सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 6 अक्तूबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 अक्टूबर

गांधी रोड पर होगा सार्वजनिक शौचालय और पार्किंग का इंतजाम-विधायक सुदेश राय


sehore news
सीहोर। बुधवार को विधायक सुदेश राय ने स्थानीय लोगों, जनप्रतिनिधियों, नगर पालिका सीएमओ संदीप श्रीवास्तव के साथ स्थानीय लोगों द्वारा की गई शिकायतों के निराकरण हेतु छावनी क्षेत्र के बाजारों में उन स्थलों का निरीक्षण किया। गांधी रोड और चरखा लाइन के बीच की गली में सीमेंट कांक्रीट, सार्वजनिक शौचालय निर्माण सहित अन्य दो स्थानों पर दो पहिया वाहन पार्किंग बनाने का निर्णय लिया गया। आगामी दीपावली के त्योहार पर भी बाजार की व्यवस्था सुचारू रखने के लिए भी निर्णय लिए गए। इसके अलावा कोतवाली चौराहे पर नाले के पास खाली पड़े स्थान पर भी वाहनों के लिए पार्किंग बनाए जाने का भी निर्णय लिया गया। क्षेत्रवासियों द्वारा अनेक जगह पर किए जा रहे स्थाई एवम अस्थाई अतिक्रमणों को भी प्राथमिकता के आधार पर हटाए जाने के लिए भी अमले को निर्देशित किया गया। इस दौरान नगरपालिका के इंजीनियर, नोडल अधिकारी, सफाई निरीक्षक,अतिक्रमण दल प्रभारी सहित अनेक शिकायतकर्ता उपस्थित रहे।

लोगों ने कहा पार्किग की समस्याओं का हो निराकरण

बुधवार को नगर भ्रमण कर रहे विधायक श्री राय को नागरिकों ने बताया कि शहर की आबादी बढऩे के साथ ही समस्याओं में भी तेजी से इजाफा हुआ है। इसमें सबसे बड़ी समस्या पार्किंग की है। सवा लाख की आबादी के बीच आलम यह है कि नगर में एक भी जगह पर पार्किंग के कोई इंतजाम नहीं है। ऐसे में दो और चार पहिया वाहन जहां भी थोड़ी बहुत खाली जगह मिली वहां वाहनों को पार्क कर आगे बढ़ जाते हैं। इन वाहनों के कारण दिनभर जाम लगने से आने जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस समस्या को दूर करने कई बार लोगों ने अफसर-जनप्रतिनिधियों को शिकायत दर्ज कराई है। लापरवाही का आलम यह है कि कोई निराकरण नहीं निकल पाया है। आगामी दिनों में शादी विवाह, मांगलिक कार्य और धार्मिक अनुष्ठान का आगाज होते ही बाजार में भीड़ बढ़ी तो फिर अव्यवस्था की स्थिति निर्मित हो जाएगी। बावजूद इसके कोई ध्यान नहीं दे रहा है। बड़ा बाजार, गांधी रोड, पान चौराहा, तहसील दौराहा पर सबसे बेकार स्थिति है। गांधी रोड पर जाम जैसी स्थिति निर्मित हो जाती है। 


वाद विवाद स्पर्धा-पक्ष में सर्वेश व विपक्ष में संतोष अव्वल


sehore news
सीहोर। शहर के सैकड़ाखेड़ी स्थित संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र और सामाजिक न्याय विभाग के संयुक्त तत्वाधान में बुधवार को मद्य निषेध सप्ताह के अंतर्गत नशा एक बीमारी है विषय पर वाद-विवाद संगोष्ठ प्रतियोगिता का आयोजित कराई गई थी। इस मौके पर सामाजिक न्याय विभाग के उपसंचालक श्रवण कुमार पचौरी ने कहा कि नशा का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। पहले युवावस्था में इस प्रकार की दुष्प्रवृति देखी जाती थी, लेकिन अब तो किशोरारावस्था में भी ऐसी दुष्प्रवृति देखी जा रही है जो काफी ङ्क्षचता का विषय है। इससे जहां नशा सेवन करने वाले का स्वास्थ्य और चरित्र खराब होता है, वहीं परिवार में कलह बढ़ता है। यह समाज को भी दूषित करता है। बताया कि युवा वर्ग में सिगरेट और गुटखा का लत अधिक देखा जा रहा है। जिस कारण उन्हें तरह तरह की बीमारियों का शिकार होना पड़ता है। वहीं इस दौरान वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. बीके चतुर्वेदी ने कहा कि जिस परिवार का मुखिया या सदस्य नशा करते है उस परिवार में नशा परिवार के विघटन का कारण बनता हैं। इसलिए लोगों को सुखी परिवार के लिए इससे दूर रहना चाहिए। नशे के घरेलू हिंसा के लिए जिम्मेदार बताते हुए कहा कि जागरूकता से ही इससे समाज को दूर किया जा सकता हैं। उन्होंने नशे से होने वाली हानि पर अपने विचार व्यक्त किए और नशे से होने वाले मनोवैज्ञानिक प्रभावों की जानकारी दी। इस संबंध में केन्द्र के संचालक राहुल सिंह ने बताया कि बुधवार को संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र में मद्य निषेध सप्ताह के दौरान संगोष्ठी के बाद वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था, इस मौके पर अनेक हितग्राहियों ने नशे से होने वाली हानि पर अपने विचार व्यक्त किए और नशे से होने वाले मनोवैज्ञानिक प्रभावों की जानकारी दी। बताया कि नशे के फैशन व मादक पदार्थों के सेवन, प्रचलन के कारण विद्यार्थियों के करियर में इसका दुष्प्रभाव पड़ता है। जिससे विद्यार्थी की एकाग्रता में कमी आती है साथ ही कई तरह की शारीरिक व मानसिक बीमारियों से भी युवा ग्रसित हो जाते हैं। नशा न केवल एक जीवन प्रभावित करता है बल्कि इसका असर पूरे परिवार व समाज पर भी पड़ता है। वहीं इस दौरान निर्णायक मंडल ने पक्ष में सर्वेश और विपक्ष में संतोष को अव्वल घोषित किया। कार्यक्रम का सफल संचालन केन्द्र के परामर्शदाता आनंद व्यास ने किया, वहीं आभार व्यक्त केन्द्र प्रभारी नटवर कुशवाहा ने व्यक्त किया। कार्यक्रम की व्यवस्था वार्ड इंजार्च अमित जैन, समाजसेवी संतोष सिंह बैस, श्रवण सिंह संधु, मनीष सोनी, बाबू सिंह संधू, अंकित अवस्थी, रितेश महेश्वरी आदि शामिल थे। 

जिला कांग्रेस कार्यालय में मनाया गया मध्य प्रदेश, कांग्रेस कमेटी समाज कल्याण प्रकोष्ठ का प्रथम स्थापना दिवस


sehore news
सीहोर। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी समाज कल्याण प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष महेंद्रपुरी गोस्वामी के निर्देशानुसार बुधवार को जिला कांग्रेस कार्यालय सीहेार में समाज कल्याण प्रकोष्ठ का प्रथम स्थापना दिवस केक काटकर मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष नवेद खान के द्वारा की गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ बलबीर तोमर, विशिष्ठ अतिथि के रूप में जिला कांग्रेस कार्याकारी अध्यक्ष नईम नबाव, विशेष अतिथि के रूप में पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष राजेश भूरा यादव उपस्थित रहे। स्वागत भाषण देते हुए समाज कल्याण प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष नवेद खान ने समाज कल्याण प्रकोष्ठ की स्थापना तथा उसके गठन के उद्देश्यों एवं आज के दौर में समाज कल्याण प्रकोष्ठ की प्रासंगिकता आदि के बारे में सभी उपस्थित कांग्रेसजनों को विस्तार से जानकारी देते हुए बताया की आज हीं के दिन एक वर्ष पहले समाज के सभी वर्गो विशेषकर कमजोर एवं पिछड़े तबको के कल्याण के लिए कांग्रेस पार्टी के द्वारा समाज कल्याण प्रकोष्ठ की स्थापना की गई थी तथा पिछले एक वर्ष के दौरान प्रकोष्ठ अपने उद्देश्यों की प्राप्ती की दिशा में तेजी से आगे बड़ा है। नवेद खान ने सभी कांग्रेसजनों का सहयोग के लिए धन्यवाद दिया तथा आगे भी सहयोग बनाए रखने की अपेक्षा की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ बलवीर तोमर ने कांग्रेस के सभी प्रकोष्ठों एवं अनुषांगिक संगठनों के महत्व एवं उनकी उपयोगिता के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए सभी उपस्थितजनों से कहा की कांग्रेस पार्टी एक शरीर है तो यह सभी संगठन उसके हाथ पेर या अन्य अंगों की तरह है। यदी कोई अंग कमजोर पड़ता है तो यह दूसरे अंगों और शरीर की जिम्मेदारी है की उस कमजोर अंग को एैसे हीं नहीं छोडे बल्की सब मिलकर उस को मजबूती प्रदान करें। तभी शरीर रूपी हमारी पार्टी मजबूती से उभरकर सामने आएगी और पुन: नई उचाईयों को प्राप्त करेगी। डॉ तोमर ने आगे कहा की वर्तमान कें इस दौर में आज देश को एक मजबूत विपक्ष की आवश्यकता है यह भूमिका केवल कांग्रेस पार्टी हीं निभा सकती है। इस लिए में सभी कांग्रेसजनों का आहवान करता हुं की सभी कांग्रेसजन एक साथ मिलकर कंधे से कंधा मिलाकरर चले और कांग्रेस पार्टी को मजबूत बनाने में अपना योगदान प्रदान करें। कार्यक्रम को कई अन्य वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने भी संबोधित किया। अंत में जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ बलबीर तोमर ने सफल आयोजन तथा सफल कार्याकाल के लिए नवेद खान को बधाई दी एवं फूल मालाओं से उनका सम्मान किया। कार्यक्रम का संचालन सुनील दुबे ने किया तथा आभार व्यक्त पंकज शर्मा ने किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से राजेंद ठाकुर, सीताराम भारती, राजेंद नागर,मुकेश ठाकुर, शंकर खरे, रमेश राठौर, मुदुल तोमर, कपिल गौर, अजय रैकवार, तुलसी राठौर, हर्षदीप सिंह, विनोद राठौर, भगत तोमर, मुकीन कुरैशी, नायब खान, अनीस कुरैशी, पूरन शाक्य, नवेद नबाव, तौहिद कुरैशी,ओम सोनी, पियूष मालवीय  मेहंदी हसन,सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित रहे।


150 साल से अधिक प्राचीन प्रसिद्ध मरी माता मंदिर, मरी माता मंदिर में आस्था के साथ मनाया जाएगा नवरात्रि पर्व, हर रोज किया जाएगा दिव्य यज्ञ



sehore news
सीहोर। शहर के विश्रामघाट मां चौसट योगिनी मरी माता मंदिर पर बुधवार को मंदिर के यहां पर माता का विशेष श्रृंगार किया गया। इसके अलावा पितृ मोक्ष अमावस्या पर सुबह दिव्य अनुष्ठान का आयोजन किया गया। इस मौके पर मंदिर के पुजारी उमेश शर्मा के मार्गदर्शन में आधा दर्जन से अधिक जोड़ों ने आरती और हवन पूजन किया। वही गुरुवार से प्रतिदिन दिव्य यज्ञ का आयोजन भी किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए मंदिर के व्यवस्थापक गोविन्द सिंह मेवाड़ा ने बताया कि उक्त मंदिर करीब 150 सालों पुराना है और यहां पर नव रात्रि पर्व आस्था और उत्साह के साथ मनाया जाता आ रहा है, लेकिन प्रशासन के आदेश अनुसार इस वर्ष सादगी के साथ पूजा-अर्चना की जाएगी। उन्होंने बताया कि माता स्वयं प्रकट हुई है। उनकी दादी ओटले पर माता की पूजा अर्चना करती थी, इसके बाद अब इस मंदिर में पांचवीं पीढ़ी पूजा कर रही है।  करीब दो एकड़ परिसर में बने इस देवी धाम में हर रोज सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु शामिल होते है। गुरुवार से नवरात्रि के पावन अवसर पर हर रोज सुबह यज्ञ का आयोजन किया जाएगा और महाष्टमी पर सादगी के साथ रात्रि बारह बजे महानिशा की आरती की जाएगी। इसके अलावा महाप्रसादी का आयोजन भी किया जाएगा। आयोजन को लेकर समाजसेवी  रोहित मेवाड़ा, हीरु बेलानी और मनोज दीक्षित मामा सहित अन्य लोगों ने चर्चा की। पंडित श्री शर्मा ने बताया कि इस बार मां दुर्गा घोड़े पर सवार होकर आएंगी। हिंदू पंचांग के अनुसार कलश स्थापना के लिए अभिजित मुहूर्त सबसे शुभ माना गया है। मान्यता है कि इस मुहूर्त में उपस्थिति अनेक दोष अपने आप दूर हो जाते हैं. अभिजित मुहूर्त गुरुवार को सुबह 11 बजकर 37 मिनट से 12 बजकर 23 मिनट तक रहेगा. इसके अलावा अगर कोई सुबह के समय में कलश स्थापन करना चाहता है तो छह बजकर 54 मिनट से 9 बजकर 14 मिनट के बीच कर सकते हैं. इस बार नवरात्रि में दो तिथियां एक दिन पडऩे से 8 दिन की नवरात्रि होगी।


कन्या पूजन का होता है विशेष महत्व
नवरात्रि में कन्या पूजन कराने का विशेष महत्व होता है। जो लोग नौ दिनों के लिए व्रत रखते हैं या दुर्गाष्टमी के दिन व्रत रखते हैं वे कन्या पूजन करते है. कुछ लोग नवमी के दिन भी कन्या पूजन करते हैं। कन्या पूजन के दिन जातक नौ कन्याओं को मां दुर्गा के नौ स्वरूप मानकर पूजा करते हैं। 



संभाग स्तरीय मिलन समारोह को लेकर एबीडीएम ने की चर्चा, सीहोर ने राजगढ़ के पदाधिकारियों के साथ बनाई रूप रेखा



sehore news
सीहोर। अखिल भारतीय धोबी रजक महासंघ की युवा और वरिष्ठ इकाई आगामी दिनों में संभाग स्तरीय दीपावली मिलन समारोह का आयोजन करेगी। कार्यक्रम को लेकर एबीडीएम युवा इकाई के संभाग अध्यक्ष गोविंद मालवीय, सीहोर जिला अध्यक्ष राकेश मालवीय, कोषाध्यक्ष हेमंत चिंटू मालवीय बैठक में शामिल होने राजगढ़ पहुंचे। जहां पर राजगढ़ के सदस्यों ने पुष्प माला पहनाकर स्वागत सम्मान किया। वरिष्ठ इकाई के जिला अध्यक्ष डालचंद रजक, युवा इकाई अध्यक्ष रामस्वरूप रजक व अन्य पदाधिकारियों के साथ कार्यक्रम आयोजन को लेकर चर्चा की। चर्चा के दौरान सभी पदाधिकारियों ने निर्णय लिया कि आगामी दिनों में समाज का दीपावली मिलन समारोह संभाग स्तर पर राजगढ़ जिले में आयोजित किया जाएगा। जिसमें संभाग में आने वाले सभी जिलों के समाज जन शामिल होंगे। संभाग अध्यक्ष श्री मालवीय ने बैठक को संबोधित करते हुए कहां की एबीडीएम के सभी कर्मठ सदस्य सामाजिक स्तर पर होने वाले कार्यक्रमो में बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले। सामाजिक कार्य में कुछ लोग विघ्न डालने का काम करते हैं। ऐसे लोगों को नजरअंदाज कर हमें पूरी इमानदारी और लगन के साथ समाज हितेषी कार्यों को आगे बढ़ाना है। ऐसे लोग हमारा मनोबल नहीं गिरा सकते। राजगढ़ जिला अध्यक्ष श्री रजक ने कहा कि पहली बार प्रदेश स्तरीय अधिवेशन भोपाल संभाग में आयोजित हुआ। वह आयोजन पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस आयोजन से हमारे समाज को आगे बढ़ने में एक नई दिशा मिली है। हम सभी सामाजिक लोग इसी तरह एक दूसरे के साथ मिलकर समाज में फैली कुरीतियों को दूर करने का प्रयास करेंगे। और समाज को आगे बढ़ाने हर संभव प्रयास करेंगे। आयोजित बैठक के दौरान राजगढ़ वरिष्ठ इकाई अध्यक्ष डालचंद रजक, युवा इकाई अध्यक्ष रामस्वरूप रजक, दिनेश पटेल, कैलाश चंद्र रजक, राजेश रजक, मदन रजक, दिनेश पटेल, घिसा लाल रजक, कैलाश परमार, सुनील रजक, मोहन रजक, संजू रजक, दुर्गा प्रसाद रजक, नारायण रजक, दीपक लश्करी, संजू रजक सहित एबीडीएम के सदस्य व समाज के अन्य लोग उपस्थित थे।



भागवत कथा में उमड़ा आस्था का सैलाब, महाप्रसादी का किया वितरण



sehore news
सीहोर। भगवान के प्रति उसका अनुराग इतना तीव्रतम होता है कि उसे यत्र-तत्र-सर्वत्र भगवान ही नजर आते हैं। भक्ति से भक्त अपने आपको परमात्मा में विलीन कर लेता है। परमात्मा के सिवा उसे कुछ भी दिखाई नहीं देता है। उक्त विचार शहर के छोटी ग्वालटोली यादव धर्मशाला के समीपस्थ जारी सात दिवसीय भागवत कथा के अंतिम दिन पंडित आकाश मिश्रा ने कही। उन्होंने कहा कि श्रीकृष्ण का जीवन किसी सबक से कम नहीं। उनके सबक समझने में आसान होने के बावजूद बेहद अर्थपूर्ण हैं। श्री कृष्ण ने अपने जीवन में हर रिश्ते को बेहद सरलता के साथ परिभाषित किया है और उसे ईमानदारी से निभाया है। मित्रता में जाति, धर्म, ऊंच-नीच, गरीबी-अमीरी नहीं होती। मित्रता में छल, कपट भी नहीं होता। मित्रता हर रिश्ते से ऊपर होती है। इस बात को स्वयं भगवान श्रीकृष्ण ने सुदामा से अपनी दोस्ती का निर्वहन कर उदाहरण प्रस्तुत किया है। भागवत कथा के अंतिम दिन बुधवार को उन्होंने भगवान श्री कृष्ण और भक्त सुदामा की मित्रता और अन्य विषयों का वर्णन किया। पंडित श्री मिश्रा ने कहा कि रुकमणी द्वारा पत्र के माध्यम से ब्राह्मण के हाथों श्रीकृष्ण को संदेश भेजा गया कि मेरे परिजन मेरा विवाह मेरी इच्छा के विरुद्व अन्यत्र कर रहे हैं, जबकि मेरा आपसे जन्म जन्मांतर का संबंध है। मैं आपको पतिदेव के रूप में वरण कर चुकी हूं। अत: आप मुझे यहां से ले जाकर विवाह कीजिए। तब श्रीकृष्ण, रुकमणी को ले जाकर विवाह करते हैं। भागवत कथा का मूल उद्देश्य है कि भगवत भक्ति से वास्तविक मोक्ष प्राप्त बताया है। भागवत कथा का श्रवण करने से हमारे मन में आने वाले कु-विचार दूर हो जाते है। उन्होंने कहा कि स्वयं भगवान कहते हैं- मैं न तो योगियों के हृदय में वास करता हूं और न ही स्वर्ग में रहता हूं अपितु मैं वहीं रहता हूं जहां मेरे भक्त मेरा गुणगान करते हैं। इसीलिए रामानुज जैसे आचार्य भक्तियोग को ही श्रेष्ठ मानते हैं। भागवत कथा के अंतिम दिन हवन-पूजन के पश्चात आरती और महा प्रसादी का वितरण किया गया। इस मौके पर आयोजन समिति के गनपत पहलवान यादव, गोपाल यादव, तारा यादव, सीताराम यादव, हरीश राठौर, राहुल यादव, सन्नी यादव, ऊंकार यादव, कमलेश यादव, चुन्नी यादव, पिन्टू रावत, राधेश्याम वकील, रामदयाल पहलवान, रमेश पटेल, भगवान दास, लक्ष्मण, पद्युमन पटेल और मुन्ना यादव आदि शामिल थे।



विधायक श्री राय ने वितरित किया भू-अभिलेख अधिकार पत्र



sehore news
स्वामित्व योजना के तहत आयोजित प्रदेश स्तरीय वर्चुअल कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हरदा में संबोधित किया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अधिकार अभिलेखों का वितरण कर हरदा, डिंडौरी और सीहोर जिले के अधिकार अभिलेख प्राप्त हितग्राहियों से वर्चुअल संवाद भी किया।  कलेक्ट्रेड के एनआईसी कक्ष में सीहोर विधायक श्री सुदेश राय, श्री राजकुमार गुप्ता, श्री सीताराम यादव, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने कार्यक्रम को सुना। विधायक श्री राय ने ग्राम भगवानपुरा के हितग्राहियों को भू-अभिलेख अधिकार पत्र वितरित किये।


प्रत्येक अमावस्या को नही होगी लहसुन-प्याज की नीलामी


फल-सब्जी व्यापारी एसोसिएशन मंडी सीहोर में लहसुन-प्याज हम्माल संघ द्वारा अमावस्या को अवकाश रखने से कार्य नहीं हो सका। अब मण्डी प्रांगण सीहोर में प्रति अमावस्या को लहसुन-प्याज की नीलामी नही की जाएगी।



प्रत्येक माह के द्वितीय एवं चतुर्थ शनिवार को नहीं होगी नीलामी



दी ग्रेन मर्चेंट एसोसिएशन मंडी सीहोर के व्यापारी एसोसिएशन के निर्णय अनुसार भुगतान सम्बन्धी समस्या आने के कारण अब पुनः प्रत्येक माह के द्वितीय एवं चतुर्थ शनिवार को कृषि उपजों का नीलामी कार्य बंद रखा जाएगा। अब पूर्ववत मंडी कार्यालय प्रांगण सीहोर में प्रत्येक माह के द्वितीय एवं चतुर्थ शनिवार को अवकाश रहेगा।



संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र में वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित



मद्य निषेध सप्ताह के अंतर्गत सामाजिक न्याय विभाग द्वारा संचालित संकल्प नशामुक्ति केन्द्र में वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता में पक्ष-विपक्ष के प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। सामाजिक न्याय विभाग  के उपसंचालक डॉ. श्रवण कुमार पचौरी, डा. बीके चतुर्वेदी ने जानकारी दी। इस अवसर पर विकलांग पुनर्वास केन्द्र से प्रशासनिक अधिकारी श्रीमति अंकिता ठाकुर सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।



जिले में आज कोई भी व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य



पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 764 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 204, श्यामपुर से 170,  नसरूल्‍लागंज 94, आष्टा से 194,  बुधनी से 44 तथा इछावर से 58 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 274138 हैं। जिनमें से 262266 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 726 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1659 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।



मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में योजनाओं पर बेहतर तरीके से अमल - प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी
  • प्रधानमंत्री श्री मोदी ने बुदनी की हितग्राही से किया ऑनलाइन संवाद
  • लैंड डिजिटाइजेशन में सराहनीय कार्य कर अग्रणी बनकर उभरा मध्यप्रदेश
  • प्रधानमंत्री श्री मोदी ने म.प्र. के एक लाख 71 हजार ग्रामीणों को वितरित किए अधिकार अभिलेख
  • प्रधानमंत्री श्री मोदी ने हर वर्ग के लिये योजना बनाकर एक नया भारत गढ़ा - मुख्यमंत्री श्री चौहान


sehore news
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि मध्यप्रदेश गजब है और देश का गौरव भी, साथ ही मध्यप्रदेश में गति भी है और विकास की ललक भी। यहाँ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश की जनता के हित में योजनाओं को जमीन पर उतारने के लिए दिन-रात एक कर बेहतर तरीके से लागू किया जा रहा है। यह जब-जब मैं देखता हूँ मुझे बहुत आनंद आता है। मध्यप्रदेश ने खास अंदाज में स्वामित्व योजना में भी बेहतर काम किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में मध्यप्रदेश लैंड डिजिटाइजेशन के क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर अग्रणी बनकर उभरा है। प्रधानमंत्री श्री मोदी आज स्वामित्व योजना में मध्यप्रदेश के 19 जिलों के 3 हजार गाँव के एक लाख 71 हजार ग्रामीणों को वर्चुअली अधिकार अभिलेखों का वितरण कर संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने की। हरदा जिला मुख्यालय पर आयोजित इस राज्य स्तरीय कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्रियों सहित मध्यप्रदेश के मंत्री भी शामिल हुए। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अधिकार अभिलेखों का वितरण कर हरदा, डिंडौरी और सीहोर जिले के अधिकार अभिलेख प्राप्त हितग्राहियों से वर्चुअल संवाद भी किया। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने बुदनी विकासखंड की हितग्राही श्रीमती विनीता बाई ओझा से ऑनलाइन संवाद किया। जिलास्तरीय कार्यक्रम बुदनी में आयोजित किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद श्री रमाकांत भार्गव ने कहा कि स्वामित्व योजना से नागरिकों को मालिकाना हक मिलेगा। साथ ही कई योजनाओं का लाभ भी मिल सकेगा। कार्यक्रम को  श्री रघुनाथसिंह भाटी, श्री राजेश पाल ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में श्री जगदीश साहू, श्री महेश उपाध्याय, श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, श्री रवि मालवीय, श्री रामनारायण साहू, श्रीमती विमला साहू सहित जनप्रतिनिधी तथा हितग्राही उपस्थित थे।


गाँवों को आर्थिक मजबूती देगी स्वामित्व योजना

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि मुझे संतोष है कि मध्यप्रदेश में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को अपनी जमीन का मालिकाना कागज आसानी से मिल रहा है। नागरिकों को आबादी की भूमि पर मालिकाना हक देकर उन्हें सशक्त और आत्म-निर्भर बनाया जा रहा है। मेरा विश्वास है कि मध्यप्रदेश में जल्द ही सभी गाँवों में अधिकार अभिलेख मिल जाएंगे। उन्होंने कहा कि भारत की आत्मा गाँव में बसती है। भारत के गाँवों की जो ताकत है वह गाँव के लोगों की जमीन है। उसका उपयोग लोग अपने विकास में नहीं कर पाते हैं। विवाद, लड़ाई-झगड़े और न जाने कितनी मुश्किलें उन्हें झेलना पड़ती हैं। गांधी जी ने भी इसे लेकर चिंता जाहिर की थी। इस क्षेत्र में सुधार हमारी जिम्मेदारी बनती है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था तभी इस पर काम शुरू कर दिया था। किसी भी कार्य के लिए यदि सही प्रयास किया जाए तो सब कुछ सार्थक होता है। स्वामित्व योजना के जो लाभ आज दिख रहे हैं, वह देश के बहुत बड़े अभियान का हिस्सा है। यह गाँवों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाएगा। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि मध्यप्रदेश के सभी गाँवों में शीघ्र ही अधिकार अभिलेख मिल जायेंगे। अनेक तरह के भूमि विवादों से मुक्ति मिलेगी। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि वे गुजरात में मुख्यमंत्री के रूप में इस महत्वपूर्ण कार्य को प्रारंभ कर चुके हैं। इसलिए इस योजना के वास्तविक लाभ से परिचित हैं। किसी भी देश में नागरिकों के पास संपत्ति के कागजात होना ही चाहिए। पी.एम. स्वामित्व योजना जन-भागीदारी से सफलता प्राप्त करेगी।


ग्रामों की आर्थिक मजबूती की ठोस योजना

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि श्री शिवराज सिंह चौहान जब मुख्यमंत्री बने थे, तो उन्होंने सबसे पहले गरीब कल्याण योजना के माध्यम से जनसेवा की नई शुरूआत की थी। शिवराज जी के नेतृत्व में विभिन्न क्षेत्रों में टेक्नालॉजी के उपयोग के साथ कार्य हो रहे हैं। स्वामित्व योजना के लाभ, जो आज दिखाई दे रहे हैं, वे एक बड़े राष्ट्रीय अभियान का ही हिस्सा है। ग्रामों की आर्थिक मजबूती के लिये यह ठोस योजना है। गृह निर्माण के लिये ऋण की प्राप्ति भी इससे आसान हो जाएगी। बैंकिंग व्यवस्था का लाभ जरूरतमंद लोगों को आसानी से प्राप्त हो सकेगा।



किसानों को मिले क्रेडिट कार्ड, 80 करोड़ को मिला मुफ्त अनाज

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि किसान क्रेडिट योजना ने किसानों को राहत पहुँचाई है। दो करोड़ से अधिक किसानों को बैंक से बिना गारंटी के ऋण की राह आसान हुई है। करीब 15 लाख करोड़ रूपये की राशि मुद्रा योजना के माध्यम से पहुँची है। इसी तरह करीब 8 करोड़ बहनें स्व-सहायता समूहों से जुड़ी हैं, इन्हें जन-धन खाते से भी लाभ मिला है। अब महिला स्व-सहायता समूहों को ऋण में दोगुनी राशि प्राप्त हो रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में काफी मुश्किलें भी आईं। सरकार ने 80 करोड़ नागरिकों के लिये नि:शुल्क अनाज की जो व्यवस्था की, उसमें मध्यप्रदेश के किसानों का महत्वपूर्ण योगदान है। आयुष्मान भारत योजना ने भी महिला, बच्चों और गरीबों को रोगों से बचाने और उनकी परिश्रम की पूंजी बचाने का कार्य किया है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि कल से नवरात्रि पर्व शुरू हो रहा है, सभी नागरिकों को इसके लिये बधाई देता हूँ।


जब गाँव वालों ने ड्रोन को समझा मिनी हेलीकॉप्टर

संवाद के दौरान प्रधानमंत्री श्री मोदी को हरदा जिले के ग्राम हड़िया निवासी पवन कुमार ने बताया कि गाँव में जब ड्रोन आया था, तो लोग आश्चर्यचकित रह गये थे। गाँव वालों ने इसका नाम छोटा हेलीकॉप्टर रख दिया था। बाद में इस ड्रोन की उपयोगिता की जानकारी मिली। पवन की इस बात को प्रधानमंत्री श्री मोदी ने उत्सुकता के साथ सुना और पूछा कि आपको कार्ड प्राप्त होने में कोई दिक्कत तो नहीं आई। पवन ने बताया कि उसे बिना समस्या के कार्ड मिल गया है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि प्रयास यह है कि देश में अधिक से अधिक लोगों को इस टेक्नालॉजी का लाभ मिले, लोगों का कारोबार बढ़कर दोगुना हो जाए।


गाँव के पटवारी पर है भरोसा

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने डिंडौरी जिले के हितग्राही श्री प्रेमसिंह को स्वामित्व योजना का कार्ड और मालिकाना हक के कागजात मिलने पर बधाई दी। उन्होंने हितग्राही से ग्राम की आबादी और योजना के फायदों के संबंध में चर्चा की। श्री प्रेमसिंह ने बताया कि पूरे गाँव को योजना की विशेषताएँ मालूम हैं। ग्रामवासियों को पटवारी पर भी पूरा भरोसा है। किसी कार्य में गड़बड़ नहीं हुई। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने सीहोर जिले की हितग्राही विनीता बाई से संवाद करते हुए योजना के लाभ के संबंध में पूछा। सुश्री विनीता ने बताया कि अब वह भूमि-स्वामी बन गयी हैं। प्रधानमंत्री ने विनीता बाई से कहा कि स्वामित्व योजना ग्रामीण क्षेत्रों का भला करेगी। किसी भी कचहरी में सबसे अधिक केस जमीन से संबंधित आते हैं, जो इस योजना से खत्म हो जाएंगे।


आज का दिन ऐतिहासिक है - मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है क्योंकि आज के दिन ही श्री नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के रूप में 20 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण हो गया है। इस ऐतिहासिक अवसर पर प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के हितग्राहियों को अधिकार अभिलेख प्रदान किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी का स्वागत करते हुए बताया कि प्रदेश में एक करोड़ 23 लाख लोग संचार के विभिन्न माध्यमों से इस कार्यक्रम को लाइव देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में देश का सम्मान विश्व में बढ़ा है। उनके कार्यकाल में देश की करोड़ों महिलाओं को उज्जवला योजना के माध्यम से चूल्हे के धुएँ से मुक्ति मिली है। जन-धन योजना से देश में करोड़ों लोगों के बैंक खाते खोले गये हैं और मुद्रा योजना के तहत 29 करोड़ लोगों को व्यवसाय स्थापित करने के लिये बिना गारंटी के बैंक से ऋण दिलाया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश में स्वामित्व योजना लागू होने से जहाँ ग्रामीणों को भूमि के अभिलेख उपलब्ध होंगे, वहीं इन अभिलेखों के आधार पर अब ग्रामीणजन बैंक से घर बनाने या दुकान खोलने के लिये ऋण भी ले सकेंगे।


सौर ऊर्जा से रौशन हुए 380 आँगनवाड़ी भवनों का लोकार्पण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरदा जिले में सौर ऊर्जा से रौशन हुए 380 आँगनवाड़ी भवनों का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने हरदा प्रशासन के इस नवाचार की सराहना की। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरदा जिले की "विकास गाथा" पुस्तिका का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बॉस मिशन के अंतर्गत तीन हितग्राहियों श्री पवन कुमार भायरे निवासी सिराली, श्री गजराज सिंह निवासी लौरा तथा श्री प्रेमनारायण रायखेरे निवासी सनगाव बाँस पौधे की अनुदान राशि का वितरण किया। कार्यक्रम में कृषि मंत्री और किसानों ने मुख्यमंत्री को कृषि यंत्र हल भेंट किया।  कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि ग्रामीण सम्पति धारकों की जिस सम्पत्ति का मूल्य अभी सरकारी अभिलेख में शून्य था, वह लाखों में हो जायेगा और छोटी से छोटी सम्पत्ति के धारक ग्रामीण स्वामित्व योजना के माध्यम से लोग लखपति बन जायेंगे। कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि ग्रामीणों को अभी तक उनकी सम्पत्ति पर बैंक ऋण नहीं देती थी। इस योजना के लागू हो जाने से अब ग्रामीणों को बैंक से सम्पत्ति पर ऋण व जमानत की सुविधा मिलने लगेगी। स्वामित्व योजना से ग्रामीणों को सही मायने में अब आर्थिक आजादी मिलेगी। प्रदेश के राजस्व मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत आबादी सर्वे से ग्रामीणों को उनकी सम्पत्ति के अधिकार अभिलेख उपलब्ध हो जायेंगे। साथ ही प्रत्येक सम्पति धारक को सम्पत्ति का स्वामित्व प्रमाण-पत्र मिल जायेगा। स्वामित्व प्रमाण-पत्र मिलने से इस सम्पति पर बैंक से ऋण लेना आसान होगा तथा सम्पत्तियों के पारिवारिक विभाजन व सम्पत्ति हस्तांतरण की प्रक्रिया भी आसान हो जायेगी। हरदा जिले के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, कृषि मंत्री श्री कमल पटेल, वन मंत्री डॉ. विजय शाह, राजस्व मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत, सांसद श्री दुर्गादास उइके सहित विधायक सहित अन्य बड़ी संख्या में नागरिक भी मौजूद थे।



जिले में अब तक 973.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज , बीते 24 घंटे में 5.5 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 06 अक्टूबर  2021 तक  973.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा 1433.2 मिलीमीटर थी। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 06 अक्टूबर 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 909.9 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 944.9, आष्टा में 911.0,  जावर में 849.0,  इछावर में 984.3, नसरूल्लागंज में 964.0,  बुधनी में 1115.0, रेहटी में 1110.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 5.5 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 5.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 0.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 0.0, आष्टा में 44.0,  जावर में 0.0,  इछावर में 0.0, नसरूल्लागंज में 0.0,  बुधनी में 0.0, रेहटी में 0.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बेटियों के खाते खुलवाने की अपील


सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाएं घर-घर में खुशहाली लाएं की अवधारणा के साथ भारत सरकार द्वारा बेटी बचाओ एवं बेटी पढ़ाओ के तहत बालिकाओं की उच्च शिक्षा तथा विवाह हेतु व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए यह योजना शुरू की गई है। इस योजना के अन्तर्गत जन्म से लेकर 10 वर्ष की आयु तक की बेटियों का खाता खुलवाया जा सकता है, जमाकर्ता बेटी के नाम से एक ही खाता खोल सकता है। यदि माता-पिता या संरक्षक दो बेटियों के अलग-अलग एक खाता खोल सकते हैं, यदि जुड़वा बेटियां है तो जन्म प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने पर तीसरा खाता भी खोला जा सकता है, यह खाता एक वित्तीय वर्ष में 250 रूपये से शुरू किया जा सकता है। बच्ची की उम्र 18 वर्ष पूर्ण होने पर सुकन्या समृद्वि खाता में जमा राशि का 50 प्रतिशत राशि निकाला जा सकता है।  बेटी की उम्र 21 वर्ष पूर्ण होने पर खाता परिपक्व होगा, बालिका का विवाह 18 वर्ष के बाद या 21 वर्ष के पहले होता है तो खाता बंद कर दिया जाएगा और ब्याज सहित समस्त रकम दे दी जाएगी। इसी प्रकार इस योजना से आयकर में छूट का लाभ भी मिलता है और देश के किसी भी हिस्से में स्थानातांरित किया जा सकता है। खाता खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज, जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता का फोटो पहचान पत्र, एड्रेस प्रूफ और माता-पिता की फोटो आवश्यक है। खाते मे न्यूनतम 250 रूपये अधिकतम 01 लाख 50 हजार रूपये वार्षिक जमा किया जा सकता है। इस खाते की अवधि कुल 21 वर्ष है।


गोपाल रत्न अवार्ड के लिए पशुपालक कर सकेंगे 15 तक आवेदन


उप संचालक पशुपालन विभाग द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय गोकुल मिशन अंतर्गत पशुपालन एवं डेयरी विभाग भारत सरकार द्वारा वर्ष 2021- 22 के लिए तीन श्रेणियों में गोपाल रत्न अवार्ड के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। सर्वोत्तम पशुपालक ऐसे पशुपालक जो भारतीय देसी नस्ल की गायों का पालन कर रहे हैं, सर्वोत्तम कृत्रिम गर्भाधान कार्यकर्ता अवार्ड एवं सर्वोत्तम दुग्ध सहकारी समिति, दुग्ध उत्पादन कंपनी उक्त तीन श्रेणियों में ऑनलाइन आवेदन 15 अक्टूबर 2021 तक वेबसाइट www.dahd.nic.in पर कर सकते हैं। आवेदन की संपूर्ण जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध है। अधिक जानकारी के लिए पशुपालन विभाग में संपर्क कर सकते हैं।



एमपी टास पोर्टल पर आवेदन करने की तारीख 8 अक्टूबर तक


एमपीटास पोर्टल पर पीएमएस डाटा एप्लाई एवं अपलोड करने के लिए तिथि 08 अक्टूबर तक निर्धारित की गई है। सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग ने समस्त शासकीय, अशासकीय महाविद्यालय के प्राचार्यो से कहा है कि वे निर्धारित तिथि 8 अक्टूबर तक अनिवार्य रूप से समस्त डाटा अपलोड किया जाना एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के पात्र विद्यार्थियों से एमपीटास पोर्टल पर पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के आवेदन एप्लाई कराना सुनिश्चित करें एवं अपनी संस्था के सूचना पटल पर उक्त सूचना प्रदर्शित करें। जिससे अनुसूचित जनजाति वर्ग के पात्र विद्यार्थियों को शासन द्वारा संचालित पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना का लाभ प्राप्त हो सके। नियत समय पश्चात यदि कोई पात्रताधारी विद्यार्थी पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के लाभ से वंचित रहता है तो इसका सम्पूर्ण दायित्व संस्था प्रमुख का होगा।



अन्न उत्सव कार्यक्रम आज


जनकल्याण और सुराज के 20 वर्ष पूर्ण होने पर 07 अक्टूबर को अन्न उत्सव कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान मिन्टों हॉल भोपाल में सामान्य प्रशासन, महिला एवं बाल विकास,लोक सेवा प्रबंधन व नागरिक आपूर्ति विभाग तथा पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के कोविड बाल सेवा योजना के लाभांवित बच्चों से भेट, कोविड अनुकम्पा नियुक्ति योजना में नियुक्ति पत्र वितरण, अन्न उत्सव के सभी पात्र हितग्राहियों को राशन वितरण, सीएम जनसेवा तथा मोबाइल गर्वनेंस सेवाओं का विस्तार, प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निर्मित आवास गृह प्रवेश, पंचायत भवनों का भूमि पूजन  कार्यक्रम में शामिल होंगे। कार्यक्रम का प्रसारण दूरदर्शन,यू-ट्यूब, फेसबुकलाइफ, बेबकास्ट के माध्यम से जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर भी कार्यक्रमों का आयोजन किए जाएंगे। जिले की समस्त 375 उचित मूल्य दुकानों पर नियमित अन्न उत्सव का आयोजन किये जाने के निर्देश दिए।



जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक आज



जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर की अध्यक्षता में 07 अक्टूबर को कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में दोपहर 12.00 बजे आयोजित की जाएगी। बैठक में शहरी क्षेत्र की आंगनवाड़ी केन्द्रों में 3 वर्ष से 6 वर्ष तक के बच्चों को पूरक पोषण प्रदाय करने के लिए शहरी परियोजनाओं में राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, राज्य शहरी आजीविका मिशन के पंजीकृत महिला स्व-सहायता समूहों के माध्यम से किया जाना है। बैठक समूहों के चयन के लिए आयोजित की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: