जहानाबाद : जिले के एरकी में हुआ एक महिला शिक्षक का मर्डर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 जनवरी 2021

जहानाबाद : जिले के एरकी में हुआ एक महिला शिक्षक का मर्डर

women-teacher-murder
इरकी। जहानाबाद जिले के इरकी मोहल्ला में  अपराधियों ने एक घर में घुसकर लूटपाट की और विरोध करने पर महिला शिक्षक नुजहत फातिमा (45वर्ष) की हत्या कर दी। बिहार में बढ़ते अपराध का नमूना है। बता दे कि जहानाबाद जिले से इस वक़्त की एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहाँ की बेखौफ अपराधियो ने फिर से एक बार पुलिस को ठेंगा दिखाते हुए एक वारदात को अंजाम दे दिया है जहाँ की एरकी गाँव की रहने वाली एक महिला शिक्षक की हत्या हो गई है।घटना के सम्बंध में बताया जाता है एक महिला शिक्षक जो कि एरकी में अकेले रहती थी और परसबीघा में कार्यरत थी।इसी कारणवश चोरों ने महिला शिक्षक को निशाना बनाया और उसके घर चोरी तो की ही बल्कि उसे जिंदा भी नही छोड़ा.वहीं नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुँच कर शव को कब्ज़े में ले ली है और अभी भी हत्यारो की तलाश में है । बिहार के जहानाबाद नगर थाना क्षेत्र के इरकी मोहल्ला में सोमवार शाम अपराधियों ने एक घर में घुसकर लूटपाट की और विरोध करने पर महिला शिक्षक नुजहत फातिमा (45वर्ष) की हत्या कर दी। मृतका परसविगहा टोला मलवलिया स्थित प्राथमिक विद्यालय की हेड मास्टर थीं। वह मूल रूप से पाली थाना के अलीनगर गांव की निवासी बताई गई हैं।  जानकारी के अनुसार उनके पति एवं परिवार के अन्य लोग रांची में रहते हैं। घटना की सूचना पाकर  एसडीपीओ अशोक कुमार पांडेय और नगर थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की तहकीकात की। रात 8.30 बजे तक शव को नहीं उठाया जा सका था। मामले की जांच हो रही थी। पुलिस के कोई भी अधिकारी घटना के कारण को स्पष्ट नहीं बता रहे थे। कई बिंदुओं पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। घर के सामान बिखरे पड़े थे। कौन-कौन से सामान और कितने की संपत्ति की लूट हुई है, यह अभी स्पष्ट नहीं है। इसे बताने वाला कोई नहीं है क्योंकि उक्त महिला अपने घर में अकेली रहती थीं। घटना के संबंध में बताया जाता है कि उक्त प्रधान शिक्षिका सोमवार की शाम अपने घर में थीं। उसी दौरान अपराधियों का गिरोह उनके घर में घुस गया शव को देखने से यह प्रतीत हो रहा है कि महिला के विरोध करने पर अपराधियों ने उनके हाथ-पांव बांध दिए। मूंह पर टेप लगा दिया ताकि हल्ला न करें। यह भी बताया जाता है कि उनकी पिटाई की गई। संभवतः पिटाई करने के दौरान गला दबाकर हत्या कर देने की आशंका व्यक्त की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हत्या के कारण का वास्तविक रूप से खुलासा हो सकता है। घर के सारे सामान बिखरे पड़े थे। ट्रंक एवं आलमीरा के ताले टूटे हुए थे। मोहल्ले के लोगों के अनुसार वक्त  प्रधान शिक्षिका का परिवार बाहर में रहते हैं। करीब एक साल पूर्व  इरकी में जमीन खरीदी थी और मकान बनाया था। उस मकान में  वह अकेले रह रही थीं। मकान में अभी भी काम लगा हुआ था। सोमवार की शाम अचानक हुई उक्त घटना से मोहल्ले के लोग स्तब्ध हैं। अपराधियों ने घटना को अंजाम दे दिया और किसी को भनक तक नहीं लगी। बहरहाल पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। पोस्टमार्टम कराने के लिए शव को सदर अस्पताल में भेजा जा रहा था।

कोई टिप्पणी नहीं: