सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 22 मार्च 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 मार्च

युवामोर्चा प्रदेश अध्यक्ष ने गिनाई शिवराज सरकार की एक साल की उपलब्धियां, भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी करेंगे विकास कार्यो का नरियल फोड़ कर भूमि पूजन


sehore news
सीहोर/ भारतीय जनता पार्टी सीहोर द्वरा स्थानीय क्रिसेंट रिसोर्ट में आयोजित पत्रकार वार्ता में भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष वैभव पंवार एवं भाजपा जिलाध्यक्ष रवि मालवीय ने पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चौथे कार्यकाल के 1 साल पूरा करने पर स्वर्णिम 1 साल करार देते हुए उपलब्धिया गिनाई है। इस मौके पर युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष श्री पंवार ने बताया कि कांग्रेस के कमलनाथ ने झूठ बोल कर मध्यप्रदेश में सरकार बनाई, किसानों का कर्जा भी माफ नहीं किया, कांग्रेस के लोग अवैध खनन में संलिप्त हो गए। प्रदेश में माफिया राज चलने लगा। कमलनाथ अपने अहंकार में डूब गए। उनके पार्टी के  नेता ही सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने लगे। सिंधिया जी को भी चुनौती दी, जिससे वे अपने समर्थकों के साथ भाजपा में आ गए। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने  मीसा बन्दियों की पेंसन बन्द कर दी। गरीबों के संबल योजना को भी बंद कर उनके हक मारने का पाप किया। केंद्र सरकार द्वारा किसानों को दी जाने वाली सम्मान निधि का लाभ भी नहीं देने दिया। मध्यप्रदेश से किसानों की सूची तक नहीं भेजने दी। श्री पवार ने कहा कि सरकार ने कोरोना महामारी रोकने में सफलता पाई। प्रदेश गेहूं उपार्जन में पहले, स्व-सहायता समूहों को कर्ज देने में दूसरे, जल जीवन मिशन के कार्यों में तीसरे, आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश में दूसरे, फुटपाथ पर दुकान लगाने वालों को कर्ज देने में पहले, आयुष्मान कार्ड बनाने में देश में पहले स्थान पर रहा। वन नेशन-वन राशन कार्ड में शुरू के 10 राज्यों, टाइगर के बाद तेंदुआ स्टेट में मध्य प्रदेश का नाम आता है। कोरोना वारियर्स का टीकाकरण 86 फीसद हुआ, देश में सबसे ज्यादा।


1 साल के स्वर्णिम कार्यकाल पर 3 दिवसीय कार्यक्रम

भाजपा जिलाध्यक्ष श्री रवि मालवीय द्वारा बताया कि कांग्रेस के कमलनाथ सरकार के 15 महिने बनाम   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के  स्वर्णिम 1साल के  उपलक्ष्य में 23 मार्च से तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया है।  23 मार्च को दोपहर 11 बजे सायरन बजेगा, जो जहा रहेगा वही से मास्क लगाने का संकल्प लेगा।और उसी दिन कार्यकर्ता और पदाधिकारी ग्राम पंचायत एवं वार्ड में विकास कार्यों का नारियल फोड़ कर भूमि पूजन करेंगे।  व मास्क लगाओ अभियान चलाएंगे। 24 मार्च को विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को श्री फल देकर सम्मानित किया जाएगा। 25 मार्च को गरीबों को योजनाओं की जानकारी व मास्क लगाने के लिए संकल्प दिलाया जाएगा। इस अवसर पर पूर्व भाजपा प्रदेश मंत्री रघुनाथ सिंह भाटी , जिला प्रवक्ता राजकुमार गुप्ता, मंडल अध्यक्ष प्रिन्स राठौर, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष राजेश राजपूत आईटी सेल जिला संयोजक हृदेश राठौर युवामोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष जितेंद्र गोड़ एवं ओम पटेल, मौजूद रहे।


सड़क पर उतरे विश्वहिन्दू परिषद बजरंग दल कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचकर जताया आका्रेश

  • संतराम बाल्मीकी की हत्या और प्रान्त संगठन मंत्री, विभाग मंत्री पर जानलेवा हमला के विरोध में सैकड़ों कार्यकताओं ने निकाला मार्च

 

sehore news
सीहोर। विश्वहिन्दू परिषद बजरंग दल के सैकड़ों कार्यकर्ता सोमवार को टॉउन हाल से पैदल मार्च शुरू किया गया। सड़क पर उतरकर नारेबाजी करते हुए कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट पहुंचे। सरपंच पति संतराम बाल्मीकी की ट्रेक्टर से कुचलकर हत्या करने और दुखी परिजनों से मिलने पहुंचे विहिप के प्रान्त संगठन मंत्री खगेन्द्र भार्गव और विभाग मंत्री मलखान सिंह पर जानलेवा हमला करने को लेकर कड़ा आका्रेश व्यक्त किया। विहिप कार्यकर्ताओं ने जिला विदिशा लटेरी के ग्राम मुरवास में संतराम बाल्मीकी के हत्यारे और विहिप पदाधिकारियों पर पत्थराव करने वाले विशेष वर्ग के भू माफिया अपराधियों पर राष्ट्र सुरक्षा कानून लगाने की मांग को लेकर विश्व हिन्दू परिषद बजरंग दल जिलाध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम का ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर आदित्य जैन को दिया।


जानलेवा हमला कर किया पथराव

विहिप जिलाध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा की १८ मार्च को जिला विदिशा लटेरी के ग्राम मुरवास में वन विभाग की जमीन पर अवैध कब्जे की शिकायत करने वाले वाल्मीकि बंधु संतराम बाल्मीकी की निर्ममता पूर्वक हत्या वहाँ के दबंग वर्ग विशेष लोगो के द्वारा कर दी गई। रविवार को 21 मार्च को संतराम बाल्मीकी को श्रद्धांजलि देने और परिजनों से मिलकर सांत्वना देने पहुंचे विदिशा विभाग मंत्री मलखान सिंह प्रान्त संगठन मंत्री खगेन्द्र भार्गव पर लौटते समय सैकड़ो की संख्या में एकत्र मुरवास ग्राम के बहुसंख्यक विशेष वर्ग द्वारा जानलेवा हमला और पथराव कर दिया गया।


वह पीडि़त है अल्पसंख्यक हिंदू समाज

इस घटना से यह सिद्ध होता है कि इस ग्राम में रहने वाले अल्पसंख्यक हिंदू समाज की वहां पर क्या स्थिति होग ,जब बाहर से आने वाले बंधुओं पर इस प्रकार जानलेवा हमला किया जा सकता है , तो वहां रहने वाला अल्पसंख्यक हिंदू समाज कितना पीडित और दवा हुआ होगा । विश्व हिन्दू परिषद गांग करता है कि इस सम्पूर्ण घटना की निम्न बिन्दुओ के आधार पर जांच की जाए और कड़ी कार्यवाही की जाए। विहिप जिलाध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा की जहां कहीं भी पथराव की घटनाएं होती है यहां पर पीएफआई का कनेक्शन दिखाई दे रहा है।


एनएसए के तहत कार्रवाई किए जाने की मांग

विश्व हिन्दू परिषद जिलाध्यक्ष शर्मा ने कहा की ग्राम मुरवास में बहुसंख्यक वर्ग विशेष रूप से रहता है तो यहां पर अवश्य ही बांग्लादेशी घुसपैठिए एवं रोहिंग्या घुसपैठियों का होना संभव है।  यहां पर निवासरत सभी लोगों के डाक्यूमेंट्स की जांच होना चाहिए । वन विभाग की जमीन पर अवैध अतिक्रमण की घटना आसपास के क्षेत्र में बहुत सारी घट रही हैं उन सभी की भी विस्तृत जांच होना चाहिए । हत्या की घटना के बाद प्रशासन ने कानूनी कार्रवाई की इस सबके विरोध में यहां के बहुसंख्यक  समाज को कुछ वीडियो के माध्यम से ट्विटर,सोशल मीडिया का उपयोग कर लगातार हत्या के बाद से भड़काया गया है।


सोशल मीडिया से भड़काया गया

ट्विटर हैंडल की भी जांच होना चाहिए। अल्पसंख्यक हिंदू समाज की आत्मरक्षा सुरक्षा के लिए शस्त्र लाइसेंस उपलब्ध कराये जाने चाहिए। विशेष वर्ग की बहुलता को देखते हुए अल्पसंख्यक हिंदुओं की सुरक्षा के लिए सशस्त्र विशेष सुरक्षा बल की चौकी का व्यवस्था की ग्राम मुरवास में की जाए । पत्थराव घटना का षड्यंत्र रचने वाले और हमला करने वाले लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम एनएसए के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए। अगर सरकार के द्वारा तुरंत कड़ी कार्यवाही नहीं की गई तो विश्व हिन्दू परिषद बढ़ा आंदोलन करने के लिए तैयार होगा।


प्रदर्शन में मुख्य रूप 

जिला उपाध्यक्ष जगदीश कुशवाह,जिला मंत्री राकेश कुमार विश्वकर्मा, जिला संयोजक विवेक राठौर,जिला कोषाध्यक्ष पं मोहितराम  पाठक,जिला गोरक्षा प्रमुख जितेंद्र नारोलियाजिला सत्संग प्रमुख महेश शर्मा, जिला अखाड़ा प्रमुख अनु चौहान,जिला महाविद्यालय प्रमुख सुरेश दांगी,नगर अध्यक्ष आलेख राज राठोर नगर मंत्री यज्ञश, नगर संयोजक आशीष कुशवाह, ग्रामीण प्रखंड अध्यक्ष महेश मेवाड़ा श्यामपुर प्रखंड अध्यक्ष आशीष   सिसोदिया,संयोजक दीनदयाल वर्मा,इछावर प्रखंड अध्यक्ष मंगलेश वर्मा,सहसंयोजक परमवीर जाट,पवन पाठक, महेंद्र सोलंकी,अमित दांगी,भगवानदास कुशवाह शुभम कुशवाह, दीपक प्रजापति आदि शामिल रहे। 


17 लाख किसानों के खाते में 340 करोड़ रुपए एवं 30 लाख किसानों को राहत राशि की द्वितीय किस्त के रूप में 1530 करोड़ रुपए का सिंगल क्लिक से होगा वितरण

  • सीहोर जिले के 01 लाख 47 हजार 858 किसानों के खातों में 29 करोड़ 57 लाख रूपये से अधिक राषि होगी अंतरित, जिला स्तरीय सीहोर कृषि उपज मण्डी प्रांगण में आयोजित किया गया है

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत प्रदेश के 17 लाख किसानों को 340 करोड़ रुपए एवं 30 लाख किसानों को राहत राशि की द्वितीय किस्त के रूप में 1530 करोड़ रुपए सिंगल क्लिक से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान द्वारा वितरण किया जाएगा । यह प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम 23 मार्च को भोपाल के मिंटो हाल में दोपहर 01 बजे से आयोजित किया गया है । सीहोर जिले के एक लाख 47 हजार 858 किसानों के खातों में 29 करोड़ 57 लाख 1600 सौ राशि अंतरित होगी। यह कार्यक्रम सीहोर कृषि उपज मण्डी प्रांगण में आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने जिला स्तरीय, ब्लॉक स्तरीय एवं ग्राम पंचायत स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे । उन्होंने इन कार्यक्रमों में जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित करने तथा किसानों की भगीदारी सुनिष्चित करने के लिए कहा है। यह कार्यक्रम दोपहर 01 से 02 बजे तक संपन्न किए जाएंगे।  दोपहर 02 बजे से मुख्यमंत्री  के राज्य स्तरीय कार्यक्रम से वेबकास्ट /लिंक के द्वारा सभी जुड़ेंगे । इस कार्यक्रम का DDMP चैनल के माध्यम से जुड़कर कार्यक्रम को देख एवं सुन सकेंगे । श्री गुप्ता ने इस कार्यक्रम में किसानों की भागीदारी सुनिश्चित करने तथा मुख्यमंत्री के उद्बबोधन का लाइव प्रसारण दिखाया जाने के लिये सभी आवष्यक व्यवस्था सुनिष्चित करने के निर्देष दिए है। इस कार्यक्रम से हितग्राहियों को जोड़ने के लिये www.mp.gov.in  पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराये जाने के निर्देश हैं।  श्री गुप्ता ने जिला स्तर, ब्लॉक स्तर एवं ग्राम पंचायत स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करने तथा प्रोजेक्टर /बड़ी स्क्रीन एवं ग्राम पंचायत स्तर पर टेलीविजन सैट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं । साथ ही इस कार्यक्रम के आयोजन के दौरान कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करने के भी निर्देश दिए हैं।


आष्टा के पुष्प कल्याण निजी अस्पताल का पंजियन निरस्त

  • भर्ती मरीजों को अन्य अस्पतालों में भर्ती करने तथा जमा की गई शुल्क लौटाने के दिये निर्देश  

आष्टा के पुष्प कल्याण निजी अस्पताल का पंजियन निरस्त कर दिया गया है। निरस्त करने के साथ ही अस्पताल में भर्ती मरीजों को अन्य अस्पतालों में शिफ्ट करने के निर्देश दिये गये हें। चिकित्सालय में भर्ती मरीजों या उनके परिजनों द्वारा जो शुल्क दिया गया है उसे वापस लौटाने के निर्देश दिये गये हैं । यह कार्यवाही कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा प्रसूता की मृत्यु के उपरांत गठित मजिस्ट्रियल जांच समिति की अनुसंशा पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुधीर कुमार डेहरिया द्वारा की गई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुधीर कुमार डेहरिया ने जानकारी दी कि मृतिका प्रतिक्षा शर्मा की मृत्यु की जांच मजिस्ट्रीयिल समिति जिसमें श्री रवि कुमार वर्मा डिप्टी कलेक्टर, डॉ आनन्द शर्मा सिविल सर्जन, डॉ बी.के. चतुर्वेदी चिकित्सा अधिकारी द्वारा की गई। समिति के अध्यक्ष एवं सदस्यों द्वारा जांच में पृथमदृष्टया पुष्प कल्याण जिली अस्पताल प्रबंध द्वारा प्रसूता की प्रसूती के दौरान निर्धारित सतर्कता, चिकित्सकीय मापदंण्ड अनुसार चिकित्सकीय उपचार उपलब्ध कराने में असफल रहा। पूर्णकालिक स्त्री रोग विशेषज्ञ एवं निश्चेतना विशेषज्ञ न होने उपरांत भी अप्रशिक्षित नर्सिंग स्टाफ द्वारा सीजेरियन डिलेवरी जैसे संवेदनशील चिकित्सकीय सेवाऐं दी जा रही है जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जनमानस के एवं मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया अधिनियम 1956 एवं नर्सिंग होम  अधिनियम 1973 के तहत अपराध है। समिति द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर पुष्प कल्याण निजी अस्पताल आष्टा का पंजियन 22 मार्च से निरस्त किया गया है।


वंचित विद्यार्थियों हेतु राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड भोपाल से परीक्षा कराने के संबंध में निर्देश जारी किए गए है।

 

कोविड -19 संक्रमण के कारण सत्र 2020-21 में मण्डल की कक्षा 10 वीं एवं 12 वीं की परीक्षा में आवेदन करने से वंचित विद्यार्थियों के अध्यापन की निरंतरता बनाये रखने के लिये एक अवसर प्रदान किया जाना है। इस हेतु राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड भोपाल द्वारा संचालित रूक जाना नहीं योजना के तहत ऐसे विद्यार्थियों के लिये कक्षा 10 वीं एवं 12 वीं की विशेष परीक्षा आयोजित की जाना है। मण्डल द्वारा सत्र 2020-21 हेतु जारी किये गये ब्लू प्रिंट एवं पाठ्यक्रम को ही रूक जाना नहीं योजना के लिये लागू किया जायेगा। अतः ऐसे विद्यार्थियों को ड्रापआउट होने से रोकने के लिये जून माह में परीक्षा आयोजित करने हेतु आवश्यक व्यवस्थाओं का अनुरोध किया गया है।


शिक्षक बच्चों की मनोसामाजिक समस्याओं का अभिभावक के रूप में निराकरण करें: न्यायमूर्ति सुजोय पॉल

  • महिला बाल विकास, स्कूल शिक्षा और यूनिसेफ द्वरा ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम 

उच्च नयायालय के न्यायमूर्ति व किशोर न्याय समिति के अध्यक्ष श्री सुजोय पॉल ने कहा कि शिक्षकों द्वारा बच्चों की मनोसामाजिक समस्याओं का अभिभावक के रूप में निराकरण व जागरूकता ही यौन शोषण रोकने का बेहतर उपाय है। श्री सुजोय पॉल प्रदेश के शिक्षकों व अन्य प्रतिभागियों को ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने प्रशिक्षण कार्यक्रम के विषयों को समाहित करने वाली एक बच्चे ‘टेडी’ की अत्यंत रोचक कहानी के माध्यम से बच्चों के मनोविज्ञान को समझाने के साथ ही बच्चों को सही दिशा व मार्गदर्शन प्रदान करने में शिक्षकों की भूमिका पर विस्तार से चर्चा की। श्री सुजोय पॉल ने बताया कि एक अच्छे शिक्षक द्वारा बच्चों को जीवन में सही दिशा प्रदान करने व उनके व्यक्तित्व विकास में महत्वपूर्ण योगदान होता है। अत: शिक्षक अपने दायित्वों को निभाते हुए बच्चे को अच्छा व्यक्तित्व प्रदान करें। उन्होंने कहा कि यदि एक शिक्षक चाहे तो परिस्थितियों को बदलकर बच्चों के शोषण को रोक सकता है और उन्हें एक अच्छा व्यक्ति बना सकता है| उन्होंने शिक्षकों को बच्चों की निजी मनोवैज्ञानिक व सामाजिक समस्याओं का निराकरण, अभिभावक की भूमिका निभाते हुए संवाद स्थापित करने और आपराधिक प्रवृतियों से बचाकर मुख्य धारा में लाने का सन्देश भी दिया। उन्होंने कानूनों की बारीकियों में न जाकर शिक्षकों से बच्चों को जागरूक कर अपराधों की स्थिति को रोककर भावी पीढ़ी को नई दिशा देने का आव्हान किया। संचालक, महिला एवं बाल विकास श्रीमती स्वाति मीणा नायक ने बताया कि उन्मुखीकरण कार्यक्रम में प्रदेश के समस्त शासकीय व अशासकीय मिडिल, हाई स्कूल व हायर सेकेंडरी स्कूल के शिक्षकों द्वारा सहभागिता की गयी। प्रशिक्षण कार्यक्रम में शिक्षकों के साथ ही प्रदेश की बाल कल्याण समितियों, बाल देखरेख संस्थाओं के कर्मचारी सहित, महिला एवं बाल विकास विभाग के अन्य अमले को भी जोड़ा गया। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के शिक्षकों को बाल यौन शोषण की रोकथाम हेतु सक्षम व संवेदनशील बनाना है, ताकि प्रदेश में शिक्षक बच्चों का शोषण रोकने में प्रभावी भूमिका निभा सकें। कार्यक्रम का संचालन एवं आभार डॉ. विशाल नाडकर्णी, संयुक्त संचालक, महिला एवं बाल विकास माना।


म.प्र. शूटिंग अकादमी के खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप ने देश को दिलाया रजत पदक खेल मंत्री ने एश्वर्य प्रताप को मैडल पहनाकर किया सम्मानित 


आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के प्रतिभावान खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने देश को रजत पदक दिलाया। एश्वर्य प्रताप ने यह पदक 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में 14 अंकों के साथ अर्जित किया। एयर फोर्स के खिलाड़ी दीपक कुमार और आर्मी के पंकज कुमार टीम में शामिल थे। यूएसए के खिलाड़ी 16 अंक हासिल कर पहले स्थान पर रहे। कोरिया ने तीसरा स्थान हासिल किया। उल्लेखनीय है कि आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में इस बार नया इवेंट जोड़ा गया है। इसके अनुसार क्वालिफिकेशन राउंड में पहले और दूसरे स्थान पर रहने वाली जो टीम पहले 16 अंक प्राप्त करेगी वह स्वर्ण पदक विजेता होगी। इसी तरह तीसरे और चौथे स्थान पर रहने वाली टीम के बीच कांस्य पदक के लिए मुकाबला होगा और जो टीम पहले 16 अंक प्राप्त करेगी उसे कांस्य पदक मिलेगा।


देश हुआ गौरवान्वित

दिल्ली में खेली जा रही वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया भी शामिल हुईं। उन्होंने खिलाड़ियों का प्रतिभा प्रदर्शन देखा और उनका उत्साहवर्धन किया। मैडल सेरेमनी में उन्होंने एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर सहित अन्य खिलाड़ियों को मैडल पहनाकर सम्मानित किया और सभी खिलाड़ियों को बधाई दी। खेल मंत्री ने कहा कि एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर मध्यप्रदेश की एक्सीलेंस शूटिंग अकादमी के प्रतिभावान स्टार खिलाड़ी हैं, जिन्होंने वर्ल्ड कप में रजत पदक जीतकर देश का मान बढाया है। इस अवसर पर मध्यप्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की मुख्य प्रशिक्षक सुश्री सुमा शिरूर भी उपस्थित थी। प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के तीन खिलाड़ी भागीदारी कर रहे हैं। इनमें एश्वर्य प्रताप के अलावा चिंकी यादव और सुनिधि चौहान शामिल हैं। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने भी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर के शानदार प्रदर्शन की सराहना की है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया है कि एश्वर्य प्रताप अगले इवेंट में स्वर्ण पदक जीतकर देश का गौरव बढ़ाएंगे।


म.प्र. लोक सेवा आयोग की परीक्षा में कोविड के संबंध में शासन ने निर्देश जारी किए 


म.प्र. लोक सेवा आयोग के  द्वारा अवगत कराया गया है कि आयोग द्वारा राज्य सेवा मुख्य परीक्षा 2019 का आयोजन 21 से 26 मार्च तक किया जा रहा है।  इस संबंध में आयुक्त स्वास्थ्य डॉ. संजय गोयल द्वारा आदेश जारी किये है कि कोविड -19 संक्रमण को कम करने के लिए न्यूनतम 6 फीट की शारीरिक दूरी का यथा संभव पालन, फेस कवर, मास्क का अनिवार्यतः उपयोग, हाथों की स्वच्छता के लिये साबुन - पानी अथवा एल्कोहॉलयुक्त हैंड सेनिटाईजर का उपयोग तथा श्वसन शिष्टाचार का पालन सुनिश्चित किया जाये। परीक्षा स्थल पर पृथक आगमन एवं निर्गम द्वार का चिन्हांकन किया जाये। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र में पृथक " आईसोलेशन कक्ष चिन्हांकित हो ताकि स्क्रीनिंग के दौरान लक्षण युक्त परीक्षार्थी को एकांत में रख कर परीक्षा देने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। परीक्षा में आवेदक परीक्षा पूर्व से ही कोरोना पीड़ित हो गये है एवं परीक्षा पूर्ण होने तक कुछ आवेदकों के कोरोना पीड़ित होने की संभावना का दृष्टिगत रख आयोग की बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि ऐसे परीक्षार्थियों को भी अवसर दिया जाना उचित है। दृष्टिगत रखते हुए कोरोना पीड़ित अभ्यर्थियों को आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं में सम्मिलित करने के संबंध  परीक्षा संचालकों द्वारा लक्षण युक्त छात्रों के परीक्षा के आयोजन के संबंध में स्पष्ट नीति पूर्व से ही अवगत कराई जाए।  कोविड पॉजीटिव परीक्षार्थियों के लिये  आईसोलेशन कक्ष " में सीमित कर्मचारियों, पर्यवेक्षकों की ड्यूटी लगाई जाये एवं इनके लिए व्यक्तिगत सुरक्षा साधन पी.पी.ई. किट , फेस शील्ड , ग्लव्स एवं शू - कवर  की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये। आईसोलेशन कक्ष में पारदर्शी कांच के पार्टीशन, खिड़कियां हो जिससे कोरोना संदिग्ध , कोविड परीक्षार्थी का दूर से पर्यवेक्षण सुनिश्चित किया जा सके। परीक्षा केन्द्र पर अनुशासन बनाये रखने तथा शारीरिक दूरी एवं नियंत्रण संबंधी समस्त गतिविधियों के पालन के लिये पर्याप्त मानव संसाधन तैनात किये जाये। परीक्षण संस्थाओं में शारीरिक दूरी के मानक निर्देशों के पालन करते हुए व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त कक्षों की व्यवस्था की जाये। परीक्षा संचालकों, परीक्षा केन्द्रों द्वारा व्यक्तिगत सुरक्षा साधन जैसे फेस कवर / मास्क तथा अन्य आवश्यक संसाधन जैसे हैंड सेनिटाईजर , साबुन , सोडियम हाईपोक्लोराईट सॉल्युशन आदि आवश्यकता पड़ने पर परीक्षार्थियों को उपलब्ध कराई जाये। परीक्षा केन्द्रों के बाहर एवं अंदर कोविड -19 के रोकथाम हेतु आवश्यक गतिविधियों के संबंध में पोस्टर, स्टैन्डी, ऑडियो विजुअल संचार माध्यम से सूचना का प्रसार किया जाये। परीक्षा के समापन पर परीक्षार्थियों को व्यवस्थित तरीके से निर्गगन द्वार पर ले जाया जाये। परीक्षा हॉल में लिखित परीक्षा के पूर्व निरीक्षक द्वारा हाथों को सेनिटाइज करने के उपरान्त ही प्रश्न पत्र तथा उत्तर पुस्तिका का वितरण किया जाये। परीक्षार्थियों द्वारा प्रश्न पत्र, उत्तर पुस्तिका प्राप्त करने से पहले तथा वापस जमा करते समय हाथों को सेनिटाईज किया जाये। उत्तर पुस्तिका के पैकिंग के समय स्टाफ द्वारा बार - बार हाथों को सेनिटाईज किया जाये। यथासंभव उत्तर पुस्तिकाओं को एकत्रिकरण के 72 घंटे बाद खोला जाये। कोविड -19 के संदिग्ध, परीक्षा के दौरान लक्षणयुक्त परीक्षार्थियों,कोविड पॉजीटिव परीक्षार्थियों के लिए मानक परिचालन प्रक्रिया आईसोलेशन में परीक्षा देते समय परीक्षार्थी के लक्षण अधिक गंभीर होने अथवा स्वास्थ्य की स्थिति खराब होने पर तत्काल जिला कोविड कमांड एण्ड कंट्रोल सेन्टर के हेल्प लाईन तथा जिले के स्वास्थ्य प्राधिकारी अथवा नामांकित चिकित्सक को सूचित किया जाये।


कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को रोकना सर्वोच्च प्राथमिकता- कलेक्टर श्री गुप्ता


कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित टीएल बैठक में कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने विभागों के समय सीमा वाले प्रकरणों की समीक्षा करते हुए जिला अधिकारियों को लंबित पत्रों पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। । श्री गुप्ता  ने सभी विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया कि सीएम घोषणा, सीएम मॉनिट, सीएम डेशबोर्ड एवं सीएम हाउस से आये पत्रों पर समय सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिये । सीएम हेल्पलाईन के 300 दिन पूर्व लंबित प्रकरणों को संतुष्टिपूर्ण बंद करने के व निरंतर अद्यतन करते रहने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री गुप्ता ने जिले में कोरोना संक्रमण को रोकने की जा रही कार्यवाहियों और कोविड वैक्सीनेशन की जानकारी लेते हुए कहा कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण का प्रभाव फिर से बढ़ रहा है, जिसे रोकना सर्वोच्च प्राथमिकता है। गॉव-गॉव में जाकर लोगों को कोविड वैक्सीन लगवाने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क नहीं लगाने वाले लोगों पर फाइन लगाने सहित सभी जरूरी सावधानियां बरतने के लिए समझाईश देने के निर्देश दिये । श्री गुप्ता  ने कहा कि कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन कराया जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं की जाए। उन्होंने सीएमएचओ, राजस्व तथा पुलिस अधिकारियों को बाजारों में सतत् भ्रमण करने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी दुकानों और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानदारों द्वारा निर्धारित दूरी पर गोले बनाया जाना सुनिश्चित कराएं। सभी दुकानदार और उनके कर्मचारी मास्क लगाकर, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ग्राहकों को सामग्री प्रदाय करें यह भी सुनिश्चित किया जाए। अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोंबर, जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह सहित सभी जिला अधिकारी उपस्थित थे।


कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने व्ही सी के माध्यम से दिये दिशा निर्देश

  • कलेक्टर,एसपी सहित सभी सदस्य वीसी के माध्यम से हुए शामिल

sehore news
प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए सॉवधानियां एवं पूर्व व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल से जिले के सभी जिला आपदा प्रबंधन समिति के सदस्यों से वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र से लगे हुए प्रदेश के 12 जिलो में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है, इसके रोकथाम के लिए प्रदेश स्तर से समुचित प्रयास किए जा रहे है, सभी जिलो के जिला प्रशासन एवं जिला आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य समन्वय एवं सहयोग के साथ मिशन मोड़ पर इस महामारी नियंत्रण हेतु जन अंदोलन चलाएं।   मुख्यमंत्री ने कोविड-19 महामारी रोकथाम के लिए जन जागरूकता अभियान को जन अदोंलन का रूप देने के लिए 23 मार्च को प्रातः 11.00 बजे एवं सायं 07.00 बजे पूरे प्रदेश के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में "मेरा मास्क मेरी सुरक्षा" स्लोगन के साथ सभी मंत्री, विधायक, अधिकारियों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं, धर्मगुरूओं को शुरू करने का आह्वान किया। सीहोर कलेक्ट्रेट स्थिति एनआईसी  कक्ष से कलेक्टर श्री अजय गुप्ता , जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह, पुलिस अधिक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, विधायक श्री सुदेश राय, आष्टा विधायक श्री रघुनाथ मालवीय, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री रवि मालवयी, श्री रघुनाथ मालीवय, जिला भाजपा प्रवक्ता श्री राजकुमार गुप्ता, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष श्री सीताराम यादव, नगर पुरोहित श्री प्रथ्वी वल्लभ दुबे, शहर काजी श्री युसुफ अंसारी सहित अनेक सदस्य वी सी के माध्यम से शामिल हुए।


कोरोना से बचाव हेतु सावधानी बरतने की याद दिलाने बजेगा कोरोना सायरन, कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन बेहद जरूरी- कलेक्टर


कोविड संक्रमण के बढ़ते हुए प्रभाव को रोकने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों के पश्चात वीसी रूम में कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा क्राइसेस मेनेजमेंट के सदस्यों के साथ कोरोना के रोकथाम के अपायों के संबंध में चर्चा की ।  बैठक में कलेक्टर श्री  गुप्ता ने  कहा कि कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन बेहद जरूरी है। जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराने के लिये रोको-टोको अभियान को और अधिक प्रभावी बनाया जाए। उन्होंने सभी नगरीय निकायों और ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को कोरोना से बचाव हेतु सावधानियां बरतने के साथ ही कोविड वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। कलेक्टर श्री गुप्ता ने कहा कि लोगों को कोरोना से बचाव के लिए शासन के दिशा-निर्देशों का पालन करने की समझाईश दी जाए। इसके बाद भी निर्देशों का उल्लंघन किया जाता है तो संबंधितों पर चालानी कार्यवाही की जाए। उन्होंने अनुभाग और तहसील स्तर पर प्रतिदिन कोरोना संक्रमण की स्थिति और कोविड वैक्सीनेशन की मॉनीटरिंग किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रत्येक विभाग के मैदानी अमले को तैयार किए जाने के संबंध में भी निर्देश दिए। 


कोरोना से बचाव हेतु सावधानी बरतने की याद दिलाने बजेगा कोरोना सायरन

बैठक में कलेक्टर श्री गुप्ता ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार कोरोना से सतर्कता, सजगता एवं सावधानी बरतने की याद दिलाने के लिए प्रदेश सहित जिले में भी 23 मार्च से कुछ दिनों के लिए प्रातः 11 बजे एवं शाम 07 बजे कोरोना सायरन बजेगा। उन्होंने सभी अधिकारियों को 23 मार्च को प्रातः 11 बजे अलग-अलग जगह पर उपस्थित रहने के निर्देश दिए। 23 मार्च को प्रातः 11 बजे जब कोरोना सायरन बजेगा उस समय सभी लोग अपने-अपने स्थानों पर रुक जाएंगे तथा मास्क लगाने एवं सामाजिक दूरी रखने का संकल्प लेंगे। इसके बाद जनप्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता, एनसीसी कैडेट्स आदि लोगों को मास्क लगवाएंगे तथा सावधानी बरतने के लिए प्रेरित करेंगे। साथ ही दुकानों के सामने सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोले भी बनवाए जाएंगे।  कलेक्टर श्री गुप्ता ने दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानदारों से दुकानों के बाहर निर्धारित दूरी पर गोले बनवाए जाने के संबंध में निर्देश दिए। सभी दुकानदार और उनके कर्मचारी मास्क लगाकर, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ग्राहकों को सामग्री प्रदाय करें यह भी सुनिश्चित किया जाए। उन्होने ने कहा कि निर्देशों का पालन नहीं करने वाले दुकानदारों के विरूद्ध जुर्माने की कार्यवाही की जाए। इसके बाद भी अगर दुकानदार द्वारा लापरवाही की जाती है तो दो दिन के लिए दुकान सील करने की कार्यवाही की जाए। बैठक में उपस्थिति क्राइसिस मेनेजमेंट के सदस्यों ने अनेक बहुमूल्य सुझाव दिये। कक्ष से जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह, पुलिस अधिक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, विधायक श्री सुदेश राय, आष्टा विधायक श्री रघुनाथ मालवीय, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री रवि मालवयी, श्री रघुनाथ मालीवय, जिला भाजपा प्रवक्ता श्री राजकुमार गुप्ता, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष श्री सीताराम यादव, नगर पुरोहित श्री प्रथ्वी वल्लभ दुबे, शहर काजी श्री युसुफ अंसारी सहित अनेक सदस्य वी सी के माध्यम से शामिल हुए। 


उम्र का शतक पार कर चुके दो बुजुर्गो ने लगवाया कोविड का टीका

  • एक बुजुर्ग की उम्र 108 साल, तो दूसरे की 102 साल, दोनों बुजुर्गो ने कोविड का टीका लगवाने की सभी से की अपील

sehore news
जिले के दो  वयोवृद्ध नागरिकों ने आज कोविड टीकाकरण केन्द्र पहुंचकर कोविड का टीका लगवाया। श्यामपुर विकासखण्ड के ग्राम महुआखेड़ी निवासी 108 साल के बुजुर्ग श्री जयराम तथा बुधनी विकासखण्ड के ग्राम मर्दानपुर निवासी 102 साल के श्री शिवनाराण ने टीकाकरण केन्द्र पहुंचकर कोविड का टीका लगवाया। टीका लगने के बाद इन दोनों बुजुर्गो को किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई। कुछ समय टीकाकरण केन्द्र में बिताने के बाद वापस अपने घर चले गये। इन बुजुर्गो को उनके परिजन लेकर टीका लगवाने आये थे। परिजनों ने बताया कि जब इन्हें बताया गया कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए कोविड का टीका लगाया जा रहा है, तो वे सहर्ष टीका लगवाने के लिए तैयार हो गये और तुरंत टीकाकरण केन्द्र चलने के लिए कहा।


दोनों बुजुर्गो ने की टीका लगवाने की अपील

श्री जयनारायण एवं श्री शिवनारायण ने टीका लगवाने के बाद उन्होने सभी से कोविड का टीका लगवाने की अपील करते हुए कहा कि जब हम 100 साल से ज्यादा उम्र के होने के बाद भी टीका लगवा सकते हैं, तो आप क्यों नहीं.......।  आप भी घर से निकलिये और निर्धारित तिथि को टीकाकरण केन्द्र जाकर कोविड का टीका लगवाइये। टीकाकरण से आप भी सुरक्षित रहेंगे और समाज भी सुरक्षित रहेगा । उन्होने कहा कि  टीका लगवाने से उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी हुई ।


जिला स्तरीय निबंध प्रतियोगिता का आयोजन


sehore news
आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अन्तर्गत दांडी मार्च की वर्षगांठ पर चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय सीहोर में जिला स्तरीय निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । जिसका शीर्षक ‘‘महात्मा गांधी की स्वदेशी अवधारणा’’ था जिसमें जिले के 13 महाविद्यालयों के प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. आशा गुप्ता, महाविद्यालय के एन.सी.सी. प्रभारी, एन.एस.एस. कार्यक्रम अधिकारी तथा जिले के 13 महाविद्यालयों से आये एन.एस.एस. कार्यक्रम अधिकारी उपस्थित रहें।


किसान अपनी फसल समर्थन मूल्य पर ही विक्रय करें- मंत्री श्री पटेल


किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने रविवार को फेसबुक पर किसानों से संवाद करते हुए कहा कि मौसम की स्थिति को देखते हुए चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी की तिथि 22 मार्च से आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि वे अपनी फसल समर्थन मूल्य पर ही बेचें। मौसम में सुधार होते ही खरीदी प्रारंभ करेंगे। कृषि मंत्री श्री पटेल ने बताया कि बारिश एवं ओला प्रभावित क्षेत्रों में सर्वे का काम प्रारम्भ कर दिया गया है। उन्होंने किसानों से अपील की कि यदि उनकी फसल खराब हुई है और सर्वे अभी प्रारम्भ नही हुआ है, तो स्थानीय कृषि, राजस्व विभाग के अधिकारियों, तहसीलदार, एडीएम एवं जन-प्रतिनिधियों को खराब हुई फसलों की तत्काल सूचना दें। असुविधा होने पर कमल सुविधा केंद्र 0755-2558823 पर सूचना भी दे सकते हैं। मंत्री श्री पटेल ने प्रदेश के किसान भाइयों को बधाई देते हुए कहा कि कोरोना काल में हमारे अन्नदाताओं ने बंपर पैदावार की, जिससे विगत वर्ष मध्यप्रदेश गेहूँ खरीदी में पंजाब को पीछे छोड़ते हुए नंबर-1 राज्य बना। इस वर्ष हमने 135 लाख मीट्रिक टन गेहूँ खरीदी का लक्ष्य रखा है।


ऑनलाइन माध्यम से करें बिजली बिल का भुगतान


वर्तमान में कोविड-19 के बढ़ते विस्तार को देखते हुए कंपनी के बिल भुगतान केन्द्र, ए.टी.पी. मशीन, एमपी ऑनलाइन के कियोस्क, कॉमन सर्विस सेंटर यद्यपि चालू हैं फिर भी उपभोक्ता बिजली बिलां का भुगतान ऑनलाइन माध्यम से कर सकते हैं।  मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे बिजली बिलों का भुगतान करने के लिए ऑनलाइन भुगतान सुविधा का लाभ लें। उपभोक्ताओं को बिजली बिलों के ऑनलाइन भुगतान की सुविधा कम्पनी की वेबसाइट portal.mpcz.in (नेट बैंकिंग, क्रेडिट/डेबिट कार्ड, यूपीआई, ईसीएस, बीबीपीएस, कैश कार्ड एवं वॉलेट आदि) या 50 से अधिक बैंकों की इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से उपलब्ध है। इसके अलावा उपभोक्ता फोनपे, गूगल पे, एचडीएफसीपे एप, अमेजानपे, पेटीएम एप एवं उपाय मोबाइल एप के माध्यम से भी बिजली बिलों का भुगतान कर सकते हैं।   मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री विशेष गढ़पाले ने निम्नदाब उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान कर अधिकतम 20 रूपये तक अपने बिल में छूट प्राप्त कर सकते हैं। इसी प्रकार उच्चदाब उपभोक्ता ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान कर अधिकतम एक हजार रूपये की छूट प्राप्त कर सकते हैं। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बताया है कि यदि कोई उपभोक्ता ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान करता है तो उसके द्वारा कुल जमा किए गए बिल पर आधा प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट अधिकतम 20 रूपये तक होगी और न्यूनतम 5 रूपये होगी। इसी प्रकार जो उच्चदाब उपभोक्ता हैं यदि वे ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान करते हैं तो उनके द्वारा कुल जमा किए गए बिजली बिल पर आधा प्रतिशत छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट अधिकतम एक हजार तक हो सकती है।


 ऑन लाइन भुगतान : कहां क्लिक करें portal.mpcz.in पर क्लिक करें। ऑनलाइन बिल भुगतान के ऑपशन पर क्लिक करें। View - Pay का बटन क्लिक करें। बिजली बिल का अकाउंट आई.डी. टाइप करें। अब उपभोक्ता का बिल कम्प्यूटर स्क्रीन पर होगा। भुगतान के लिए चार विकल्पों में से किसी एक का चुनाव करें। डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड,नेट बैंकिंग, कैश कार्ड, के माध्यम से आसानी से भुगतान किया जा सकता है।


जनता को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए जरूरी है जागरुकता अभियान: मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • अभियान को सभी मिलकर सफल बनाएँ, मुख्यमंत्री ने की जिलों से बातचीत 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेशवासियों को हर स्थिति में फिर से फैल रहे कोरोना संक्रमण से बचाना है। इसके लिए जन-जागरूकता अभियान जरूरी है। ''मेरी सुरक्षा-मेरा मास्क'' पर पालन करते हुए हर व्यक्ति को अपनी सुरक्षा के लिए मास्क का उपयोग करना है। प्रदेश में जागरूकता अभियान शुरु किया जा रहा है। अधिकारी हों या जन-प्रतिनिधि या फिर आम नागरिक, सभी मिलकर इस अभियान को सफल बनाएँ। कोरोना का कहर गहरा हो इसके पहले हमें अपने सुरक्षात्मक प्रयास तेज करने होंगे। महाराष्ट्र से लगे हुए जिलों में सावधानी बढ़ानी होगी। रविवार को कुछ नगरों में लाक डाउन और कुछ जिलों में रात्रि 10 बजे बाजार बंद करने के निर्णय के बाद अब जागरूकता अभियान तेज करने का निर्णय लिया गया है। इसके अंतर्गत प्रदेश में मंगलवार 23 मार्च को पूर्वान्ह 11 बजे और शाम 7 बजे सायरन बजने पर सभी लोग दो मिनिट कार्य रोक कर मास्क पहनें, अन्य लोगों को भी मास्क के उपयोग के लिए प्रेरित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि संक्रमण से बचाव के लिए मास्क ही सबसे महत्वपूर्ण है। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाए। बीस व्यक्तियों से अधिक की भागीदारी होने पर उस कार्यक्रम या बैठक की अनुमति जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप द्वारा प्रदान करने का निर्णय लिया जाए। इसके साथ ही मेलों और अन्य उत्सवों के संबंध में भी जिले के परिस्थिति अनुसार स्थानीय स्तर पर आवश्यक निर्णय लिया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिलों में फेस मास्क की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जाए। जहाँ जरूरी हो पर्याप्त संख्या में मास्क आपूर्ति के लिए जिला स्तर पर स्व-सहायता समूहों से मास्क बनवाएँ और उनका उपयोग सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय से वीडियो कान्फ्रेंस द्वारा जिलों के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिलों के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों से सुझाव भी प्राप्त किए। वीडियो कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के जो मामले सामने आ रहे हैं, उनमें लगभग आधे प्रकरण दो बड़े नगरों इंदौर और भोपाल के हैं। इंदौर और भोपाल नगरों का प्रतिशत प्रदेश के कुल प्रकरणों का क्रमशः 27 और 25 है। वीडियो कॉन्फ्रेस में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी और मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस भी उपस्थित थे। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में वैक्सीनेशन का कार्य प्रगति पर है। तीन माह में टारगेट ग्रुप का वैक्सीनेशन पूरा हो जाएगा।


जन-जागरण अभियान जोर-शोर से चलाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जन-प्रतिनिधि और अधिकारी स्वयं मास्क लगाएँ और इसका फोटो 'मेरा मास्क-मेरी सुरक्षा' स्लोगन के साथ सोशल मीडिया पर पोस्ट भी करें। इस प्रचार अभियान का सकारात्मक परिणाम मिलेगा। हमें मध्यप्रदेश को लाक डाउन की ओर नहीं ले जाना है। प्रदेश में बहुत मुश्किल से अर्थ-व्यवस्था को पटरी पर लाने का कार्य हुआ है। छोटे कारोबारियों और रोज कमाने-खाने वालों को बढ़ते कोरोना संक्रमण से सर्वाधिक हानि होती है। प्रदेश की जनता के हित में हम सभी को फेस मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा लोगों को सुबह 11 बजे और शाम 7 बजे मास्क लगाकर, मास्क लगाने की समझाइश दें। उन लोगों को रोकें-टोकें जिन्होंने मास्क नहीं लगाए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जन-कल्याण के इस कार्य में सभी धर्मगुरु भी सहयोग करें और लोगों को मास्क लगाने की अपील करें। इसके अलावा सभी जन-प्रतिनिधि जैसे सांसद, विधायक अनिवार्य रूप से नागरिकों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित करें। इस कार्य में सामाजिक संगठन भी सक्रिय हों। एन.एस.एस और एन.सी.सी. जैसे संगठनों के कार्यकर्ता भी जुटें। सभी मिलकर कोरोना से बचाव के अभियान को सफल बनाएँ। दुकानों के बाहर सर्किल बनाए जाएँ ताकि लोग परस्पर दूरी के साथ खड़े हों और दुकानदार से सामान खरीदते समय संक्रमण को टाला जा सके।


मेरी होली-मेरे घर

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कुछ सप्ताह यह अभियान निरंतर चले। हम सभी सतर्क रहें। मेले भी न लगाएँ। बीस से अधिक संख्या के आयोजन न हों। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ये व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की रफ्तार थम जाए, इसके लिए सभी को जुटना होगा, तभी हम मध्यप्रदेश को सुरक्षित रखने में कामयाब होंगे। ''मेरी होली-मेरे घर'' के नारे को लागू करें। अन्य त्यौहार भी परिवार के स्तर पर ही मनाए जाएँ। सोशल डिस्टेंसिंग के पालन में लापरवाही नहीं होना चाहिए।


जिलों की भागीदारी

वीडियो काँन्फ्रेंस में रतलाम से क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप द्वारा बताया गया कि राजस्थान और गुजरात सीमाओं के कारण सतर्कता बरती जा रही। अशोक नगर जिले के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप द्वारा सुझाव दिया गया कि होली के अवसर पर होने वाला करीला मेला संक्रमण से बचाव की दृष्टि से स्थगित करना उचित रहेगा। निवाड़ी से बताया गया कि नजदीक ही उत्तरप्रदेश के नगर झाँसी में काफी संख्या संक्रमित लोग हैं, इसलिए सावधानी बरती जा रही है। वीडियो काँन्फ्रेंस में श्योपुर, विदिशा से भी भागीदारी हुई। इस अवसर पर अनेक जिलों से मुख्यमंत्री श्री चौहान को सरकार कार्यकाल का एक वर्ष पूरा होने पर बधाई भी दी गई।


आज 05 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 72


पिछले 24 घंटे के दौरान 05 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के सुभाष मार्ग इंग्लिशपुरा, स्टेशन  रोड निवासी 01-01, आष्टा के खांडपुर, जावर के वार्ड नंबर 1 तथा इछावर के नीलबड़ से 01-01 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि वर्तमान में जिले में एक्टिव/पॉजिटिव की संख्या 72 है। आज 13 व्यक्ति रिकवर हुए। अब तक कुल रिकवर की संख्या 2820  है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 272 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 85,  नसरूल्लागंज 30 , आष्टा से 86, इछावर से 20, श्यामपुर से 51,  बुदनी से 0 सैम्पल लिए गए है । आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2940 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2820 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 72 है। आज 272 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 80354 हैं जिनमें से 75982 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 121 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1361 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। आज पॉजिटिव मिले नये कन्टेनमेंट झोन सहित समस्त कन्टेनमेंट एवं बफर जोन मे स्वास्थ्य दलों द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है वहीं पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्ये कन्टेनमेंट जोन मे सर्वे के लिए जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-07562 226470 है एवं 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती हैं। जिला स्तर पर मोबाइल नंबर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होन कारोन्टाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हल्पलाईन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम कारान्टाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकॉलोजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते है।


अशोकनगर जिले के मां जानकी मंदिर में आयोजित होने वाला करीला मेला स्थगित


कोविड-19 के बढ़ते हुए संकृमण को देखते हुए अशोकनगर जिले के मां जानकी मंदिर करीला में रंगपंचमी के अवसर पर आयोजित होने वाला तीन दिवसीय करीला माता मेला(अशोकनगर) कोरोना संक्रमण फैलने की दृष्टि से इस वर्ष आयोजित नही किया जायेगा।

कोई टिप्पणी नहीं: