झारखंड : आबादी के अनुसार पिछड़ा वर्ग आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 24 मार्च 2021

झारखंड : आबादी के अनुसार पिछड़ा वर्ग आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन

reservation-as-caste-percentage-jharkhand
रांची, 23 मार्च, झारखंड विधान सभा बजट सत्र के अंतिम दिन आज पक्ष-विपक्ष के कई सदस्यों ने पिछड़ा वर्ग को आबादी के अनुरूप की मांग को लेकर मुख्य द्वारा पर प्रदर्शन किया।   कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद , नमन विक्सल कोंनगाडी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक समरी लाल और अमित मंडल ने भी पिछड़ा वर्ग के के लिए आरक्षण की सीमा बढ़ाने की मांग की। इस मौके पर  कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद ने कहा कि जनसंख्या के अनुपात में पिछड़ों को आरक्षण मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग ने झारखंड के 27 प्रतिशत की आबादी वाली पिछड़ी जाति को झारखंड में तमिलनाडु सरकार की तर्ज पर 27 प्रतिशत आरक्षण की अनुशंसा राज्य सरकार से की है। उन्होंने कहा की आयोग की अनुशंसा को राज्य सरकार को तुरंत लागू करना चाहिए। राज्य सरकार कम से कम 27 प्रतिशत आरक्षण पिछड़ों को दे। भाजपा विधायक समरी लाल ने भी इसका समर्थन किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की विधायक अंबा प्रसाद पिछड़ों के आरक्षण की मांग को लेकर सदन के बाहर बैठी हैं, वे इसका समर्थन कर रहे हैं।  झारखंड में पिछड़ों को 27 प्रतिशत के आरक्षण मिलना चाहिए। यह मांग लंबे समय से उठ रही है। उन्होंने कहा कि अंबा प्रसाद यदि इस मुद्दे को सदन में उठाएंगी तो वे  इसका सदन के अंदर भी समर्थन करेंगे। जनसंख्या के अनुरूप आरक्षण संविधान में दिया गया अधिकार है।

कोई टिप्पणी नहीं: