बिहार : 20 महीने से मुलाकाती बंद होने के कारण बेउर के कैदी अवसाद में - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 अक्तूबर 2021

बिहार : 20 महीने से मुलाकाती बंद होने के कारण बेउर के कैदी अवसाद में

  • सरकार त्वरित पहलकदमी ले और परिजनों से मुलाकात का सिलसिला चालू कराए.

prisioner-not-meet-their-family-bihar
पटना 22 अक्टूबर, भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने कहा है बेउर जेल में बंद कैदी धीरे-धीरे अवसाद में जा रहे हैं, क्योंकि विगत 20 महीनों से उनकी मुलाकात अपने परिजनों से नहीं हो पाई है. बिहार सरकार, कारा मंत्री और संबंधित जेल अधिकारियों को इसपर तत्काल ध्यान देना चाहिए और मुलाकाती की शुरूआत करवानी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोविड के पहले चरण में 24 मार्च को लॉकडाउन घोषित हुआ था. सभी चीजों की तरह मुलाकाती पर भी प्रतिबंध लग गया. इस बीच दूसरी लहर भी आकर चली गई. धीरे-धीरे सबकुछ खुलता जा रहा है, लेकिन मुलाकाती का दौर चालू नहीं हो पाया है. ऐसे में कैदी अवसाद में जा रहे हैं और कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं. घर से आने वाला नाश्ता वगैरह सब बंद है. इसलिए सरकार इस मामले में तत्काल हस्तक्षेप करे.

कोई टिप्पणी नहीं: