विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 24 जून 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जून

विधायक शशांक भार्गव के प्रयासो से कृषि उपज मण्डी विदिशा में तुलाई कार्य हुआ प्रारंभ


vidisha news
विदिशाः- विदिशा कृषि उपज मण्डी में आज म.प्र. राज्य कृषि विपणन बोर्ड के आदेश के तहत मण्डी में आने वाली कृषि उपजो की प्रमुख किस्मो को चिन्हांकित किये जाना आवश्यक किया गया जिसके चलते आनज तिलन व्यापरियो भाईयो ने नीलामी प्रक्रिया रोक दी उक्त आदेश के तहत प्रत्येक कृषि उपज की जिन्स के नाम के साथ ही उसकी किस्म लिखना अनिवार्य है व्यापारियो को भुगतान पत्रक पर क्रय किये गई उपज के साथ किस्म का उल्लेख करना अनिवार्य है साथ ही कृषि उपजो का स्टाफ व्यापारियो को किस्मबार (वैरायटी बार) संधारित करना होगा। उक्त प्रकार की व्यवस्था आज दिनांक 23.6.2021 से ही लागू किये जाने निर्देश कृषि उपज मण्डी विदिशा को दिये गये थे। जिसके चलते व्यापारियो की समक्ष तत्कालिन समस्या  उत्पन्न हो गई थी एवं नीलामी प्रक्रिया बाधिंत हो गई थी चुकी किसान अपनी उपज लेकर कृषि उपज मण्डी में काफी बड़ी संख्या में थे नीलामी बांधित होने से किसानो मे भी इस प्रकार के तत्काल आदेश से असंतोष की स्थिति निर्मित हो गई थी विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने कृषि उपज मण्डी संचालक मण्डी बोर्ड प्रियंकादास जी से दूरभाष पर चर्चा कर समस्या के निराकरण हेतु तत्काल ही आदेश के पालन किये जाने की व्यवस्था के संबंध में प्रश्न उठाते हुए शिथलता प्रदान करने की बात कही जिसको आधिकारियो द्वारा स्वीकार किया गया तत्पश्चात दिन में 3 बजे से नीलामी प्रक्रिया पुनः प्रारंभ हो सकी। इस अवसर पर अनाज तिलहन व्यापार महासंघ अध्यक्ष सहित व्यापारी भाई एवं किसान भाई उपस्थित थे।  

न्यायालय परिसर में 26 को रक्तदान शिविर का आयोजन 


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं जिला न्यायाधीश श्री उपेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि 26 जून को जिला न्यायालय परिसर के साथ-साथ  चार तहसील न्यायालयोंं में एक साथ रक्तदान शिविर का आयोजन प्रातः दस बजे से किया गया है। उक्त रक्तदान शिविर में न्यायाधीशगणो के अलावा न्यायालयीन कर्मचारियों के द्वारा रक्तदान किया जाएगा वही इच्छुक सामाजिक संगठनों, गणमान्य नागरिक तथा स्वंयसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि भी स्वेच्छा से 26 जून को रक्तदान शिविर में शामिल होकर रक्तदान कर शिविर के आयोजन को सफल बना सकते है। जिले के सामाजिक संगठनों, गणमान्य नागरिक तथा स्वंयसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधिगण रक्तदान करने के इच्छुक हो तो जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री प्रदीप ठाकुर के मोबाइल नम्बर 9425136872 पर अपनी जानकारी दर्ज करा सकते है।


निकाय क्षेत्रों में वैक्सीनेशन हेतु सायंकालीन सत्रों का आयोजन 


निकाय क्षेत्रों में आमजनों की सुविधा को ध्यानगत रखते हुए खासकर ऐसे व्यक्ति जो दिनभर अपने कार्यो के कारण घरो से बाहर रहते है और वे कार्य समाप्ति के उपरांत अपने घरो पर पहुंचते है। ऐसे सभी व्यक्ति वैक्सीनेशन जैसे महत्वपूर्ण कार्य से वंचित ना रहें को ध्यानगत रखते हुए विभिन्न संगठनों से प्राप्त मांगो के परिपालन में कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा निकाय क्षेत्रों में सांयकालीन सत्रो के आयोजन के प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश समस्त अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को प्रेषित किए है।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि सायंकालीन सत्र निकाय क्षेत्रों में प्रतिदिन सायं तीन बजे से संचालित होंगे जो रात्रि नौ बजे तक जारी रहेंगे। सांयकालीन सत्र आयोजन हेतु स्थल चयन संबंधित अनुविभागीय अधिकारी द्वारा किया जाएगा। इन सत्रों के लिए लगाई जाने वाली टीम पृथक होगी जो केवल रात्रिकालीन सत्रों में ही काम करेंगी। गौरतलब हो कि सांयकालीन सत्र नियमित सत्रों से भिन्न होंगे।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि निकायवार सायंकालीन सत्र प्रारंभ करने की प्रक्रिया पूरी की गई है जिसके अनुसार विदिशा नगरपालिका क्षेत्र में पांच स्थलों पर, बासौदा में तीन, सिरोंज में एक अथवा आवश्यकता होने पर दो स्थलों पर जबकि कुरवाई एवं लटेरी में एक-एक स्थल पर रात्रि कालीन सत्र का आयोजन नियत समयावधि हेतु किया जाएगा। 


अतिरिक्त आवंटित वैक्सीन लाने हेतु दायित्व सौंपे गए 


विदिशा जिले को नियमित आवंटन के अतिरिक्त वैक्सीन का आवंटन प्रदाय किया जाता है तो उसे भोपाल से लाने के लिए अधिकारियों को कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दायित्व सौंपे गए है।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवनिंसह ने बताया कि वैक्सीन आवंटन प्राप्ति के लिए दिवसवार अधिकारियों को उक्त दायित्व सौंपा गया है ताकि अतिरिक्त आवंटित वैक्सीन भोपाल से प्राप्त कर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सौंपा जाए ताकि सत्र स्थलों पर वैक्सीनेशन की कमी ना हो सकें। इसके लिए जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ दिनेश शर्मा 9827323366 को जिला समन्वय अधिकारी नियुक्त किया गया है।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने जारी आदेश का हवाला देते हुए बताया कि अतिरिक्त वैक्सीन भोपाल से प्राप्त कर विदिशा लाने के लिए सोमवार एवं बुधवार दिवसों के लिए आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी 9009212745 को, जबकि गुरूवार एवं शुक्रवार को उक्त दायित्व महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे, 9669504386 को तथा शनिवार एवं रविवार दिवसों में अतिरिक्त आवंटित वैक्सीन लाने का कार्य पीआईयू के संभागीय परियोजना यंत्री श्री केशव सिंह तोमर 9826282683 को सौंपा गया है। उपरोक्त अधिकारी नियत दिवसों में अपने दायित्व का निर्वहन कर जिले में अतिरिक्त आवंटन वैक्सीन को भोपाल से प्राप्त कर विदिशा में सीएमएचओ डॉ केएस अहिरवार को सौंपेगे। 


सफलता की कहानी : कोविड वैक्सीनेशन के लाभ से हम क्यों वंचित हो, द्वय दिव्यांग सीधे पहुंचे टीकाकरण स्थल 


vidisha news
कोविड 19 वैक्सीनेशन महा अभियान के तहत जिले में जारी व्यापक स्तर पर टीकाकरण कार्य की सूचनाएं शहर ही नही हर क्षेत्र में प्रसारित की जा रही है। ग्यारसपुर अनुविभाग क्षेत्र के दूरस्थ आदिवासी बाहुल्य ग्राम हैदरगढ में निवासरत द्वय दिव्यांग श्री कमल सिंह कुशवाह और श्री अनीस खॉन को जब पता चला कि आज हमारे गांव के शासकीय प्राथमिक कन्या आश्रम हैदरगढ में टीकाकरण किया जा रहा है। दोनो दिव्यांगो ने बिना किसी प्रकार से समय खराब किए सुबह-सुबह ही टीकाकरण केन्द्र पर अपनी-अपनी ट्राय-साइकिल से पहुंचे। उनके जोश को देखकर मौके पर मौजूद नायब तहसीलदार श्रृष्टि श्रीवास्तव ने अपने सामने नर्स कविता लोधी से दोनो दिव्यांगो को सबसे पहले टीका लगवाया है।  दिव्यांग कमल सिंह कुशवाह 38 वर्षीय तथा श्री अनीस खॉन 28 वर्षीय दोनो का कहना है कि समय पर पोलियो का टीका नही लगने के कारण हम पैरो से लाचार हो गए है किन्तु शासन की योजना से हमें आने-जाने में जो मदद मिली है उसकी पूर्ति ट्रायसाइकिल से हो रही है। हर माह विकलांग पेंशन मिल रही है वही स्वंय के रोजगार स्थापित करने की ओर हम लोग का विचार है।  द्वय दिव्यांगो का कहना है कि कोरोना से बचाव के लिए कितना बढा अभियान सरकार द्वारा चलाया जा रहा है और हम दिव्यांग इस अभियान से कैसे वंचित रह सकते है जैसे ही सूचना मिली हम दोनो अपनी-अपनी ट्रायसाइकिल से वैक्सीनेशन कराए जाने हेतु केन्द्र पर पहुंचे है। केन्द्र प्रभारी नर्स कविता लोधी के द्वारा सुई लगाई गई तो हमें अहसास ही नही हुआ कि हमें सुई लगी है। दोनो का कहना है हम अपने गांव हैदरगढ में सभी को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करेंगे ताकि गांव का कोई भी व्यक्ति टीका लगवाने से वंचित ना रहें।  


आठ मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई 


बुधवार को जिले में आठ मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है कि जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्री राजेशराम ने बताया कि जिले की गुलाबगंज एवं पठारी तहसील को छोड़कर शेष अन्य सभी तहसीलो में 23 जून बुधवार को वर्षा दर्ज की गई है।  जिले की तहसीलो में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर आज दर्ज की गई वर्षा तदानुसार सर्वाधिक नटेरन में 34 मिमी तथा कुरवाई में सबसे कम एक मिमी वर्षा दर्ज की गई है। जबकि सिरोंज में 15 मिमी, लटेरी एवं ग्यारसपुर में क्रमशः सात-सात मिमी तथा विदिशा एवं शमशाबाद में क्रमशः छह-छह मिमी वर्षा दर्ज की गई है वही बासौदा में 4.4 मिमी वर्षा हुई है। जिलें मेंं अब तक 172.4 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है। तहसीलवार अब तक दर्ज की गई वर्षा की जानकारी इस प्रकार से है। विदिशा 273 मिमी, बासौदा में 191.4 मिमी, कुरवाई में 156 मिमी, सिरोंज में 110 मिमी, लटेरी 116 मिमी, ग्यारसपुर में 207 मिमी, गुलाबगंज में 168 मिमी, नटेरन में 202 मिमी, शमशाबाद में 125 मिमी तथा पठारी तहसील में 176 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है।


कलेक्टर ने पौधरोपण किया


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बुधवार की प्रातः अटल उद्यान में पहुंचकर विभिन्न प्रजाति के पौधो का रोपण किया है। इस अवसर पर मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह के अलावा निकाय के अन्य अधिकारी व कर्मचारियों के अलावा वन विभाग के अधिकारियों द्वारा भी पौधरोपण कार्यक्रम में सहभागिता निभाई गई है। मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह ने बताया कि करीबन छह से सात फीट लंबाई के पौधो का रोपण किया गया है। अटल उद्यान में करीबन दो सौ पौधे रोपित किए जाएंगे। 


मूंग समर्थन मूल्य पर उपार्जन हेतु सत्यापन कार्य 26 तक, जिले में 202 कृषकों की मूंग फसल का सत्यापन शेष 


ग्रीष्मकालीन मूंग एवं उड़द का जिले में समर्थन मूल्य पर क्रय कार्य जारी है। जिन किसानो के द्वारा मूंग फसल ली गई है उपार्जन के पहले सत्यापन संबंधी कार्य 26 जून तक सत्यापित करने के निर्देश किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के संचालक द्वारा जारी किए गए है।  गौरतलब हो कि विपणन वर्ष 2021-22 में प्राईस सपोर्ट स्कीम एवं मूल्य स्थिरीकरण कोष योजना के अंतर्गत ई-उपार्जन पोर्टल पर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर मूंग एवं उड़द की फसल हेतु सत्यापन कार्य कराया जाना नियत किया गया है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उपसंचालक श्री पीके चौकसे ने बताया कि विदिशा जिले में ग्रीष्मकालीन मूंग की फसल को समर्थन मूल्य पर विक्रय करने हेतु 405 किसानो के द्वारा पंजीयन कराया गया है जिसमें से अब तक 202 किसानो की मूंग फसल का सत्यापन कार्य शेष बचा हुआ है। ततसंबंध में आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए है ताकि सत्यापन कार्य जिले मेंं भी नियत तिथि तक पूरा किया जा सकें। 


प्रथम डोज लगाने वालो को वैक्सीन का नाम लिखकर दें


विदिशा जिले में कोविड 19 का वैक्सीनेशन महाअभियान संचालित किया जा रहा है। ततसंबंध में जारी नवीन दिशा निर्देशो की जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि जिले के ऐसे 18 प्लस से अधिक आयु वर्ग के व्यक्ति जिन्हें वैक्सीनेशन के तहत प्रथम डोज लगाया जा रहा है ऐसे सभी व्यक्तियों को वैक्सीन का नाम व दिनांक की जानकारीयुक्त एक स्लिप प्रदाय करें। स्लिप कार्ड कागज पर कम्प्यूटर से प्रिन्ट कर प्रदाय की जा सकती है।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि प्रथम डोज के समय संबंधित व्यक्ति को इस बात की जानकारी हो कि उन्हें दोनो प्रकार की वैक्सीन कोविशिल्ड या को-वैक्सीन में से कौन सी वैक्सीन का टीका लगाया है ताकि द्वितीय डोज के समय उन्हें किसी भी प्रकार की शंकाओं का सामना ना करना पडें। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने वैक्सीनेशन का नाम, दिनांकयुक्त स्लिप मुहैया कराये जाने की कार्यवाही सुनिश्चित कराने के निर्देश समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, जनपदो के सीईओ, निकायों के अधिकारियों के अलावा समस्त मेडिकल आफीसरो को प्रसारित किए है। अपर कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि बीएलओ, ग्राम पंचायतो के सचिव तथा वार्ड प्रभारी, उनके प्रभार के क्षेत्रों के व्यक्तियों को लगाई गई वैक्सीन एवं डोज की जानकारी संधारित कर रखेंगे तथा आवश्यकता की स्थिति में संबंधित को उपलब्ध कराएंगे।


सफलता की कहानी : मुनाफे की नई राह दिखाई प्याज ने 


vidisha news
परम्परागत किसानी करने की जगह जब उद्यानिकी फसलों को लेना शुरू किया तो मुनाफे की नई राह मिली है जो हर रोज आमदनी दे रही है। पहले जहां साल में एक या दो बार पैसा हाथ में आता था पर उद्यानिकी फसलों का रोज विक्रय कर हर रोज आमदनी हो रही है। यह कहना है जिलें में उद्यानिकी फसलों से लाभांवित कृषक श्री देवेन्द्र सिंह रघुवंशी का। सिरोंज विकासखण्ड के ग्राम बगरोदा निवासी कृषक श्री देवेन्द्र सिंह रघुवंशी द्वारा पहले दो हेक्टेयर रकबे में सोयाबीन एवं गेंहू की खेती कर शुद्व आय ढाई लाख से अधिक होती थी किन्तु जैसे ही उद्यानिकी फसलों से होने वाले मुनाफे और लागत की अंतर को समझा जबसे उद्यानिकी फसलों की ओर मेरा ही नही बल्कि मेरे गांव के अधिकांश किसानो के रूझान बढा है।  कृषक श्री रघुवंशी ने बताया कि उद्यानिकी विभाग की योजनाओं से लाभ लेकर वर्ष 2017-18 से दो हेक्टेयर रकबे में प्याज की खेती करना शुरू की है। पचास मेट्रिक टन से अधिक उत्पादन हर वर्ष हो रहा है जिससे शुद्व आय पौने सात लाख से अधिक की हो रही है। निश्चित ही किसी भी प्रकार के लोभ, नुकसान के भय बिना प्याज की खेती से दूसरी फसलों की अपेक्षा दुगना लाभ मिल रहा है। कृषक ने बताया कि प्याज रखने के लिए उद्यानिकी विभाग से नश्वर उत्पादो की भण्डारण क्षमता में वृद्वि योजना के अंतर्गत पचास मेट्रिक टन का प्याज भण्डार गृह पचास प्रतिशत अनुदान पर बनवाया गया है जिसमें प्याज को सुरक्षित रखता हूं जैसे ही प्याज के भाव में तेजी आती है मै बाजार में बेचना चालू कर देता हूं। अब मैं प्याज के साथ-साथ फल सब्जियों की भी खेती कर रहा हूं। जिससे मुझे हर रोज आमदनी हो रही हैं। उद्यानिकी फसलों ने निश्चित ही आमदनी का नया मार्ग दिखाकर हमें आर्थिक रूप से सबल करने की ओर अग्रसर किया है।

कोई टिप्पणी नहीं: