बिहार : अभिलेखों को ऑनलाइन कर RTPS से जोड़ दिया जाए - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 10 मार्च 2021

बिहार : अभिलेखों को ऑनलाइन कर RTPS से जोड़ दिया जाए

  • * इस तरह की कार्रवाई पर मोहम्मद नदीम अली ने जबर्दस्त फैसला करार दिया है
  • * शिव कुमार का कहना है कि हुजूर मेरा भी जमीनी परिवाद है.मेरा भी परिवाद का समाधान कर दें.परिवाद संख्या- 999990126111987227/A है

abhilekh-join-to-rtps
पटना. जिलाधिकारी पटना डॉ चंद्रशेखर सिंह के द्वारा लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के तहत द्वितीय अपील की सुनवाई की गई.कुल 25 मामलों में 15 मामलों का निष्पादन किया गया, 10 मामलों में आगे की तिथि निर्धारित किया गया. मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना  की 20 माह विलंब से स्वीकृति प्रदान करने के कारण सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा को ₹5000 अर्थदंड अधिरोपित किया गया.  बिहार लोक शिकायत निवारण पटना सिटी जिसका परिवाद पंजीयन सख्या- 42811 60011 02003464 है.संतोष कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि मैं वार्ड 62 नियर जल्ला हनुमान मंडई लिंक रोड बहरी बेगमपुर पटना सिटी में रहता हूं.मेरा मोबाइल नंबर 7903962213, 9472366516 है.महोदय कृपया करके जल्द से जल्द समस्या का समाधान करने का कृपा करें.  शाश्वत कुमार ने कहा कि राजस्व अभिलेखागार ,पटना में राजस्व से संबंधित अभिलेख यथा सर्वे खतियान,खेवट,रिटर्न,कोर्ट केश के आदेश से संबंधित महत्वपूर्ण अभिलेख संधारित रहता है ,इसे निकालने के लिए प्रत्येक साल लगभग 125000 चिरकुट फाईल होता है ,लेकिन उस आफिस मे दलालों एवं अगल बगल के चाय दुकानदारों के दलाली के कारण नकल निकालना बहुत मुश्किल एवं दुश्वार है सर जी.इस कार्यालय का नियमित निरीक्षण किया जाए . उन्होंने इस कार्यालय के सभी अभिलेखों को ऑनलाइन कर RTPS से जोड़ दिया जाए एवं समय निर्धारित कर दिया जाए ,ताकि आम जनता को सभी अभिलेख सुलभता से प्राप्त हो सके एवं बिचौलियों से इस कार्यालय को मुक्त कराया जा सके सर. शिव कुमार का कहना है कि हुजूर मेरा भी जमीनी परिवाद है.मेरा भी परिवाद का समाधान कर दें.परिवाद संख्या- 999990126111987227/A है.

कोई टिप्पणी नहीं: