मधुबनी : रहिका मे तीन दिवसीय मिथिला विभूति स्मृति पर्व समारोह आज से प्रारंभ। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 23 मार्च 2021

मधुबनी : रहिका मे तीन दिवसीय मिथिला विभूति स्मृति पर्व समारोह आज से प्रारंभ।

mithila-vibhuti-smriti-parv-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) मैथिल समाज रहिका के तत्वावधान मे आयोजित मिथिला विभूति स्मृति पर्व समारोह का आयोजन मध्यविद्यालय रहिका के प्रांगण मे आज से आयोजित होने जा रही है। इसबार संस्था आयोजित होने वाली  तीन दिवसीय मिथिला विभूति  स्मृति पर्व समारोह को को विशेष रुप से मनाने का निर्णय लिया है।संस्था के अध्यक्ष सुमन महासेठ, ने  बताया कि मिथिला क्षेत्र की विकास,मातृभाषा मैथिली के विकास,और प्राथमिक स्तर से मैथिली मे पढाई की मांग को ले आंदोलनरत रही है।  संस्था सचिव  शितलांबर झा ने बताया कि मैथिल समाज रहिका को मिथिला व मैथिली के विकास की मांग की आंदोलन मे शहादत भी मिली है।समस्त मैथिल समाज रहिका को ही पूरे देश मे प्रथम विद्यापति मूर्ति अनावरण करने का गौरव प्राप्त है।उन्होंने  कहा  कि मैथिल समाज रहिका प्रतिवर्ष मिथिला व मैथली भाषा और मैथिली कला व संस्कृति के क्षेत्र मे महती योगदान देने वाले को सम्मान करती आ रही है।  विभा रानी की रचना  ,कथा संग्रह पुस्तक रहथु साक्षी छठ घाट पर किरण पुरस्कार,  अजीत आजाद को कविता संग्रह अनभुआर होईत समय पर यात्री पुरस्कार ,तथा मैथिली कला व संस्कृति के क्षेत्र मे सुरेश पंकज को महेन्द्र सम्मान देने का निर्णय लिया है। मिथिला व मैथिली के विकास क्षेत्र मे महत्वपूर्ण योगदान देने वालो को सम्मानित करने का निर्णय लिया है। जिसमे दुलारी देवी ,विधानपार्षद प्रेमचंद्र मिश्र,साहित्य सम्मान से सम्मानित कमलाकांत झा, सियाराम झा सरस ,डा सोनू कुमार झा के अलावे  पत्रकारिता के क्षेत्र मे उमाशंकर सिंह,व खेल विधा मे प्रणव झा को  शामिल किया गया हैं।उन्होने बताया कि जिले के समस्त मंत्री,विधायक, व पार्षदों की जूटान होने की संभावना है। कार्यक्रम के प्रथम दिन संस्कृत विश्वविद्यालय दरभंगा के कुल पति शशिनाथ झा बतौर मुख्य कार्यक्रम के उदघाटन कर्ता होंगे।दुसरे दिन विराट कवि सम्मेलन सह संस्था की ओर से स्मारिका का  विमोचन किया जाना है।विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह बतौर उदघाटन कर्ता होंगे। जिसके साथ दर्जनों प्रतिनिधि की उपस्थिति होगी।सूबे के  लोकस्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री रामप्रीत पासवान कार्यक्रम के अंतिम दिन  मुख्य अतिथि के रुप मे मंचासीन होंगे।संस्था की ओर से इन्हें भी सम्मानित किया जाएगा।मिथिला के नाम चीन कलाकार, कला का प्रदशर्न करेंगे।जो देर रात तक चलेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: