विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 14 मार्च 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मार्च

कोविड में तनाव से जूझ रहे बच्चों के लिए बाल आयोग ने शुरू की "संवेदना" टोल फ्री-टेली काउंसलिंग


कोरोना संक्रमण के चलते मानसिक रूप से प्रभावित हो रहे बच्चों के लिए बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने नई पहल की है। आयोग ने "संवेदना" नाम से टोल फ्री टेली काउंसलिंग शुरू की है। इसके लिए टोल फ्री नम्बर 1800-1212-830 जारी किया गया है, जिस पर बच्चे कॉल कर विशेषज्ञों से बात कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं। कोविड-19 के दौरान 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ा है। ऐसे बच्चे टोल फ्री नम्बर पर सुबह 10 से 1 बजे तक और दोपहर 3 से रात्रि 8 बजे तक सोमवार से शनिवार तक अपनी समस्याओं पर विषय विशेषज्ञों, काउंसलर से बात कर सकते हैं।


हर पेट्रोल पंप स्टेशन पर होगी वाहनों में प्रदूषण की जांच


शासन के परिवहन विभाग द्वारा जिले के सभी डीजल तथा पेट्रोल की बिक्री करने वाले पेट्रोल पंपों पर प्रदूषण नियंत्रण केन्द्र बनाने के निर्देश दिये गये हैं। इस संबंध में जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक ने निर्देश दिये हैं कि जिले के सभी पेट्रोल तथा डीजल विक्रेता अपने पेट्रोल पंप पर प्रदूषण नियंत्रण केन्द्र की स्थापना करें। जिन पेट्रोल पम्प पर प्रदूषण जाँच केन्द्र स्थापित नहीं हुए हैं उनके विरूद्ध चालानी कार्यवाही की जाएगी। केन्द्र स्थापना के लिये क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को आवेदन पत्र तत्काल प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं। 


नागरिक मानवाधिकार उल्लंघन की ऑनलाइन शिकायत भी कर सकेंगे 

  • अपनी सुविधानुसार किसी भी माध्यम से कर सकते है मानवाधिकार उल्लंघन की शिकायत

राष्ट्रीय मानव अधकार आयोग, नई दिल्ली द्वारा प्राप्त जानकारी अनुसार मानव अधिकारों के उल्लंघन से संबंधित शिकायतों के निराकरण हेतु आयोग में वर्तमान में 06 तरीकों से शिकायतें अग्रेषित की जा सकती हैं। नागरिक ऑनलाइन फ्री पोर्टल www. hrcnet.nic in पत्राचार, मदद टोल फ्री नम्बर 144334, राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के मदद सेंटर में उपस्थित होकर लिखित शिकायत, मोबाइल नम्बर 9810298900 द्वारा एवं नागरिक सेवा केंद्र (सीएससी) में 30 रुपए का शुल्क जमाकर अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं।


अपनी खाद्यान्न पात्रता पर्ची खुद जाँच सकेंगे उपभोक्ता


खाद्य सुरक्षा योजना स लाभान्वित परिवारों का सत्यापन किया जा रहा है। तैनात कर्मचारियों द्वारा घर-घर जाकर एम-राशन मित्र एप के माध्यम से सत्यापन किया जा रहा है। प्रत्येक उपभोक्ता गुगल प्ले स्टोर से इस एप को स्टाल कर सकते हैं। इसके माध्यम से उपभोक्ता अपनी पात्रता की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एप में परिवार की समग्र आईडी से लागिन करने पर खाद्यान्न की पात्रता, पात्रता पर्ची के अनुसार परिवार के सदस्यों की जानकारी तथा परिवार प्रोफाइल की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इसके माध्यम से आसपास की उचित मूल्य दुकान पीओएस मशीन की स्थिति, दुकान को खाद्यान्न आवंटन एवं वितरण की भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। शासन द्वारा खाद्यान्न वितरण के संबंध में दी जाने वाली सूचनाओं और सुविधाओं के लिए भी एम-राशन मित्र एप बहुत उपयोगी है। 


गौशाला की आर्थिक मदद करने पर मिलेगी, इनकम टैक्स में छूट


मुख्यमंत्री गौसेवा योजना के अन्तर्गत मध्य प्रदेश सरकार द्वारा समस्त गोवंश प्रेमी जनमानस को गोवंश संरक्षण और गौसेवा में जोड़ने के लिये एक अभियान चलाया गया है। सभी नागरिकों को शासन के गोवंश संरक्षण और गौसेवा अभियान में जोड़ने के लिये गौपालन बोर्ड का पोर्टल www.gopalanboard.mp.gov.in बनाया गया है। कोई भी व्यक्ति जो गौसेवा या संरक्षण के इच्छुक हैं वे मध्य प्रदेश गौपालन बोर्ड के उक्त पोर्टल पर जाकर सीधे किसी भी गौशाला को आर्थिक सहयोग प्रदान कर सकते हैं। लोगों द्वारा किये गये आर्थिक सहयोग पर इनकम टैक्स की धारा-80 जी की छूट का प्रावधान होगा। इसके अलावा गौशाला में स्थाई संरचना बनाने जैसे बोरवेल, शेड, बायोगैस निर्माण तथा पशु आहार के लिये भी दान दिया जा सकता है। यह दान अपने किसी निकटस्थ रिश्तेदार या परिवारजन की याद में उसकी पुण्यतिथि के अवसर पर या घर में बच्चों के जन्मदिवस, या परिवार में शादी की सालगिरह जैसे खुशी के अवसरों पर भी दिया जा सकता है। 


3 से 6 वर्ष के बच्चों को मिलेगा पूरक पोषण आहार


महिला बाल विकास विभाग शहरी क्षेत्रों में संचालित समस्त आंगनवाड़ी केन्द्रों एवं उप आंगनवाड़ी केन्द्र के 3 से 6 वर्ष तक के बच्चों को पूरक पोषण आहार प्रदाय करेगा।  शहरी परियोजना एवं शहरी क्षेत्रों में संचालित आंगनवाड़ी केन्द्र या उप आंगनवाड़ी केन्द्रों पर ताजे पके हुए पूरक पोषण आहार की व्यवस्था राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, राज्य शहरी आजीविका मिशन के पंजीकृत महिला स्व-सहायता समूह तथा तेजस्विनी समूहों से कराई जाएगी। इसके लिए कलेक्टर की अध्यक्षता में समिति बनाई गई है। स्व-सहायता समूहों को संशोधित परिपत्र के जारी होने के दिनांक से 3 वर्ष पूर्व से राष्ट्रीय एवं राज्य शहरी आजीविका मिशन के पंजीकृत महिला स्व-सहायता समूह एवं तेजस्विनी के तहत् पंजीकृत होकर 3 वर्ष की आधार सीडेट बैंक खाते में बचत राशि शेष होना चाहिए।


वर्ष 2021 में चार नेशनल लोक अदालत होगी आयोजित


वर्ष 2021 में जिला मुख्यालय सहित तहसीलों में 4 नेशनल लोक अदालत आयोजित होगी। इस संबंध में मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर ने आदेश जारी कर दिए है। पहली लोक अदालत 10 अप्रैल को आयोजित होगी। वहीं दूसरी 10 जुलाई को, तीसरी 11 सितंबर व चौथी 11 दिसंबर को आयोजित होगी। इन नेशनल लोक अदालतों में आपराधिक, सिविल, विद्युत अधिनियम, मोटर दुर्घटना दावा, चेक बाउंस, कुटुम्ब न्यायालय तथा प्रीलिटिगेशन के अंतर्गत बैंक, विद्युत, नगरपालिका के वसूली प्रकरणों का निराकरण किया जाएगा।


समर्थन मूल्य पर चना मसूर का उपार्जन कार्य अब 22 मार्च से शुरू होगा।


गौरतलब हो कि पहले  चना मसूर का  उपार्जन कार्य 15 मार्च से शुरू होना था।  शासन द्वारा निर्धारित तिथि में वृद्धि की गई है की जानकारी देते हुए ,  समर्थन मूल्य पर चना क्रय करने हेतु नियुक्त नोडल एजेंसी एवं किसान कल्याण कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पी के चौकसे ने बताया कि  समर्थन मूल्य पर चना मसूर का उपार्जन कार्य अब नवीन जारी तिथिअनुसार 22 मार्च से प्रदेश के अन्य जिलों के साथ-साथ विदिशा जिले में भी शुरू होगा।  उप संचालक श्री चौकसे ने बताया कि *विदिशा जिले में समर्थन मूल्य पर चना मसूर के उपार्जन कार्य हेतु 62 केंद्र पर क्रय किया जाएगा इसके अलावा 07 नवीन केंद्र खोले जाने का प्रस्ताव शासन को प्रेषित किया गया है। विदिशा जिले में चना मसूर के लिए कुल 1131 गांवों की मैपिंग कि गई  है, इन ग्रामों के 41हजार 229 कृषकों द्वारा समर्थन मूल्य पर विक्रय हेतु पंजीयन कराया गया है 


सरकारी संपत्ति बेचने के लिए मोदी सरकार ने दुकान सजा दी है- भार्गव

  • ग्राम खमतला में हुआ किसान मजदूर महापंचायत का आयोजन

vidisha news
विदिशा : काले कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर एवं डीजल पेट्रोल रसोई गैस व खाने-पीने की वस्तुओं में बढ़ती महंगाई के विरोध में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी विदिशा ग्रामीण के तत्वाधान में ग्राम खमतला में किसान मजदूर महापंचायत का आयोजन किया गया महापंचायत में ग्राम छीर खेड़ा,बागरी,सेमरा,करारिया, जंबार,जाफरखेड़ी,जीवाजीपुर, ढोलखेड़ी,पेरवारा, लश्करपुर सहित आसपास के ग्रामों के किसान प्रतिनिधि उपस्थित रहे। प्रातः 11 बजे कार्यक्रम संयोजक नरेंद्र रघुवंशी रघुवंशी के स्वागत भाषण से शुरू हुई किसान महापंचायत दोपहर 1:30 बजे तक चली।  किसान मजदूर महापंचायत को संबोधित करते हुए विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि भूखों की रोटी तीन कृषि कानूनों के द्वारा आधिकारिक तौर पर हड़पने की तैयारी कर ली गई है। इसके परिणाम थोड़े समय बाद आएंगे। आज मोदी सरकार ने रेलवे, बैंक, एफसीआई सहित सरकारी संपत्ति को बेचने के लिए दुकान सजा दी है। जब एफसीआई नहीं रहेगी तो सरकारी खरीद कैसे होगी!राशन की दुकानें कैसे रहेंगी! एमएसपी और खाद सुरक्षा अधिकार को जारी रखने के लिए सरकार ने कौन सी वैकल्पिक व्यवस्था बनाई है यह देश के किसान मजदूर जानना चाहते हैं। जिला कांग्रेस संगठन प्रभारी राकेश कटारे ने कहा कि बढ़ती महंगाई से आम आदमी का जीना दुश्वार हो गया है रसोई गैस पर सब्सिडी खत्म कर मोदी सरकार ने आम आदमी के साथ धोखाधड़ी की है। शहर कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र राठोर असंगठित कामगार कांग्रेस अध्यक्ष अजय कटारे ने कहा कि जो संकट सामने खड़ा होने जा रहा है वह दुनिया का पहला संकट नहीं है। भारत के किसानों ने इस साजिश को पहचान लिया है। भारत के 80 करोड़ लोगों को भुखमरी के चंगुल में फंसने से पहले जंग का ऐलान कर दिया है। हम सभी देशवासियों को किसानों का साथ देना चाहिए। महापंचायत का संचालन ब्लॉक कांग्रेस विदिशा ग्रामीण अध्यक्ष दीवान किरार व आभार प्रदर्शन जिला सेवादल अध्यक्ष गोविंद भार्गव ने किया। महापंचायत को वरिष्ठ कांग्रेस नेता मथुरा प्रसाद शर्मा, घनश्याम शर्मा, महेंद्र यादव, नंदकिशोर शर्मा,अजीत भाई, रईस अहमद कुरेशी,गोविंद चौबे, अजय सिंह रघुवंशी, जितेंद्र यादव, उदयपाल चंदेल,वीरेंद्र राजपूत,अरुण राजू अवस्थी, शिवराज पिपरोदिया, मलखान सिंह मीणा,एलएन शर्मा,सौदान दांगी, नारायण पाल,अभिराज शर्मा आदि ने संबोधित किया। महापंचायत में प्रमुख रूप से सोनू राजपूत, रघुनाथ राव,कुबेर सिंह जादौन,राजेश जैन,धर्मेंद्र सक्सेना, सावन चौबे,विपिन शर्मा,भूपेंद्र रघुवंशी,परमाल सिंह,संतोष चौबे,राजेन्द्र शर्मा,राजकुमार रघुवंशी,गुटटी भैया,राहुल गुर्जर,सुजान सिंह राजपूत,प्रमोद ठाकुर,राजेन्द्र भार्गव,कपिल दुबे,धर्मेंद्र जादौन,महेश जाटव,जालम सिंह लोधी,सुभाष मीणा, सहित बड़ी संख्या में किसान-मजदूर साथी उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: