विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 5 जुलाई 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जुलाई

उर्वरको का उठाव सौराई रैक पांइट से करें, लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक सम्पन्न 


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक में बताया कि जिले में समस्त प्रकार के उर्वरकों का उठाव कार्य रैक पाइंट सौराई से सीधा किया जाएगा। जो भी खाद के रैक प्राप्त होते है वे सीधे सौराई रेल्वे स्टेशन पर ही उठाव के प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। साथ ही किस विकासखण्ड में कितना उर्वरक का वितरण किया जाना है को सूचीबद्ध कर संबंधित विकासखण्ड के लिए वाहनो से सौराई रैक पाइंट से ही सीधे भिजवाना सुनिश्चित करेंगे। कलेक्टर डॉ जैन ने जिले में उर्वरकों के भण्डारण हेतु किए गए प्रबंधो के अलावा अब तक डबललॉक में कौन-कौन से खाद भण्डारित है और उनकी मात्रा कितनी है कि भी जानकारी प्राप्त की। डीएपी खाद विदिशा जिन विकासखण्डो के डबललॉक में भण्डारित नही है उन विकासखण्डो के लिए मंगलवार को प्राप्त होने वाली रैक में से सबसे पहले भिजवाना सुनिश्चित करें के निर्देश डीएमओ श्री विनोद उपाध्याय को दिए है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री हेमंत राजपूत को निर्देश दिए है कि विदिशा नगरपालिका क्षेत्र में जो भी सडको पर डामरीकरण कार्य कराया जा रहा है उसमें उपयोग की जाने वाली डामर की गुणवत्ता का परीक्षण अवश्य करें। कलेक्टर डॉ जैन ने जिले में संचालित गौ-शालाओं की सूची तैयार कर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। उन्होंने सूची में गौ-शाला क्रियाशील है कि नहीं को रेखांकित करते हुए कितने पशुधन अभी गौ-शाला में है और उनके लिए चारे के क्या प्रबंध सुनिश्चित किए गए है इत्यादि की जानकारी लिस्टिंग सूची में अनिवार्य रूप से गौ-शालावार उपलब्ध कराई जाए ताकि ऐसी गौ-शाला जहां कम पशुधन है उन गौ-शालाओ में शहरी क्षेत्र में चौराहो पर विचरण करने वाली पशुधन को गौ-शालाओं में शिफ्ट किया जा सकें। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिला शिक्षा अधिकारी श्री अतुल मुदगल को निर्देश दिए है कि जिले में 39 शालाएं जो अन्य भवनों में संचालित हो रही है उन भवनो की सूची तैयार कर उपलब्ध कराए ताकि आवश्यकता के अनुरूप भवन स्कूलों को ही आवंटित किए जा सकें। उन्होंने कहा कि जिले में एक भी शैक्षणिक संस्था भवन विहिन ना हो के प्रबंध सुनिश्चित करें। कलेक्टर डॉ जैन ने सडको के शोल्डरो सहित अन्य क्षेत्रों पर हुए अतिक्रमण को हटाने हेतु की गई कार्यवाही की भी समीक्षा की है। लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री हेमंत राजपूत ने बताया कि पिछले सप्ताह पीडब्ल्यूडी की दस सडको से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई है। कलेक्टर डॉ जैन ने राष्ट्रीय राजमार्ग की सडको के शोल्डरो के अलावा किनारो के पेडो पर ही तार फेसिंग कर ली गई है। ततसंबंध में आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश उन्होंने एचएन के अधिकारी को दिए है। कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त विभागो के जिलाधिकारियों को सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों के निराकरण हेतु विशेष पहल करने के निर्देश दिए है उन्होंने सौ से अधिक आवेदन जिन विभागो में लंबित है उन विभागो के अधिकारियों की सायंकाल पृथक से समीक्षा करने के निर्देश नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अमृता गर्ग को दिए है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक में जिपं सीईओ श्रीमती नीतू माथुर ने ग्रामीण विकास विभाग की लंबित आवेदनों के निराकरण हेतु की गई कार्यवाही से अवगत कराया है इसी प्रकार शिक्षा, स्वास्थ्य, खाद्य, कॉ-आपरेटिव बैंक, वित्त, ऊर्जा, पीडब्ल्यूडी, पीएचई, आदिम जाति कल्याण, महिला एवं बाल विकास विभाग, श्रम, खनिज, पशु चिकित्सा, मार्कफेड, सामाजिक न्याय, जिला योजना इत्यादि विभागो के अधिकारियों द्वारा भी लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से अवगत कराया है। उक्त बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री कुमार शानू देवड़िया, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विभिन्न विभागो के अधिकारी उपस्थित रहें।


वन भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही कार्ययोजना अनुसार करें

 

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सोमवार को अनुविभाग स्तरीय अधिकारियों के यहां लंबित आवेदनों की समीक्षा वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से की है। कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त एसडीएमों से संवाद कर उनसे जाना कि उन्हें वन विभाग के द्वारा वन भूमि पर हुए अतिक्रमण की सूची उपलब्ध कराई गई है कि नहीं। नटेरन एसडीएम को छोड़कर अन्य सभी ने सूची प्राप्ति से अवगत कराया है। नटेरन एसडीएम को निर्देश दिए कि आज ही वन विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर सूची प्राप्त करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि वन भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही को अंजाम देने हेतु डेट-टू-डेट कार्ययोजना तय की गई है जिसके अनुसार कार्यो का क्रियान्वयन कराया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए है वन विभाग के द्वारा उपलब्ध कराई गई सूची का स्थलीय परीक्षण अनिवार्य रूप से करें ताकि धरातल पर किस  व्यक्ति के द्वारा कितनी भूमि पर अतिक्रमण किया गया है कि वस्तुस्थिति से भलीभांति अवगत हो सकें। उन्होंने प्रत्येक अनुविभाग क्षेत्र की सम्पूर्ण सूची मिली है कि नहीं की भी पुष्टि करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए तिथिवार क्रियान्वयन किया जाना है अतः पूरे जिले में एकरूपता हो अतिक्रमण हटाने में कोई भी कितना बडा सम्पन्न व्यक्ति हो और यदि उसके द्वारा अतिक्रमण किया गया है तो हटाने में किसी भी प्रकार का संकोच ना करें। कलेक्टर डॉ जैन ने उचित मूल्य दुकानो के माध्यम से हितग्राहियों को दो योजना प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना एवं राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा अधिनियम के तहत खाद्यान्न का वितरण एक साथ किया जाएगा। राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा अधिनियम के तहत प्रति हितग्राही को पांच किलोग्राम एक रूपए प्रतिकिलो ग्राम की दर से खाद्यान्न गेंहू तथा चावल का वितरण किया जाएगा। जबकि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत भारत सरकार के द्वारा पांच किलोग्राम अतिरिक्त खाद्यान्न निःशुल्क प्रति माह प्रति हितग्राही को मई 2021 से नवम्बर 2021 तक वितरित किया जाना है। जिसमें मई एवं जून का अतिरिक्त खाद्यान्न वितरित किया जा चुका है किन्तु कुछ दुकानो से शिकायते प्राप्त हो रही है अतः इसके परीक्षण कराना सुनिश्चित करें। प्रत्येक उचित मूल्य दुकान के लिए एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए है अतः नोडल अधिकारी अपनी उपस्थिति में अन्न उत्सव की तर्ज पर खाद्यान्न वितरण कराना सुनिश्चित करेंगे। इस कार्य की सतत मानिटरिंग व पारदर्शिता पर बल देते हुए कलेक्टर ने निरीक्षण व पर्यवेक्षण के लिए प्रत्येक अनुविभाग स्तर पर कार्य सम्पादित किए जाएं ताकि किसी भी प्रकार की कालाबाजारी संभव ना हो सकें। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि जिले में कोविड वैक्सीन के लिए आयोजित होने वाले टीकाकरण सत्र देर रात्रि तक संचालित ना हो जैसे ही वैक्सीन प्राप्त होती है अविलम्ब संबंधित हितग्राहियों का वैक्सीनेशन कार्य शुरू करें ताकि किसी भी हितग्राही को अनावश्यक रूप से विलम्बता ना हो। कलेक्टर डॉ जैन ने कोविड वैक्सीन टीकाकरण कार्यो की ऑन लाइन इंट्री पर विशेष जोर देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जेआरएस को उपरोक्त कार्य की जिम्मेवारी सौंपी जाए। उन्होंने प्रत्येक टीकाकरण सत्र पर कम से कम दो-दो आपरेटर आन लाइन इंट्री करने हेतु तैनात किए जाएं। कलेक्टर डॉ जैन ने पौधरोपण कार्य के लिए राज्य स्तर द्वारा कार्यक्रम अनुसार जिले में भी मूर्तरूप दिया जाए। उन्होंने प्रत्येक गौ-शाला परिसर में अधिक से अधिक पौधरोपण करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में भी पौधरोपण कार्य आमजनों की व्यक्तिगत रूचि अनुसार कराया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जो पौधे रोपित किए जाते है वे सर्वाइड हो। यह प्रमुख जबावदेंही हम सबकी होगी। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने समस्त एसडीएम व तहसीलदारों को वीडियो कांफ्रेसिंग के दौरान निर्देश दिए है कि राजस्व प्रकरणों के निराकरण हेतु स्थानीय स्तर पर विशेष अभियान संचालित करें ताकि लंबित प्रकरणो की संख्या में कमी आए। कलेक्टर डॉ जैन ने राजस्व अधिकारियों से कहा है कि अविवादित प्रकरणों का निराकरण अभियान के रूप में कराया जाना सुनिश्चित करें। भ्रमण के दौरान यदि कही अविवादित प्रकरण लंबित पाए जाते है तो संबंधित बाबू के साथ-साथ अधिकारी पर कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए है कि सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों के निराकरण हेतु अनुविभाग स्तर अन्य विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर शीघ्र निराकरण कराना सुनिश्चित करें। इस दौरान अनुविभाग स्तर पर विभिन्न विभागो में लंबित आवेदनों पर निराकरण के संबंध में की गई कार्यवाही से संबंधित एसडीएम के अलावा अन्य अधिकारियों ने जानकारियां प्रस्तुत की है। एनआईसी के व्हीसी कक्ष में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री कुमार शानू देवडिया, विदिशा एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विदिशा शहरी व ग्रामीण तहसीलदार, मुख्य नगरपालिका अधिकारी, सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक, खाद्य विभाग, श्रम विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहें।


वैध कालोनी प्रक्रिया पूर्ण पारदर्शी हो 


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने खण्ड स्तरीय वीडियों कांफ्रेसिंग समीक्षा के दौरान कहा कि निकाय क्षेत्रों में वैध कालोनी के लिए निर्धारित प्रक्रिया पूर्ण पारदर्शी हो ताकि आमजन वैध कालोनी के लिए क्या-क्या मापदण्ड निर्धारित है से भलीभांति अवगत हो सकें। उन्होंने अपर कलेक्टर को निर्देश दिए है कि वैध कालोनी के पारदर्शी तरीको पर आधारित एक पीपीटी तैयार कर समस्त निकायो को उपलब्ध कराई जाए ताकि अवैध कालोनियों की संख्या में कमी हो सकें। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि कालोनी विकास की अनुमति जो भी कालोनाइजर चाहते है वे कौन-कौन से नियमों का पालन करना सुनिश्चित करें। उन बिन्दुओं से स्वंय भलीभांति अवगत हो साथ ही कालोनी में रहवासी भी जान सकें। 


मलेरिया से बचाव की जानकारी दी गई


विदिशा विकासखण्ड के पौआनाला उप स्वास्थ्य केन्द्र में मलेरिया से बचाव की जानकारी दी गई है। आयोजित इस विशेष शिविर में पौआनाला, उदलखेडी, हिनोतिया, पारदी, महुआखेडी, कबूला, भूतपरासी, सिलपरी, बोरियाखेडी, सलूज क्षेत्र के रहवासी मौजूद रहें।  शिविर में जिला मलेरिया अधिकारी श्री बीएम वरूण ने सर्वेलेन्स के आयोजन व उद्धेश्यों पर गहन प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि पौआनाला उप स्वास्थ्य केन्द्र क्षेत्र के प्रत्येक मलेरिया संभावित रोगियों अलाक्षिणिक, छूटे, छुपे हुए संभावित रोगियों की खोज, जांच एवं जांच उपरांत पॉजिटिव पाए गए रोगियों को पूर्ण उपचार सुनिश्चित कराकर मलेरिया संक्रमण से निजात दिलाना है।  जिला मलेरिया अधिकारी ने जनसमुदाय को मलेरिया से बचाव एवं रोकथाम के उपायों से अवगत कराते हुए उपयोग करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि कोई भी बुखार से पीडित व्यक्ति हो तो वह इस प्रकार के केम्प में मलेरिया के जांच अवश्य कराएं। दवाईयां निःशुल्क प्राप्त करें।

कोई टिप्पणी नहीं: