सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 07 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 7 मई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 07 मई

सेवादल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मनाई संस्थापक की जयंती लिया हार्डिकर के बताए हुए रास्ते पर चलने का संकल्प


sehore news
सीहेार। सेवादल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को अम्बेडकर नगर में सेवादल के संस्थापक स्वतंत्रता सैनानी विचारक डॉ नारायण सुव्वाराव हार्डिकर की जयंती मनाई। सेवादल जिला कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के द्वारा हार्डिकर के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजली दी गई। कार्यकर्ताओं ने देश में फेली हुई सांप्रदायिक शक्तियों को खत्म करने मानवसेवा के साथ हार्डिकर के बताए हुए सेवा मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए आयोजित किए गए सादे कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सेवादल जिलाध्यक्ष श्री खंगराले ने कहा की बिटिश शासनकाल में अंग्रेजों से लड़ते हुए हार्डिकर ने मानव सेवा सदभाव एकता सांप्रदायिक सौहद्र के लिए सन 1923 में सेवादल कांग्रेस की स्थापना की थी। हर्डिकर महान विचारक होने के साथ ख्याती प्राप्त पत्रकार भी थे। श्री खंगराले ने कहा की आजाद भारत के निर्माण में सेवादल ने अहम भूमिका निभाई थी। वर्तमान में सक्रिय चरपंथी संगठनों से निपटने के लिए सेवादल को अपनी प्रमुख भुमिका निभानी होगी। कार्यक्रम के दौरान अन्य वक्ताओं ने भी हर्डिकर को लेकर अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से क्षेत्रिय पार्षद आरती खंगराले, सेवादल ब्लाक अध्यक्ष मांगीलाल टिमरई, सीताराम भारती, पन्नालाल खंगराले, धनश्याम जाटव, भंवरलाल मंगरोलिया, निहाल कछवाय, अमन सिंह सूर्यवंशी आदि उपस्थित रहे।


नगर में प्रचार वाहन द्वारा किया जा रहा लोगों को जागरुक


sehore news
कोरोना संक्रमण को दृष्टितगत रखते हुए एसडीएम श्री रवि वर्मा द्वारा नगर में प्रचार वाहन द्वारा  जागरूक किया जा रहा है। इन प्रचार वाहनों द्वारा विभिन्न वार्डों में भ्रमण कर लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव संबंधी जानकारियां दी जा रही हैं। प्रचार वाहनों में लगे लाउड़स्पीकर द्वारा लोगों को बताया जा रहा है कि कोविड-19 से बचने के लिए मास्क लगाएं एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें साथ ही अपने हाथों को बार-बार साबुन से धोएं। कोई भी व्यक्ति बिना किसी काम के घर बाहर नहीं निकलें। अतिआवश्यक कार्य होने पर ही बाहर जाएं लेकिन सावधानी बरतें। प्रचार वाहन द्वारा लोगों को कोविड सहायता केन्द्र के बारे में भी जानकारी दी जा रही है कि यदि किसी को सर्दी, जुखाम, बुखार होने पर कोविड सहायता केन्द्र में जाकर प्राथमिक उपचार ले सकते हैं जिससे कोरोना संक्रमण के फैलने की संभावना न रहे।


रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने आयुष विभाग द्वारा आयुर्वेद औषधि का वितरण


कोरोना संक्रमण से बचाव तथा प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुष विभाग द्वारा जिले में आयुष संस्थाओं द्वारा त्रिकटु चूर्ण, संशमनी वटी, होम्योपैथी एवं यूनानी औषधियों का वितरण किया जा रहा है। आयुष विभाग द्वारा जिले भर में कुल 2008 लोगों को त्रिकटु चूर्ण 1216, होम्योपैथी के 614 एवं यूनानी औषधि के 178 पैकेट वितरित किए गए। आयुष विभाग द्वारा सीहोर विकासखंड अन्तर्गत 1240 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 969, होम्योपैथी औषधि के 233 पैकेट एवं यूनानी औषधि के 38 पैकेट वितरित किए गए। इसी प्रकार आष्टा अन्तर्गत 282 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 85, होम्योपैथी औषधि के 117 एवं यूनानी औषधि के 80 पैकेट वितरित किए गए। बुधनी अन्तर्गत 220 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 84, होम्योपैथी औषधि  के 136 पैकेट वितरित किए गए। इछावर अन्तर्गत 168 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 30, होम्योपैथी औषधि के 78 एवं यूनानी औषधि के 60 पैकेट वितरित किए गए। नसरुल्लागंज अन्तर्गत 98 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 48, होम्योपैथी के 50  पैकेट वितरित किए गए।  जिला आयुष अधिकारी डॉ नरेन्द्र सिंह लोधी ने जानकारी दी कि आयुष विभाग मध्यप्रदेश के आदेशानुसार विगत वर्ष विभाग द्वारा औषधियों का वितरण घर-घर जाकर किया गया था। वर्तमान में भी इन औषधियों का वितरण संस्था स्तर से कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए किया जा रहा है।


जिले में डोर टू डोर सर्वे के दौरान किया जा रहा है मरीजों का परीक्षण


sehore news
कोविड-19 के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए प्रारंभिक स्तर पर ही पता लगाने तथा समुचित इलाज के लिए डोर टू डोर सर्वे का कार्य आशा, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा निरंतर किया जा रहा है। आशा, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा घर घर जाकर मरीजों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली जा रही है। साथ ही थर्मल स्कैनर से फीवर तथा ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन सीजन लेवल चेक किया जा रहा है एवं कोविड-19 के संभावित लक्षण मिलने पर उन्हें स्वास्थ्य केंद्र भेजा जा रहा है। आंगनवाडी कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए भी जागरुक किया जा रहा है। साथ ही मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाने एवं हाथों को सेनेटाईज करने आदि की सलाह दी जा रही है।


होम आइसोलेटेड मरीजों को वीडियो कॉल से करवा रहे हैं योग प्राणायाम


sehore news
शिक्षा विभाग व आयुष विभाग द्वारा योग से निरोग कार्यक्रम के अंतर्गत कोरोना संक्रमित होम आइसोलेशन वाले मरीजों को योग एवं प्राणायाम कराया जा रहा है। जिला आयुष अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र सिंह लोधी ने बताया कि मरीजों को शारीरिक व मानसिक रूप से स्वास्थ्य लाभ देने के उद्देश्य से शिक्षा व आदिम जाति कल्याण विभाग एवं इंडियन योग एसोसिएशन के 38  प्रशिक्षित योग्य शिक्षक को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। यह रोजाना होम आइसोलेटेड मरीजों से मोबाइल से संपर्क कर सुबह और शाम के समय ऑडियो व वीडियो कॉल से योग और प्राणायाम करवा रहे हैं। प्रत्येक वॉलिंटियर्स को 10 -10 मरीज 3 दिन के लिए आवंटित किए जाते हैं । जिला आयुष अधिकारी ने बताया कि शासन के निर्धारित प्रोटोकॉल अनुसार मरीजों को तीन सूक्ष्म व्यायाम ग्रीवा चालन, स्कंध चालन व घुटना संचालन और योग के पांच आसन ताड़ासन, अर्ध वक्रासन, शशांक आसन, भुजंगासन व  पवनमुक्तासन और प्राणायाम में अनुलोम विलोम का अभ्यास प्रशिक्षित योग प्रशिक्षकों द्वारा करवाया जा रहा है। 


सर्दी, खांसी के मरीजों को दिलाई जा रही भाप


sehore news
कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं ग्राम कोटवारों द्वारा जागरुक किया जा रहा है। गाँवों में लोगों को कुकर से भाप लेने की विधि बताई जा रही है। साथ ही सर्दी, जुखाम के मरीजों को भाप रथ द्वारा भाप भी दिलाई जा रही है। कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को समझाया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क लगाए, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें एवं हाथों को बार-बार साबुन से धोते रहें।  

कोरोना के निःशुल्क इलाज़ के लिए नई योजना लागू होगी

  • आयुष्मान योजना पर निजी अस्पतालों को दिया जाएगा विशेष पैकेज, सरकार निजी अस्पतालों को कोविड इलाज़ के लिए करेगी अनुबंधित, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना नियंत्रण कोर ग्रुप की बैठक ली

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना मरीजों के निःशुल्क इलाज़ के लिए नई योजना लागू की जा रही है। इसके अंतर्गत प्रदेश के गरीब एवं आम आदमी को जहां तक मध्यम वर्गीय व्यक्ति को भी कोरोना का निःशुल्क इलाज अनुबंधित निजी अस्पतालों में मिल सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि योजना के क्रियान्वयन के लिए आयुष्मान भारत योजना पर निजी अस्पतालों को राज्य सरकार द्वारा विशेष पैकेज दिया जाएगा। सरकार निजी अस्पतालों को कोविड इलाज़ के लिए अनुबंधित करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना नियंत्रण कोर ग्रुप की बैठक ले रहे थे। बैठक में संबंधित मंत्री और अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से उपस्थिति हुए। सीटी स्केन, ऑक्सीजन, दवाओं, इंजेक्शन आदि की निःशुल्क व्यवस्था मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि योजना के अंतर्गत सीटी स्केन आदि जाँचें भी नि:शुल्क होंगी तथा दवाएँ, रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन आदि भी निःशुल्क मिलेंगे। 88 प्रतिशत जनसंख्या कवर्ड- प्रदेश में अभी तक आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 2 करोड़ 42 लाख कार्ड बनाए गए हैं, जिससे 88 प्रतिशत जनसंख्या कवर्ड हो रही है। इन सभी को शासन द्वारा अनुबंधित अस्पतालों में कोरोना का निःशुल्क इलाज़ मिल सकेगा। प्रदेश में वर्तमान में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 328 निजी चिकित्सालय संबद्ध हैं, जिनमें 23 हजार 946 बेड्स उपलब्ध हैं। सरकार द्वारा 5 मई को आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत प्रदेश के 68 निजी चिकित्सालयों को अगले 3 महीने के लिये संबद्ध किया गया है। कलेक्टर कर सकेंगे निजी अस्पतालों को संबद्ध- प्रत्येक जिले के निजी अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज मिल सके, इसके लिये कलेक्टर्स को अधिकार दिये गये हैं कि वे अपने जिले के निजी अस्पतालों को आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत अस्थाई रूप से संबद्ध कर सकेंगे। इससे इन सभी निजी अस्पतालों में, जहाँ वर्तमान में कोरोना का इलाज किया जा रहा है, आयुष्मान कार्ड धारियों को कोरोना का नि:शुल्क इलाज मिल सकेगा। यदि एक सदस्य का कार्ड है, तो अन्य को भी मिलेगी सुविधा सरकार ने निर्णय लिया है कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत यदि परिवार के एक सदस्य के पास आयुष्मान कार्ड है, तो परिवार के अन्य सदस्यों को भी नि:शुल्क उपचार की सुविधा मिल सकेगी। कोविड इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती होने पर कलेक्टर उसका आयुष्मान कार्ड बनवाने की व्यवस्था करेंगे। पैकेज की दरें 40 प्रतिशत बढ़ाईं- निजी अस्पताल कोविड का इलाज इस योजना के अंतर्गत अच्छे तरीके से कर सकें, इसके लिये सरकार द्वारा आयुष्मान भारत पैकेज की दरों को 40 प्रतिशत बढ़ाया गया है। इन दरों में रूम रेंट, भोजन, जाँचें, परामर्श शुल्क, पैरामेडिकल शुल्क आदि सभी सम्मिलित हैं। राज्य सरकार द्वारा योजना के अंतर्गत इलाज करवाने वाले प्रत्येक व्यक्ति को एडवांस डॉयग्नोस्टिक के लिये 5 हजार रुपये दिये जायेंगे। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 5 हजार रुपये प्रत्येक पात्र परिवार को दिये जाते हैं। 60 हजार बिस्तर हो सकेंगे इलाज के लिये उपलब्ध इस योजना के लागू हो जाने पर प्रदेश में आयुष्मान भारत योजना के हितग्राहियों को कोविड के इलाज के लिये निजी एवं शासकीय अस्पतालों में कुल 60 हजार 915 बिस्तर उपलब्ध हो सकेंगे। इनमें 37 हजार 159 बिस्तर शासकीय अस्पतालों में, 3 हजार 675 बिस्तर अनुबंधित अस्पतालों में तथा 20 हजार 81 बिस्तर आयुष्मान भारत के अंतर्गत अनुबंधित निजी अस्पतालों में मिल सकेंगे। युवाओं का वैक्सीनेशन जारी रहे- बैठक में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि वैक्सीन की उपलब्धता अनुसार 18 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों का वैक्सीनेशन निरंतर चलता रहे। इसके साथ ही 45 वर्ष से अधिक के व्यक्तियों का वैक्सीनेशन भी पूर्व अनुसार जारी रहे। डिस्चार्ज अधिक होने से बिस्तरों की उपलब्धता बढ़ी है जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि ज़िलों में अस्पतालों से कोरोना के मरीज़ बड़ी संख्या में स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो रहे हैं, जिससे बिस्तरों की उपलब्धता बढ़ी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आई.सी.यू. बेड्स बढ़ाए जाने के निर्देश दिए।


कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाई गई, अब 17 मई की सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा कोरोना कर्फ्यू


कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए जिला दंडाधिकारी एवं कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत समस्त सीहोर जिले में कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाई गई है। समस्त जिले में 17 मई 2021 को सुबह 6  बजे तक किया गया है। जो कि पूर्व में 8 मई 2021 निर्धारित थी। कोरोना कर्फ्यू के दौरान अत्यावश्यक सेवा में छूट एवं प्रतिबंध पूर्व में जारी आदेश के अनुसार ही प्रभावशील रहेंगे। 10 मई एवं 14 मई 2021 को प्रात:9 बजे से प्रात: 11 बजे तक आटा चक्की एवं कीटनाशक दवाईयों की दुकानों को कोविड-19 गाईड लाइन की शर्त का पालन करते हुए खोला जा सकता है।


किल कोरोना अभियान के द्वित्तीय चरण में  12 लाख 39 हजार, 293 व्यक्तियों का किया गया सर्वे

  • जिले में 882 दलों द्वारा 01 लाख 98 हजार से अधिक घरों पहुँचकर किया गया सर्दी,खांसी, बुखार का सर्वे

किल कोरोना अभियान का द्वित्तीय चरण 24 अप्रैल से से प्रारंभ किया गया था। इस अभियान के तहत 06 मई 2021 तक  01 लाख 98 हजार 446 घरों का सर्वे कर 12 लाख 39 हजार 293 व्यक्तियों से रूबरू होकर स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त की गई।  सर्दी, खांसी, बुखार, सिरदर्द इत्यादि के बारे में  जानकारी प्राप्त कर कोरोना के संदिग्ध लक्षण वाले व्यक्तियों को कोरोना की जांच कराने के लिए प्रेरित एवं संबंधित स्वास्थ्य संस्थाओं के लिए भेजा गया। अभियान की सफलता के लिए आष्टा शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 59 दल, बुधनी में 186,इछावर में 182,  नसरूल्लागंज में 180 श्यामपुर में 262 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 13 दलों के माध्यम से घर-घर पहंुचकर सर्दी, खांसी,बुखार का सर्वे किया जा रहा है। दल में आशा, आशा सहयोगी, आंगनबाडी कार्यकर्ता, पंचायतों के सचिव, सहायक सचिव, तथा कुछ विकासखण्डों में ग्रामीण शिक्षकों को शामिल किया गया है। मुख्य चिकित्सा एव स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि किल कोरोना अभियान के द्वित्तीय चरण में अंतर्गत 960 कोरोना संदिग्ध व्यक्तियों के सैम्पल लिए गए। जिसमे 168 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई। संक्रमित सामान्य लक्षण वालों को घर पर ही आईसोलेट कर उन्हें उपचार के लिए कोविड-19 उपचार किट मेडिकल मोबाईल यूनिट द्वारा उपलब्ध कराई गई है। किल कोरोना अभियान का तृतीय चरण 07 मई 25 मई 2021 तक संचालित किया जाएगा।     


कोरोना मार्च निकालकर कोटवार कर रहे लोगों को जागरुक


sehore news

कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए बचाव एवं रोकथाम के लिए जिला प्रशासन द्वारा तरह-तरह के अभियान चलाए जा रहे हैं। इसी के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम कोटवारों द्वारा कोरोना मार्च निकाल कर लोगों को जागरुक किया जा रहा है। कोरोना मार्च के दौरान कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना सहित शासन द्वारा जारी गाईड लाइन का पालन करने की अपील की जा रही है।


सीहोर शहरी क्षेत्र में 10 स्थानों पर कोविड सहायता केन्द्र शुरू

  • चिकित्सकीय अमले द्वारा सर्दी, खांसी, बुखार के मरीजों की प्राथमिक जांच एवं उपचार की सेवाएं दी जाएगी, सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक संचालित होंगे सहायता केन्द्र

sehore news
किल कोरोना अभियान तृतीय चरण के अंतर्गत सीहोर शहरी क्षेत्र में 10 कोविड सहायता केन्द्र संचालित किए जा रहे है जो प्रातः 9 बजे से शाम 4 बजे तक प्रतिदिन खुले रहेंगे। इन केन्द्रों पर सर्दी, खांसी, बुखार के मरीजों की प्राथमिक जांच की जाकर जरूरी उपचार चिकित्सकीय अमले द्वारा प्रदान किया जाएगा तथा आवश्यक दवाओं का वितरण भी किया जाएगा। कोविड के लक्षण वाले मरीजों को जिला चिकित्सालय स्थित फीवर क्लीनिक के लिए रेफर किया जाएगा जहां वे कोविड की जांच करवा सकेंगे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया ने जानकारी दी कि स्थानीय शहरी क्षेत्र सीहोर में 10 स्थानों पर कोविड सहायता केन्द्र स्थापित किए गए हैं जो प्रतिदिन सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक संचालित होंगे। स्थापित कोविड सहायता केन्द्रों में वेटनरी आफिस परिसर सीहोर, ब्लू बर्ड स्कूल सिंधी कालोनी, आवासीय स्कूल परिसर भोपाल नाका, संस्कार भारती स्कूल गंज, संजीवनी केन्द्र गुमानवाला कुआं के पास गंज, आदर्श गगनदीप स्कूल नेहरू कॉलोनी, अग्रवाल समाज धर्मशाला बडा बाजार, उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 स्कूल तिलक पार्क कस्बा, इफ्रा मेरिज गार्डन दीवान बाग कस्बा सीहोर शामिल है। इन केन्द्रों पर सर्दी, खांसी, बुखार के मरीज अपनी जांच एवं प्राथमिक उपचार करवा सकते है तथा कोविड के संदिग्ध लक्षणों वाले चिन्हित मरीज  जिला चिकित्सालय स्थित फीवर क्लीनिक में पहुंचकर आवश्यकतानुसार अपना रेपिड एन्टीजन टेस्ट अथवा आरटीपीसीआर टेस्ट करवा सकते है।


आयुष राज्यमंत्री श्री रामकिशोर कावरे ने "वैद्य आपके द्वार योजना" का किया  शुभारंभ


आयुष राज्य मंत्री श्री रामकिशोर कावरे 7 मई को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बालाघाट से 'वैद्य आपके द्वार योजना' का शुभारंभ किया। आयुष मंत्री श्री कावरे ने इस अवसर पर Ayushqure मोबाइल ऐप भी लांच किया। ऐप के माध्यम से कोई भी व्यक्ति बिना डॉक्टर के पास जाए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट प्राप्त कर अपने रोग का निदान करा सकेगा। मंत्री श्री कावरे ने डॉ वंदना से ऐप के माध्यम से चर्चा की, ऐप का उपयोग मरीज किस प्रकार से कर सकेंगे उसके संबंध में जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर आयुष विभाग की आयुक्त सह प्रमुख सचिव श्रीमती करलिन खंगवार देशमुख, उपसंचालक डॉक्टर पी सी शर्मा मंत्रालय भोपाल से एवं आयुष विभाग के सभी महाविद्यालयो के प्रधानाचार्य, संभागीय आयुष अधिकारी, जिला आयुष अधिकारी, शासकीय आयुर्वेद/ यूनानी फार्मेसी के अधीक्षक उपस्थित रहे।


एंबुलेंस की दरें निर्धारित


कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के परिवहन के लिए  प्राइवेट एंबुलेंस वाहनों के लिए दरें निर्धारित की गई हैं। आदेश अनुसार जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के परिवहन की दरों को एक समान रखे जाने के दृष्टिगत निजी एंबुलेंस के रेट तय किये हैं। जारी आदेश में एएलएस प्रकार की एंबुलेंस के लिए शहरी क्षेत्र में पहले 10 किलोमीटर के लिए 500 रुपए तथा 10 किलोमीटर के बाद 25 रुपए प्रति किलोमीटर,  ग्रामीण क्षेत्रों में पहले 20 किलोमीटर के लिए 800 रुपये तथा 20 किलोमीटर पश्चात् 25 रुपए प्रति किलोमीटर के हिसाब से दर निर्धारित की गई हैं। वहां बीएलएस प्रकार की एंबुलेंस के लिए शहरी क्षेत्र में प्रथम 10 किलोमीटर के लिए 250 रुपए तथा 10 किलोमीटर पश्चात 20 रुपए प्रति किलोमीटर और ग्रामीण क्षेत्रों में प्रथम 20 किलोमीटर के लिए 500 रुपए तथा 20 किलोमीटर के पश्चात 20 रुपए प्रति किलोमीटर की दरें निर्धारित की गई हैं।उक्त दरों से अधिक दर वसूलने वाले परिवहनकर्ता के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।


कोरोना से अनाथ हुए बच्चों  का भरण-पोषण करेगा महिला बाल विकास विभाग


sehore news
महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा  कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों के भरण पोषण की सकारात्मक पहल की गई है। इस पहल के तहत विभाग द्वारा ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता का निधन कोरोना के कारण हो गया है या जिनके माता-पिता इस बीमारी की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं। उनके भरण-पोषण की जिम्मेदारी लेने का निर्णय लिया गया है। ऐसे बच्चों के लिए स्पॉन्सरशिप योजना शुरू की जा रही है। जिले में इसके तहत फिट फेसिलिटी की शुरुआत की जा रही है। बाल कल्याण समिति अध्यक्ष श्री प्रदीप चौहान, सदस्य श्रीमति पूजा खनूजा, श्रीमति मनिता सक्सेना ने दोनों छात्रावासों का निरीक्षण किया। दोनों संस्थाओं को उचित संरक्षण एवं देखभाल के लिए फिट फेसिलिटि घोषित किया गया है। जिसमें शासकीय आदिवासी पोस्ट मैट्रिक बालक छात्रावास सीहोरए बालकों के लिए एवं शासकीय अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास को बालिकाओं के लिए ऐसे बच्चों की देखरेख एवं संरक्षण के लिए फिट फेसिलिटी घोषित कर बच्चों की उचित देखभाल तथा संरक्षण प्रदान किया जाएगा। साथ ही स्वयंसेवी संस्थाएं सामाजिक कार्यकर्ता आदि को जोड़कर बच्चों को आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराई जाएंगी। उल्लेखनीय है कि इस योजना के अंतर्गत बच्चों को शासकीय एवं निजी प्रायोजन सहायता का मुख्य उद्देश्य उनके जैविक परिवार से अलग होने से रोकना है। साथ ही बाल देखरेख संस्था में रहने वाले बच्चे, मुक्त कराये गये बच्चों को उनके जैविक परिवार में भेजकर पुनर्वास स्थित करना एवं उनका समग्र विकास करना तथा सामाजिक रूप से सक्षम परिवारों द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर परिवार का बाल देखरेख संस्था में रहने वाले बच्चों के विकास में सहयोग के लिये जोड़ना है।  


राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण ने जारी किया नालसा की टोल फ्री हेल्पलाईन नंबर 15100

  • जरूरतमंद लोगों को शीघ्र, सस्ता और सुलभ न्याय दिलाने में मिलेगी मदद

आमजन को निःशुल्क विधिक सेवाएं मुहैया कराने के लिए राष्ट्रीय स्तर से लेकर जिला स्तर तक विधिक सेवा प्राधिकरणों का गठन किया गया है। राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर नालसा टोल फ्री हेल्पलाईन नंबर 15100 जारी किया गया हैं। यह नंबर जरूरतमंद लोगों को जल्द सस्ता और सुलभ न्याय दिलाने में यह हेल्पलाईन नंबर मददगार है। इसके लिए मोबाईल या लैंडलाईन फोन नंबर से टोल फ्री नंबर 15100 पर कॉल करनी होगी।  राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली द्वारा जारी 15100 टोल फ्री नंबर पर कोई भी नि:शक्त व्यक्ति विधिक सहायता एवं सलाह प्राप्त कर सकता है।


200 व्यक्तियों को लगा कोरोना का प्रथम एवं द्वितीय टीका


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर प्रदेश के साथ ही सीहोर जिले में कोविड टीकाकरण किया जा रहा है। शहरी सीहोर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित जिला चिकित्सालय क़े 2 सत्र में कुल 200 व्यक्तियों को कोविड का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया।


जिले में 210 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 1119, 1 संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु, कुल मृत्यु संख्या 104


पिछले 24 घंटे के दौरान 200 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। सीहोर शहरी क्षेत्र से 42 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं। जो इंदौर नाका, बडियाखेड़ी, भोपाल नाका, शीतल विहार, लेबर कॉलोनी, हाउसिंग बोर्ड, वैशाली नगर, कोतवाली थाना, इंग्श्लिपुरा, पुलिस लाईन, गुलजारी का बगीचा, लीसा टॉकिज चौराहा, गंज, पलटन एरिया, डाइट कॉलोनी, चाण्क्यपुरी, शिवाराध्या कॉलोनी, गणेश मंदिर रोड़, अवधपुरी, ब्रहमपुरी, कोतवाली चौराहा, पारस विहार के निवासी हैं। नसरुल्लागंज क्षेत्र से 32 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो वासुदेव, सिवनी मालवा रोड़, बालागांव, लाड़कुई, खरसानिया, खादगांव, अतरालिया, जमोनिया, तिलोदिया, राला, कोथरा, सुकरवास, खापरा, भादाकुई, सुनेड़, चकल्दी, निपानिया, सिराड़ी, बोरखेड़ा खुर्द, भैयालाल कॉलोनी, हमीरगंज, स्वप्न सिटी, टीकामोड़ के निवासी हैं। इछावर क्षेत्र अंतर्गत 33 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति दिवड़िया, नीलबड़, वावड़िया गोसाई, भाउखेड़ी, वीरपुर डेम, आमाझिर, आमलानवावाद, ढाबलामाता, कालापीपल, जमोनिया हटेसिंह, नयापुरा, दुदलई, नयाखेड़ा, गाजीखेड़ी, रामजीपुरा एवं इछावर वार्ड नंबर 11, 03, 14, 08, 01 के निवासी हैं।  श्यामपुर क्षेत्र से 28 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति झरखेड़ा, छापरी, मुलानी, मगरदी, चांदबढ़, हेदरगंज, मुख्तारनगर, श्यामपुर, अहमदपुर, दोराहा, सिराड़ी, खाईखेड़ा, चरनाल, निपानिया, नवारिया, मगरखेड़ा, मोगराराम, हथाईखेड़ा, जमोनिया, सिंकंदरगंज के निवासी है। बुधनी क्षेत्र से तो 25 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो शाहगंज, सतोरिया, पीएनबी कॉलोनी बुधनी, रेहटी सीएचसी, नीमखेड़ी, रेहटी, पथोड़ा, बोरना, बकतरा, सिलेगना, इतवारा, इटारसी, खेरी, बुधनी वार्ड नंबर 01, 02, सलकनपुर, थाना एरिया बुधनी, पीलीकरार, सेमरी, वर्धमान कॉलोनी के निवासी हैं। आष्टा क्षेत्र से 50 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो कोठरी, इंदौर नाका, भंवरा, भटोनी, सुभाष नगर, शास्त्री कॉलोनी, खाचरोद, मेवाड़ा कॉलोनी, अलीपुर, निपानिया कला, खटपुरा, मालवीय नगर, बुधवारा, सागाखेड़ी, दीवानखेड़ा, मेहतवाड़ा, पांगरी ख्राती, मानकपुर, मालीखेड़ी, मैना, सेमनरी रोड़, विजय नगर, बजरंग कॉलोनी, दिगाखेड़ी, पगारिया राम, पदमसी, हकीमाबाद, नजरगंज, दशहरा मैदान रोड़, शिवपुरा, पांगरी, कुरावर, रॉयल कॉलोनी, पटारिया गोयल, पगारिया राम, किला के निवासी हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान जिला चिकित्सालय स्थित डेडिकेटेट कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) से एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु हो गई। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में जिले में एक्टिव पॉजिटिव 1119 हैं। आज 21 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 6671 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 104 है । आज 878 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 88, श्यामपुर से 126, विकासखंड नसरुल्लागंज से 180, आष्टा से 108 एवं बुदनी विकासखंड से 218 तथा इछावर से 158 सेंपल लिये गए हैं। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 7894 है जिसमें से 104 की मृत्यु हो चुकी है। 6671 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है। तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 1119 है। आज 878 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 108552 हैं जिनमें से 99666 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 602 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 921 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमाण्ड कंट्रोल सेंटर का मोबाइल नंबंर 9425400273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज जिले के बुधनी एवं नसरुल्लागंज आएंगे


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 8 मई को सीहोर जिले के बुधनी एवं नसरुल्लागंज आएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान 08 मई को प्रात:11 बजे भोपाल से हेलीकाप्टर द्वारा प्रस्थान कर 11:30 बजे बुधनी पहुंचेंगे। बुधनी में  स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके पश्चात श्री चौहान दोपहर 12:30 बजे बुधनी से प्रस्थान कर 12:40 बजे नसरुल्लागंज पहुंचेंगे। वे यहां स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होंगे। तत्पश्चात श्री चौहान दोपहर 1:40 बजे नसरुल्लागंज से भोपाल के लिए रवाना होंगे।   

कोई टिप्पणी नहीं: