सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 26 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 26 अक्तूबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 26 अक्टूबर

जनसुनवाई में नागरिकों की सुनी शिकायतें

 

sehore news

कलेक्ट्रेट कार्यालय सभाकक्ष में जिले भर से आये लोगों की समस्याएं जनसुनवाई में सुनी गई। जिले के लोग जनसुनवाई में अपनी समस्याओं के आवेदन लेकर पहुंचे। जनसुनवाई में संबंधित विभागों के अधिकारियों ने नागरिकों की समस्याएं सुनी। जनसुनवाई में डिप्टी कलेक्टर श्रीमती प्रगति वर्मा सहित समस्त विभाग के जिलाधिकारी उपस्थित थे।

मनरेगा कमिश्नर ने किया जिले का दौरा

 

आज मनरेगा परिषद भोपाल की आयुक्त, श्रीमति सुफिया फारूखी वली द्वारा जिले की जनपद पंचायत सीहोर अंतर्गत ग्राम पंचायत जहांगीरपुरा, लसूड़ियापरिहार एवं जनपद पंचायत इछावर अंतर्गत भांउखेड़ी का दौरा कर, मनरेगा योजना अंतर्गत चल रहे विभिन्न कार्यो का निरीक्षण किया गया। अपने दौरे के दौरान श्रीमति फारूखी सर्व प्रथम ग्राम जहांगीरपुरा पंहुची यहां पर उन्होने स्व सहायता समुह द्वारा संचालित सामुदायिक वृक्षारोपण परिसर व पोषण वाटिका का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान श्रीमति फारूखी द्वारा स्व सहायता समुह की दीदीओं से चर्चा की और उनके द्वारा अर्जित आय की जानकारी ली। इसके पश्चात श्रीमति फारूखी द्वारा ग्राम पंचायत जहांगीरपुरा में निर्मित किये किये जा रहे निर्मल नीर कूप, तालाब पाल सुदृणीकरण, खेत सड़क, मॉं की बगिया, एवं रेन वॉटर हारवेस्टिंग आदि कार्यो का निरीक्षण किया गया। श्रीमति फारूखी कार्यो की गुणवत्ता से संतुष्ट नजर आई। इसके पश्चात ग्राम पंचायत भांउखेड़ी में योजना अंतर्गत मनरेगा पार्क परिसर में निर्मित गौे शाला, चारागाह विकास कार्य, तुलसी /अश्वगंधा कानन, पौखर, निर्मल नीर कूप, फलोउद्यान एवं मछली पालन हेतु निर्मित किये जा रहे तालाब का भी निरीक्षण किया गया  गौ-शाला का संचालन करने वाली महिला स्व सहायता समुह से चर्चा की गई एवं उनके द्वारा निर्मित किये गये अन्य उत्पाद वर्मी खाद, गौ काष्ट, गोबर की दिये आदि के बारे में जानकारी प्राप्त की। श्रीमति फारूखी द्वारा ग्राम पंचायत द्वारा निर्मित किये गये ।  दौरे के अंतिम चरण में मनरेगा कमिश्नर ग्राम पंचायत लसूड़िया परिहार पंहुची जहां पर उन्होने मनरेगा योजना अंतर्गत निर्मित शांतीधाम परिसर सह वृक्षारोपण कार्य का निरीक्षण किया एवं उपस्थित ग्राम वासियों से चर्चा की। कार्यो की गुणवत्ता एवं उपयोगिता से संतुष्ट नजर आई श्रीमति फारूखी द्वारा जिले में योजना अंतर्गत एक कम्पोजिस सोंच के साथ किये जा रहे कार्यो की मुक्त कंठ से प्रशंसा की गई एवं भांउखेड़ी में निर्मित मनरेगा पार्क परिसर जैसे जिले की अन्य ग्राम पंचायतों में भी निर्मित करने के निर्देश दिये गये। श्रीमति फारूखी के द्वौरे के दौरान, जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह, जनपद पंचायत सीहोर के सीईओ श्री सिद्धगोपाल वर्मा, जनपद पंचायत इछावर की सीईओ श्रीमति आयुषी गोयल, जिला परियोजना अधिकारी मनरेगा श्री प्रमोद त्रिपाठी, जिला प्रबंधक एनआरएलएम श्री दिनेश बरफा सहित ग्रामीण विकास विभाग का समस्त मैदानी अमला उपस्थित रहे।


मनरेगा कमिश्नर ने निर्माण तथा विकास कार्यों का किया निरीक्षण


sehore news
मनरेगा कमिश्नर श्रीमती सूफिया फारूकी ने मनरेगा योजना में जनपद पंचायत की ग्राम पंचायतों में किए गए कार्यों का निरीक्षण किया। सामुदायिक वृक्षारोपण, सामुदायिक पोषण वाटिका, सामुदायिक निर्मल नीर,नाडेप,तालाब पाल सुदृढ़ीकरण, खेत सड़क निर्माण, पोखर निर्माण, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, मां की बगिया सहित अन्य कार्यों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह,  परियोजना अधिकारी श्री प्रमोद त्रिपाठी, जनपद सीईओ श्री सिद्ध गोपाल वर्मा सहित जनपद के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

पहला सुख निरोगी काया, दूसरा घर में हो माया-भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा


sehore news
सीहोर। हमारे संत-मुनि कह गए हैं, पहला सुख निरोगी काया, दूसरा सुख जेब में हो माया। यदि काया अर्थात शरीर रोगी है तो आप धन कैसे कमाएंगे। यदि पहले से ही अपार धन है तो वह किसी काम का नहीं। धन से कोई रोग नहीं मिटता है। शरीर स्वस्थ और सेहतमंद है तभी तो आप जीवन का आनंद ले सकेंगे। घुमना-फिरना, हंसी-मजाक, पूजा-प्रार्थना, मनोरंजन आदि सभी कार्य अच्छी सेहत वाला व्यक्ति ही कर सकता है। उक्त विचार जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में जारी श्री कार्तिक शिव महापुराण कथा के दूसरे दिन भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहे। उन्होंने कहा कि सच्चे गुरु और संत वो होते है जो भक्त के चित्त पर ध्यान देते है और उसकी आत्मा को दुर्गति से बचाकर कल्याण के मार्ग की और भेजने के लिये चिंतित रहते है। धन भी आपका तब तक है जबतक आपका पुण्य प्रबल है। पुण्य के कमजोर होते ही धन भी आपका साथ छोड़ देता है। संसार मात्र नाटक है यहां सभी दिखावटी मालिक है संसार के रंगमंच पर हर पात्र अपने अपने हिसाब से अपना अभिनय करता है। इससे वास्तविकता का कोई लेना देना नहीं होता है, व्यक्ति उस वास्तविकता को सुनकर सहन करने की क्षमता भी नहीं रखता है। मानव जीवन हमें लीज पर मिला है।

मृत्युलोक में भगवान को भी दुख सहन करना पड़े है

मंगलवार को महापुराण कथा के दूसरे दिन भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा ने कहा कि इस मृत्युलोक में सभी को दुख सहन करना पड़ते है, भगवान राम, कृष्ण, बुद्ध और महावीर आदि ने भी विपत्ति पर विजय प्राप्त करने का संदेश दिया है। दुख, विपत्ति, कष्ट, रोग, शोक ये शब्द ही ऐसे हैं कि संसार में हर कोई इनके नाम से ही कांपता है। संसार में ऐसा कोई नहीं, जो अपने जीवन में इनमें से किसी की भी आवक चाहता हो। सभी व्यक्ति उपाय करते हैं कि ये 5 शब्द उनके जीवन से यथासंभव दूर रहें। हर व्यक्ति यह कामना करता है, प्रार्थना करता है कि ईश्वर उसे इन तकलीफों से बचाए, पर सच्चाई तो यही है कि इन शब्दों से लगभग रोज ही किसी ना किसी का पाला पड़ता ही है।


फलों के रस से श्रीयंत्र का अभिषेक कर किया 1 हजार मूंगा से सहस्त्रार्चन, 21 राज्यों के यजमानों ने 21 ब्राहम्णों के सानिध्य में किए 21 हजार मंत्र जाप  


sehore news
सीहोर। श्रद्धालुओं ने विधिविधान से गौमाता, देवीलक्ष्मीरूपा कन्या और देवरूप ब्राहम्णों का पूजन अर्चन किया। मंगलवार को श्रीं शक्ति सेवा संस्थान के द्वारा सौभाग्य पैलेश में आयोजित स्फटिक श्रीयंत्र प्राण प्रतिष्ठा महालक्ष्मी अनुष्ठान में ज्योतिषाचार्यं अनिल सोनी के मार्गदर्शन में देश के 21 राज्यों के यजमानों ने ऑनलाईन 21 ब्राहम्णों के सानिध्य में 21 हजार मंत्रों के साथ फलों के रस से श्रीयंत्र का अभिषेक कर 16 दिवसीय कार्यक्रम में 1 हजार मूंगा से सहस्त्रार्चन किया। ऑनलाईन सम्मिलित होकर राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड, जम्मूकश्मीर, अरूणाचल प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, उड़ीसा, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गोवा, पंजाब, लददाख, झारखंड सहित अन्य राज्य सहित स्थानीय श्रद्धालु यजमानों ने स्फटिक श्रीयंत्र प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान किया। ज्योतिषाचार्य अनिल सोनी के सानिध्य में ब्राहम्णों के द्वारा विश्वशांति और श्रद्धालुओं की सुख शांति समृद्धी के लिए हवन में यजमानों के साथ 21 सौ आहुतियां दी गई। यज्ञाचार्य सौरभ शास्त्री के अनुसार बुधवार सुबह सुगंधित द्रव्य से महालक्ष्मी माता श्रीयंत्र का अभिषेक किया जाएगा। जिस के बाद एक हजार इलाईजी से सहस्त्रार्चन किया जाएगा। श्रीं शक्ति सेवा संस्थान के कार्यकर्ताओं के द्वारा कार्यक्रम में सम्मिलित होने की अपील नागरिकों से की गई है। 

आगामी दिनों में की जाएगी मुस्लिम त्योहर कमेटी की बैठक


सीहोर। आगामी दिनों में मुस्लिम त्योहर कमेटी की बैठक का आयोजन किया जाएगा। इस बैठक के दौरान नई कार्यकारिणी का गठन भी किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए मुस्लिम त्योहर कमेटी के अध्यक्ष नईम नवाब ने बताया कि हाल के दिनों में जो चंद लोगों ने मिलजुलकर छावनी से जो नगराध्यक्ष की घोषणा की गई है। वह पूरी तरह से अवैध है। क्योंकि अभी तक मेरे द्वारा इस्तीफा नहीं दिया गया है। पूरे नगर के वरिष्ठ मुस्लिम भाईयों को बिना विश्वास में लिए वर्तमान में जो नगराध्यक्ष बनाया गया है, वह पूरी तरह अवैध है। आगामी दिनों में नगर के सभी वरिष्ठजनों की मौजूदगी में नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। वर्तमान में मेरा कार्यकाल तीन सालों से है और मैं वर्तमान में भी अध्यक्ष हूं और मुझे पूरे मुस्लिम समाज का सहयोग और विश्वास प्राप्त है।


ट्रांसफार्मर के लिए आदिमजाति और बिजली, विभाग के चक्कर लगा रहे है सेमरा के किसान


sehore news
सीहोर। सेमरादांगी के अनुसुचित जाति के किसान ट्रांसफार्मर लगवाने के लिए कार्यालय के चक्कर लगा रहे है। आदिम जाति कल्याण विभाग की योजना अनुसार विद्युत वितरण कंपनी को खेतों में सिंचाई के लिए ट्रांसफार्मर उपलब्ध कराना है। मंगलवार को किसानों ने स्वराज किसान संगठन के जिलाध्यक्ष विनय सिंह दांगी के साथ कलेक्ट्रेट जनसुनवाई में आवेदन देकर ट्रांसफार्मर रखवाने की मांग की है। कलेक्ट्रेट पहुंचे काशीबाई,ओमप्रकाश अहिरवार, हरि प्रसाद अहिरवार, रामभरोसे अहिरवर, भगवान सिंह अहिरवार, काशीराम अहिरवार, मेवा बाई अहिरवार,रामप्रसाद अहिरवार, रामकली बाई अहिरवार, राजाराम अहिरवार, दुर्गा प्रसाद अहिरवार, मांगीलल अहिरवार आदि ने  कहा की समय पर ट्रांसफार्मर नहीं दिया जाता है तो बिजली के बगैर खेत बिना बोवनी के ही पड़े रह जाएंगे जिस से आर्थिक नुकसान होगा। 

आगामी दिनों में की जाएगी मुस्लिम त्योहर कमेटी की बैठक


सीहोर। आगामी दिनों में मुस्लिम त्योहर कमेटी की बैठक का आयोजन किया जाएगा। इस बैठक के दौरान नई कार्यकारिणी का गठन भी किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए मुस्लिम त्योहर कमेटी के अध्यक्ष नईम नवाब ने बताया कि हाल के दिनों में जो चंद लोगों ने मिलजुलकर छावनी से जो नगराध्यक्ष की घोषणा की गई है। वह पूरी तरह से अवैध है। क्योंकि अभी तक मेरे द्वारा इस्तीफा नहीं दिया गया है। पूरे नगर के वरिष्ठ मुस्लिम भाईयों को बिना विश्वास में लिए वर्तमान में जो नगराध्यक्ष बनाया गया है, वह पूरी तरह अवैध है। आगामी दिनों में नगर के सभी वरिष्ठजनों की मौजूदगी में नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। वर्तमान में मेरा कार्यकाल तीन सालों से है और मैं वर्तमान में भी अध्यक्ष हूं और मुझे पूरे मुस्लिम समाज का सहयोग और विश्वास प्राप्त है।


सेवादल कांग्रेस सैनानी को पुष्पचक्र अर्पित कर दी श्रद्धांजली, जाटव समाज धर्मशाला के अध्यक्ष का अनायस हुआ निधन

  • सेवादल जिला कांग्रेस अध्यक्ष खंगराले ने श्री महोबिया के निधन को बताया राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र के लिए अपूर्ण क्षति


sehore news
सीहोर। विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ सेवादल कांग्रेस जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले एवं कार्यकर्ताओं के द्वारा सेवादल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्यामलाल महोबिया के अनायस निधन पर विनम्र श्रद्धांजली दी गई। सेवादल कांग्रेस के समर्पित सैनानी श्री महोबिया की अंत्येष्ठी मुरली विश्राम मुक्तीधाम पर सेवादल की परंपरानुसार कांग्रेस के झंडे में उनके शव को रखकर पुष्पचक्र अर्पित कर सलामी देकर की गई। जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष बलवीर तोमर एवं सेवादल कांग्रेस के प्रदेश सचिव और पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राकेश राय द्वारा सेवादल के साथी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए पीडि़त परिवार को दुख सहन की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की गई। शोकसभा के दौरान जिला सेवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने कहा की काफी समय तक कांग्रेस तथा जाटव समाज के सामाजिक विभिन्न संगठन के पद पर श्री महोबिया ने सफलता पूर्वक कार्य किया। वह काफी मिलनसार और मृदभाषी थे। श्री महोबिया का निधन राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र के लिए अपूर्ण क्षति है। अनुसुचित जाति जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सीतराम भारती,राजाराम बडेभाई डॉ अनीस खान, मांगीलाल टिमरई, पूर्व पार्षद देवेंद्र अहिरवार,धर्मप्रकाश आर्य, जसबंत सिंह कचनेरिया, धन्नालाल परर्चौले, शोभाराम अहिरवार, गंगाराम परसईया धन्नालाल परचौले पन्नालाल खंगराले, विनोद पलिया,गुमान जाटव, जयप्रकाश दरोठिया, दीपक सोनकर, धर्मवीर महोबिया, मनोहर मंगरोलिया, रामदयाल कचनेरिया, चुननीलाल कचनेरिया, मनोज फरैला, हरिओम बोद्ध, सोनू मंगरोलिया, कमल किशौर जाटव, शिवलाल यादव ने श्री महोबिया के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। दो मिनिट का मौन धारण कर श्री महोबिया को श्रद्धांजली दी गई। 


रिकार्ड दुरूस्त कराने पटवारी ने मांगी रिश्वत, पाटन के किसानों ने की कलेक्टर से शिकायत


sehore news
सीहोर। पाटन ग्राम हल्का क्षेत्र का पटवारी एसडीएम के आदेश नहीं मान रहा है। पाटवारी कम्प्युटर में रिकार्ड दुरूस्त कराने के लिए किसानों से 15 हजार रूपये की रिश्वत मांग रहा है। किसानों ने पटवारी के द्वारा शासकीय कार्य के लिए रिश्वत मांगने की शिकायत मंगलवार को जनसुनवाई कार्यक्रम में पहुंचकर जिला कलेक्टर से की है। तहसील श्यामपुर के ग्राम पाटन निवासी फरियादी किसान भागमल पिता पन्नालाल ने अनुविभागीय अधिकारी सीहोर के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किया गया था जिस के तहत एसडीएम ने तहसीलदार के माध्यम से हल्का पटवारी श्रवण कुमार मांझी को कम्प्युटर में खसरा नम्बर दर्ज करने के आदेश जारी किए थे। फरियादी किसान जब ग्राम पाटन ख0क0 872/1/2/4 रकवा 0,250 हैक्टेयर का रिकार्ड दुरुस्त कराने के लिए पटवारी के पास पहुंचे ।  पटवारी ने रिकार्ड के दुरूस्तीकरण और कम्प्युटर में दर्ज करने के लिए लिए 15 हजार रूपये रिश्वत की मांग की। किसानों ने कहा की यह तो सरकारी काम है और एसडीएम ने आदेश भी पारित किए है तो किस बात के रूपये मांग रहे है जिस पर पटवारी श्रवण कुमार मांझी के द्वारा किसानों के साथ दुव्र्यवहार भी किया गया। जबकी एसडीएम सीहोर ने आदेश प्र0क0 0697 / अ-6-अ / 2020-21 के माध्यम से पटवारी को कम्प्युटर में खसरा नम्बर दर्ज करने के लिए आदेशित किया है लेकिन पटवारी एसडीएम के हीं आदेश मानने को तैयार नहीं है और किसान से रिश्वत की मांग कर रहे है। फरियादी किसानों ने पटवारी पर सख्त कार्यवाही करने और शासन की योजना अंतर्गत कम्प्युटर में सूची में रिकार्ड दुरूस्त कराने की मांग जिला प्रशासन से की है।


परीक्षार्थियों ने जानी जनसम्पर्क विभाग की कार्यप्रणाली, छात्र-छात्राओं ने कहा यह तो बहुत महत्वपूर्ण विभाग है


sehore news
संघ लोक सेवा आयोग तथा मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा की तैयारी कर रहे जिले के छात्र-छात्राओं ने आज जिला जनसम्पर्क कार्यालय पहुंच कर जनसम्पर्क विभाग की कार्य प्रणाली जानी। छात्र-छात्राओं ने प्रचार-प्रसार के माध्यमों और प्रचार के तरीकों की विस्तार से जानकारी ली। छात्र-छात्राओं को जिला जनसंपर्क अधिकारी देवेन्द्र ओगारे ने बताया कि जनसम्पर्क विभाग का कार्य केवल शासकीय सूचनाओं को आमजन तक पहुंचाना नहीं है, बल्कि सरकार द्वारा किये जा रहे कार्यों, गतिविधियों, अभियानों तथा योजनाओं के क्रियान्वयन और संचालित योजनाओं का फीडबैक देने के साथ ही जनभावनाओं से शासन को अवगत कराना है। अनेक सामाजिक अभियानों को सफल बनाने के लिए मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर जनसम्पर्क विभाग द्वारा व्यापक स्तर पर प्रचार अभियान चलाया जाता है। इसके अलावा मीडिया में प्रसारित हो रही गतल एवं भ्रमक सूचनाओं के संदर्भ में आमजन को वस्तुस्थिति से अवगत कराने त्वरित तथ्यात्मक जानकारी प्रसारित की जाती है। जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रिंट, इलेक्ट्रानिक, शोशल एवं डिजिटल मीडिया के माध्यम से प्रभावी ढंग से किया जाता है। विभाग द्वारा समाचार, विज्ञान, जिंगल्स, डाक्यूमेंटी फिल्म, शार्ट फिल्म, नुक्कड़ नाटक, कठपुतली, प्रदर्शनी, दीवार लेखन, होर्डिंग्स, बैनर, पोस्टर, पैम्फलेट, ब्रोशर, डिस्प्ले बोर्ड, एलईडी वैन आदि माध्यमों से प्रचार-प्रसार किया जाता है। जनसंपर्क विभाग की गतिविधयों को जानने के बाद अंकिता, करिश्मा, निशा ललावत, ललित प्रजापति, तरूण, कीर्ति सेन सहित अन्य युवाओं ने कहा कि यह तो बहुत महत्वपूर्ण विभाग है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर की पहल पर श्री रामलखन मीणा एवं श्री टीकासर बंसल द्वारा सीहोर जिले के छात्र-छात्रओं को निःशुल्क कोचिंग दी जा रही है।


रोजगार मेला में 31 आवेदको का चयन, 8 लोगों को ऑफर लेटर प्रदान किये


sehore news
कलेक्टर चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा दिए गये निर्देशानुसार रोजगार कार्यालय द्वारा शासकीय कन्या महाविद्यालय में रोजगार मेला का आयोजित किया गया जिसमें 99 आवेदकों का पंजीयन किया जाकर 6 कंपनियों के प्रतिनिधि द्वारा 31 आवेदकों का प्रारंभिक चयन किया गया जिसमें से 8 आवेदकों को कंपनी द्वारा ऑफर लेटर प्रदान किये गये। रोजगार मेंले में आए कंपन्नियों द्वारा प्रांरभिक चयन और ऑफर लेटर प्रदान किए गये उनमें वेल्सपन इंडिया प्रा.लि. आइसेक्ट ने 3 का प्रांरभिक चयन कर 1 को ऑफर लेटर दिए, सेल मेन्युफेक्चरिंग कंपनी मेहतवाड़ा ने 2 का प्रांरभिक चयन कर 1 को ऑफर लेटर दिए, सेनापति सेक्योरिटी सर्विसेस सीहोर ने 8 का प्रांरभिक चयन कर 1 को ऑफर लेटर दिए, एस.बी.आई. लाईफ सीहोर ने 4 का प्रांरभिक चयन कर2 को ऑफर लेटर दिए , डीडीयूजीकेबाए भोपाल ने 10 का प्रांरभिक चयन किया गया।, डीडीयूजीकेबाए लोटस भोपाल ने 4 का प्रांरभिक चयन कर 3 को ऑफर लेटर दिए इस प्रकार कुल 31 लोगो का चयन कर 8 लोगों को ऑफर लेटर प्रदान किये गये। 

शासकीय महाविद्यालय लाडकुई में 27 अक्टूबर को रोजगार मेला


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा दिए गये निर्देशानुसार जिला रोजगार कार्यालय द्वारा जिले के विभिन्न स्थानों पर निरन्तर रोजगार मेले का आयोजन किया जारा है। इसी श्रृखला में 27 अक्टूबर को महाविद्यालय लाड़कुई में प्रातः 12 बजे से 4 बजे तक रोजगार मेला आयोजित किया जाएगा भारतीय जीवन बीमा निगम, एसबीआई लाईफ, डीडी यूजीकेवाए लोटस, एवं अन्य कुपन्नियों द्वारा एसआईसी एजेन्ट, मशीन आपरेटर,बीमा अभिकर्त्ता,सेक्योरिटी गार्ड आदि पदों पर वेतन 6000-12500 पर भर्ती की जावेगी। उम्र 18-35, वर्ष हो और न्यूनतम योग्यता 10वी उत्तीर्ण इच्छुक युवक/युवतियां निर्धारित समय पर अपने समस्त प्रमाण पत्रों सहित उपस्थित होंवे।


मध्यप्रदेश स्थापना दिवस एक नवंबर, को "आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश" अभियान के लोकव्यापीकरण 


 मध्यप्रदेश स्थापना दिवस एक नवंबर मनाये जाने को एवं आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के रूप में मनाए जाने का निर्णय लिया है। इस परिप्रेक्ष्य में जिला स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करने का भी निर्णय लिया गया है। जिला स्तरीय पर मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर कार्यक्रम सभी जिला मुख्यालयों पर आयोजन किए जाएंगे, जिसमें प्रमुखतः "आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए जनभागीदारी अभियान" पर केन्द्रित गायन, वादन, नृत्य, वाद-विवाद प्रतियोगिता मैराथन दौड़, रैली, प्रभात फेरी इत्यादि के आयोजन किए जाएंगे। कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने सभी अधिकारियों को म.प्र.स्थापना दिवस मनाने के संबंध में जारी निर्देशों का पालन सुनिश्चत करने के निर्देश दिए। किसी प्रमुख स्थान पर बड़ी स्क्रीन लगाकर सायंकालीन राज्य स्तरीय कार्यक्रम के प्रसारण का आम जनता को दिखाने का प्रबंध भी किया जायेगा। जिला मुख्यालय पर स्थित प्रमुख शासकीय भवनों एवं ऐतिहासिक स्मारकों पर 01 नवम्बर की रात्रि को प्रकाश की व्यवस्था की जाएगी। राज्य शासन के समस्त प्रमुख भवनों पर प्रकाश व्यवस्था करने की संबंधित कार्यालय प्रमुख की रहेगी।        कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों, गणमान्य नागरिकों, उद्योगपतियों, व्यवसायियों, समाजसेवियों, धर्मगुरूओं, स्वयंसेवी संस्थाओं हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी विद्यालयो एवं महाविद्यालयीन छात्र/छात्राओं, शासकीय अधिकारी / कर्मचारियों जिले के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, लोकतंत्र सेनानियों एवं शहीद सैनिकों के परिवारों को विशेष तौर पर आमंत्रित किया जाए। कार्यक्रम में समाज के सभी वर्गों की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। उप निर्वाचन वाले जिले, जिनमें आदर्श आचरण संहिता प्रभावशील है, उन जिलों में जिला मुख्यालय पर स्थित प्रमुख शासकीय भवनों एवं ऐतिहासिक स्मारकों पर 01 नवंबर की रात्रि को प्रकाश की व्यवस्था की जाएगी। इसके अतिरिक्त अन्य कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे सभी कार्यक्रमों में कोविङ-19 गाइडलाईन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किए


आयोडिनयुक्त नमक का उपयोग करने की ली गई शपथ, प्रष्न मंच में उत्तर देकर छात्रों ने जीते पुरस्कार



sehore news
वैष्विक आयोडिन अल्पता विकार दिवस कार्यक्रम एवं जनजागरूकता सप्ताह के अंतर्गत शासकीय ग्वालटोली हाईस्कूल में जनजागरूकता कार्यशला का आयोजन किया गया जिसमें आयोडिनयुक्त नमक का स्वयं उपयोग करने, परिजनों, पडोसियों, परिचितों रिस्तेदारों को भी आयोडिनयुक्त नमक उपयोग करने की सलाह एवं सुनिष्चितता हेतु संकल्प एवं शपथ ली गई। कार्यशला में नोडल अधिकारी असंचारी रोग कार्यक्रम डॉ.पुष्पा चंदेल, उप जिला मीडिया अधिकारी सुश्री उषा अवस्थी तथा मीडिया सलाहकार श्री शैलेष कुमार के द्वारा आयोडिन अल्पता से होने वाली बीमारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यशाला में बताया गया कि आयोडीन नमक का प्रयोग ना करने से उर्जा में कमी, जल्दी, थकावट और उत्पादकता में कमी, कक्षा में साधारण या पिछड़ा हुआ, उर्जाहीन शरीर, जागरूकता में कमी, गूंगा, बहरापन या घेंघा, भैंगापन वहीं लाभ चुस्त दिमाग, तेज दिमाग, ज्यादा जागरूकता, अधिक कार्यक्षमता, स्वस्थ शरीर इत्यादि लाभ शामिल है। कार्यशला में आयोडिन की उपयोगिता की शपथ दिलाई गई तथा हस्ताक्षर अभियान संचालित कर प्रष्न मंच में हिस्सा लेकर प्रष्नों के सही जवाब देने वाले छात्रों को पुरस्कृत किया गया। कार्यशला में शिक्षिका ज्योति त्यागी द्वारा भी संबोधित किया गया। कार्यशला में स्कूल के अध्ययनरत छात्र/छात्राएं उपस्थित रही इस दौरान विद्यार्थियों द्वारा आयोडिन की अल्पता एवं विकार से संबंधित कई सवाल विषय विषेषज्ञों से पूछे गए जिनके समाधानकारक जवाब चिकित्सा अधिकारी एवं एनसीडी प्रभारी द्वारा दिए गए।    



कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत विकृति बचाव शिविर में रोगियों की जांच की गई, शिविर में उपचार किट एवं अन्य सामग्री प्रदान की गई


sehore news
राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यकम के अंतर्गत जिले के इछावर विकासखण्ड में विकृति बचाव शिविर का आयोजन किया गया।इस कार्यक्रम में डॉ.बीबी शर्मा  द्वारा विस्तार से जानकारी दी गई। आयोजित शिविर में फिजियोथेरिपिस्ट श्री आर.एस.ओड द्वारा संभावित मरीजों की जांच एवं उपचार जल-तेल उपचार विधि द्वारा की गई। अभियान के अंतर्गत सिविल अस्पताल इछावर में शिविर में उपस्थित 13 रोगियों की जांच की गई। जिनमें से 02 नए रोगियों का पंजीयन कर एमडीटी उपचार दिया गया । शिविर में 2 व्यक्ति हाथ की विकृति के 01 पांव में घाव और शेष पैर में सुन्नपन वाले रोगियों को जल तेल उपचार एवं व्यायाम नियमित करने की सलाह दी गई। एमसीआर चप्पल, सेल्फ केयर किट, टब एवं अन्य दवाएं षिविर में मरीजों को प्रदाय की गई।


रबी फसलों का उत्पादन बढ़ाने संतुलित उर्वरक का उपयोग करने किसान भाईयों को कृषि विभाग ने दी सलाह


कृषि विभाग ने जिलों के समस्त किसानों से आग्रह किया है कि रबी फसल की बुआई का समय प्रारंभ होने वाला है। जिले में रबी फसलों की बोनी अक्टूबर माह से दिसम्बर 2021 तक की जाती है। किसान को दो मुख्य बातों पर ध्यान देना चाहिए, पहला बीज तथा दूसरा उर्वरक। अगर गुणवत्ता पूर्ण है और उर्वरक का प्रयोग समुचित नहीं है तो फसल पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए कृषक बन्धुओं को ध्यान रखना चाहिए कि कौन सी खाद, कब, किस विधि से एवं कितनी मात्रा में देना चाहिए। रबी सीजन में किसान भाई उर्वरक प्रबंधन के अंतर्गत संतुलित रासायनिक उर्वरकों का उपयोग कर उत्पादन बढायें। कृषि विभाग ने किसानों को दी गई सामयिक सलाह के तहत गेहूँ सिंचित हेतु नत्रजन फास्फोरस पोटाश तत्व 120:60:40 सिंचित पछेती बोनी 80:40:30 असिंचित गेहूँ 60:30:30 एवं चना एन.पी.के. 20:60:20 एवं गंधक 20 कि.ग्रा. प्रति हेक्टेयर उपयोग में लाना चाहिए। कृषक बंधु डी.ए.पी. एवं यूरिया का बहुतायत से प्रयोग करते है। डी.ए.पी. की बढ़ती मांग, उंचे रेट एवं स्थानीय अनुपलब्धता से कृषकों को कई बार समस्या का सामना करना पड़ता है। परंतु यदि किसान डी.ए.पी. के स्थान पर अन्य उर्वरक जैसे सिंगल सुपर फास्फेट, एन.पी.के.(12:32:16), एन.पी.के. (16:26:26) एन.पी.के. (14:35:14) एवं अमोनियम फास्फेट सल्फेट का प्रयोग स्वास्थ मृदा कार्ड की अनुशंसा के आधार पर करें तो वे इस समस्या से निजात पा सकते है। कृषक नत्रजन फास्फोरस तो डी.ए.पी. एवं यूरिया के रूप में फसलों को प्रदाय करते है परंतु पोटाश उर्वरक का उपयोग खेतों में नही करते जिससे कृषक की उपज के दानों में चमक व वजन कम होता है, और प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से किसानों को हानि होती है। इसलिये किसान बन्धुओं की आवश्यकता है कि वे डी.ए.पी. के अन्य विकल्पों क्षेत्र की आवश्यकता के अनुरूप प्रयोग करें। डी.ए.पी. उर्वरक का प्रभाव भारी भूमि में अधिक प्रभावशाली होता है वहीं एन.पी.के. उर्वरकों का प्रभाव हल्की में ज्यादा कारगर होता है। एस.एस.पी. के प्रयोग से भूमि की संरचना का सुधार होता है क्योकि इसमें कॉपर 19 प्रतिशत एवं सल्फर 11 प्रतिशत पाया जाता है। एस.एस.पी. पाउडर एवं दानेदार दोनों प्रकार का होता है। एस.एस.पी. पाउडर को खेत की तैयारी के समय प्रयोग किया जाता है। वहीं एस.एस.पी, दानेदार को बीज बोआई के समय बीज के नीचे दिया जा सकता है। डी.ए.पी. में उपलब्ध 18 प्रतिशत नत्रजन में से 15.5 प्रतिशत नत्रजन अमोनिकल फार्म में एवं 46 प्रतिशत फास्फोरस में से 39.5 प्रतिशत पानी में घुलनशील फास्फोरस के रूप में मृदा को प्राप्त हो पाती है। शेष फास्फोरस जमीन में फिक्स हो जाने के कारण जमीन कठोर हो सकती है। इसी प्रकार इफको द्वारा नैनो तकनीक आधारित नैनो यरिया (तरल) युरिया के असंतुलित और अत्यधिक उपयोग से उत्पन्न होने वाली समस्या के नियंत्रण के लिए बनाया गया है। सामान्यतः एक स्वस्थ पौधे में नत्रजन की मात्रा 1.5 प्रतिशत से 4 प्रतिशत तक होती है। फसल विकास की विभिन्न अवस्थाओं में नैनो यूरिया (तरल) का पत्तियों पर छिड़काव करने से नाइट्रोजन की आवश्यकता प्रभावी तरीके से पूर्ण होती है एवं साधारण यूरिया की तुलना में अधिक एवं उत्तम गुणवत्ता युक्त उत्पादन प्राप्त होता है।  अनुसंधान परिणामों में पाया गया है कि नैनो यूरिया (तरल) के प्रयोग द्वारा फसल उपज, बायोमास, मृदा स्वास्थ और पोषण गुणवत्ता के सुधार के साथ ही यूरिया की आवश्कता को 50 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। नैनो यूरिया (500 मि.ली.) की एक बोतल कम से कम एक यूरिया बैग के बराबर होती है। जिसकी कीमत लगभग 240 रूपये प्रति 500 मिली. है। इसलिये कृषकों को नैनो यूरिया (तरल), एस.एस.पी. एवं एन.पी.के. विभिन्न उर्वरकों के विकल्प के रूप में स्थानीय उपलब्धता, रेट का आंकलन कर प्रयोग न्यायसंगत प्रतीत होता है।


खाद खरीदी का बिल किसान भाई अवश्य प्राप्त करें     


कृषि विभाग ने जिलों के समस्त किसानो से आग्रह किया है कि रबी मौसम की बुआई के दौरान खाद, बीज का क्रय जिन संस्थाओं से करते है, उसका पक्का बिल अवश्य लें। यदि कोई व्यापारी, दुकानदार पक्का बिल देने में आनाकानी करता है अथवा समय पर बिल नही देता है तो अविलम्ब इसकी जानकारी स्थानीय एसडीएम के संज्ञान में अवश्य लाएं। ताकि संबंधित विक्रेता के खिलाफ जांच पड़ताल कर कठोर कार्यवाही की जा सकें।


स्वस्थ भारत मिशन के तहत बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता


प्रधानमंत्री स्वस्थ भारत योजना का प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गत दिवस काशी (उ.प्र.) से 65 हजार करोड़ की आत्म निर्भर स्वस्थ भारत मिशन का शुभारंभ किया। योजना के अंतर्गत ब्लाक और जिला स्तर पर स्वस्थ सुविधा को बेहतर बनाने के लिये आधारभूत संरचना का विकास किया जाएगा। भविष्य में आपदा प्रबंधन/महामारी की संभावना को देखते हुए पूर्व में ही सभी स्तरों पर स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया जाना है। इसके लिए प्रधानमंत्री स्वस्थ भारत योजना की घोषणा की गई है। सभी जिलों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये आधारभूत संरचना का निर्माण किया जाएगा। जिसमें बेहतर अस्पताल, ऑक्सीजन, मेडिकल उपकरण और आपदा प्रबंधन के लिये सुविधाओं की उपलब्धता बनाई जाएगी। वर्चुअल माध्यम से वेब लिंक द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन में उन्होंने स्वास्थ्य प्रणाली के दीर्घकालिक अधोसंरचना को समग्र रूप से और मजबूत करने के लिये इस मिशन के माध्यम से अधिक से अधिक जनता को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने, स्वास्थ्य सुविधा के विस्तारीकरण की रणनीति को विस्तार से बताया।  स्वास्थ्य मानव जीवन का सबसे अहम पहलू है। स्वस्थ समाज ही विकसित राष्ट्र की रीढ़ है। वर्तमान केन्द्र एवं प्रदेश सरकार ने कोरोना जैसी महामारी का डटकर सामना किया। जिसमें डॉक्टर्स एवं पैरामेडीकल स्टाफ ने पूरा साथ दिया। देश में 100 करोड़ वैक्सीन डोज पूर्ण होने पर सबको बधाई दी। साथ ही टीबी के उन्नमूलन के लिये समुचित कार्य योजना बनाकर कारगर प्रयास करने की बात भी कही।


जन-भागीदारी से अभियान को मिलते हैं अदभुत परिणाम : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री ने वैक्सीन की दूसरी डोज के लिए की अपील, प्रदेश में अब तक 6.89 करोड़ से अधिक लगी वैक्सीन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसी भी अभियान में सभी नागरिक सम्मिलित होकर प्रयास करते हैं तो परिणाम अदभुत होते हैं। प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन में हुई जन-भागीदारी से अब तक 4 करोड़ 97 लाख 87 हजार 412 नागरिकों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज और एक करोड़ 91 लाख 42 हजार 331 नागरिकों को वैक्सीन की दूसरी डोज लग चुकी है। सभी के मिले-जुले प्रयासों ने कोरोना की तीसरी लहर को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण बनाये रखने के लिये वैक्सीन की दूसरी डोज भी शत-प्रतिशत नागरिकों को लगाए जाने का क्रम जारी है। दिसम्बर 2021 तक प्रदेश के सभी लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने का लक्ष्य रखा है। हम सब मिलकर प्रयास करेंगे प्रदेशवासियों को जल्द ही कोरोना से बचाव का सुरक्षित कवच प्राप्त हो सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं लगवाई है, प्राथमिकता और जिम्मेदारी से वैक्सीन लगवाएँ। उन्होंने कहा कि कोरोना से हम सभी को सावधान रहने की जरूरत है। कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने से शरीर में सुदृढ़ सुरक्षा कवच विकसित होता है। सुरक्षा की गारन्टी मिलती है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की डोज लगाने में मध्यप्रदेश देश में अग्रणी रहा है। वैक्सीनेशन का यह अभियान "सबका साथ-सबका विकास" और सबके प्रयास का एक जीवन्त उदाहरण्ण है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पिछले साल नवरात्रि, दशहरा, ईद और दीपावली त्यौहारों के समय प्रत्येक व्यक्ति के मन में कोरोना का भयंकर भय था। प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज 90 प्रतिशत से अधिक नागरिकों को लग जाने से ही कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण पाया जा सका। इस वर्ष इन त्यौहारों के समय लोगों में आत्म-विश्वास रहा, भय समाप्त हो गया। नागरिकों में जागरूकता आयी। लोगों ने कोरोना से बचाव के लिये सभी आवश्यक उपाय लगातार अपनाए। उन्होंने कहा कि कोरोना अभी गया नहीं है। इसका संक्रमण फिर से नहीं बढ़े इसके लिए कोरोना से बचाव के उपाय अपनाते हुये सभी को दूसरी डोज लगवाना आवश्यक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाने से छोटे दुकानदारों, उद्यमियों, श्रमिकों, सड़क किनारे व्यवसाय करने वाले लोगों में आशा की किरण का संचार हुआ। वे निर्भय होकर अपना व्यवसाय कर पाए। उन्होंने आव्हान किया कि कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा कर त्यौहारों को और भव्य तथा भयमुक्त बनाए। उन्होंने प्रदेशवासियों से कोरोना के प्रति अभी भी सजग रहने और बचाव के लिए अनुकूल व्यवहार अपनाने की अपील की।                                           
अब तक 6.89 करोड़ से अधिक डोज लगी                          
प्रदेश में 25 अक्टूबर तक 6 करोड़ 89 लाख 29 हजार 743 कोरोना वैक्सीन के डोज लगाए जा चुके हैं। इनमें से 4 करोड़ 97 लाख 87 हजार 412 को प्रथम डोज और एक करोड़ 91 लाख 42 हजार 331 नागरिकों को वैक्सीन की द्वितीय डोज लगाई जा चुकी है।  



लक्ष्मी जी और गणेश जी की ईको फ्रेंडली मूर्तियां उपलब्ध


बाजार में दीपावली पूजन के लिए लक्ष्मी जी और गणेश जी की ईको फ्रेंडली मूर्तियां इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय से उपलब्ध करवाई गई है। दीपावली के अवसर पर संग्रहालय के भोपाल स्थित  प्रतिरूपण अनुभाग द्वारा इको फ्रेंडली लक्ष्मी और बुद्धि के देवता गणपति जी की मूर्तियां बनाकर आम जनता के लिए उचित मूल्य पर विक्रय हेतु उपलब्ध कराया जा रहा है। इन मूर्तियों को संग्रहालय के प्रवेश द्वार नंबर 01 के पास स्थित इंटरप्रिटेशन सेंटर से 50 – 75 और 100 रूपए मूल्य के भुगतान के पश्चात् प्राप्त किया जा सकता है। विस्तृत जानकारी के लिए प्रतिरूपण अनुभाग के अनुभाग अधिकारी, के. शेषाद्रि से मोबाइल नंबर 9009630968 पर संपर्क किया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि दीपावली पर धन की देवी लक्ष्मीजी और बुद्धि के देवता गणपतिजी की पूजा की जाती है।


पीएम आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन” स्वास्थ्य संस्थाओं को करेगा सुदृढ़                                              


"प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन" प्राथमिक, माध्यमिक और उप स्वास्थ्य केंद्रों के स्वास्थ्य ढाँचे और मौजूदा राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थाओं को सुदृढ़ करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इन्दौर में प्रधानमंत्री श्री मोदी कें वीसी कार्यक्रम कें माध्यम से शामिल कार्यक्रम में कही। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ट्वीट कर शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों तक बेहतर चिकित्सा सुविधा की उपलब्धता सुनिश्चित करने और स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए "पीएम आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन" शुरु करने पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का हृदय से आभार व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि  "पीएम आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन" से स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार के साथ ही जन-जन को सरल, सुलभ और सस्ती स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।उल्लेखनीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी से 64 हजार करोड़ रूपये की पी.एम. आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन का आज शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि नया भारत वह है जहाँ आभाव से बढ़कर हर आकांक्षा की आपूर्ति के लिये कार्य किया जाये। इसी दिशा में सम्पूर्ण देश के स्वास्थ्य ढाँचे को एकरूपता प्रदान करने के लिये प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन शुरू किया जा रहा है। मिशन में सम्पूर्ण देश के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को उच्च स्तर बनाया जा सकेगा। साथ ही समाज के सभी वर्ग के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ प्रदान की जा सकेंगी। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में बढ़ रही सुविधाओं के साथ मेडिकल कॉलेजों में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टॉफ की सीटों में भी बढ़ोत्तरी हो रही है। यह योजना न केवल देश का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर बनाएगी बल्कि रोजगार के नये अवसरों का भी सृजन करेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: