मधुबनी : गन्ना उद्योग एवं विधि विभाग मंत्री ने की समीक्षा बैठक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 3 सितंबर 2021

मधुबनी : गन्ना उद्योग एवं विधि विभाग मंत्री ने की समीक्षा बैठक

minister-inspaction-meeting-madhubani
मधुबनी, 03 सितम्बर, आज दिनांक-03.09.2021 को श्री प्रमोद कुमार, माननीय मंत्री, गन्ना उद्योग एवं विधि विभाग, बिहार सरकार के अध्यक्षता में धार्मिक न्यास बोर्ड के परिसम्पत्ति, गन्ना उद्योग एवं क्रम में कार्य का निष्पादन करने के संबंध में सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि के साथ समाहरणालय सभाकक्ष में समीक्षात्मक बैठक सम्पन्न हुई। इस दौरान माननीय श्री हरिभूषण ठाकुर ‘बचौल’, सदस्य, बिहार विधानसभा, माननीय श्री घनश्याम ठाकुर, सदस्य, बिहार विधान परिषद्, आयुक्त, दरभंगा प्रमण्डल, दरभंगा के सचिव, उप निदेशक, गन्ना विभाग, अपर समाहर्त्ता, मधुबनी, उप विकास आयुक्त, मधुबनी, सभी जिला, अनुमण्डल एवं अंचल स्तरीय पदाधिकारी इत्यादि उपस्थित थे। समीक्षा के दौरान माननीय मंत्री जी के द्वारा धार्मिक न्यास बोर्ड के परिसम्पत्ति पर विशेष चर्चा करते हुए आमजनों से अपील किया गया कि  जो भी न्यास बोर्ड से संबंधित परिसम्पत्तियाँ है, उसकी सूचना जिला प्रशासन, मधुबनी को दें। साथ हीं इस परिसम्पत्ति को लेकर माननीय मंत्री जी द्वारा कहा गया कि इस परिसम्पत्ति का संरक्षण एवं संवर्धन करना सरकार की नैतिक जिम्मेवारी है, इस कार्य के निष्पादन हेतु हमारे सभी अधिकारी तत्पर है तथा कहा कि ये इसलिए जरूरी है कि माननीय मुख्यमंत्री महोदय के आदेश के आलोक में भूमि सर्वेक्षण का कार्य करवाया जा रहा है, जिसमें से बिहार राज्य अंतर्गत 38 जिलों में से 20 जिलों में सर्वेक्षण का कार्य जारी है इसी कार्य के साथ-साथ हमारी वैसे परिसम्पत्ति जो अनुबंधित/निबंधित नहीं है, उसे चिन्हित कर रजिस्ट्रेशन करवाया जा सके। साथ हीं चिनी मील, लोहट एवं सकरी दोनों  मीलों के कर्मचारियों का वेतन सरकार द्वारा दिया गया लेकिन कर्मचारी का ऑडिट नहीं होने के कारण उसे भुगतान नहीं किया गया इस संबंध में जिला प्रशासन को निदेश दिया गया कि जिला मुख्यालय में हीं एक स्थान देकर भुगतान की प्रक्रिया का निष्पादन डेढ़ माह में करने हेतु निदेशि किया गया।  उल्लेखनिय है कि माननीय मंत्री जी का स्वागत उप विकास आयुक्त द्वारा मिथिला के पारंपरिक तरीका पाग, शॉल, पुष्पगुच्छ एवं मधुबनी पेंटिंग देकर किया गया। साथ हीं आयुक्त, दरभंगा प्रमण्डल, दरभंगा के सचिव, माननीय श्री हरिभूषण ठाकुर ‘बचौल’, सदस्य, बिहार विधानसभा, माननीय श्री घनश्याम ठाकुर, सदस्य, बिहार विधान परिषद् को भी मिथिला पेंटिग देकर उनका स्वागत किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: