बिहार : जदयू और भाजपा के प्रवक्ता कोचिंग लें पहले : राजद - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 12 सितंबर 2021

बिहार : जदयू और भाजपा के प्रवक्ता कोचिंग लें पहले : राजद

jdu-bjp-spoksperson-take-coching
पटना : राजद के प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के एक विडियो को लेकर बिहार निर्वाचन आयोग के यहाँ शिकायत करने वाले जदयू और भाजपा नेताओ को विशेष कोचिंग करने की सलाह दी है। राजद प्रवक्ता ने कहा कि चुनाव आयोग द्वारा चरण वार आचार संहिता लागू किया गया है। नेता प्रतिपक्ष का वीडियो जहाँ का है, वहाँ दिसम्बर में चुनाव है। इसलिए वहाँ अभी आचार संहिता नहीं लगा है। साथ ही पंचायत का चुनाव नही तो दल के आधार पर हो रहा है और न तेजस्वी जी पंचायत का चुनाव लड़ने जा रहे हैं । इसलिए यह वीडियो कहीं से भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है। सरकार की सहायता जिन जरूरतमंदों को नहीं पहुंच रही है उसे तेजस्वी यादव द्वारा किसी प्रकार का मदद पहुंचाना, यदि जदयू भाजपा नेताओं की नजर में गलत है तो उनकी सरकार है वे तेजस्वी यादव को गिरफ्तार कर लें । बता दें कि तेजस्वी यादव का रुपया बांटते हुए वीडियो वायरल होने के बाद भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि लालू परिवार के किसी सदस्य को यदि राजद शासन के समय चारा-अलकतरा घोटालों और काम के बदले जमीन लिखवाने जैसे भ्रष्टाचार से कमाई गई सम्पत्ति से गरीबों की कुछ मदद करनी होती, तो वे अच्छे स्कूल-अस्पताल खोलवाते। तेजस्वी यादव ने नकद रुपये बाँट कर गरीबों की मदद नहीं की, बल्कि भिखारी की तरह उनका अपमान किया। नेता प्रतिपक्ष का यह आचरण आचार संहिता का उल्लंघन है। साथ ही जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने भी इस वीडियो को लेकर शिकायत की थी। नीरज ने कहा था कि यह चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मामला है। निर्वाचन आयोग जल्द इसपर एक्शन ले।

कोई टिप्पणी नहीं: