बिहार : कांग्रेस ने किसानों की हत्या और प्रियंका की गिरफ़्तारी के खिलाफ फूंका मोदी-योगी का पुतला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 अक्तूबर 2021

बिहार : कांग्रेस ने किसानों की हत्या और प्रियंका की गिरफ़्तारी के खिलाफ फूंका मोदी-योगी का पुतला

  • किसानों की बर्बर हत्या और प्रियंका गांधी के हिरासत के खिलाफ बिहार कांग्रेस ने फूंका मोदी-योगी का पुतला
  • किसान आंदोलन को हिंसक और बदनाम करने की भाजपाई साजिश का नतीजा है लखीमपुर कांड: डॉ मदन मोहन झा

bihar-congress-protest
पटना,05 अक्टूबर।बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के द्वारा लखीमपुर खीरी में किसान आंदोलन में प्रदर्शनकारी किसानों पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के वाहनों से उनके पुत्र द्वारा कुचलकर हत्या करने के खिलाफ और लखीमपुर खीरी जा रही अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को सीतापुर में उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के खिलाफ बोरिंग रोड चौराहे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका गया। पुतला दहन का नेतृत्व बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने किया।उन्होंने पुतला दहन के बाद कहा कि भाजपा और इसके नेताओं द्वारा लगातार अहिंसक किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश का यह ताजा घटनाक्रम नतीजा है। अहिंसक किसान आंदोलन को हिसंक रूप देने की भाजपाई साजिश खुलेआम हो गयी। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के ओहदे पर बैठे भाजपा सांसद अजय मिश्र टेनी के वाहनों से उनके पुत्र के द्वारा किया गया यह कृत्य अक्षम्य है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यदि जरा सी भी शर्म बची हो तो ऐसे अपने मंत्रिमंडल के सहयोगी को अविलंब पद से बर्खास्त कर न्यायसंगत कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि शुरुआत में किसानों को दोष देकर मामले की लीपापोती शुरू हुई लेकिन अब जब प्रत्यक्ष वीडियो आ चुके हैं तो घटना में शामिल सभी अपराधियों को अविलंब गिरफ्तार करना चाहिए और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी द्वारा किसानों को धमकाने की गत दिनों आएं वीडियो को भी साक्ष्य के तौर पर शामिल करना चाहिए। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने कहा कि हमारी नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को मृत किसानों के परिवार से मिलने जाने के क्रम में सीतापुर में योगी की उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा हिरासत में ले लिया गया जबकि उन्होंने किसी कानून की अनदेखी नहीं की। उनको अविलंब हिरासत से ससम्मान रिहा किया जाना चाहिए वरना हम कांग्रेस के लोग चुप नहीं बैठेंगे।


कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजीत कुमार शर्मा ने कहा कि किसानों के जख्म पर मरहम लगाने जा रही हमारी नेता प्रियंका गांधी को असंवैधानिक रूप से हिरासत में लिया जाना और उनकी रिहाई न होना लोकतंत्र की हत्या है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी मृत किसानों के प्रति सहानुभूति रखती है और उनके वाजिब हक की लड़ाई को पूरे तन्मयता के साथ लड़ेगी। पुतला दहन कार्यक्रम में पटना महानगर कांग्रेस कमिटी का बढ़-चढ़कर सहयोग रहा।पुतला दहन कार्यक्रम में मुख्य रूप से अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव डा0 शकील अहमद खान, कार्यकारी अध्यक्ष डा0 समीर कुमार सिंह, श्याम सुन्दर सिंह धीरज, विधान पार्षद प्रेमचन्द्र मिश्रा,विधायक विजय शंकर दूबे, प्रतिमा कुमारी दास, इजहारूल हुसैन, छत्रपति यादव, डा0 अजय कुमार सिंह, संतोष मिश्रा, मीडिया विभाग के अध्यक्ष राजेश राठौड़, ब्रजेश पाण्डेय, ब्रजेश प्रसाद मुनन, आनन्द माधव, लाल बाबू लाल, नागेन्द्र कुमार विकल, चन्द्र प्रकाश सिंह, आसित नाथ तिवारी, गुंजन पटेल, ज्ञान रंजन, ऋषि मिश्रा, चुन्नू सिंह, सौरभ सिन्हा, आशुतोष शर्मा, अरविन्द लाल रजक, शशि रंजन,कमलदेव नारायण शुक्ला, शशि कांत तिवारी, धनंजय शर्मा, असफर अहमद, दौलत इमाम, मृणाल अनामय, प्रदुम्न यादव, अजय सिंह, सत्येन्द्र कुमार सिंह,सुनील कुमार सिंह, राजीव सिन्हा, दुर्गा प्रसाद,अनिता कुमारी, सुनीता साक्षी, वैंकटेश रमन, वसी अख्तर,सुधीर शर्मा,विनोद पाठक, मुकुल यादव, अविनाश कुमार, संजीव कर्मवीर, रेणु सिंह, संजय पाण्डे, रूमा सिंह, निधि पाण्डेय, कामरान हुसैन, अजय यादव, रिपूदहन शर्मा, अनूप कुमार, ई0 कमलेश कुमार, विकास कुमार झा, संजय यादव, सुदय शर्मा, अमित कुमार सिंह, राजन कुमार यादव, आलोक हर्ष,संतोष कुमार मिश्र, रविन्द्र सिंह, पूनम यादव,सहित सैकड़ों कांग्रेस नेता मौजूद रहें।

कोई टिप्पणी नहीं: