बिहार : बजट सत्र को लेकर विधान सभा सचिवालय में हेल्प डेस्क - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 फ़रवरी 2021

बिहार : बजट सत्र को लेकर विधान सभा सचिवालय में हेल्प डेस्क

help-desk-in-bihar-assembly
पटना : 17वीं बिहार विधान सभा के निर्वाचित सदस्यों को सत्र संबंधी कार्यों में किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं हो, इसको देखते हुए बिहार विधान सभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा द्वारा सभा सचिवालय को दिये गये निर्देश के आलोक में 19 फरवरी से प्रारंभ हो रहे बिहार विधान सभा के बजट सत्र के दौरान बिहार विधान सभा के सदस्यों को सत्र संबंधी विभिन्न विषयों तथा ऑनलाइन क्वेश्चन रिप्लाई मैनेजमेंट सिस्टम के तहत प्रश्न संबंधी प्रक्रिया, प्रश्न, गैर सरकारी संकल्प, याचिका, निवेदन, शून्यकाल एवं ध्यानाकर्षण से संबंधित सूचना की आवश्यक जानकारी देने हेतु बिहार विधान सभा सचिवालय में एक हेल्प डेस्क, जो कि मंगलवार से असीम कुमार, उप सचिव के पर्यवेक्षण में कार्य करने लगा है। इससे विशेष तौर पर सदन में प्रथम बार जीतकर आये 104 नये सदस्यों सहित सभी सदस्यों की जिज्ञासा का उत्तर भी उन्हें मिल सकेगा और उन्हें संसदीय कार्यों के निर्वह्न में सुविधा भी होगी। इस हेल्प डेस्क में एक अवर सचिव सहित चार सहायकों तथा एक प्रोगामर की प्रतिनियुक्ति की गयी है। यह हेल्प डेस्क बिहार विधान सभा मुख्य भवन के दक्षिणी उपवेशिका के ठीक बगल वाले कमरा संख्या 6 में सभी कार्य दिवसों में कार्यशील रहेगा। बिहार विधान सभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने सेंट्रल हाॅल में संपन्न बिहार विधान सभा भवन शताब्दी समारोह तथा प्रबोधन कार्यक्रम की सफलता के उपरांत सभा सचिवालय के सभी वरीय पदाधिकारियों के साथ एक बैठक कर उन्हें इस कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए बधाई दी तथा उन्होंने इस क्रम में अगले एक साल तक चलने वाले कार्यक्रमों की विस्तृत रूपरेखा शीघ्र तैयार करने का भी निदेश दिया। उन्होंने इस संबंध में उपस्थित पदाधिकारियों से उनके सकारात्मक एवं लिखित सुझाव भी यथाशीध्र उपलब्ध कराने का निदेश दिया ।

कोई टिप्पणी नहीं: