बिहार : चौथे चरण के चुनाव प्रचार का शोर सोमवार को थम गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 19 अक्तूबर 2021

बिहार : चौथे चरण के चुनाव प्रचार का शोर सोमवार को थम गया

bihar-panchayat-elecion-fourth-phase
पटना। बिहार में पंचायत चुनाव के चौथे चरण के चुनाव प्रचार का शोर सोमवार को थम गया।आज और कल प्रत्याशी मतदाताओं के चौखट पर पहुंचकर अपने पक्ष में मतदान करने का आग्रह करेंगे। सुबह से लेकर शाम तक गांव की सरकार बनाने के लिए प्रत्याशी दमखम के साथ एक दूसरे की बातों को गलत ठहराते हुए भी मतदाताओं को अपनी तरफ आकर्षित करने का प्रयास करेंगे। तीन चरणों का मतदान पूरी तरह से संपन्न हो गया है। दुर्गा पूजा को लेकर थोड़ा समय प्रचार प्रसार के लिए प्रत्याशियों को जरूर मिला है।इस चौथे चरण में राज्य में 36 जिलों के 53 प्रखंडों में चुनाव होना है। चौथे चरण के लिए मतदान 20 अक्टूबर को निर्धारित है। इस चरण के चुनाव प्रचार में जुटे उम्मीदवार अपने पक्ष में लोगों को गोलबंद करने में जुटे हैं। जनसभा, घर-घर संपर्क के माध्यम से मतदाताओं को रिझा रहे हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार चौथे चरण के कुल 75,808 नामांकन पत्र दाखिल किए गए हैं। इनमें 35525 पुरुष एवं 40283 महिला उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है। आयोग के अनुसार ग्राम कचहरी पंच के कुल 10 हजार 888 सीटों के विरुद्ध 17 हजार 553, सरपंच के 799 सीटों के विरुद्ध 4190, मुखिया के 799 सीटों के विरुद्ध 5835, पंचायत सदस्य के 10 हजार 888 सीटों के विरुद्ध 41 हजार 120, जिला परिषद सदस्य के 119 सीटों के विरुद्ध 1131 और पंचायत समिति सदस्य के 1093 सीटों के विरुद्ध 5979 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल हुआ है।


● राज्य में 36 जिलों के 53 प्रखंडों में होना है चुनाव

● 35525 पुरुष व 40283 महिला उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है

● मुखिया के 799 सीटों के लिए 5835 ने किया नामांकन


7729 भवनों में 11 हजार 318 मतदान केंद्र

चौथे चरण में मतदान के लिए राज्य में 11 हजार 318 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। ये केंद्र 7729 भवनों में बनाये गये हैं। आयोग के अनुसार मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के सख्त प्रबंध किए जाएंगे। इसके लिए मंगलवार की शाम से ही सुरक्षा बलों की तैनाती व मतदानकर्मियों की तैनाती शुरू कर दी जाएगी। बता दें कि पंचायत चुनाव में राज्य निर्वाचन आयोग ने निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव कराने को लेकर कमर कस ली है।पहले, दूसरे और तीसरे चरण में कई तरह की शिकायत राज्य निर्वाचन आयोग को मिली है। चौथे चरण का चुनाव 20 अक्टूबर को है।ऐसे में चौथे चरण में किस तरह से आयोग की तैयारी है।

कोई टिप्पणी नहीं: