मधुबनी : आठ सूत्री मांग के समर्थन में दो दिनों से उपवास पर है कार्यपालक सहायक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 23 मार्च 2021

मधुबनी : आठ सूत्री मांग के समर्थन में दो दिनों से उपवास पर है कार्यपालक सहायक

  • - आठ सूत्री मांगों को ले 24 मार्च को पटना गर्दनीबाग में विशाल धरना प्रदर्शन करेंगे कार्यपालक सहायक
  • - कार्यपालक सहायक के पिछले नौ दिनों से हड़ताल पर रहने से सभी विभाग का कामकाज ठप
  • - कार्यपालक सहायकों को हड़ताल से दरोगा बहाली में आवेदकों एवं लोक शिकायक निवारण परिवादियों को हो रही परेशानी
  • - मधुबनी जिला से लगभग 500 कार्यपालक सहायक पटना में आयोजित धरना प्रदर्शन में लेगें भाग

executive-assistant-hunger-strike
मधुबनी (रजनीश के झा) । बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ के आवाह्न पर मधुबनी इकाई के सभी कार्यपालक सहायक पिछले नौ दिनों से आठ सूत्री मांगों के समर्थन में जिला अध्यक्ष राजू राय के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है। समाहरणालय के समक्ष डाॅ. भीम राव अम्बेदकर के प्रतिमा  स्थल के परिसर में जिले के सभी कार्यपालक सहायकों अपनी मांगों को ले 22 एवं 23 मार्च को उपवास पर है। संघ के जिला अध्यक्ष, राजू कुमार राय, राजन ठाकुर एवं कार्यालय मंत्री सत्यजीत ठाकुर एवं जिला उपाध्यक्ष फकीर कुमार मंडल ने कहा कि सरकार अगर हमारी मांगों पर अबिलम्ब विचार नहीं करती है तो बाध्य होकर 24 मार्च से बिहार के सभी जिलो के कार्यपालक सहायक पटना के गर्दनीबाग में सरकार के नीति के विरोध में विशाल धरना प्रदर्शन करेंगें। जिसकी सारी जबाबदेही बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसाईटी के अधिकारियों की होगी। वक्ताओं ने आयोजित धरना प्रदर्शन कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में कार्यपालक सहायक को भाग लेने की अपील की गई है। कार्यालय मंत्री सत्यजीत ठाकुर ने कहा कि मधुबनी जिला से लगभग 500 कार्यपालक सहायक पटना की धरना प्रदर्शन में भाग लेंगे। जिसकी सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है। कार्यपालक सहायकों की मुख्य मांगों में सेवा स्थायी एवं वेतनमान, मानदेय विषमता, अनुभव की मान्यता, अन्य भत्ता में 10 प्रतिशत वार्षिक वृद्धि, कार्यपालक सहायकों की सेवा नीजी एजेन्सी (बेल्ट्रोन) के हाथों सौंपे जाने के पत्र को निरस्त करने सहित आठ सूत्री मांगों को लेकर सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए जमकर प्रदर्शन कर रहे है। कार्यपालक सहायकों की बेमियादी हड़ताल पर जाने से लोक सेवाओं के अधिकार एवं लोक जन शिकायत निवारण कार्य  सहित सभी विभागों का कार्य पूर्णतः ठप है। बिहार राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के जिला मंत्री रमण प्रसाद सिंह ने भी कार्यपालक सहायकों के मांगों की समर्थन करते हुए सरकार संघ से अतिशीघ्र वार्ताकर बीच का रास्ता निकाले। ताकि आमजनों का कार्य बाधित नहीं हो। शंकर कुमार, अजय कुमार दत्त, सुमित कुमार, नरेन्द्र कुमार, राम उदगार राम, रामपुकार यादव, राजीव कुमार झा, राममिलन महतो, अजीत कुमार, विकास कुमार, मुकुंद कुमार, मनीषा कुमारी, सुष्मा कुमारी, नूतन कुमारी, निकीता कुमारी, नेहा कुमारी आशा कुमारी

कोई टिप्पणी नहीं: