सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 22 जुलाई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 जुलाई

शिवसेना ने डीजल,पेट्रोल,रसोई गैस के बढ़ते दामों पर रोक, लगाने के लिए राज्यपाल के नाम कलेक्ट्रेट पहुंचकर दिया ज्ञापन


sehore news
सीहोर। शिवसैनिकों ने गुरूवार को राज्यपाल के नाम कलेक्ट्रेट पहुंचकर डिप्टी कलेक्टर ब्रजेश सक्सेना को ज्ञापन दिया। देश में बढ़ रही दैनिक उपयोग की वस्तुओं के दामों को कमकर प्रदेश की जनता को राहत देने की मांग की गई। शिवसेना कार्यकर्ताओं ने कहा की जनता के मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस से सबसीडी हटाकर वेट टेक्स लगाकर दैनिक उपयोग की वस्तुओं के दाम बड़ा दिए है। जिस से नागरिकों को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश में महंगाई बढ़ रही है। प्रदेश पर दो लाख रूपये से अधिक कर्ज हो गया है। केंद्र सरकार चुनावों पर पर खर्च किया पैसा जनता से वसूल रहीं है। शिवसेना कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर जनता की भावनाओं को देखते हुये वेट टेक्स कम करने व सबसीडी प्रदान करने की मांग की है। ज्ञापन सौपने वालों में गब्बर यादव,विजय यादव लवीश राजपूत,मदन सर,रोहित पटेल,नीरज गुप्ता,शैलेन्द्र त्यागी,दिनेश पटेल,प्रकाश प्रजापति,धनपाल अहिरवार,जितेन्द्र विश्वकर्मा,जितेन्द्र मालवीय,पप्पू सेन,विशाल पाटीदार आदि शामिल रहे।

शिवसेना ने डीजल,पेट्रोल,रसोई गैस के बढ़ते दामों पर रोक, लगाने के लिए राज्यपाल के नाम कलेक्ट्रेट पहुंचकर दिया ज्ञापन


sehore news
सीहोर। शिवसैनिकों ने गुरूवार को राज्यपाल के नाम कलेक्ट्रेट पहुंचकर डिप्टी कलेक्टर ब्रजेश सक्सेना को ज्ञापन दिया। देश में बढ़ रही दैनिक उपयोग की वस्तुओं के दामों को कमकर प्रदेश की जनता को राहत देने की मांग की गई। शिवसेना कार्यकर्ताओं ने कहा की जनता के मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस से सबसीडी हटाकर वेट टेक्स लगाकर दैनिक उपयोग की वस्तुओं के दाम बड़ा दिए है। जिस से नागरिकों को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश में महंगाई बढ़ रही है। प्रदेश पर दो लाख रूपये से अधिक कर्ज हो गया है। केंद्र सरकार चुनावों पर पर खर्च किया पैसा जनता से वसूल रहीं है। शिवसेना कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर जनता की भावनाओं को देखते हुये वेट टेक्स कम करने व सबसीडी प्रदान करने की मांग की है। ज्ञापन सौपने वालों में गब्बर यादव,विजय यादव लवीश राजपूत,मदन सर,रोहित पटेल,नीरज गुप्ता,शैलेन्द्र त्यागी,दिनेश पटेल,प्रकाश प्रजापति,धनपाल अहिरवार,जितेन्द्र विश्वकर्मा,जितेन्द्र मालवीय,पप्पू सेन,विशाल पाटीदार आदि शामिल रहे।

सेवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने किया रविदास मंदिर पुलिया , निर्माण का भूमिपूजन नागरिकों को कच्ची पुलिया से मिलेगी राहत


sehore news
सीहेार। संत रविदास वार्ड 11 डॉ अम्बेडकर नगर में संत शिरोमंणी रविदास जी महाराज के मंदिर के सामने सेवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के द्वारा पुलिया निर्माण का भूमिपूजन किया गया। उक्त पुलिया 50 हजार की लागत से बनाई जाएगी। भूमि पूजन कार्यक्रम में जिला संवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद ्रखंगराले क्षेत्रीय पार्षद आरती खंगराले, श्यामलाल महोबिया, गंगाराम परसईया,पन्नालाल खंगराले, मदन मंगरोलिया, घनश्याम जाटव, बतौर अतिथि शामिल हुए। इस अवसर पर सेवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने कहा की वार्ड 11के क्षेत्र में इसी प्रकार विकास कार्य बरकिसी भेदभाव के किए जाएंगे। नागरिकों ने कहा की क्षेत्रीय पार्षद आरती नरेंद्र खंगराले के कार्यकाल में लगातार विकास कार्य कराए जा रहे है साथ हीं विकास कार्यो को गति प्रदान की जा रही है पूर्व में इस पकार के विकास कार्य देखने को नहीं मिले है। जिस से जनता में काफी नाराजगी रहीं है। अब गंगा पूरे वार्ड में बहाने लगी है शेष रूके हुए विकास कार्यो के आदेश जारी होने पर करा दिउ जाएंगे। नागरिकों ने कहा की श्री खंगराले क्षेत्र की समस्याओं को सुनते भी है और उसका निराकरण भी कराते है। वार्ड 11 में विकास कार्य चालू होने पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ बलवीर तोमर, मध्य प्रदेश सचिव पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राकेश राय, दर्शन सिंह वर्मा, डॉ अनीस खान ने जिले के कलेक्टर तथा नगर पालिका प्रशासक डॉ चंद्रमोहन ठाकुर तथा मुख्य नगर पालिका अधिकारी संदीप श्रीवास्तव का आभार व्यक्त किया है इस अवसर पर मंागीलाल टिमरई, नंदलाल जाटव, रामसिंह तमालिया, महेंद्र पटेल, चंचल महोबिया, विशाल मंगरोलिया, नवीन महोबिया, योगेंद्र महोबिया, जितेंद्र मंगरोलिया, संजय महोबिया, रामगोपाल खंगराले, हेमंत जाटव, अर्जुन जाटव, धमेंद्र तमोलिया, पंकज परसईया, राहुल जाटव, पार्वती जाटव, भागती जाटव, लता बाई सिलावट, किर्ती महोबिया, मधू जाटव, रचना जाटव, सकुन जाटव, उषा धीमान, सुमित्रा धीमान उपस्थित रहे।

जिले में अब तक 317.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 0.2 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 22 जुलाई, 2021 तक 317.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा से 384.2 मिलीमीटर कम है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 22 जुलाई, 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 291.6, मिलीमीटर, श्यामपुर में 317.0, आष्टा में 342.0 जावर में 339.0, इछावर में 261.0, नसरूल्लागंज में 352.0, बुधनी में 399.0, रेहटी में 239.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 0.2 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 0.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 0.0, श्यामपुर में 0.0, आष्टा में 0.0, जावर में 0.0, इछावर में 0.0, नसरूल्लागंज में 0.0, बुधनी में 0.0 एवं रेहटी में 1.8 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चों को देंगे सुरक्षा कवच : मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोविड-19 का टीका कोरोना से बचाव का काफी प्रभावशाली एवं कारगर उपाय है। प्रदेश में अभी तक ढाई करोड़ से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। टीकाकरण अभियान के चलते हमने यह निर्णय लिया है कि अब गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चे को वैक्सीन का सुरक्षा कवच प्रदान किया जाए। इसके लिये 23 जुलाई से कोविड-19 टीकाकरण सत्र की शुरूआत प्रदेश में होगी।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ट्वीट कर जानकारी दी कि कोविड-19 टीकाकरण गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चे के लिये सुरक्षा का मजबूत कवच है। गर्भवती महिलाओं को कोरोना संक्रमण से बचाने और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिये राज्य स्तरीय टीकाकरण का कार्य प्रांरभ किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 23 जुलाई से शुरू हो रहे इस विशेष अभियान में सभी वर्गों से आव्हान किया है कि जिस तरह पूर्व में टीकाकरण के लिये लोगों ने उत्साह दिखाया था, उसी तरह गर्भवती महिलाओं को सुरक्षा कवच देने के लिये सक्रिय भूमिका निभाएँ, जिससे शत-प्रतिशत लक्ष्य समय पर प्राप्त किया जा सके।                                                                                                                  

टीकाकरण केन्द्रों पर अतिरिक्त कक्ष की व्यवस्था                                                    

प्रदेश में 23 जुलाई से शुरू हो रहे गर्भवती माताओं को कोविड-19 टीकाकरण विशेष अभियान सभी शासकीय मेडिकल कॉलेज, समस्त जिला चिकित्सालय, सिविल अस्पताल और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर वैक्सीन लगाई जाएगी। गर्भवती महिलाओं के लिये टीकाकरण केन्द्रों पर अतिरिक्त टीकाकरण कक्ष, निगरानी कक्ष, प्रतीक्षा कक्ष, मेडिकल ऑफिसर द्वारा पर्यवेक्षण की व्यवस्था रहेगी। सभी केन्द्रों पर भारत सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिये जारी गाइडलाइन का पालन भी किया जाएगा।                                                                     

तीसरी लहर के प्रभाव को कम करना होगा                                                       

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर को हरसंभव प्रयास कर निष्क्रिय करना होगा। इसके लिये राज्य सरकार ने अग्रिम रूप से सभी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित कर ली है। आगामी दिनों में प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कर ली जाएगी। अस्पतालों में बेड्स की भी बड़े स्तर पर व्यवस्थाएँ की जा चुकी है। चिकित्सकीय अधोसंरचना निर्माण के साथ जरूरी मेन पावर की पूर्ति करने के लिये भर्तिया की जा रही हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी प्रभारी मंत्रियों को अपने-अपने प्रभार के जिलों में अस्पतालों में की जा रही तैयारियों पर सतत निगरानी करने के निर्देश दिए हैं।                                                                                                                                      

प्रदेश की पॉजीटिविटी दर 0.01 प्रतिशत                                                 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में अभी कोरोना काफी हद तक नियंत्रित है। लेकिन हमे निश्चिंत नहीं होना है। कोराना की गाइडलाइन का पालन करते हुए अनुकूल व्यवहार को भी अपनाना होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि आज प्रदेश में कुल 15 कोरोना के पॉजिटिव प्रकरण आये है और 20 रोगी स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं। पॉजिटिविटी दर भी कम होकर 0.01 प्रतिशत रह गई है।प्रदेश में आज 76 हजार 879 कोरोना टेस्ट किये गये।  


सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार हेतु पात्र कृषकों से आवेदन आमंत्रित


कृषि विस्तार सुधार कार्यक्रम (आत्मा) अंतर्गत मूल्यांकन वर्ष 2020-21 हेतु सर्वोत्तम कृषक समूह, सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए है। पात्र कृषक निर्धारित प्रारूप में इसकी प्रविष्टियां पूर्ण कर सभी आवश्यक दस्तावेज सहित आवेदन विकासखण्ड स्तर पर संबंधित वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के कार्यालय में 31 जुलाई से 31 अगस्त 2021 तक प्रस्तुत कर सकते है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास के परियोजना संचालक (आत्मा) ने बताया कि जिला स्तरीय सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार की राशि 25 हजार, विकासखण्ड स्तरीय सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार राशि 10 हजार रूपए, जिला स्तरीय सर्वोत्तम कृषक समूह पुरस्कार राशि 20 हजार रूपए दी जाएगी। जिले के ऐसे उन्नतशील कृषक जिनके द्वारा वैज्ञानिक तरीके से नवीन कृषि तकनीक अपनाकर कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन, मत्स्य पालन तथा कृषि अभियांत्रिकी में सर्वोत्तम उत्पादन प्राप्त किया जा रहा है। वे कृषक इस पुरस्कार के लिए पात्र होंगे। आवेदन पत्र का प्रारूप विकासखण्ड स्तर पर संबंधित कार्यालय से प्राप्त किए जा सकते है। ध्यान रहे ऐसे कृषक अथवा समूह जिनका गत वर्षों में चयन हुआ है, आगामी 10 वर्षों तक उनको पुरस्कार हेतु शामिल नहीं किया जा सकेगा। जिससे अन्य कृषकों/कृषक समूहों को तकनीकी अंगीकरण हेतु प्रोत्साहन प्राप्त होगा।


इस वर्ष विक्रम और एकलव्य पुरस्कार में साहसिक खेल शामिल, वर्ष 2021 के खेल पुरस्कारों के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 31 जुलाई


वर्तमान में प्रदेश के खिलाडी लगातार अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहे हैं और प्रदेश व देश का नाम रोशन कर रहे हैं। जापान के टोक्यो शहर में 23 जुलाई 2021से शुरू हो रहे खेलों के महाकुम्भ ऑलम्पिक में राज्य खेल अकादमी के खिलाड़ी शूटर एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और हॉकी के विवेक सागर और रानी खोखर अपनी प्रतिभा को प्रदर्शन करेंगे। खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से राज्य खेल पुरस्कार राशि को दोगुना तथा विक्रम और एकलव्य पुरस्कार में साहसिक खेलों को शामिल किया गया।


"पुरस्कार राशि में बढ़ोत्तरी"

प्रदेश के प्रतिभावान खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने और उन्हें पुरस्कृत करने के उद्देश्य से खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया की पहल पर वर्ष 2021 के खेल पुरस्कारों में खिलाड़ियों को मिलने वाली पुरस्कार राशि में बढ़ोत्तरी करते हुए अब दोगुना कर दिया है। अब एकलव्य पुरस्कार के लिए एक लाख रूपये तथा विक्रम, विश्वमित्र, स्व.श्री प्रभाष जोशी पुरस्कार तथा लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार (प्रत्येक) के लिए दो लाख रूपये प्रदान किए जाएगें। पूर्व में एकलव्य के लिए 50 हजार तथा शेष पुरस्कारों के लिए एक लाख रूपये की राशि सम्मान स्वरूप प्रदान की जाती थी।


"ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई तक आमंत्रित"

खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा वर्ष 2021 के खेल पुरस्कारों एकलव्य, विक्रम, विश्वमित्र पुरस्कार, लाइफ टाइम अचिवमेंट तथा स्व.श्री प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार के लिए ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई 2021 तक आमंत्रित किए गए है। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा नवीन पुरस्कार नियम 2021 को मंजूरी प्रदान कर दी गई है, इसका मध्यप्रदेश राजपत्र में प्रकाशन भी कर दिया गया है। इस वर्ष नवीन पुरस्कार नियम अनुसार विगत 5 वर्षो में अर्जित खेल उपलब्धियों के आधार पर खेल पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।


"ऐसे करें आवेदन"

खेल पुरस्कार वर्ष 2021 संबंधी पात्रता एवं आवश्यक जानकारी खेल विभाग की वेबसाइट  www.dsywmp.gov.in पर उपलब्ध है। आवेदक वेबसाइट पर ही ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। आवेदक को अपनी प्रति जिस पर पंजीयन क्रमांक अंकित हो के साथ खेल प्रमाण-पत्र एवं अन्य अभिलेखों की छाया प्रति के साथ संबंधित जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी के कार्यालय अथवा संचालनालय खेल एवं युवा कल्याण, टी.टी. नगर स्टेडियम, भोपाल में 31 जुलाई तक जमा करना अनिवार्य होगा। निर्धारित तिथि के पश्चात प्राप्त आवेदन मान्य नहीं किए जाएंगे।


 मक्का फसल में कीट व्याधि के उपचार की सलाह


 उप संचालक कृषि ने जिले के कृषकों को मक्का फसल में कीट व्याधि निदान के लिए किसानों को महत्वपूर्ण सलाह दी है। उन्होंने मक्का उत्पादक किसानों को सलाह देते हुए बताया है कि मक्का फसल में फॉल आर्मीवर्म कीट का प्रकोप देखा जा रहा है। कृषक मक्का की फसल का अवलोकन करें यदि पत्तियों पर कटे-फटे गोल से आयताकार आकार के छिद्र बने दिखाई देते है तो नियंत्रण हेतु 5 प्रतिशत नीम बीज कर्नल सत या एजाडिरेक्टीन 1500 पी.पी.एम. का 5 मि.ली. प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर छिडकाव करें। जिन खेतों मे संक्रमण 10 प्रतिशत से अधिक होता है तो बडे लार्वा के लिए अनुशांसित रासायनिक कीटनाशकों का छिडकाव करना चाहिए। जिसमें स्पाईनटोरम की 11.7 प्रतिशत एस. सी. 0.5 मि.ली. या क्लोरेन्ट्रानिलीप्रोएल 18.5 एस. सी. 0.4 मि.ली. या थियोमेथोक्जाम 12.6 प्रतिशत लेम्बडा साइहेलोथ्रीन 9.5 प्रतिशत जेड.सी. का 0.25 मि.ली. या इमामेक्टिन बेन्जोएट 5 प्रतिशत एस. जी. का 0.6 ग्राम प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर छिडकाव करें।


सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, भूख न लगना जैसे लक्षण होने पर तत्काल अस्पताल पहुंचे


ऐसे व्यक्ति जो ब्लड प्रेशर, डायबिटीज किड़नी, अस्थमा, केंसर आदि बीमारियों से पीडि़त है। वे अपने आप में कोरोना से बचाव के लिये पूरी तरह सावधानियां बरतें। ऐसे लोग हमेशा मास्क लगाये रखें। भीड़-भाड़ में न जायें, आपस में दो गज की दूरी बनाकर रखें। हाथों को सैनेटाइज करते रहना अथवा हाथों को साबुन से धोते रहना है। यही सावधानियां है।   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने सलाह दी है कि किसी भी व्यक्ति को सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, भूख न लगना, दस्त लगना आदि के लक्षण होने पर वे घर पर ही पारंपरिक उपचार लेते रहते है। ठीक होने की उम्मीद में 5 से 7 दिन गुजार देते है, जिन्हे स्वास्थ्य लाभ होने के बजाय उनकी बीमारी और बढ़कर जटिल हो जाती है। ऐसे लोंगो को  अस्पताल में भर्ती करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में कोविड-19 की जांच पॉजीटिव आती है तो उपचार और जटिल हो जाता है। ऐसे मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट या आईसीयू में भर्ती कर उपचार करना पड़ता है। ऐसी बीमारियों से प्रभावित व्यक्तियों को सलाह दी है कि उन्हें सर्दी, खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, हाथ-पैरों में दर्द, शरीर में ऐठन, भूख न लगना खाने व सूघंने में स्वाद का पता न लगना आदि लक्षणों में आते ही वे तुरंत चिकित्सक से परामर्श ले। अथवा कोविड-19 की जांच करवाकर समय रहते पूर्व उपचार लेकर स्वास्थ्य हो। जिससे वे अपने परिवार को सुरक्षित रख सकें।


शिखर खेल अलंकरण के लिए 31 तक प्रविष्टियाँ आमंत्रित


शिखर खेल अलंकरण पुरस्कार एकलव्य, विक्रम विश्वामित्र, लाईफ टाईम अचीवमेंट एवं स्व.श्री प्रभात जोशी खेल पुरस्कार प्रदान करने हेतु खेल एवं युवा कल्याण विभाग की वेब साइट bsywmp.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई तक आमंत्रित किये गये हैं। ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया जारी है, जो 31 जुलाई तक रहेगी। जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त पुरस्कारों के लिये ऑनलाइन आवेदन अन्तिम तिथि तक ही मान्य होंगे। ऑनलाइन आवेदन करने के उपरान्त ऑनलाइन जनरेट होने वाली पावती या स्लीप के साथ आवेदन में उल्लेखित जानकारी, खेल उपलब्धियों के प्रमाण-पत्र की छायाप्रति संलग्न कर अन्तिम तिथि 31 जुलाई तक जिला खेल एवं युवा कल्याण संचालनालय में कार्यालयीन समय में आवश्यक रूप से जमा करवा सकते हैं।


कूलर को साफ करने के बाद धूप में सुखाने के बाद ही दुबारा पानी से भरे, जिससे लार्वा का अंडा जीवित नही रहे - जिला मलेरिया अधिकारी


जिला मलेरिया अधिकारी बताया कि मलेरिया एवं डेंगू के बचाव की लोगो को जानकारी मिले सके, मलेरिया विभाग, की टीम शहर में  लार्वा व बुखार , एवं मलेरिया एवं डेंगू से बचने हेतु जागरूकता फैला रही है। इस दौरान लोगो से कहा कि कूलर को साफ करने के बाद धूप में सुखाने के बाद ही दुबारा पानी से भरे, जिससे लार्वा का अंडा जीवित नही रहे क्योंकि लार्वा का अंडा नमी वाली जगहों पर 8 से 12 महीने तक बना रहता है एवं पुनः पानी के संपर्क में आने पर  लार्वा बन जाता है। 


शासकीय पट्टों में नाम जुड़वाने के लिए 15 दिन की समय-सीमा निर्धारित


भू-अभिलेख कम्यू्टोंटीकरण के दौरान अभिलेख में शासकीय पट्टेदारों के नाम छूटने संबंधी प्राप्ति शिकायतों के दृष्टिगत कलेक्टार ने इस संबंध में निर्देश जारी किये गये है। जारी निर्देशों के तहत जिन पट्टेधारियों का शासकीय अभिलेख में अमल किसी कारणवश  छूट गया है वे अमल हेतु अपना आवेदन पत्र वांछित दस्तालवेजो सहित संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के न्यालयालय में 15 दिवस के भीतर प्रस्तुस्त कर सकते है। इस संबंध में कलेक्टार द्वारा समस्तय अनुविभागीय राजस्वे अधिकारियों को निर्देश दिए गए है कि आवेदक शासकीय पट्टेधारी द्वारा प्रस्तुस्त आवेदन का नियमानुसार निराकरण एक माह के अंदर किया जाए।


राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के लिए प्रविष्टियाँ आमंत्रित


बहादुरी के अनुकरणीय कार्यों के लिए वीरता पुरस्कार के आवेदन आमंत्रित किये जाते  गए है, जिसमें 6 से 18 आयु वर्ग के बच्चों को उनके साहसिक कार्य करने के लिए प्रेरित करने की दृष्टि से बहादुरी के कार्य करने वाले बच्चों को प्रोत्साहन हेतु यह पुरुस्कार दिया जाना है। जिला बाल संरक्षण अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग ने बताया कि विलेख ‘‘जीवन के लिए जोखिम या शारीरिक चोट के खतरे और या सामाजिक बुराई/ अपराध के खिलाफ साहस और साहस का कार्य‘‘ का सामना करने में सहज निस्वार्थ सेवा का कार्य करने वाले बच्चो के आवेदन आमंत्रित है। जिला बाल संरक्षण अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग ने बताया कि 1 जुलाई 2020 और 30 सितंबर 2021 के बीच हुई घटनाओं को 2021 पुरस्कारों के लिए माना जाएगा। पुरस्कारों के लिए नामांकन फॉर्म वेबसाइट www.iccw.co.in पर भी उपलब्ध है। अधिक जानकारी एवं आवेदन के लिए कार्यालय जिला बाल संरक्षण अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग में कार्यालयीन समय पर संपर्क किया जा सकता है।


अस्थाई पात्रता पर्ची - 31 अगस्त तक दस्तावेज जमा होंगे


राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम अंतर्गत छूटे हुए गरीब परिवारों की खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हितग्राहियों से पात्रता संबंधी घोषणा पत्र के आधार पर स्थाई पर्ची जारी करने के निर्देश दिए गए थे। ऐसे हितग्राही जिनको अस्थाई पात्रता पर्ची जारी की गई है, उन्हें स्थाई पात्रता पर्ची के लिए पात्रता श्रेणी संबंधी दस्तावेज एवं सभी सदस्यों के आधार नंबर स्थानीय निकायों को उपलब्ध कराने की तिथि 31 जुलाई नियत की गई थी। इस समयावधि में वृद्धि करते हुए दस्तावेज प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2021 नियत की गई है।


खादी ग्रामोद्योग में युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा


प्रबंधक खादी ग्रामोद्योग, जिला पंचायत भोपाल ने बताया कि मध्य प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा संचालित कौशल विकास कार्यक्रम अन्तर्गत जिले के बेरोजगार युवक, युवतियों को आवासीय, गैर आवासीय निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। बोर्ड द्वारा विभिन्न रोजगारन्मुखी व्यवसायों जैसे फैशन डिजाईनिंग, सिलाई, रेडीमेड गारमेंट, लेदर गुड्स, बेकरी, फूड प्रोसेसिंग, कम्प्यूटर हार्डवेयर रिपेयरिंग, कम्प्यूटर एकाउण्ट विथ टेली, घरेलू उपकरण मरम्मत,  इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर, दोना पत्तल, टू - व्हीलर, थ्री - व्हीलर मरम्मत, ट्रेक्टर रिपेयरिंग, कम आपरेटर कारपेंटर , मोबाईल रिपेयरिंग आदि में प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु आवेदन ऑनलाईन  30 जुलाई 2021 तक आमंत्रित किये जायेंगे। कौशल विकास प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु ऑनलाईन आवेदन बोर्ड की विभागीय वेबसाईट http://crisponlineservices.com/services/khadifuser Registration khadi.aspx पर आवेदन किया जा सकता है। जानकारी के लिए प्रबंधक, खादी ग्रामोद्योग जिला पंचायत कार्यालय, सीहोर पर सम्पर्क कर सकते है।


जिले में आज से होगा गर्भवती महिलाओं का कोविड-19 टीकाकरण, जिले में 18 हजार से अधिक महिलाओं का किया जाएगा कोविड टीकाकरण

  • प्रथम चरण में शासकीय मेडिकल कॉलेज,  जिला अस्पताल,  सिविल अस्पताल तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर होगा कोविड टीकाकरण

sehore news
प्रदेश के साथ ही सीहोर जिले में 23 जुलाई से गर्भवती महिलाओं का कोविड टीकाकरण किया जाएगा। यह टीकाकरण जिला अस्पताल, सिविल अस्पताल तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में किया जाएगा। गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए जिले में सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के प्रति जन जागरूकता के लिए राज्य स्तर पर गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाइन मीडिया कार्यशाला आयोजित की गई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के वीसी रूम में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एमके चंदेल तथा प्रिंट एवं इलेक्टॉनिक मीडिया के अनेक प्रतिनिधि उपस्थित थे। गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण के लिए पहले से ऑनलाइन पंजीयन कराने की जरूरत नहीं होगी। टीकाकरण केन्द्र पर ही ऑन साई पंजीयन के माध्यम से टीकाकरण किया जाएगा। टीकाकरण के बाद हर गर्भवती महिलाओं का बीस दिन तक प्रतिदिन फालोअप किया जाएगा। मीडिया कार्यशाला के दौरान सीएमएचओ डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि जिले की 18 हजार महिलाओं का टीकाकरण किया जाएगा। गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं।


किसी भी समय लगाया जा सकता है कोविड का टीका

कोविड-19 टीकाकरण गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान किसी भी समय लगाया जा सकता है। जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान कोविड-19 का संक्रमण हो चुका है, उनका प्रसव के तुरन्त बाद कोविड-19 टीकाकरण किया जाए।


मंगलवार एवं शुक्रवार को होगा टीकाकरण

गर्भवती महिलाओं का कोविड-19 टीकाकरण नियमित टीकाकरण दिवसों "मंगलवार एवं शुक्रवार" को शासकीय स्वास्थ्य संस्था पर संचालित एएनसी क्लीनिक में किया जाएगा। इसके साथ ही शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में अन्य दिवस में आने वाली गर्भवती महिलाओं का भी कोविड-19 टीकाकरण किया जा सकता है। इसके लिए एएनसी क्लीनिक के समीप तीन अन्य व्यवस्थायें भारत शासन के निर्देशानुसार सुनिश्चित की गई हैं। प्रथम चरण में कोविड-19 टीकाकरण गर्भवती महिलाओं को समस्त शासकीय मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल. सिविल अस्पताल एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर किया जाएगा।


टीकाकरण पश्चात गर्भवती महिलाओं की निगरानी

टीकाकरण पश्चात गर्भवती महिलाओं को 30 मिनिट तक निगरानी हेतु पृथक कक्ष में रखा जाएगा। कोविड-19 टीकाकरण के पश्चात 20 दिनों तक गर्भवती महिला की निगरानी की जाएगी। सुमन हेल्प डेस्क के टेलीकॉलर द्वारा भी 20 दिवस तक इन महिलाओं से संपर्क कर स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली जाएगी। यदि कोई लक्षण दिखाई दे तो डीएचओ डीआईओ को सूचित किया जाएगा।


कोविड टीकाकरण के संबंध में काउंसलिंग

चिन्हित संस्थाओं में आने वाली गर्भवती महिलाओं को चिकित्सक एवं स्टाफ नर्स, एएनएम तथा स्वास्थ्य संवाद केन्द्र काउंसलिंग द्वारा कोविड-19 टीकाकरण के विषय टीकाकरण के फायदे एवं  एआईएफआई    पर काउंसलिंग की जाएगी तथा टीकाकरण किया जाएगा। काउंसलिंग के दौरान गर्भवती महिलाओं में कोविड-19 टीकाकरण का महत्व, संक्रमण के खतरे तथा संभावित दुष्प्रभाव के बारे में बताया जाएगा। 


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने वन स्टॉप सेंटर का किया निरीक्षण, पीड़ितों को समुचित सेवाएं त्वरित उपलब्ध कराने के दिए निर्देश


sehore news
अपर जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित वन स्टॉप सेंटर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान श्री दांगी ने वन स्टॉप सेंटर में उपस्थित पीड़ितों से बात की। उनसे वन स्टॉप सेंटर की द्वारा दी जाने वाली सेवाओं के बारे में जानकारी ली। उन्हें उनके प्रकरणों के संबंध में परामर्श भी दिया। अपर जिला जज श्री दांगी ने वन स्टॉप सेंटर भवन तथा स्टॉफ के उपस्थिति, लेखों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को वन स्टॉप सेंटर में आने वाली सभी पीड़ितों को त्वरित सेवाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री प्रफुल्ल खत्री ने सेंटर की गतिविधियों को विस्तार से अगत कराया। उल्लेखनीय है कि वन स्टॉप सेंटर सभी प्रकार की हिंसा से पीड़ित महिलाओं एवं बालिकाओं को एक ही स्थान पर 24 घंटे पांच सेवा उपलब्ध कराने के लिए भारत सरकार द्वारा संचालित सेंटर है। पीड़ितों को  अस्थाई आश्रय, पुलिस डेस्क, विधि सहायता, चिकित्सा एवं काउन्सलिंग पांच प्रकार की सुविधा वनस्टॉप सेन्टर में उपलब्ध करायी जाती हैं।


कोरोना वालेंटियर्स द्वारा टीकाकरण के लिए चलाया जा रहा है अभियान


sehore news
मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के कोरोना वालंटियर्स ने 22 जुलाई को टीकाकरण कराने के लिए कोरोना वालेंटियर्स द्वारा घर-घर पीले चावल देकर लोगों को वैक्सीनेशन सेंटर पर आने के लिए आमंत्रित किया गया। टीकाकरण के लिए व्यक्तियों को प्रेरित करने के लिए एक अभियान चलाया जा रहा है। इसके साथ ही वैक्सीन सेंटर पर रहकर कोरोना वालंटियर्स रजिस्ट्रेशन कर रहे है टीकाकरण के दौरान समिति के कोरोना वालंटियर्स उपस्थित रहे।


कन्या शिक्षा परिसर तथा एकलव्य आवासीय विद्यालय के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित, प्रवेश परीक्षा 31 जुलाई शनिवार को होगी आयोजित


जिले में जनजातीय कार्य विभाग द्वारा कन्या शिक्षा परिसर सीहोर तथा एकलव्य आवासीय विद्यालय बुदनी में कक्षा 6 व 9 वीं में 2021-22 के लिए रिक्त सीट पर प्रवेश के लिए छात्र-छात्राएं अपना आवेदन एमपी टास्क की बेवसाइट www.tribal.mp.gov.in पर कर सकते है। प्रवेश परीक्षा 31 जुलाई शनिवार को प्रथम पाली में कक्षा 6 की 10.30 बजे से 12.30 बजे तक तथा दूसरी पाली में कक्षा 9 की 2.30 से 4.30 बजे तक सम्पन्न कराई जाएगी। विकासखण्ड सीहोर, आष्टा, इछावर के छात्रों की परीक्षा महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज सीहोर तथा विकासखण्ड बुदनी, नसरूल्लागंज के छात्र-छात्राओं की परीक्षा एकलव्य आवासीय विद्यालय बुदनी में होगी। सभी छात्र-छात्राओं को कोविड-19 का ध्यान रखते हुए मास्क लगाकर ही परीक्षा में शामिल होना है।


टीकाकरण महाअभियान के तहत शाम 5 बजे तक 19082 लोगों ने लगवाया कोविड टीका


sehore news
जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 19082 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में गुरूवार को शाम 5 बजे तक 19082 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचने लगे। लोगों की सुविधा की दृष्टि से अनेक टीकाकरण केन्द्र बनाये गए। टीकाकरण महाअभियान में 18 वर्ष के युवा से लेकर बुजुर्गो ने भी टीका लगवाया।


जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति

जिले में कुल 19082 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले सभी विकास खंडों में कुल 75 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। बुदनी में 5352, इछावर में 2088, नसरूल्लागंज में 6679, श्यामपुर में 1841 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 3122 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं: