बासुकीनाथ धाम में फिर से स्पर्श पूजा शुरू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 7 फ़रवरी 2021

बासुकीनाथ धाम में फिर से स्पर्श पूजा शुरू

basukinath-temple-open
दुमका, 07 फरवरी, झारखंड के दुमका जिले में अवस्थित प्रसिद्ध तीर्थस्थल बाबा बासुकीनाथ धाम मन्दिर के गर्भगृह में करीब 11 महीने के बाद रविवार से विधि विधान के साथ स्पर्श पूजा और रुद्राभिषेक का शुभारंभ किया गया ।बासुकीनाथ धाम पण्डा धर्मरक्षिणी सभा के अध्यक्ष मनोज पण्डा के अगुवाई में सभा के दर्जनों सदस्यों ने श्रद्धालुओं के लिए स्पर्श पूजा अर्चना की व्यवस्था पुनः शुरू किये जाने के साथ विधि - विधान से बाबा बासुकीनाथ धाम मन्दिर के गर्भगृह में रविवार को पूजा - अर्चना कर गौ दूध एवं गंगाजल से मधुर वेदमन्त्रों से वर्ष 2021 का पहला  रुद्राभिषेक सम्पन्न किया गया। इसके साथ ही बासुकीनाथ आने वाले सभी श्रद्धालुओं के लिये बाबा बासुकीनाथ मन्दिर में रुद्राभिषेक करने का मार्ग प्रशस्त हो गया। कोराना संक्रमण से बचाव के मद्देनजर पिछले वर्ष 2020 के 24 मार्च महीने से लॉकडाउन लागू किये जाने के कारण मन्दिर में  जिला प्रशासन के आदेश के पर मन्दिर परिसर में आयोजित होने वाले सभी प्रकार के धार्मिक अनुष्ठान  पर रोक लगा दिया गया था। प्रशासन द्वारा अब बासुकीनाथ मन्दिर में होने वाले धार्मिक अनुष्ठान पर लगी रोक हटा लिया गया है । प्रशासन के निर्णय के आलोक में  बासुकीनाथ मन्दिर एवं परिसर में यहाँ आने वाले श्रद्धालुओं को सभी तरह के धार्मिक अनुष्ठानों को संपादित करने की छूट मिल गयी है। 

कोई टिप्पणी नहीं: