सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 13 मई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मई

कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए इछावर नगर के गली मोहल्लों में किया गया सैनिटाइजर का छिड़काव


sehore news

राज्य सरकार की गाइड लाइन का पालन करते हुए स्थानीय जिला प्रशासन भी पूरी मुस्तैदी के साथ जिले में संक्रमण के फैलाव को रोकने के हर संभव प्रयास कर रहा है। इछावर नगर पालिका द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सतर्कता बरती जा रही है। इसके लिए गलियों और मार्गों पर सैनिटाइजर का छिड़काव किया गया।       


जिले में किल कोरोना अभियान के तहत घर-घर जाकर किया जा रहा स्वास्थ्य परीक्षण   


sehore news
कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए संचालित किल कोरोना अभियान के तहत संपूर्ण जिले में लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। ग्राम पथोड़ा एवं ग्राम चारुआ में सर्वे टीम द्वारा घर-घर पहुंचकर सर्दी, जुखाम, बुखार के मरीजों को दवाईयां प्रदान की। साथ ही उन्हें मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए भी जागरुक किया।


ओपन बुक से होंगी स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षाएं  


कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्नातक प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्ष तथा स्नातकोत्तर द्वितीय व चतुर्थ सेमेस्टर की समस्त परीक्षाएं ओपन बुक पद्धत्ति से आयोजित की जाएगी। इस संबंध में उच्च शिक्षा विभाग ने नई गाईडलाईन जारी कर दी है। जारी गाईडलाईन के अनुसार स्नातक तृतीय वर्ष व स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा जून में आयोजित होगी और जुलाई में रिजल्ट घोषित किया जाएगा। वहीं स्नातक प्रथम व द्वितीय वर्ष तथा स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षाएं जुलाई में आयोजित की जाएगी तथा परीक्षा परिणाम अगस्त में घोषित किया जाएगा। संबंधित विश्वविद्यालय वेबसाईट पर पेपर अपलोड करेगा। पेपर अपलोड होने के बाद विद्यार्थियों को कापियां घर पर लिखनी होगी और कलेक्शन सेंटर पर कापी जमा करनी होगी। इसके अलावा स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर पर शेष प्रायोगिक परीक्षाएं ओपन बुक परीक्षा की समाप्ति के पश्चात आयोजित की जाएगी।


मलेरिया से बचने के लिये आवश्यक सावधानी बरतें  


मलेरिया संक्रमित मादा एनाफिलीज मच्छर के काटने से फैलता है। मलेरिया का मच्छर रूके हुये पानी में पनपता है। जैसे आपके घर के आस पास गडडों में भरे पानी की टंकी में, गमले, नदी के किनारे गडडे तथा हेंड पंप के पास रूके हुये पानी, तालाब के किनारे आदि पीने के पानी में मच्छर पनप सकते हैं। रोकथाम के लिये गडडों को मिट्टी डालकर भर देना चाहिये। नालियां, तालाबों में रूके पानी में जला हुआ ऑयल या मिट्टी का तेल डालना चाहिये। पानी की टंकी, गमलों व टायरों को साफ व सुखा कर उपयोग करना चाहिये। घर के आस पास सफाई रखना चाहिये, जिसमें मलेरिया फैलने वाले मच्छर न पनप सकें। सोते समय मच्छरदानी लगायें, फुल आस्तीन के कपड़े पहने, मच्छर से बचने की क्रीम या लिक्विड का इस्तेमाल करें, नीम की पत्तियों का धुंआ करें, मलेरिया के लक्षण ठंड लगकर, बुखार आना, पसीना आकर बुखार का उतर जाना, सर दर्द व उल्टी होना एवं गंभीर स्थिति में बेहोशी होना ऐसे लक्षण होने पर किसी स्वास्थ्य संस्था व डॉक्टर से उपचार लें। खून की जांच करायें। मलेरिया से बचाव के लिये समय पर उपचार व डॉक्टर से सलाह अनुसार इलाज लिया जाये, जिसमें मलेरिया से होने वाली खतरनाक बीमारी से बचा जा सकता है।


नवीन खसरे में समाविष्ट की गई हैं बहुत सी जानकारियां  


शासन द्वारा नवीन खसरा का प्रारूप जारी किया गया है। जिसमें अनेक जानकारियां समाविष्ट की गयी हैं। नवीन खसरे के कॉलम नंबर एक में भूमि के भाग की यूनिक आईडी, कॉलम नंबर दो में भूमि के भाग का प्रकार, कॉलम नंबर तीन में भू-खण्ड  संख्यां क, कॉलम नंबर चार में क्षेत्रफल, भूमि उपयोग जिसके लिए निर्धारण किया गया है, भू-राजस्वू, भू-भाटक, कॉलम नंबर पांच में भूमि स्वामी का नाम तथा निवास का पता तथा इसी में शासकी य भूमि दर्ज होगा। कॉलम नंबर छ: में प्रत्येक भूमि स्वामी का अंश, कॉलम नंबर सात में सरकारी पट्टेदार का नाम तथा निवास का पता, पट्टे की अवधि पट्टे के अधीन क्षेत्र, कॉलम नंबर आठ में अधिकारी कृषक (यदि कोई हो) का नाम तथा निवास का पता, कॉलम नंबर नौ में भूमि पर विल्लंगत तथा प्रभार, कॉलम नंबर दस में फसल खरीफ, रबी, जायद, अन्य, कॉलम नंबर ग्यारह में फसल के अधीन क्षेत्रफल तथा कॉलम नंबर बारह में भूमि के सिंचाई संबंधी प्रास्थिति भूमि पर संरचना, वृक्ष अन्यल अभ्युाक्तियां वर्ष के दौरान कॉलम संख्या  एक से नौ तक में प्रविष्टियों में सुधार के आदेश शामिल है।  


कोरोना गाइड लाइन से समझिए कब मरीज को घर पर रहना है और किन स्थितियों में अस्पताल जाना जरूरी  


अगर हल्के लक्षण हों तो घर पर ऐसे आसोलेशन में रहें, बुखार ज्यादा तेज न हो, हल्के लक्षण हों। फिजिकल डिस्टेंसिंग रखें, घर में मास्क पहनकर रखें, हाथों को साफ करते रहें। सेंप्टोमेटिक मेनेजमेंट पर ध्यान दें। आवश्यक दवाएं जैसे बुखार के लिए, मल्टीविटामिन लें, हाइड्रेट होते रहें। अपने फिजिशियन के सम्पर्क में रहें। शरीर का तापमान-ऑक्सीजन चेक करते रहें। अगर पांच दिन से अधिक समय तक सांस लेने में परेशानी हो रही हो, तेज बुखार हो, सीवियर कफ हो तो तत्काल डाक्टर को दिखाएं। ऑक्सीजन 93 के नीचे हो, तब ही अस्पताल में जाना जरूरी। जब प्रति मिनट सांस लेने की रफ्तार 24 और ऑक्सीजन का स्तर 90-93 हो। ऑक्सीजन सपोर्ट दिया जाए। चेस्ट टेस्ट करवाएं। नॉन रिब्रिदिंग फेस मास्क का इस्तेमाल हो। वक्त-वक्त पर ऑक्सीजन थेरेपी दी जाए। जरूरत पड़ने पर लंग्स का एचआरसीटी और अन्य टेस्ट करवाएं। अस्पताल में भर्ती मरीज की हालत गंभीर है, तो उसे रेमडेसिविर दी जाए। घर पर आइसोलेट या अस्पताल में बिना ऑक्सीजन बैड के भर्ती मरीजों को रेमडेसिविर न दी जाए। सांस लेने की दर प्रति मिनट 30 से अधिक हो। ऑक्सीजन लेवक 90 से कम हो जाए। 60 वर्ष से अधिक के लोग, तनाव, कार्डियोवस्कुलर डिजीज, डायबिटीज, लंग, किडनी, लीवर क बीमारी, सेरेब्रोवस्कुलर डिजीज या मोटापे से ग्रसित गंभीर संक्रिमितों के लिए यह ज्यादा जरूरी है। वेंटिलेटर का इस्तेमाल प्रोटोकाल के तहत किया जाए। मरीज की गंभीर स्थिति में इसका इस्तेमाल हो। रिपोर्ट कोरोना निगेटिव और बाकी सारी जांचें सही पाए जाने पर उसे डिस्चार्ज किया जाए। कोविड मरीज ऑक्सीजन लेवल मानिटर करते रहें। 93 से कम होने पर हॉस्पिटल जाएं। सभी मरीजों की रेमडेसिविर, प्लाज्मा, इवरमेक्टिन, ब्लड थिनर्स जैसी चीजों की जरूरत नहीं। बैड ऑक्सीजन सिलेण्डर और आइसीयू उन मरीजों के लिए हैं जो कोविड के गंभीर मरीज हैं। वैक्सीन लगवाने पर जोर दें। ज्यादा लोगों का टीकाकरण होगा अस्पताल पर बोझ कम होगा।  


बुधनी में 300 बिस्तरों के कोविड केयर सेंटर का निर्माण कार्य प्रगति पर


sehore news
बुधनी में कोविड केयर सेंटर का कार्य तेजी से चल रहा है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा इसकी निरंतर मॉनीटरिंग की जा रही है। उन्होंने 300 बिस्तरों के इस कोविड केयर सेंटर के निर्माण में सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उल्लेखनीय है कि गत दिनों मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी में बनने इस 300 बिस्तरों के निर्माणधीन कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया था। इस कोविड केयर सेंटर में कोविड के मरीजों के लिए सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ ही योग, प्राणायाम तथा मनोरंजन संबंधित सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जा रहीं हैं।


कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करने पर आष्टा में मेडिकल स्टोर सील किया  


sehore news
कोविड-19 गाइड लाइन का उल्लंघन करने पर आष्टा एसडीएम श्री विजय मंडलोई द्वारा एक मेडिकल को सील करने की कार्यवाही की गई। उल्लेखनीय है कि जिले के आष्टा में सरकार मेडिकल के संचालक के विरुद्ध निरंतर कोविड गाइड लाइन का पालन नहीं करने की शिकायत मिल रही थी। जिस पर एसडीएम आष्टा श्री विजय कुमार मंडलोई ने अमले के साथ पहुंचकर सरकार मेडिकल स्टोर पर छापा मार कार्यवाही करते हुए मेडिकल स्टोर को तत्काल प्रभाव से बंद किया गया हैँ। कार्यवाही के दौरान एसडीओपी श्री मोहन श्रवण, नायब तहसीलदार पुर्णिमा शर्मा, अंकिता वाजपेयी, बीएमओ डॉ प्रवीर गुप्ता सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


कंट्रोल रूम के नंबर पर दे सकते हैं बाल-विवाह की सूचना, अक्षय तृतीया पर बाल विवाह रोकने हेतु जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर टीम का गठन, सख्ती के साथ रोकेंगे बाल विवाह


अक्षय तृतीया पर बाल विवाह रोकने हेतु जिला स्तर एवं विकासखण्ड स्तर पर टीमों का गठन किया गया है। बाल विवाह को रोकने व बाल विवाह की सूचना के लिए जिला मुख्यालय पर कन्ट्रोल रूम बनाया गया। जिसके अधिकारी/कर्मचारीयों की ड्यूटी इस प्रकार लगाई गई है। श्रीमती गोतमी गोलाईत (सहायक संचालक) 7389830976, सुरेश पांचाल (परामर्शदाता) 9993183931, राजेन्द्र सिंह (जिला समन्वयक चाईल्ड लाईन)9009428181, शीतल शर्मा 9340305340 के साथ ही स्थानीय पुलीस थाना, परियोजना कार्यालय, आंगनवाडी कार्यकर्ता एवं अन्य किसी भी शासकीय कर्मचारी को सूचना दी जा सकती है। पूरे प्रदेश में बाल विवाह शून्य हो एवं कोई भी बाल विवाह का प्रकरण सामने न आए इसके लिए प्रदेश में लाडो अभियान 2013 से लागू किया गया। जिसके अंतर्गत बाल विवाह रोकने एवं जागरुकता बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है। साथ ही अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत 18 वर्ष से कम उम्र की लडकी एवं 21 वर्ष से कम उम्र के लडके का विवाह बाल विवाह की श्रेणी मे आता है। भारतीय संविधान मे बाल विवाह को दण्डनीय अपराध माना गया है। बाल विवाह निषेध अधिनियम के तहत बाल विवाह कराने वाले माता-पिता, भाई बहन एवं परिवारजन, सम्मिलित बाराती, सेवा देने वाले जैसे टेंट, हाउस, प्रिन्टर्स, ब्यूटी पार्लर, हलवाई, मेरिज गार्डन, घोड़ी वाले, बैंड बाजे वाले, कैटर्स, धर्मगुरू, पण्डित, समाज के मुखिया आदि के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही की जाने के साथ उन्हें जेल भेजने का प्रावधान भी किया गया है।     


किल कोरोना अभियान के तहत तहसीलदार ने किया ग्रामीण क्षेत्रों का निरीक्षण


sehore news
कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए नगरीय क्षेत्रों सहित ग्रामीण क्षेत्रों में भी किल कोरोना अभियान चलाया जा रहा है। बुधनी क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम देवगांव एवं पतालखों में तहसीलदार श्री आशुतोष द्वारा निरीक्षण किया गया। सर्वे टीम से अभियान के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने ग्रामवासियों को समझाते हुए कहा कि सभी कोरोना कर्फ्यू का पालन करें। जिससे कोरोना संक्रमण के फैलने की संभावना न रहे। सभी लोग मास्क लगाएं एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। 


जिले में 120 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 1135

  • दो कोरोना संक्रमित मरीज की उपचार के दौरान मृत्यु, कुल मृत्यु संख्या 111

पिछले 24 घंटे के दौरान 120 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। सीहोर शहरी क्षेत्र से 27 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं। जो इंद्रा नगर, गंगा आश्रम, पारस विहार, पावर हाउस चौराहा, पुराना बस स्टेण्ड, सैकड़ाखेडी रोड़, ब्रहमपुरी कॉलोनी, चाण्क्यपुरी, देवनगर कॉलोनी, श्रीराम कॉलोनी, एनएम प्रशिक्षण केन्द्र, बडियाखेड़ी, पुलिस लाइन, चौपाल सागर, रफीकगंज, नेहरु कॉलोनी, शीतल विहार, मुरली रोड़, रेलवे फाटक के पास, न्यू बस स्टेण्ड, जयंती कॉलोनी, शुगर फैक्ट्री चौराहा, एलआईसी कॉलोनी रोड़, गुलजारी का बगीचा, सुदामा नगर गंज, रेलवे कॉलोनी के निवासी हैं। नसरुल्लागंज क्षेत्र से 23 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो बोरखेड़ा जागीर, सरवर, लाड़कुई, गोपालपुर, भादाकुई, नारायणपुरा, छिदगांव, हाथीघाट, नसरुल्लागंज के वार्ड नंबर 15, 03, 02, अमीरगंज, चकल्दी के निवासी हैं। इछावर क्षेत्र अन्तर्गत 20 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति भाउखेड़ी, खजुरिया, इछावर, आरिया, दिवड़िया, इछावर के वार्ड नंबर 12, 11, 02, रामपुरा, हालियाखेड़ी, भादाकुई, पांगराखाती, रतनपुर, कालापीपल के निवासी हैं।  श्यामपुर क्षेत्र से 19 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति बिलकिसगंज, बिजोरी, सेमरादांगी, अलादाखेड़ी, हालियाखेड़ी, जमोनिया तालाब, छतरी, नामीखेड़ी, शाहपुर कोडिया, बरखेड़ा, मगरदी, दोरहा, जमोनिया, खाईखेड़ा, सेमलखेड़ी, हिंगोली के निवासी है। बुधनी क्षेत्र से 14 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो तालपुरा, रेहटी, गांजित, निन्नोर, बुधनी वार्ड नंबर 12,04, 03, शाहगंज, रिचोड़ा, देहरी, सेमलीकला कॉलोनी के निवासी हैं। आष्टा क्षेत्र से 17 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो रामपुर कला, गुराड़िया, आदर्श कॉलोनी, सेवदा, पड़ली, मालवीय नगर, अरनिया, सगुन गार्डन, बांदरिया हाट, मिराजपुर, रायॅल कॉलोनी, सिद्धिकगंज, नजरगंज, सिविल अस्पताल क्षेत्र, बुधवारा, मैना, सेमनरी रोड, गोलूखेड़ी, मुंदीखेडी के निवासी हैं। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 8706 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव 1135 हैं। आज 144 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 7460 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 111 है । पिछले 24 घंटों के दौरान दो कोरोना संक्रमित व्यक्ति की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई है। जिला चिकित्सालय स्थित कोविड-19 डीसीएचसी में दो संक्रमित व्यक्ति की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 780 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 125, श्यामपुर से 153, विकासखंड नसरुल्लागंज से 142, आष्टा से 94 एवं बुदनी विकासखंड से 155 तथा इछावर से 111 सेंपल लिये गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 112687 हैं जिनमें से 103130 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 952 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 780 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमाण्ड कंट्रोल सेंटर का मोबाइल नंबंर 9425400273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


ग्रामीण क्षेत्रों में बिना मास्क वालों पर की जा रही है चालानी कार्यवाही


sehore news

कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए जिले भर में रोको टोको अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत नगरीय क्षेत्रों सहित ग्रामीण क्षेत्रों में भी स्थानीय अमले द्वारा बिना मास्क लगाए घूमने वालों पर चलानी कार्यवाही की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में पटवारी, कोटवार एवं ग्राम सेवक द्वारा चालानी कार्यवाही की जा रही है।  


1666 व्यक्तियों को लगा कोरोना का प्रथम एवं द्वितीय टीका


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर प्रदेश के साथ ही सीहोर जिले में कोविड टीकाकरण किया जा रहा है। जिले के 52 सत्रों में 1666 व्यक्तियों को कोविड प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया। शहरी सीहोर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित जिला चिकित्सालय क़े 7  सत्र में कुल 680 व्यक्तियों को, आष्टा के 10 सत्र में कुल 216, बुधनी के 14 सत्र में 306 इछावर के 6 सत्र में कुल 154 नसरुल्लागंज के 4 सत्र में कुल 162 तथा श्यामपुर के 11 सत्रों में कुल 148 कोविड का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं: