विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 13 मई 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मई

विधायक भार्गव ने प्लाज्मा मशीन के लिए दिए 25 लाख 50 हजार रुपए की निधि


vidisha news
विदिशा :अब प्लाज्मा डोनेशन विदिशा में हो सकेगा जिससे कई मरीजों की जान बच सकेगी। शहर के सामाजिक संगठनों की मांग पर विदिशा जिले के नागरिकों को उत्तम स्वास्थ सेवाएं प्रदान करने के लिए विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने ब्लड सेपरेटर मशीन खरीदने के लिए 25 लाख 50 हजार रु की राशि का अनुशंषा पत्र जारी किया जिसे शहर कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र राठौर,विधायक प्रतिनिधि अजय कटारे,कांग्रेस नेता दीपक कपूर,अरुण राजू अवस्थी,सुमित मोतियानी ने विदिशा एडीएम श्री वृन्दावन सिंह को सौंपा। इस मशीन से कोविड,डेंगू मलेरिया,थैलीसीमिया एवं अन्य गम्भीर बीमारी के मरीजों के उपचार में सहायता मिलेगी। विदिशा के समस्त सामाजिक संगठनों व नागरिकों ने विधायक भार्गव का आभार व्यक्त किया है।


किल कोरोना अभियान - मैदान में उतरे संभागायुक्त और ए डी जी पी   जानी विदिशा जिले की जमीनी हकीकत

  • ग्रामीण क्षेत्रों में सख्ती से लागू कराएं कोरोना कर्फ्यू

vidisha news
संभागायुक्त श्री कवींद्र कियावत और एडीजीपी श्री ए.साईं मनोहर ने गुरुवार को विदिशा जिले के प्रवास के दौरान कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए जा रहे नवाचार प्रयास और अब तक की जमीनी हकीकत जानने शमशाबाद लटेरी सिरोंज कुरवाई बासौदा ग्‍यारसपुर और  विदिशा  विकासखंड का जायजा लिया। संभागायुक्‍त श्री  कवीन्‍द्र  कियावत  ने  ग्‍यारसपुर में बनाए  गए  कोविड  केयर  का  भी जायजा  एवं कोविड  केयर सेन्‍टर में भर्ती  मरीजो  से  चर्चा कर उनका  हालचाल  जाना। इस मौके पर विदिशा कलेक्टर डॉ. पंकज जैन पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और खंड स्तरीय अधिकारी मौजूद थे । निरीक्षण के दौरान श्री कियावत ने  विदिशा जिले में संचालित किल कोरोना अभियान के तहत संपादित होने वाले कार्यों के संबंध में चर्चा की ।  चर्चा के दौरान प्रशासन द्वारा कोविड-19 के प्रति जन-जागरूकता व अन्य विषयों पर विस्तार से पूछा ।  श्री कियावत ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोविड-19 संक्रमण ग्रामीण क्षेत्रों में न फैले इसके लिये किल कोरोना अभियान को प्रभावी रूप से क्रियान्वयन करें । उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जन जागरूकता के साथ-साथ डोर टू डोर किल कोरोना अभियान-3 अंतर्गत सर्वेक्षण का कार्य भी पूरी गति के साथ किया जाए। सर्वेक्षण के दौरान जो लोग भी प्रभावित पाए जाते हैं उन्हें संस्थागत क्वारंटाइन कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए ।  श्री कियावत ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्र में भी संक्रमण की चैन को तोड़ने की जवाबदारी पूरी शिद्दत के साथ निभानी होगी। जिन ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना के मरीज निकले हैं वहाँ पर पूरे गाँव में आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया जाए। जितनी भी आवश्यकता है उतनी बैरीकेटिंग कराकर गाँव में आवागमन कम से कम 10 दिनों के लिये रोका जाए। उन्होंने निर्देशित किया है कि सभी ग्रामीण क्षेत्र के कोरोना प्रभावित लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन कराने के लिये केन्द्र निर्धारित कर सभी व्यवस्थायें समय रहते पूर्ण की जाएं। कोरोना के प्रसार रोकने के लिए कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराया जाये ।  श्री कियावत ने उपस्थित आशा आगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एएनएम कोटवार आदि को निर्देशित किया कि जन-जागरूकता के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जाए । नागरिकों को हर संभव मदद मुहैया कराई जाए । घर-घर जाकर सर्दी खांसी बुखार के लक्षण दिखाई देने पर मेडिकल किट उपलब्ध कराई जाए और नजदीकी स्वास्थ्य या उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर उन्हें तत्काल कोरोना संक्रमण टेस्ट के लिए भेजकर संक्रमित व्यक्तियों को चिन्हित किया जाए।  संभागायुक्त ने उपस्थित चिकित्सकों को निर्देशित किया कि कोविड केयर सेंटर में व्यवस्थाएं इस प्रकार हों कि वहां भर्ती कोविड मरीजों को कोई भी परेशानी नहीं आए और वह शीघ्र ही स्वास्थ्य लाभ अर्जित कर अपने परिवार के बीच जा सके। उन्होंने कहा कि भर्ती मरीजों को ऐसा माहौल और वातावरण दें जिससे वह अकेलापन महसूस नहीं करे। उन्होंने कहा कि कोविड सेंटर में मनोरंजन के साधन भी उपयोग में लाए जाएं । श्री कियावत ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि बाहर से आने-जाने वाले व्यक्तियों और वाहनों की सभी चैकिंग प्वॉइंट पर चैकिंग की जाए। कोई भी व्यक्ति प्रभावित पाया जाता है तो उसे संस्थागत क्वारंटाइन कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । अनावश्यक घूमने वालो के विरूद्ध भी दण्डात्मक कार्रवाई की जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वेक्षण के दौरान जो लोग कोरोना से आंशिक पीड़ित पाए जाते हैं उन्हें दवा की किट अनिवार्यत: उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया है कि ग्रामीण क्षेत्र में भी कोरोना संक्रमितों को दी जाने वाली दवा का पर्याप्त भण्डारण हर गाँव में हो, यह सुनिश्चित किया जाए ।


मध्यप्रदेश समग्र शिक्षा शिक्षक उत्थान संघ ने 110पीपीटी किट भेंट की


vidisha news
मध्य प्रदेश समग्र शिक्षा शिक्षक उत्थान  संघ के तत्वधान में आज  110 पीपीटी किट खरीद कर अटल बिहारी वाजपेई चिकित्सा महाविद्यालय। विदिशा को भेंट की है। मध्यप्रदेश समग्र शिक्षा शिक्षक उत्थान  संघ के प्रांतीय अध्यक्ष श्री सौदान सिंह सूर्यवंशी ने बताया कि संघ के द्वारा लॉकडाउन समय में मार्च 2020 से लगातार  गरीब! एवं बेसहारा परिवारों को खाघसूखी सामग्री तथा भोजन के पैकेट वितरण कर रहा है।   मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों के परिजनों जो मिलने हेतु आते हैं। उन्होंनेपीपीटी किट प्रदान किए जाएंगे ताकि वे सुगमता से भर्ती मरीजों से मुलाकात कर सकें और संक्रमण से स्वयं एवं मरीजों को बच सकें। इस अवसर पर अटल बिहारी बाजपेई चिकित्सा महाविद्यालय विदिशा के डीन  डॉ सुनील नंदेश्वर, मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ डी डी परमहंस डॉ संदीप कुमार  नायब तहसीलदार  प्रमोद उइके  डीपीसी श्री एसपी जाटव मौजूद रहे। वहीं संघ के सदस्य। अरविंद अवस्थी। संजीव शर्मा कृष्ण कुमार कापसे चरण सिंह शाक्य तथा  समाज सेवक सुजीत देवालिया भी उपस्थित रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं: