बिहार : राजेश्वर, आयुषी कुमारी ने SXCMT टेबल टेनिस टूर्नामेंट जीता - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 12 अगस्त 2021

बिहार : राजेश्वर, आयुषी कुमारी ने SXCMT टेबल टेनिस टूर्नामेंट जीता

sxcmt-students-won-tt-turnament
पटना. कॉमर्स (प्रोफेशनल) के प्रथम वर्ष के छात्र राजेश्वर दयाल ने बुधवार को खेले गए फाइनल मैच में एडविन गोम्स को हराकर लड़कों का एकल खिताब जीता. दयाल ने बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन के प्रथम वर्ष के छात्र गोम्स को 11-6,11-5 से हराया.वहीं लड़कियों के वर्ग में, बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन द्वितीय वर्ष की छात्रा आयुषी कुमारी ने खिताबी मुक़ाबला में कंप्यूटर एप्लीकेशन की प्रथम वर्ष की छात्रा प्रीति को हराकर सर्वोच्च स्थान हासिल किया. राजेश्वर दयाल और आयुषी कुमारी ने बुधवार, 11 अगस्त, 2021 को यहां संपन्न हुए सेंट जेवियर्स कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी (SXCMT) टेबल टेनिस टूर्नामेंट जीता. कॉमर्स (प्रोफेशनल) के प्रथम वर्ष के छात्र राजेश्वर दयाल ने बुधवार को खेले गए फाइनल मैच में एडविन गोम्स को हराकर लड़कों का एकल खिताब जीता. दयाल ने बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन के प्रथम वर्ष के छात्र गोम्स को 11-6,11-5 से हराया. लड़कियों के वर्ग में, बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन द्वितीय वर्ष की छात्रा आयुषी कुमारी ने खिताबी मुक़ाबला में कंप्यूटर एप्लीकेशन की प्रथम वर्ष की छात्रा प्रीति को हराकर सर्वोच्च स्थान हासिल किया. आयुषी ने अच्छी शुरुआत की और पहला गेम 11-4 बिना किसी कठिनाई के जीता । उसने दूसरे गेम में भी अपनी गति बनाए रखी और मैच को 11-7 के स्कोर के साथ समेटा. प्रतियोगिता का आयोजन महाविद्यालय की खेल समिति द्वारा किया गया.खेल समिति के संरक्षक श्री फरहान खालिद ने कहा कि टूर्नामेंट 9 अगस्त से शुरू हुआ था.उन्होंने कहा कि तीन दिवसीय टूर्नामेंट में कुल मिलाकर 20 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया.फाइनल मैच के दौरान कार्यकारी रेक्टर, फादर मार्टिन पोरस एसजे, प्रिंसिपल फादर टी निशांत एसजे और कुछ फैकल्टी सदस्य मौजूद थे.

कोई टिप्पणी नहीं: