झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 25 अप्रैल 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अप्रैल

प्रशासन ने चलाया किल कोरोना अभियान, घर घर जाकर कि थर्मोस्केन मशीन से जांच


jhabua news
पारा । जिला प्रशासन के निर्देश मे आज रामा ब्लाक के पारा नगर मे स्वास्थ्य राजस्व व पुलिस विभाग के अमले किल कोराना अभियान चलाया। जिसमे कर्मचारीयो ने घर घर जाकर परिवार के हर सदस्य का थर्मोस्केन मशीन तापमान नोट किया। पारा नगर मे नायब तहसीलदार आशिष राठोर, पारा पुलिस चोकि प्रभारी श्याम कुमावत, डा के एस डोडवा आदी ने पुरे दलबल के साथ पारा नगर मे किल कोरोना अभियान चलाया। जिसमे नगर के प्रत्येक घर के हर एक सदस्य का थर्मोस्केन मशीन से टेमप्रेचर लिया व नाम पता उम्र भी नोट कि। साथ ही परिवार के हरएक सदस्य के स्वस्थ्य कुशल होने कि जानकारी ली । सभी को घर मे सुरक्षित रहने कि सलाह भी दी व कहा कि किसी को किसी भी प्रकार कि कोई परेशानी तकलीफ बिमार आदी हो तो तुरंत अस्पताल जाकर चेक करवाए।  नायब तहसीलदार श्री राठोर व डा डोडवा ने बताया कि इस अभियान मे डोर टु डोर सर्वे से आगामी दिनो मे कितने संक्रमीत मरिज ओर निकल सकते हे। यह जानने मे असानी होगी। साथ ही प्रशासनिक टिम ने सभी से कहा कि 1 मई से 18 वर्ष लेकर वर अधिक उम्र के सभी लोगो का टिकाकरण सरकार किया जा रहा हे। इसलिए आप लोगो मे से जो भी व्यक्ति 18 वर्ष से अधिक उम्र का हे। अपना टिकाकरण अवश्य करवाए। इस अवसर पर एएसआई रमेश गेहलोत पटवारी नरेन्द्र सांवरिया प्रधान आरक्षक श्री भुरिया एएनएम रामकन्या बारिया, एमची डब्ल्यु दलसिह कटारा, नरसिह वासकेल अशाकार्यकर्ता सहीत अन्य कर्मचारी उपस्थित थै।


भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक और सांसद श्री डामोर मोबाईल से कोविड मरीजों की पूछ रहे कुषलक्षेम, जिले और संसदीय क्षेत्र की स्थिति पर बनी हुई सत्त नजर


झाबुआ। झाबुआ जिले और रतलाम-झाबुआ-आलीराजपुर संसदीय क्षेत्र मंे कोरोना महामारी ने अपने अत्यधिक पैर पसार रखे है। एक ओर जहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रहंी है, तो इस बीच सकारात्मक खबर यह भी है कि अनेको कोरोना संक्रमित मरीज अपने हौंसले, जज्बे और सकारात्मकता के बल तथा चिकित्सालयों मंें भर्ती होने पर समुचित उपचार सेवाएं और अच्छे वातावरण के कारण ठीक भी हो रहे है। जानकरी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि इस बीच भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक और रतलाम-झाबुआ-आलीराजपुर सांसद गुमानसिंह डामोर भी कोविड मरीजों की हर संभव मद्द के लिए तत्पर है। इसी के तहत भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक के निर्देष पर प्रत्येक मंडल स्तरों पर कोविड प्रभारी एवं मंडल अध्यक्षों को वेक्सीनेषन लगवाएं जाने के साथ प्रत्येक मंडल स्तरों पर घर-घर जाकर प्रचार-प्रसार करने के साथ ही 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगांे को स्वास्थ्य केंद्रों पर ले जाकर वेक्सीनेषन भी करवाया जा रहा है। अब कंेद्र और मप्र की भाजपा सरकार के निर्देष पर 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों को भी टीका लगना आरंभ हो जाएगा। जिसके लिए झाबुआ शहर के प्रत्येक वार्डों मंे पार्षद एवं भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता सर्वे सूची तैयार कर जोर-षोर से इसका प्रचार-प्रसार मंे जुटे हुए है। इसके साथ ही झाबुआ जिले की स्थिति का फालोअप लेने के लिए समय-समय पर मप्र सरकार के पर्यावरण मंत्री एवं जिला कोविड नियंत्रण प्रभारी हरदीपसिंह डंग के भी जिले में सत्त दौर और जिले की स्थिति पर नजर बनी हुई है। एंव भाजपा जिलाध्यक्ष, सांसद के साथ जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक से सत्त जिले की स्थिति पर चर्चारत है।


भाजपा जिलाध्यक्ष और सासंद मोबाईल पर कोविड मरीजों से चर्चारत

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी श्री नाहर ने बताया कि इसी बीच भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक एवं क्षेत्रीय सांसद श्री डामोर झाबुआ जिले के साथ आलीराजपुर और रतलाम जिले में भी पता चल रहा कि कोई काेिवड मरीज सिरीयस है, तो इसके लिए उनके परिजनों से मोबाईल पर संपर्क कर लगातार स्थिति जान रहे है। दोनो ही वरिष्ठजन अपनी वरिष्ठता के चलते लगातार इस संसदीय क्षेत्र में कोविड की स्थिति पर सत्त नजर बनाए हुए है और जरूरत पड़ने पर आवष्यक व्यवस्थाआंे तथा जिला प्रषासन और पुलिस प्रषासन के वरिष्ठ अधिकारियांे से चर्चा कर व्यवस्थाओं को चाॅक-चौबंद करने में लगे हुए है। 


कोरोनाकाल में झाबुआ के वार्ड क्र. 5 के पार्षद की सराहनीय पहल, रहवासियों को वेक्सीन लगवाने हेतु आरंभ किया प्रेरित अभियान, सर्वे कार्य भी जारी


jhabua news
झाबुआ। कोरानाकाल में शहर के वार्ड क्र. 5 के सक्रिय पार्षद एवं लक्ष्मीबाई मित्र मंडल के प्रमुख नरेन्द्र संघवी अपने वार्ड के समस्त पात्र रहवासियांे को कोरोना से रोकथाम हेतु टीकाकरण के लिए वार्ड में कैपेनिंग कर रहे है। 45 वर्ष से अधिक उम्र के रहवासियों को वेक्सीन आवष्यक रूप से लगाने के लिए प्रेरित करने के साथ केंद्र सरकार के आदेष पर आगामी 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के रहवासियांे के नाम भी सूचीबद्ध किए जा रहे है। वार्ड पार्षद श्री संघवी ने बताया कि इस कार्य मंे विषेष सहयोग भाजपा मंडल झाबुआ के पूर्व अध्यक्ष दिपेष बबलू सकलेचा, पूर्व महामंत्री हेमेन्द्र नाना राठौर, वार्ड की समर्पित कार्यकर्ता चेतना चैहान, युवा शषांक संघवी आदि प्रदान कर रहे है। पार्षद श्री संघवी के अनुसार उनका लक्ष्य वार्ड में रहवासियांे के शत-प्रतिषत वेक्सीनेषन का है। वार्ड में 45 वर्ष से अधिक उम्र के जिन लोगांे को वेक्सीन नहीं लग पाया है, उन्हें सत्त जिला चिकित्सालय ले जाकर टीका भी लगवया जा रहा है। साथ ही इस दौरान सामाजिक महासंघ की ओर से प्राप्त आॅक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए सुरक्षा पोटलियों का भी वितरण किया जा रहा है। यह कैंपेनिंग आगामी दिनों मंें भी सत्त जारी रहेगी।


राजनीति में झांसी की महारानी कहीं जाती थी स्व. सुश्री कलावती भूरिया, भोपाल और दिल्ली तक बोलती थी तूती, शैल्बी हाॅस्पिटल में कोरोना से दो सप्ताह तक करती रहीं दो-दो हाथ, अंततः हुआ स्वर्गावास, राजनीतिक तबके में गहरा दुख व्याप्त


jhabua news
झाबुआ। 24 अप्रेल, शनिवार को तड़के  सुबह उस समय राजनीति के गलियारों में गहरा दुख व्याप्त हो गया। जब झाबुआ और आलीराजपुर जिले की राजनीति में झांसी की महारानी कहीं जाने वाली कांग्रेस की कद्दावर नेत्री और वर्तमान जोबट विधायक सुश्री कलावती भूरिया के स्वर्गावास की खबर सामने आई। उनके निधन से ही राजनीति के क्षेत्र में एक बड़ी और अपूरर्णीय क्षति हुई है, जिसकी पूर्ति करना संभव नहीं है। स्व. कलावती भूरिया की तूती ना केवल भोपाल अपितु दिल्ली तक बोलती थी। वे भारत के जाने-माने कांग्रेस नेताओं और आलाकमान में राजनीति क्षेत्र में अपनी तेज-तरार्ट छवि के कारण पहचानी जाती थी। इंदौर शेल्बी हाॅस्पिटल मंे दो सप्ताह तक कोरोना महामारी से दो-दो हाथ किए। अंततः उनका स्वर्गावास हो गया। स्व. कलावती भूरिया पूर्व कंेद्रीय एवं झाबुआ विधायक कांतिलाल की भतीजी और मप्र युवक कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ. विक्रांत भूरिया की कजिन थी। उनकी राजनीति कैरियर का आरंभ वर्ष 1994 में सरपंच चुनाव से हुआ था। वह झाबुआ जिले के ग्राम मोरडूंडिया की रहने वाली थी।


संपूर्ण मप्र के कांग्रेसजनों में शोक की लहर

सुश्री कलावती भूरिया के असामयिक निधन से संपूर्ण प्रदेश के कांग्रेस जनों में शोक की लहर छाने के साथ हर कांग्रेस कार्यकर्ता में मायूसी छा गई है। वे कांग्रेस पार्टी मैं दबंग शैरनी के रूप में पहचानी जाती थी। छोटे से छोटे कार्यकर्ता की समस्या के समाधान के लिए हमेशा अग्रसर रहती थी।  उनकी प्रखर एवं मुखर कार्यशैली हर किसी को आकर्षित करती थ।ी अलीराजपुर-झाबुआ जिले के कांग्रेसजन उनमें दिवंगत वरिष्ठ कांग्रेसी नेत्री जमुनादेवी की छवि देखते थे।


ग्राम मोरडूंडिया में सरपंच से जोबट विधायक तक का सफर

सुश्री कलावती भूरिया ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत ग्रह ग्राम मोरडूंडिया से की। जहां सरपंच के पद पर प्रचंड बहुमत से विजय होकर वर्ष 1994 से 2000 तक सरपंच रहीं। सन् 2000 में जिला पंचायत का चुनाव लड़ा। जिसमें विजय होकर जिला पंचायत अध्यक्ष बनी। तब अलीराजपुर झाबुआ जिला एक ही था ।  4 बार जिला पंचायत की अध्यक्ष चुनी गई, जो 2018 तक जिला पंचायत अध्यक्ष के पद पर पद आसीन होकर कई विकास कार्य करवाएं। पुरस्कार स्वरूप केंद्र सरकार द्वारा 2 बार उन्हें उत्तर प्रदेश के लखनऊ एवं मप्र के मंडला में पंचायती राज पुरस्कार से सम्मानित कर 50-50 लाख रू. की सम्मान राशि क्षेत्र के विकास हेतु दी गई। जिला पंचायत पद पर आसींन रहते हुए संगठन की बागडोर को सुचारू रूप से निर्वाह करते हुए संगठन को मजबूती भी प्रदान की। वर्ष 2018 में जोबट जिला आलीराजपुर से विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में चुनावी मैदान में उतरकर जोबट से विधायक बनी। कलावती भूरिया झाबुआ  जिले की झांसी की रानी के रूप मेें कांग्रेसनेत्री के रूप में अपनी पहचान बनाने वाली एक मात्र महिला रही पार्टी की गतिविधियों बढ़ चढ़कर हिस्सा लेती रहीं। समय समय पर आंदोलनो के माध्यमं से सत्ता एवं प्रशासन में अपनी धांक कायम करने वाली एक मात्र महिला नेत्री के रूप में अपना स्थान बनानें में कामयाब रहीं।


दो सप्ताह तक लड़ती रहीं कोरोना से

सुश्री कलावती भूरिया का दो सप्ताह पूर्व से इंदौर के सेल्बी अस्पताल में उपचार किया जा रहा था । पिछले दो दिनों मे उनकी तबियतं ज्यादा खराब होने के चलते 24 अप्रेल, शनिवार को तड़के उपचार के दौरान ही अंतिम सांस लेकर हमेशा-हमेशा के लिए इस संसार से बिदा हो गई । 24 अप्रैल शनिवार को दोपहर 1ः00 बजे इंदौर के मुक्तिधाम पर कोविड-19 की गाइडलाइन के तहत उनका अंतिम संस्कार किया गया।  कलावती भूरिया के निधन पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, सांसद दिग्विजयसिंह, विवेक तन्खा आदि ने अपने संदेश में कलावती को कांग्रेस की सच्ची सिपाही बताते हुए श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए इनकी कमी को कदापि पूरा नही किए जाने की बात कहीं है। वही झाबुआ विधायक  कांतिलाल भूरिया ने कलावती के महाप्रयाण को व्यक्तिगत एवं पार्टी की क्षति बताते हुए काग्रेस पार्टी में एक शून्यता का अवसाद बताया। वह प्रखर मुखर शैली की नेत्री की कमी होने की बात कहते हुए अश्रुपूरित नेत्रों से उनका स्मरण किया है।


कलावती भूरिया की कमी जीवन भर खलेगी

जिला  कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने सुश्री कलावती भूरिया को श्रद्धाजंलि देते हुए  कहा कि वे अविभाजित  झाबुआ जिले की सर्वमान्य  काग्रेस नेत्री होकर वास्तविक जनप्रतिनिधि थी। कांग्रेस पार्टी की पहचान बनाने में उनके योगदान को नकारा नही जा सकता हैै। मप्र युवक काग्रेस  अध्यक्ष  डाॅ.  विक्रांत  भूरिया ने श्रद्धाजंलि देते हुए कलावती भूरिया को बेहद अनुभवी, दूरदृष्टा एव पार्टी की समर्पित जनप्रतिनिधि बताया। कांग्रेस नेता प्रकाश राका ने उनके असामयिक निधन पर शोक जताते हुए पार्टी की एक अपूरणीय क्षति बताया।


नम आंखों से कांग्रेसजनों ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि

विधायकगण वीर सिंह भूरिया, मुकेश पटेल, वालसिंह मेड़ाख् पूर्व विधायक जेवियर मेडा कार्यवाहक अध्यक्ष हेमचंद डामोर एवं रूप सिंह डामोर, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रमेश डोशीख् मानसिंह मेड़ा, वीरेंद्र मोदी, मनोहर भंडारीख् राजेश भट्टख् गेंदाल डामोर जिला पंचायत अध्यक्ष शांति राजेश डामोर, उपाध्यक्ष चंद्रवीरसिंह राठौर नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार, आशीष भूरिया साबिर फिटवेल, आचार्य नामदेव यामीन शेख, ठाकुर अग्निनारायण सिंह, विजय भाबर, गौरव सक्सेना, विनय भाबर, मनीष व्यासख् अलीमुद्दीन सैयद, कैलाश डामोर, हर्ष जैनख् विनोद पाटीदार जयराज भट्ट, सुरेश समीर, विक्की भाबर, मासूल भूरिया, दिनेश गहरी, फतेहसिंह नायक, काना मुंडियाख् ठाकुर आदित्यसिंह, रविंद्रसिंह बंशी बारिया, शंकर सिंह भूरिया, बबलू कटारा, अविनाश डोडियार, मथियास भूरिया, रशीद कुरेशीख् नंदलाल मेड, शाहरुख खान, सलेल पठान, मनीष बघेल, समकित पलेरा आदि ने नम आंखों से सुश्री कलावती भूरिया को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।


जिला पंचायत कर्मचारीयों ने दी सुश्री कलावती भूरिया को दी श्रृद्वाजंली

  • भूरिया ने नेतृत्व में दो बार जिला पंचायत ने राष्ट्रीय पुरूस्कार प्राप्त किया, भूरिया की इच्छा शक्ति ने ही जिला पंचायत कर्मचारीयों के आवास निर्माण किये

झाबुआ 25 अप्रेल जिला पंचायत की पूर्व अध्यक्ष एवं विधायक जोबट कलावती भूरिया ने नेतृत्व करने की विलक्षण प्रतिभा थी,बिना किसी भेदभाव के कार्य करने वाली जननेता थी। कर्मचारीयों की हर समस्या के समाधान के लिए हमेशा अग्रसर रहती थी । जिला पंचायत कर्मचारीयों ने अपने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती भूरिया के आकस्मिक निधन से कर्मचारीयों में मायूसी छा गई है। जिला पंचायत के लेखाधिकारी राजेन्द्र सोलंकी ने बताया कि कलावती बेन के निधन को व्यक्तिगत क्षति बताते हुए गहरा सदमा लगा है, बहन का व्यवहार सरल स्वभाव हमेशा याद रहेगा। उनका अचानल चले जाना आदिवासी समाज के लिए क्षति तो है कि साथ ही जिले एवं प्रदेश के लिए भी नुकसान बताया वही सुधीरसिंह कुशवाह अन्वेषक अधिकारी ने श्रृद्वाजंली में कहा कि कलावती भूरिया में हर समस्या का समाधान करने की इच्छा शक्ति थी, उनके साथ कार्य करना जिला पंचायत कर्मचारीयों के लिए सुखद अनुभव रहा है। संगीता गुण्डिया ने श्रृद्वाजंली देते हुए कहा कि कलावती भूरिया में नेतृत्व करने की क्षमता थी वे किसी भी कर्मचारीयों के साथ अन्याय नहीं होने देती थी उनके साथ लगतार कार्य करने का एक अलग ही अनुभव था । उनके मार्ग निर्देशन में झाबुआ जिला पंचायत द्वारा लगातार दो वर्ष तक राष्ट्रीय पंचायत सशक्तिकरण पुरूस्कार झाबुआ जिले को मिला था उसके अन्तर्गत लखनउ में एवं मंडला मे उन्हे पुरूस्कार प्रदान किये गये थे जिसके अन्तर्गत ट्राफी एवं 50 लाख  की राशि दो बार प्राप्त हुई थी। जयेन्द्रसिंह राठौर ने श्रृद्वाजंली देते हुए कहा कि उन्हे लगातार 18 वर्षो तक सुश्री भूरिया ने साथ कार्य किया तथा उनमें एक अद्भुत नेतृत्व की छमता थी उसी की बदोलत पूरे प्रदेश में झाबुआ जिला पंचायत ही एक मात्र जिला है जहां मुख्य कार्यपालन अधिकारी सहित  कर्मचारीयों के लिए सम्पूर्ण आवास कालोनी का निर्माण उनके कार्यकाल में किया गया था जो हमेशा याद रखा जावेगा। राठौर ने उनके निधन को व्यक्तिगत क्षति बताया तथा कहा कि कर्मचारीयों के प्रति उनका रवैया बिलकुल पारिवारिक था। जिला पंचायत के परियोजना अधिकारी, मनोज बारस्कर एवं लेखाधिकारी पंकज डावर , पाटीदार ,धीरज ठाकुर, चैहानजी, विवेक पेन्टर, सुधिर तिवारी, फतिया चरपोटा,गोवर्धन गेहलोद, कालूसिंह गरवाल,खडियाजी,विनोद देवडा एवं दशरथ बसोड आदि ने भी उनके कार्यकाल को याद करते हुए अपनी श्रृद्वाजंली दी


वरिष्ठ साहित्यकार यषवंत भंडारी ‘यष’ के 3 काव्य संग्रह इंटरनेट पर गुगल पर हुए अपलोड, 2 नए काव्य संग्रह भी तैयार कर रहे


jhabua news
झाबुआ। जिले के वरिष्ठ साहित्यकार यषवंत भंडारी ‘यष’ के 3 काव्य संग्रह को हाल ही में इंटरनेट पर गूगल सर्च इंजन पर अपलोड किया गया है। कोई भी व्यक्ति गूगल पर उनके नाम एवं काव्य संग्रह के नाम से सर्च कर उनकी उक्त तीनों पुस्तकों का इंटरनेट पर ही अवलोकन करने के साथ उसे डाउनलोड भी कर सकता है। जानकारी देते हुए माहिष्मति कला मंच के जिला मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी ने बताया कि वर्तमान में श्री भंडारी माहिष्मति कला मंच के क्षेत्रीय प्रभारी होने के साथ राष्ट्रीय कवि संगम के जिला संरक्षक भी है। साहित्यिक क्षेत्र में उनकी सेवाएं सत्त जारी है। श्री भंडारी द्वारा अब तक 5 काव्य संग्रहों की रचना की जा चुकी है। जिसमें ‘‘आनंद अश्रु, पतझड़ की छाया, जिंदगी, ना-जायज का दर्द और शुभ परिणति के सूत्र’’ सम्मिलित है। शुभ परिणति के सूत्र में सकल जैन समाज को समर्पित एवं जैन धर्म के मत्रंों की व्याख्या, विषलेषण आदि किया गया है। जिसमें काफी सराहना भी मिली है। उक्त काव्य संग्रह का विमोचन पिछले कुछ महीनंांे पूर्व आचार्य विष्वरत्न सागरजी मसा आदि मुनि मंडल के सानिध्य में ख्यातनाम हस्तीयां द्वारा किया गया है।


गुगल पर हुई अपलोड

मीडिया प्रभारी श्री गोलानी ने आगे बताया कि उनकी 3 पुस्तक शुभ परिणति के सूत्र, ना-जायज का दर्द और जिंदगी हाॅल ही में इंदौर के लिब्रेट लाईफ के संचालक अभिषेक स्वामी के सहयोग से विष्व के सबसे बड़े सर्च इंजन गुगल पर अपलोड की गई है। यह एक बड़ी उपलब्धि है। इसके साथ ही श्री भंडारी दो अन्य काव्य संग्रह ‘‘सत्य के सामीप्य एवं वर्णमाला मंे मनोभाव‘‘ भी तैयार कर रहे है, जो आगामी दिनों में प्रकाषित होकर इसका विमोचन किया जाएगा। श्री भंडारी की इस बड़ी उपलब्धि पर उन्हे माहिष्मति कला मंच, राष्ट्रीय कवि संगम के समस्त पदाधिकारी-सदस्यों के साथ जिले के साहित्यकारों, रचनाकारों, समाजसेवियों, सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकारियों के साथ समाजजनों ने भी बधाई प्रेषित की है।


झाबुआ के वार्ड क्र. 18 मंे पार्षद एवं युवा कार्यकर्ता घर-घर जाकर टीकाकरण हेतु कर रहे सर्वे, 45 वर्ष से अधिक उम्र के महिला-पुरूषों को लगवाया जा रहा टीका, रक्षा पोटलियों का भी हो रहा वितरण


jhabua news
झाबुआ। मप्र शासन के पर्यावरण मंत्री एवं झाबुआ जिला कोविड नियंत्रण प्रभारी हरदीपसिंह डंग के निर्देष तथा भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक के मागर्दर्षन में शहर के 18 वार्डों में वार्ड पार्षद तथा भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताआंे द्वारा कोविड से रोकथाम हेतु अभियान संचालित किया जा रहा है। इसी क्रम में शहर के वार्ड क्र. 18 में भाजपा मंडल झाबुआ के कोषाध्यक्ष एवं वार्ड के सक्रिय तथा जागरूक पार्षद नरेन्द्र राठौरिया के नेतृत्व में 24 अप्रेल, शनिवार से वार्ड में 45 वर्ष और इससे अधिक उम्र के प्रत्येक महिला-पुरूषों को वेक्सीन लगवाने हेतु प्रेरित कर उन्हें जिला चिकित्सालय ले जाकर वेक्सीन के डोज लगवाए जा रहे है। साथ ही आगामी 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्ति को वेक्सीन लगवाने के लिए वार्ड में ऐसे व्यक्तियांे का सर्वे कर सूची भी तैयार की जा रहीं है। जिन्हें आगामी दिनांे में वार्ड में ही षिविर लगाकर या जिला चिकित्सालय ले जाकर स्वास्थ्य कर्मचारियों के सहयोग से टीका लगवाया जाएगा।


सुरक्षा पोटलियों का हो रहा वितरण

वार्ड पार्षद श्री राठौरिया ने बताया कि इस दौरान रहवासियांे को सामाजिक महासंघ की ओर से प्राप्त कोरोना महामारी से रोकथाम हेतु आक्सीजन लेवल कंट्रोल में रखने के लिए सुरक्षा पोटलियों का भी घर-घर जाकर वितरण किया जा रहा है। श्री राठौरिया ने अनुसार यह अभियान आगामी दिनों में भी सत्त जारी रहेगा। इस कार्य मंे विषेष सहयोग वार्ड के समर्पित एवं सेवाभावी कार्यकर्ताओं में कन्हैया लाखेरी, राजेष सतोगिया, संजय राठौड़, विजय सोनी, चंदन सतोगिया, संजय पटेल आदि प्रदान कर रहे है।


कोविड नियंत्रण एवं वैक्सीनेशन के लिए मुनादी करावे- कलेक्टर


jhabua news
झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में आज दोपहर 2  बजे कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष में कोविड नियंत्रण एवं वैक्सीनेशन के लिए समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में मुख्य  कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन , अपर कलेक्टर श्री जुवान सिंह बघेल , सहायक कलेक्टर श्री आकाश सिंह , अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर  गेमावत , थांदला सुश्री ज्योति परस्ते  , मेघनगर  श्री  लक्ष्मी नारायण गर्ग ,झाबुआ श्री सोहन कनाश  , डिप्टी कलेक्टर श्री अनिल भाना  , डिप्टी कलेक्टर सुश्री अंकिता प्रजापति  ,मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जे पी एस ठाकुर , मुख्य नगरपालिका अधिकारी झाबुआ श्री एल एस डोडिया ,  थांदला एवं मेघनगर श्री मनोज डाबर राणापुर  श्री कमलेश गोले , पेटलावद श्री मनोज शर्मा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत पेटलावद श्री चैहान , थांदला श्री आर सी हालु ,  मेघनगर श्री वीरेंद्र सिंह रावत , झाबुआ श्री चंदर सिंह मंडलोई, रामा  श्री एम एल टाॅक, राणापुर श्री जोशुआ पीटर उपस्थित थे। कलेक्टर श्री मिश्रा ने निर्देश दिए कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में स्पीकर के माध्यम से मुनादी करावें। प्रतिदिन लगभग तीन-चार बार मुनादी करवाई जाए।   कोविड  वैक्सीनेशन एवं आमजन को सर्दी  ,खांसी व अन्य कोई स्वास्थ्य के साथ संबंध में समस्या आ रही हो तो तत्काल इलाज के लिए उनसे संपर्क करें। प्रत्येक जनपद पंचायत में 5-6  टीम का गठन किया जाए। जिसके पास ऑक्सीजन नापने की मशीन , तापमान नापने के लिए थर्मामीटर उपलब्ध हो। इसके अतिरिक्त पर्याप्त मात्रा में दवाई की उपलब्धता सुनिश्चित करें। गांव में वैक्सीनेशन करवाने के लिए व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार भी करें। ग्राम पंचायतों में कोविड नियंत्रण के लिए नारे लिखवाया जाए। प्रचार -प्रसार के लिए जन अभियान परिषद और नेहरू युवा केंद्र  का भी सहयोग ले। शादी में डीजे पूर्ण प्रतिबंध के साथ ही शादी समारोह में अधिकतम 10 से ज्यादा हो तो कानूनी कार्रवाई की जावे। स्थानीय स्तर पर कोटवाल एवं जीआरएस की जिम्मेदारी होगी कि इस पर निगाह रखें एवं समय पर सूचना देवे। जिले में गुजरात , राजस्थान बॉर्डर से जो बसें आ रही हैं उन पर आने वाले यात्रियों की जांच कर उनका रजिस्ट्रेशन करें सउनका टेंपरेचर अनिवार्य रूप से लिया जाए और तीन-चार दिन लगभग उनको ऑब्जरवेशन में भी रखा जावे। यात्रियों का संपूर्ण डिटेल प्राप्त कर लें। मेडिसिन सहायता केंद्र भी तत्काल खोले जावे। शहर एवं ग्रामों में सैनिटाइजेशन तेजी से चल रहा है । इसकी  मॉनिटरिंग भी सतत करें। श्मशान घाट में पर्याप्त लकड़ी की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाए। उसे सर्वोच्च प्राथमिकता में लिया जावे। वाहन में स्थानीय भाषा में नारे गीत के माध्यम से  कोविड नियंत्रण के संदेश प्रसारित करें। ग्राम पंचायत दर्पण पोर्टल पर एंट्री भी अनिवार्य रूप से करें। जिसे इलाज के लिए आसानी रहे। प्रतिदिन पंचायत दर्पण पोर्टल पर एंट्री सुबह 8.30 पर इसकी सूचना जिला स्तर पर दी जावे। निर्देश दिए कि जो टास्क दिया गया है उसका पालन कर अवगत कराया जाए। किसी भी प्रकार की समस्या हो तो अवगत कराया जाना सुनिश्चित करें। बैठक धन्यवाद के साथ समाप्त की गई। जीतेगा झाबुआ हारेगा कोरोना।

कोई टिप्पणी नहीं: