'छोटी दुर्गा', स्टोरीटेल की एक खास पेशकश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 15 अक्तूबर 2021

'छोटी दुर्गा', स्टोरीटेल की एक खास पेशकश

  • · छोटी दुर्गा, एक दस साल की प्यारी, नटखट और अद्भुत शक्तियों वाली, एक असाधारण लड़की की कहानी है।
  • · इस ऑडियोबुक सीरीज को लिखा है क़ैस जौनपुरी ने और इसे आवाज़ दी हैं मशहूर कथावाचक सोनल कौशल ने।


chhoti-durga-on-storytel
नई दिल्ली: छोटी दुर्गा स्टोरीटेल की पौराणिक चरित्र दुर्गा पर आधारित एक काल्पनिक चरित्र है,यह श्रोताओं  के लिए विशेष रूप से बच्चों के लिए स्टोरीटेल ऑडियोबुक प्लेटफार्म लेकर आया है। छोटी दुर्गा  माँ दुर्गा जैसी महाशक्तियों वाली लड़की है और हमेशा बुरी शक्तियों के खिलाफ खड़ी होती है और उन्हें नष्ट करने के लिए तैयार रहती है। छोटी दुर्गा एक दस साल की प्यारी, नटखट और अद्भुत शक्तियों वाली असाधारण लड़की की कहानी है। त्योहारों और  दुर्गा पूजा पर आप और आपके बच्चे साथ मिलकर इस कहानी को स्टोरीटेल पर सुन सकते हैं। छोटी दुर्गा की कहानी कुछ इस प्रकार शुरु होती है,दुर्गा एक विधवा सुमति को  नदी के तट पर मिलती है जो उसका पालन-पोषण  करती है। दुर्गा का एक शावक शेरू उसका सबसे अच्छा दोस्त है, इसके अलावा रुक्मी और वाल्क भी उसके अच्छे दोस्त हैं। छोटी दुर्गा को एक गुप्त योजना के तहत अपनी संचित ऊर्जा की मदद से देवताओं ने बनाया है,  न तो सुमति और न ही दुर्गा इसके बारे में जानते हैं। जब दुर्गा आठ साल की हो जाती हैं तो उसकी शक्तियां दिखने लगती हैं और वह राक्षसों और बुरी शक्तिओं  से भिड़ने लगती हैं। जल्द ही इस शक्तिशाली लड़की छोटी दुर्गा की खबर राक्षस के राजा अश्वसुर तक पहुंचती है, जो अब उसे मारना चाहता है। लेखक क़ैस जौनपुरी कहते हैं कि, “जौनपुर में उनके गांव ने उनपर बहुत बेहतरीन प्रभाव डाला है, गांव के माहौल में वे हमेशा दुर्गा पूजा में भक्ति फिल्म देखते रहे हैं ,राम लीला देखना आदि धार्मिक कार्यक्रम गावों में होते रहते थे।“ आगे क़ैस जौनपुरी बताते हैं कि  “दुर्गा के बारे में  उन्होंने  बहुत  पढ़ा है और रिसर्च किया है। उनकी हमेशा ही दुर्गा रूचि है, और आज इसका फल  स्टोरीटेल में बच्चों के लिए एक ऑडियोबुक सीरीज के रूप  में बाहर आया है। ऑडियोबुक लिखने के अनुभव के बारे में उन्होंने कहा की ये इस तरह लिखी गयी है की श्रोता को सुनने समय मन में कहानी की एक चित्र बन जाये”। इस ऑडियो सीरीज़ की पब्लिशर हैं प्रियंवदा रस्तोगी, प्रियंवदा के निर्देशन में ही इस पूरी कहानी को तैयार किया गया है, इस कहानी को आज कल कई माता-पिता अपने बच्चों को सुना रहें हैं। नवरात्रि के दिनों में बच्चे इस कहानी को सुन कर काफ़ी आनंदित हो रहें हैं और उनका बाल-मन छोटी दुर्गा के हर रोचक किरदार में ख़ुद को देखता है। कहानी सुनने की सुविधा स्टोरीटेल ऐप को ख़ास बनाती है क्योंकि इसमें आपके बच्चों को स्क्रीन देखना नहीं पड़ता।

कोई टिप्पणी नहीं: