बिहार : मदद में उतरे कई सामाजिक कार्यकर्ता, पास जारी नहीं कर रहा है प्रशासन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 14 मई 2021

बिहार : मदद में उतरे कई सामाजिक कार्यकर्ता, पास जारी नहीं कर रहा है प्रशासन

  • लाॅकडाउन की मार झेल रहे 150 गरीब परिवारों के बीच राशन वितरण, हमारा प्रयास जारी रहेगा

cpi-ml-aisa-helping-people
पटना : भाकपा-माले, आइसा व आरवाइए के कोविड हेल्प सेंटर की ओर से चलाए जा रहे राहत अभियान के तहत आज लाॅकडाउन के कारण बेरोजगारी व भूखमरी की मार झेल रहे पटना के रामकृष्ण नगर थाना के भूपतिनगर मांझी टोला, कदमकुआं थाना के पूर्वी लोहानीपुर स्थित महमुद्दीचक एवं पश्चिमी लोहानीपुर स्थित बुद्ध स्मृति फुटपाथ पर वासित 150 गरीब परिवारों के बीच राशन का वितरण किया गया. राशन वितरण सामग्री में माले की राज्य कमिटी की सदस्य समता राय, सामाजिक कार्यकर्ता गालिब कलीम, ऐक्टू के राज्य सचिव रणविजय कुमार, विनय कुमार, कुमार दिव्यम, अनंत शाश्वत, नीरज यादव, रवि कश्यम, मासूम जावेद, रामजी यादव, अवनीश कुमार, पन्नालाल सिंह आदि शामिल थे. पटना नगर सचिव अभ्युदय ने कहा कि हमारा यह अभियान लगातार जारी रहेगा. हमारा कोविड हेल्प सेंटर विगत 21 दिनों से लगातार जनता की सेवा में तत्पर है और हमारे साथी जिंदगी दांव पर लगाकर जरूरतमंदों तक आवश्यक सामग्रियां पहुंचा रहे हैं. एक राशन पैकेट में 5 किलो चावल, 2 किलो आटा, 1 किलो दाल, 2 किलो आलू, 1 किलो प्याज, 1 किलो नमक, 1 साबुन और 3 मास्क दिया जा रहा है. फुटपाथी दुकानदारों के बीच चूड़ा-गुड़ का भी वितरण किया जा रहा है. कहा कि कोविड की मार से तो लोग जूझ ही रहे हैं, अब लाॅकडाउन जनित परेशानियां भी लगातार बढ़ रही हैं. इस बीच, कोविड हेल्प सेंटर को कई सामाजिक कार्यकर्ताओं व नागरिक समाज का हर प्रकार से सहयोग मिल रहा है. सहयोग देने वालों में जरीना, कुमार अमित, मितुल कुमार, महफूज, सना फहीम, मनीषा, मतीन, चंदा रानी, अनीता घोष, प्रशांत, अफीफा, इंबेसात, बशर आदि सहित अन्य कई लोग शामिल हैं. इस बीच, कोविड हेल्प सेंटर ने इस बात पर नाराजगी जाहिर की है कि प्रशासन ने अब तक सेंटर के स्वयंसेवकों के लिए पास नहीं जारी किया है, जिसके कारण आपदाग्रस्त मरीजों/परिजनों व भूख की मार झेल रहे गरीबों तक आवश्यक राहत सामग्री पहुंचाने में कइ्र प्रकार की कठिनाइयां हो रही हैं. जिला प्रशासन से हमारी अपील है कि वह अपनी हठधर्मिता छोड़े और सेंटर के स्वयंसेवकों के लिए अविलंब पास जारी कर सके ताकि हम ज्यादा से ज्यादा लोगों तक मदद पहुंचा सके.

कोई टिप्पणी नहीं: