विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 4 फ़रवरी 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 फ़रवरी

फरार सात आरोपियों पर दस-दस हजार का इनाम घोषित 


पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा ने जिले के पुलिस थानो में दर्ज अपराध प्रकरणो के फरार सात आरोपियों की सूचना देने अथवा गिरफ्तारी में मदद कराने वालो को क्रमशः दस-दस हजार रूपए का नगद इनाम देने की उद्घोषणा जारी की है।  पुलिस अधीक्षक श्री वर्मा के द्वारा जारी उद्घोषणा अनुसार थाना बासौदा शहर में दर्ज अपराध क्रमांक 384/19 का फरार आरोपी जाकिर खां और दीप शाह पर दस-दस हजार रूपए इसी प्रकार विदिशा कोतवाली में दर्ज अपराध क्रमांक 403/19 का फरार आरोपी दौलत सिंह अहिरवार निवासी ललितपुर उत्तरप्रदेश, दीपनाखेडा थाना में दर्ज अपराध क्रमांक 139/19 का फरार आरोपी सगीर खां पिता जमील अहमद निवासी ग्राम अहमदाबाद, खिल्ली थाना दीपनाखेडा तथा अपराध क्रमांक 27/20 का फरार आरोपी सुखराम पिता सुन्दरलाल मालवीय उम्र 28 साल निवासी गंजबासौदा थाना सिरोंज में दर्ज अपराध क्रमांक 213/20 का फरार आरोपी अजबिंसह कुशवाह निवासी रीझन थाना लटेरी, देहात थाना बासौदा में दर्ज अपराध क्रमांक 78/18 का फरार आरोपी शोभाराम अहिरवार निवासी करोद तथा थाना गुलाबगंज में दर्ज अपराध क्रमांक 17/15 का फरार आरोपी राहुल जाटव पिता संतोष अहिरवार उम्र 23 वर्ष निवासी ग्यारसपुर सहित पूर्व उल्लेखित प्रत्येक पर क्रमशः दस-दस हजार रूपए की नगद इनाम की उद्घोषणा की गई है। 


दो प्रकरणो में आर्थिक मदद जारी


मुख्यमंत्री कृषक जीवन कल्याण योजना के दो प्रकरणो में कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा आर्थिक मदद के आदेश जारी किए जा चुके है।  जारी आदेश में उल्लेख है कि प्रत्येक प्रकरण के आश्रित को क्रमशः चार लाख चार हजार रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है जिसमें अन्त्येष्टि अनुदान राशि क्रमशः चार-चार हजार भी शामिल है। जिन दो प्रकरणो में मृतको के निकटतम परिजनो को आर्थिक मदद जारी की गई है उनमें विदिशा तहसील के ग्राम रोडा निवासी गोविन्द सिंह की मृत्यु उपरांत भीम सिंह ठाकुर को तथा ग्राम खेजडा सुल्तान के बादाम सिंह की मृत्यु कृषि कार्यो के दौरान करंट लगने से हो जाने पर मृतक की पत्नि श्रीमती हल्कीबाई मीना को आर्थिक मदद जारी की गई है। 


तेवडा रहित फसल लेने की अपील का कृषको द्वारा अनुपालन


vidisha news
एपीसी द्वारा वीडियो कांफ्रेसिंग में दिए गए निर्देशो के अनुपालन में विदिशा जिले के कृषको को अवगत कराने का कार्य कृषि विभाग के अधिकारियों एवं ग्राम स्तरीय अमलो के द्वारा मूर्तरूप दिया जा रहा है खासकर तेवडारहित चने का उत्पादन फसल लेने के लिए की गई अपील का किसानो के द्वारा पालन किया जा रहा है। जिले में तेवडा का उत्पादन ना लेने से अवगत कराने के लिए विशेष ग्रामसभाओ के आयोजन की तैयारियां की जा रही है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे ने बताया कि किसानो को खासकर जिनके द्वारा चने की फसल ली जा रही है उन्हें तेवडा ना मिले के प्रबंध कैसे सुनिश्चित करें से अवगत कराते हुए तेवडा के पौधो को समूल नष्ट कराने की पहल की जा रही है। विभाग के अमले द्वारा दी गई जानकारी का अनुपालन करते हुए लटेरी तहसील में ग्राम चांदबड के कृषक श्री वंशीलाल अहिरवार, नटेरन विकासखण्ड में तोफाखेडी ग्राम के हृदयमोहन मीणा, बासौदा विकासखण्ड में ग्राम फरीदपुर के कृषक श्री नरेन्द्र रघुवंशी तथा लटेरी विकासखण्ड में ग्राम परवरिया के कृषक श्री नारायण प्रसाद शर्मा की चना फसल में तेवडा के पौधे अंकुरित होकर बडे होने की जानकारी प्राप्त होने पर विभाग के ग्राम स्तरीय अधिकारी कृषको के खेतो में पहुंचकर तेवडा की निदाई, गुडाई व उखाड़कर नष्ट कराने का कार्य अपनी उपस्थिति में कराया गया है।  शासन द्वारा इस वर्ष तेवडा मिक्स चना के उपार्जन पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाया गया है कि जानकारी किसानो को हर स्तर पर दी जा रही है ताकि समर्थन मूल्य पर चना फसल विक्रय के दौरान गतवर्ष की भांति इस वर्ष समस्याओं से जूझना ना पडें। 


क्षमतावर्धन कार्यो के सम्पादन से प्रशिक्षित हुई


vidisha news
महिला एवं बाल विकास परियोजना विदिशा शहरी में पदस्थ एएनएम, आशा, आशा सहयोगिनी आंगनबाडी कार्यकर्ता एवं पर्यवेक्षको की कार्यक्षमताओं मेंं वृद्वि कर शासन की महत्वकांक्षी योजनाओं एवं कार्यक्रमो का सफल क्रियान्वयन कर सुपात्रों को त्वरित लाभ कैसे दिलाए के मॉटिवेशन हेतु आज एक दिवसीय प्रशिक्षण जवाहर नर्सिंग ट्रेनिंग सेन्टर में आयोजित किया गया था।  परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह ने बताया कि ग्राम स्तरीय विभागीय अमले को शासन की महत्वकांक्षी योजनाओं का क्रियान्वयन कैसे करें तथा उनकी जिज्ञासाओं का समाधान कर क्षमतावर्धन के कार्यो में वृद्वि हो इसके लिए विधिवत प्रशिक्षण आयोजित किया गया था। प्रशिक्षण के दौरान बेटी बचाओ, बेटी पढाओ, सैफ सिटी, ड्रापआउट बालिकाओं का दाखिला कराना, कुपोषित श्रेणी के चिन्हित बच्चो की देखभाल व विशेष पोषण आहार देकर सामान्य ग्रेड में लाने के लिए किए जाने वाले प्रबंधो की जानकारी दी गई है। इसके अलावा गर्भधारण पूर्व और प्रसृति पूर्व निदान तकनीकी (लिंग चयन) प्रतिषेध अधिनियम एवं गठित जिला सलाहकार समिति के कार्यो की भी जानकारी दी गई।


गेंहू पंजीयन हेतु जिले की दस तहसीलो की सूची जारी


समर्थन मूल्य पर गेंहू उपार्जन कार्य हेतु कृषको का पंजीयन जिले में जारी है। डिप्टी कलेक्टर एवं जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग ने  बताया कि सिरोंज तहसील में कुल 18 पंजीयन केन्द्र संचालित किए जा रहे है इन केन्द्रो पर पहुंचकर संबंधित क्षेत्र के कृषकबंधु अपनी फसल को समर्थन मूल्य पर विक्रय कराने हेतु पंजीयन करा सकते है।  सिरोंज तहसील में विपणन सहकारी समिति मर्यादित सिरोंज के अलावा 17 सेवा सहकारी समिति मर्यादित में पंजीयन कार्य किया जा रहा है। उक्त समितियों के पंजीयन स्थान की जानकारी इस प्रकार से है। सेवा सहकारी समिति मर्यादित बडौदाताल, इसी प्रकार क्रमशः सोना, गरेठा, चाठौली, इब्राहिमपुर (भौरा), चितावर, करैया, हाजीपुर, सियलपुर, दीपनाखेडा, परसोरा, देहरी, पामाखेडी, पिपलियाहाट, मुगलसराय, तरवरिया तथा सेवा सहकारी समिति मर्यादित पगरानी शामिल है।  इसी प्रकार बासौदा तहसील में कुल 16 स्थलों पर पंजीयन कार्य किया जाएगा। उनमें विपणन सहकारी समिति मर्यादित बासौदा बेतौली (जीवाजीपुर) के अलावा सेवा सहकारी समिति मर्यादित क्रमशः अम्बानगर, भीलाय, खरपरी, ककरावदा, हतोडा, भिदवासन, किरवाया, किर्रोदा, ऐचदा, बरेठ, उदयपुर, कुल्हार, फरीदपुर, बीलाढाना तथा पिपरिया जाजोन शामिल है। शमशाबाद तहसील में तीन स्थलों पर पंजीयन कार्य होगा जिनमें विपणन सहकारी समिति मर्यादित शमशाबाद एवं सतपाडाहाट तथा सेवा सहकारी समिति मर्यादित क्रमशः सांगुल, वर्धा, डंगरबाडा तथा शमशाबाद शामिल है। कुरवाई तहसील में कुल 12 स्थलो पर पंजीयन कार्य किया जाएगा उनमें विपणन सहकारी समिति मर्यादित कुरवाई तथा सेवा प्राथमिक समिति मर्यादित छीरखेडा एवं जून्हैयखेडी के अलावा सेवा सहकारी समिति मर्यादित क्रमशः कुरवाई, भैंसवाया, बरबई, लायरा, सीहोरा, मेहलुआ, विशनपुर तथा राजपुर हिनोता एवं नाउकुंड शामिल है। पठारी तहसील में पांच स्थल उनमें सेवा सहकारी समिति मर्यादित क्रमशः भालबामोरा, शहरवासा (बदं्रावठा), रमखिरिया तथा प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था मर्यादित विसराहा एवं पठारी शामिल है। नटेरन तहसील में जिन सेवा सहकारी समितियो में पंजीयन किया जाएगा उन स्थानो की जानकारी इस प्रकार से है। रावन, नटेरन तथा विपणन सहकारी समिति गुरोद एवं ताजखजूरी शामिल है। त्योंदा तहसील में तीन स्थलो पर पंजीयन कार्य किया जाएगा उनमें विपणन सहकारी समिति मर्यादित घटेरा तथा सेवा सहकारी समिति मर्यादित त्योंदा एवं बागरोद शामिल है। गुलाबगंज तहसील में आठ स्थलो पर पंजीयन कार्य किया जाएगा उनमें सेवा सहकारी समिति मर्यादित क्रमशः बर्रीघाट, मूंगवारा, धतूरिया, अंडियाकलां, वन, खेजडाबर्री, हिनोतिया, सूखाखेडी शामिल है । ग्यारसपुर तहसील में दस स्थलो पर गेंहू का पंजीयन कृषक करा सकेंगे उनमें सेवा सहकारी समिति क्रमशः इमलावदा, अम्बार, अटारीखेजडा, सियासी, ग्यारसपुर, मानोरा, धामनोद, गुन्नोठा, कोलूआ, हैदरगढ शामिल है। लटेरी तहसील में कुल 13 स्थलो पर पंजीयन कार्य किया जाएगा उनमें सेवा सहकारी समिति क्रमशः लटेरी, झूकरजोगी, शहरखेडा, माहोटी, आनंदपुर, ओखलीखेडा, रूसल्लीसाहू, निसोबर्री, मुरवास, उनारसीकलां, देहरीपामा, सुनखेर तथा विपणन सहकारी समिति मर्यादित लटेरी शामिल है।


दो लाख से अधिक बच्चो को पोलियो की दवा पिलाई गई


राष्ट्रीय पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान के अंतर्गत जिले में दो लाख 16 हजार 638 बच्चो को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि अभियान के तीनो दिवसो में मिलाकर कुल दो लाख 15 हजार 693 बच्चो को पोलियो विमुक्ति की दवा पिलाई गई है। अभियान के प्रथम दिन अर्थात 31 जनवरी को एक लाख पचास हजार 497 बच्चो को जबकि द्वितीय दिवस 49 हजार 837 तथा अभियान के तृतीय दिवस 15 हजार 360 शून्य से पांच वर्ष आयु के बच्चो को पोलियो की दवा पिलाई गई है। सीएमएचओ डॉ अहिरवार ने विकासखण्डवार बच्चो को पिलाई गई पोलियो विमुक्ति की बच्चो को पिलाई गई दवा के संबंध में बताया कि नटेरन विकासखण्ड में तीस हजार 498 बच्चो को इसी प्रकार सिरोंज में 32973, बासौदा शहरी क्षेत्र में 16941 एवं बासौदा ग्रामीण में 26767 तथा लटेरी में 24399, कुरवाई में 24299, विदिशा शहरी क्षेत्र में 25026 पीपलखेडा में 21365, ग्यारसपुर में 13426 इस प्रकार कुल 215694 बच्चो को दवा पिलाई गई है।  


माइक्रोप्लान भेजने तथा मोबिलिटी वाहन उपलब्ध कराने के निर्देश 


राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत जिले में क्रियान्वित प्रबंधो के संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने समस्त आरबीएस के मोबाइल हेल्थ टीम को माइक्रोप्लान भेजने के निर्देश प्रसारित किए है। जिसमें प्रतिदिन आंगनबाडी, स्कूल एवं विकासखण्ड के समस्त प्रसव केन्द्रो में जाकर बच्चो की स्केनिंग किए जाने के लिए राज्य स्तर से प्राप्त निर्देशो के अनुपालन में आरबीएस टीम को वाहन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। सीएमएचओ डॉ अहिरवार ने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत तैयार किए गए माइक्रोप्लान की प्रतियां भी उपलब्ध कराने के निर्देश संबंधितो को दिए है।


आवेदनो के निराकरण से अवगत कराएं


जनसुनवाई कार्यक्रम में प्राप्त होने वाले आवेदनो के निराकरण वस्तुस्थिति से अवगत कराने हेतु संबंधित विभागो के जिलाधिकारियों को डिप्टी कलेक्टर एवं जनसुनवाई कार्यक्रम की नोडल अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग ने पत्र प्रेषित कर निराकरण की जानकारीयुक्त पत्र शीघ्र जमा कराने के निर्देश प्रसारित किए है।  


पेंशन प्रकरणो की समीक्षा आज


जिले में सेवानिवृत्त होने वाले शासकीय सेवको के पेंशन प्रकरणो के निराकरण हेतु पांच फरवरी को बैठक आयोजित की गई है उक्त बैठक कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में प्रातः 11 बजे से आयोजित की गई हैं जिला पेंशन अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में 28 फरवरी 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले शासकीय सेवको के पेंशन संबंधी समस्याओं का निराकरण अभियान के रूप में क्रियान्वित किया जाएगा।  जिला पेंशन अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने बताया कि फरवरी 2021 तक जिले में सेवानिवृत्त होने वाले शासकीय सेवको के 49 प्रकरण अभी भी संबंधित विभागो में लंबित है। उन विभागो के जिलाधिकारियों को पत्र प्रेषित कर प्रकरण जिला पेंशन कार्यालय को निराकरण हेतु जमा कराने का आग्रह किया गया है। विभागो के जिलाधिकारियों को चेकलिस्ट भी प्रेषित की गई है जिसमें शासकीय सेवको के पेंशन प्रकरणो के निराकरण हेतु विवरण अंकित है जिसका जबाव हां, ना में अंकित करना होगा इस हेतु 12 बिन्दुओं पर आधारित चेकलिस्ट की प्रति भी संबंधितो को मुहैया कराई गई है। 


’विश्व कैंसर दिवस पर 107 मरीजो का स्वास्थ्य परीक्षण हुआ


vidisha news
विश्व कैसर दिवस चार फरवरी को श्री मंत माधवराव सिंधिया शासकीय जिला चिकित्सालय में शिविर का आयोजन किया गया था। चिकित्सक डॉ पुनीत महेश्वरी, डॉ आरएल सिंह ने मरीजो के स्वास्थ्य का परीक्षण किया और उन्हें कैंसर के लक्षणो की जानकारी देते हुए उपचार के प्रबंधो से अवगत कराया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने भी शिविर में पहुंचकर मरीजो के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु किए गए प्रबंधो का जायजा लिया। उन्होंने इस दौरान मरीजो से संवाद कर आयोजन के उद्वेश्यों को रेखांकित किया है। सीएमएचओ डॉ अहिरवार ने बताया कि विश्व कैंसर दिवस पर सम्पन्न हुए शिविर में 107 मरीजो के स्वास्थ्य का परीक्षण किया गया है जिसमें से चार मरीजो में कैंसर के लक्षण पाए गए है जबकि 67 मरीजो का बीपी शुगर निर्धारित मापदण्डो के अनुरूप नही पाया गया है इसके अलावा आवश्यकतानुसार मौके पर 25 मरीजो की ईसीजी की गई है। शिविर में शामिल होने वाले मरीजो को कैंसर कैसे होता है कि जानकारी दी गई जिसमें मुख्य रूप से उन्हें अवगत कराया गया  कि हमारे शरीर में लगभग 3 खरब कोशिकाएं होती है, नियमित रूप से शरीर के अंदर कुछ कोशिकाएं नई बनती है उतनी ही पुरानी कोशिकाएं स्वतः नष्ट हो जाती है यह एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है। कैंसर रोग में यह संतुलन गड़बड़ हो जाता है व कोशिकाओं की बेलगाम बढ़ोत्तरी होती है। कैंसर कई प्रकार का होता है जैसे ब्लड कैंसर, मुंह का कैंसर, लीवर कैंसर, आहार नली का कैंसर, ब्रेस्ट (स्तन) कैंसर, आदि । शरीर के किसी भी अंग में घाव या नासूर का हो जाना, लंबे समय से शरीर के किसी अंग में दर्दरहित गांठ या सूजन, स्तन में गांठ का होना, मल-मूत्र, उल्टी, थूंक में खून का आना, आवाज में बदलाव, निगलने में दिक्कत, तेज गति से वजन का कम होना, कमजोरी महसूस होना और खून की कमी होना कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। धूम्रपान करने से मुंह, फेफड़े, गले, पेट, मूत्राशय का कैंसर होने की संभावना रहती है। तंबाकू, गुटखा, पान, सुपारी के सेवन से मुंह, जीभ, खाने की नली, पेट, गले, गुर्दे का कैंसर होने की संभावना रहती है। शराब के सेवन से श्वांस नली, भोजन नली व तालू का कैंसर होने की संभावना रहती है। धूम्रपान, तंबाकू, सुपारी, गुटखा, चूना, पान-मसाला, शराब आदि का सेवन न करें। विटामिनयुक्त हरी पत्ते वाली सब्जियां, फल, अनाज, दालें जैसे पौष्टिक भोजन का सेवन करें। कीटनाशक एवं खाद्य संरक्षण रसायन से युक्त भोजन धोकर खायें। अधिक तले-भुने, बार-बार गर्म किये हुए तेल से बने हुए भोजन का सेवन न करें। अपने वजन पर नियंत्रण रखें। नियमित व्यायाम करें और प्रदूषण रहित वातावरण में रहें।

कोई टिप्पणी नहीं: