बेतिया : नरकटियागंज में लगेगा आक्सीजन जेनरेशन प्लांट - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 6 मई 2021

बेतिया : नरकटियागंज में लगेगा आक्सीजन जेनरेशन प्लांट

  • * प्रतिदिन 40 से 50 ऑक्सीजन  सिलिंडर का होगा उत्पादन
  • * 15 दिनों के अंदर पूर्णतः फंक्शनल करें ऑक्सीजन  जेनरेशन प्लांट- जिलाधिकारी

oxigen-plant-in-betiya
बेतिया। कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार अप्रत्याशित वृद्धि हो रही है। प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में कोरोना संक्रमण के मामले आ रहे हैं। बढ़ते संक्रमण की पृष्ठभूमि में सरकार के द्वारा पश्चिम चम्पारण जिले के नरकटियागंज प्रखंड अंतर्गत मेडिकल ऑक्सीजन  जेनरेशन प्लांट अधिष्ठापित करने का निर्णय लिया गया है। मेडिकल ऑक्सीजन  प्लांट का निर्माण डिफेंस रिसर्च एण्ड डेवेलोपमेंट आर्गनाईजेशन (डी.आर.डी.ओ) /एच.एल.एल. इन्फ्रा टेक सविर्सेस लि. के द्वारा कराया जाएगा। पश्चिम चम्पारण जिले में अवस्थित जीएमसीएच, बेतिया को डेडिकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में घोषित किया गया है एवं यहां पूर्वी चम्पारण एवं पश्चिम चम्पारण दोनों जिलों के कोरोना संक्रमित व्यक्तियों का उपचार हो रहा है। कोरोना संक्रमण में अप्रत्याशित वृद्धि एवं दो बड़े जिलों से टैग होने के कारण जीएमसीएच में ऑक्सीजन  की काफी आवश्यकता हो रही है। साथ ही अनुमंडलों के तीन 300 बेड के डीसीएचसी एवं निजी हाॅस्पीटल में भी कोरोना संक्रमित भर्ती कराए जा रहे है एवं ऑक्सीजन  की आवश्यकता हो रही है। अभी इस जिले में 800 से 900 ऑक्सीजन  सिलेंडर की आवश्यकता हो रही है। जिला प्रशासन लगातार ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए दिन-रात हरसंभव प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में नरकटियागंज में ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट का अधिष्ठापन कराया जा रहा है ताकि कोविड मरीजों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। इसी परिप्रेक्ष्य में आज जिलाधिकारी कुदंन कुमार ने एन.एच.ए.आई. के डिप्टी मैनेजर श्री बैद्यनाथ सिंह एवं प्रोजेक्ट इंचार्ज, श्री वरूण कुमार के साथ इस संदर्भ में बैठक कर जानकारी प्राप्त की। इनके द्वारा बताया गया कि यह प्लांट एडिशनल प्रेसर स्वींग एडजार्पशन तकनीक पर आधारित होगी, जिससे प्रतिदिन 40 से 50 सिलिंडर का उत्पादन होगा। यह  Atmospheric एयर से ऑक्सीजन का निर्माण करेगी। मिट्टी भराई का काम दो से तीन दिनों में हो जाएगा, उसके बाद फाउंडेशन का काम होगा। फैब्रिकेशन काम के बाद, प्लांट का अधिष्ठापन तथा उसके बाद इलेक्ट्रीशिटी वर्क किया जाएगा। ये सारे काम होकर अधिकतम 15 दिनों में ऑक्सीजन  जेनरेशन का काम प्रारम्भ हो जाएगा।  जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि युद्ध स्तर पर ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट का अधिष्ठापन कराया जाय। किसी भी तरह की परेशानी आने पर तुरंत वरीय अधिकारियों से संपर्क करें, समस्याओं का समाधान त्वरित गति से किया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिया कि ऑक्सीजन  जेनरेशन प्लांट में आपातकालीन स्थिति के लिए यू.पी.एस. अवश्य रखें, ताकि निर्बाध उत्पादन किया जा सके।  जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में पर्याप्त ऑक्सीजन की उपलब्धता बनाये रखने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। नरकटियागंज में ऑक्सीजन  जेनरेशन प्लांट शुरू हो जाने से अन्य जिले पर डिपेंडेंसी कम होगी। नरकटियांज अंतर्गत 150 बेड का डीसीएचसी. संचालित है। जहां प्रतिदिन ऑक्सीजन  सिलिंडर की आवश्यकता होती है। नरकटियागंज में ऑक्सीजन  प्लांट अधिष्ठापित होने से ना केवल नरकटियागंज क्षेत्र को सहुलियत होगी, बल्कि आस पास के अन्य प्रखंडों में भी ऑक्सीजन  आपूर्ति की निरंतरता बनी रहेगी। वर्तमान में जीएमसीएच, बेतिया में एक ऑक्सीजन  जेनरेशन प्लांट प्रारम्भ कराया गया है, जहां 30-40 ऑक्सीजन सिलेंडर प्रतिदिन उत्पादित हो रहा है। समीक्षा बैठक में वरीय उप समाहर्ता, श्री रवि प्रकाश, श्रीमती पूर्णिमा कुमारी आदि उपस्थित रहे। प्रमोद कुमार गुप्ता ने कहा कि कास हमारे मझौलिया में भी यह प्लांट बनता जिससे मझौलिया और चनपटिया का उधार होता लेकीन जब से सर आप बेतिया में तब से आपके प्रयास से बहुत कुछ हुआ है इस पुनित कार्य के लिए बहुत बहुत धन्यवाद

कोई टिप्पणी नहीं: