बाबुल सुप्रियो ने फेसबुक पर राजनीति को कहा अलविदा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शनिवार, 31 जुलाई 2021

बाबुल सुप्रियो ने फेसबुक पर राजनीति को कहा अलविदा

babul-supriyo-quit-politics
नई दिल्ली : पूर्व केंद्रीय मंत्री और बंगाल में भाजपा के बड़े नेता बाबुल सुप्रियो ने राजनीति को अलविदा कह दिया है। इसको लेकर उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट भी लिखा है। बाबुल सुप्रियो ने लिखा है कि वे राजनीति में सिर्फ समाज सेवा के लिए आए थे। अब उन्होंने अपनी राह बदलने का फैसला लिया है। इसके साथ ही सुप्रियो ने लिखा है कि लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में रहने की जरूरत नहीं है। वे राजनीति से अलग होकर भी अपने उस उदेश्य को पूरा कर सकते हैं। इसके आलावा उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया गया है कि वे हमेशा से बीजेपी का ही हिस्सा रहे हैं और रहेंगे। मालूम हो कि अब अपनी सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए उन तमाम विवादों पर भी बाबुल ने विस्तार से बात की है। उन्होंने कहा है कि पार्टी संग मेरे कुछ मतभेद थे। वो बातें चुनाव से पहले ही सभी के सामने आ चुकी थीं। हार के लिए मैं भी जिम्मेदारी लेता हूं,लेकिन दूसरे नेता भी जिम्मेदार हैं। गौरतलब है कि मंत्रिपद से हटाए जाने के बाद से ही बाबुल सुप्रियो राजनीति से दूरी बनाकर चल रहे हैं। मंत्रिमंडल से हटाए जाने पर उनका दर्द छलका था। उन्होंने लिखा था कि बंगाल से मंत्रिमंडल में शामिल होने जा रहे नए साथियों को मेरी ढेर सारी शुभकामनाएं। मैं अपने लिए जरूर दुखी हूं पर उन लोगों के बहुत खुश हूं।

कोई टिप्पणी नहीं: