्त उत्कृष्ट पोस्टर एवं निबंध प्रविष्टियों को राज्य स्तरीय पुरस्कार दिए जाएंगे । इनमें प्रथम पुरस्कार  6 हजार रुपए, द्वितीय पुरस्कार 4 हजार रूपए एवं तृतीय पुरस्कार दो हजार रुपए मय प्रशस्ति पत्र के दिए जाएंगे । इसी प्रकार संभाग स्तरीय पुरस्कार के लिए प्रथम पुरस्कार 21 हजार,  द्वितीय पुरस्कार 11 हजार एवं तृतीय पुरस्कार 5 हजार रूपए माय प्रशस्ति पत्र के दिए जाएंगे ।

मार्ग डायवर्ट

प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी श्री रामलीला मेला उत्सव समिति द्धारा रावण दहन कार्यक्रम रविवार 24 जनवरी को प्रस्तावित है। रावण दहन कार्यक्रम में बडी संख्या में श्रद्धालुगण पहुंचते है को दृष्गित रखते हुए रविवार 24 जनवरी की सायं चार बजे से रात्रि दो बजे तक के लिए मार्ग डायवर्ट किया गया हैं कि जानकारी देते हुए यातायात सूबेदार श्री आशीष राय ने बताया कि विदिशा से अशोकनगर की ओर जाने वाले भारी वाहन महलघाट से डायवर्ट होकर मीणा धर्मशाला होते हुए अशोकनगर की ओर जाएंगे। इसी प्रकार अशोकनगर से विदिशा भोपाल की ओर जाने वाले भारी वाहन मीणा धर्मशाला से डायवर्ट होकर विदिशा भोपाल की ओर जाएंगे। उपरोक्त डायवर्ट मार्ग रविवार की सायं चार बजे से रात्रि दो बजे तक के लिए प्रस्तावित किया गया है। 

छात्र-छात्राओं को यातायात नियमों की जानकारी 

सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत हर रोज यातायात नियमों से अवगत कराने हेतु विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। आज सम्पन्न हुए कार्यक्रम की जानकारी देते हुए यातायात सूबेदार श्री आशीष राय ने बताया कि साकेत स्कूल एवं गर्ल्स कॉलेज विदिशा में छात्र-छात्राओं को यातायात नियमों की जानकारी देते हुए प्रशिक्षित किया गया है जिसमें प्रमुख रूप से यातायात संकेतो के बारे में बतलाया गया है साथ ही सड़क दुर्घटना के कारण एवं उनसे बचने के उपायो की भी जानकारी दी गई है।

फायनल रिहर्सल आज 

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के पावन पर्व पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमो की फायनल रिहर्सल जिला मुख्यालय पर रविवार 24 जनवरी को आयोजन स्थल पुलिस परेड ग्राउण्ड पर प्रातः नौ बजे से आयोजित की गई है। 

कोई टिप्पणी नहीं: