कोविड-19 टीकाकरणः मिथक बनाम तथ्य - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 27 जुलाई 2021

कोविड-19 टीकाकरणः मिथक बनाम तथ्य

  • राज्यों/केंद्र शासित प्रदेश को वैक्सीन की खुराक की आपूर्ति एक महीने में विभिन्न शेड्यूल में अग्रिम आवंटन के अनुसार की जाती है  
  • वास्तव में जनवरी 2021 से 31 जुलाई 2021 तक 516 मिलियन से अधिक खुराक की आपूर्ति की जाएगी
  • भारत ने दी गई 440 मिलियन खुराकों का लैंडमार्क पार किया, तेज गति से विश्व में सबसे बड़ी संख्या हासिल की गई

vaccination
भारत सरकार कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में सबसे आगे रही है। टीकाकरण जांच, ट्रैक, इलाज और कोविड-उपयुक्त व्यवहार सहित महामारी से लड़ने के लिए भारत सरकार की पांच सूत्री रणनीति का एक अभिन्न घटक है।  हाल ही में कुछ मीडिया रिपोर्टें आई हैं जिनमें आरोप लगाया गया है कि भारत आधा बिलियन खुराक देने के 2021 के अंत जुलाई का लक्ष्य चूक जाएगा। रिपोर्टों में यह भी उल्लेख किया गया है कि सरकार ने मई 2021 में कहा था कि वह जुलाई 2021 के अंत तक 516 मिलियन शॉट्स उपलब्ध कराएगी। ये रिपोर्टें गलत हैं और तथ्यों को स्पष्ट रूप से गलत तरीके से प्रस्तुत किया गया है।


हो सकता है कि 516 मिलियन वैक्सीन की खुराक के आंकड़ों को विभिन्न स्त्रोतों से उठाया गया हो, जिन्होंने जनवरी 2021 से जुलाई 2021 के अंत तक वैक्सीन की खुराक की संभावित उपलब्धता के बारे में सूचित किया। तथ्य यह हैं कि जनवरी 2021 से 31 जुलाई 2021 तक कुल 516 मिलियन से अधिक वैक्सीन की खुराक की आपूर्ति की जाएगी। यह उल्लेख करना भी उचित है कि राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन की खुराक की आपूर्ति अग्रिम आवंटन और उन्हें दी गई अग्रिम सूचना के अनुसार जाती है। महीने भर में विभिन्न शेड्यूल में टीके की आपूर्ति की जाती है। इसलिए एक खास महीने के अंत तक 516 मिलियन खुराकों की उपलब्धता का अर्थ यह नहीं है कि उस महीने तक आपूर्ति की जाने वाली प्रत्येक खुराक का सेवन किया जाएगा/खुराक दी जाएगी। सप्लाई प्रक्रियारत होगी, जो अगले कुछ दिनों तक तब तक उपलब्ध होनी चाहिए जब तक टीके की आपूर्ति नहीं हो जाती। आज की स्थिति में एक जनवरी, 2021 से अब तक राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को कुल 457 मिलियन खुराकों की आपूर्ति की गई है और 31 जुलाई तक अतिरिक्त 60.3 मिलियन खुराकों की सप्लाई किए जाने की संभावना है। यह जनवरी 2021 से 31 जुलाई 2021 तक आपूर्ति की गई कुल 517 मिलियन खुराक होगी। इस बात की सराहना की जानी चाहिए कि भारत ने दी गई 440 मिलियन (44.19 करोड़) खुराकों के लैंडमार्क को पार कर लिया है, जो विश्व में हासिल की गई सबसे बड़ी संख्या है और इसे काफी तेज गति से भी किया गया है। इनमें से 9.60 करोड़ ऐसे मामले हैं जिनमें दोनों खुराकें दी गई हैं।  जून 2021 में कुल 11.97 करोड़ खुराक दी गई थी। इसी प्रकार जुलाई 2021 (26 जुलाई तक) महीने के लिए कुल 10.62 करोड़ खुराक पहले ही दी जा चुकी है। सरकार का प्रयास है कि कोविड टीकों की उपलब्धता के अनुसार कम से कम समय में पात्र नागरिकों को टीकाकरण उपलब्ध करा दिया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: