जमशेदपुर : संसाधन प्रबंधन के विशेषज्ञ फादर ई. अब्राहम का निधन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 14 जुलाई 2021

जमशेदपुर : संसाधन प्रबंधन के विशेषज्ञ फादर ई. अब्राहम का निधन

father-abraham-passes-away
जमशेदपुर. जेवियर लेबर रिलेशन इंस्टीट्यूट (एक्सएलआरआई) के पूर्व निदेशक फादर ई. अब्राहम का निधन हो गया है.वे 70 वर्ष के थे.9 दिनों के अंदर जमशेदपुर धर्मप्रांत ने अपने दो सपूतों को खो दिया है.मानवाधिकार कार्यकर्ता फादर स्टेन स्वामी की मौत न्यायिक हिरासत में 05 जुलाई को हो गयी.आज 14 जुलाई को मानव संसाधन प्रबंधन के विशेषज्ञ फादर ई. अब्राहम की मौत हृदय गति रुक जाने से हो गयी. इससे जुड़े आलोक जौन ने कहा कि फादर अब्राहम जमशेदपुर प्रांत के 70 वर्षीय जेसुइट पुरोहित थे.अचानक हृदय गति रुकने से उनका निधन हो गया.उनका घर केरल में था.जेवियर लेबर रिलेशन इंस्टीट्यूट (XLRI) जमशेदपुर में स्थित एक शीर्ष बिजनेस मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट है, जो फादर्स ऑफ सोसाइटी ऑफ जीसस द्वारा संचालित है. उन्होंने कहा कि फादर मानव संसाधन प्रबंधन के विशेषज्ञ थे और राष्ट्रीय मानव संसाधन विकास नेटवर्क (एनएचआरडीएन) के संस्थापक सचिव थे.फादर स्टेन स्वामी एसजे और फादर अब्राहम के निधन से जेसुइट के मूल्यवान सदस्यों की संख्या कम हो गयी है.  उन्होंने कहा कि फादर ई. अब्राहम एसजे को ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन (AIMA) ने उन्हें “AIMA – केवल नोहरिया अवार्ड फॉर एकेडमिक लीडरशिप इन मैनेजमेंट एजुकेशन” 2019 प्रदान किया था.फादर अब्राहम को तीसरे ASMA वार्षिक सम्मेलन और पुरस्कार 2019 में 'AIM - ASMA लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड' से भी सम्मानित किया गया था. XLRI की स्थापना 1949 में फादर के ही द्वारा की गई थी.क्विन एनराइट, एस.जे. जमशेदपुर के स्टील सिटी में. उन्होंने एक्सएलआरआई निदेशक के रूप में अपने दशक के लंबे कार्यकाल के दौरान नए कार्यक्रमों, परिसरों, मान्यता, अनुसंधान, पूर्व छात्रों की पहुंच और कई अन्य का बीड़ा उठाया.हम प्रार्थना करते हैं कि उनकी पवित्र आत्मा को शांति मिले!

कोई टिप्पणी नहीं: