विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 अक्तूबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 अक्टूबर

माधव उद्यान विदिशा में सुधार एवं आवश्यक निर्माण कार्याें के संबंध में सुझाव अनुसार कार्य यथाशीघ्र किए जाये-भार्गव 


vidisha-news
विदिशाः- आज दिनांक 10.10.2021 को प्रातः विधायक भार्गव द्वारा मुख्य नगरपालिका अधिकारी सुधीरसिंह एवं उपयंत्री श्री अशोक राय के साथ माधव उद्यान में व्याप्त अव्यवस्थाओं एवं असुुविधाओं के संबंध में निरीक्षण किया गया, निरीक्षण उपरांत निम्न बिन्दुवार सुझावों पर यथाशीघ्र कार्यवाही के संबंध में विधायक भार्गव द्वारा निर्देश दिए गये। उन्होने कहा कि नगर विदिशा स्थित नगरपालिका अधीन माधव उद्यान शहर के आम नागरिकों के लिए सुबह शाम घूमने एवं योग व्यायाम करने का एक प्रमुख केन्द्र है। नगरपालिका परिषद विदिशा द्वारा माधव उद्यान के संबंध में सुझाव अनुसार आवश्यक निर्माण कार्य एवं सुविधाओं के संबंध में यथाशीघ्र कार्यवाही की जाना चाहिए। इसके एक दिन पूर्व भी विधायक भार्गव द्वारा माधव उद्यान का निरीक्षण किया गया था जिसके संबंध में उन्हांेने कलेक्टर विदिशा को पत्र के माध्यम से व्याप्त असुविधाओं एवं अव्यवस्थाओं के संबंध में अवगत कराया था, इसी क्रम में आज नगरपालिका के अधिकारी कर्मचारियों के साथ माधव उद्यान के निरीक्षण उपरांत 15 सूत्रीय सुझावों पर यथाशीघ्र कार्यवाही किए जाने के संबंध में मुख्य नगरपालिका अधिकारी को मौके की स्थिति से अवगत कराया एवं कलेक्टर विदिशा को भी उक्त सुझावों पर यथाशीघ्र कार्यवाही हेतु पत्र के माध्यम से सुझावों की जानकारी दी गई। 15 सूत्रीय सुझावों में निम्नानुसार कार्यों के संबंध में कार्यवाही की विधायक भार्गव द्वारा अपेक्षा की जिसमें  सीवेज लाईन का पानी माधव उद्यान स्थित नीमताल में मिल रहा है, जिसे रोके जाने के संबंध में यथाशीघ्र कार्यवाही हो। इस संबंध में सीवेज ठेकेदार को निर्देशित किया जाए कि जगह जगह सीवेज लाईन से गंदा पानी लीकेज हो रहा है। उक्त लाईन की मरम्मत कर सौंठिया सबस्टेशन से जोडा जाए, जिससे कि सीवेज का पानी नीमताल में न मिले एवं पूर्व की भांति नीमताल में वोट चलाई जा सकें। माधव उद्यान में पूर्व में भी बाउण्ड्रीवाल निर्माण कार्य के लिए स्वीकृति कराई गई थी लेकिन आज तक कार्यवाही नहीं हुई है। बाउण्ड्रीवाल के अभाव में सुअर एवं अन्य जानवर उक्त माधव उद्यान में प्रवेश कर गंदगी फैला रहे है। प्राथमिकता के आधार पर बाउण्ड्रीवाल का निर्माण कार्य किया जाए। माधव उद्यान से लगी सब्जी मण्डी के पीछे वाले हिस्से में तुरन्त सफाई कराई जाए। माधव उद्यान में स्थित ओपन जिम की सभी मशीने खराव है, जिनको तत्काल ही ठीक किया जाए।  माधव उद्यान स्थित बॉलीवाल कोर्ट की साफ सफाई एवं लेवलिंग का काम यथाशीघ्र किया जाए। माधव उद्यान में स्थित चबूतरे पर प्रातः लोग योगा करते है, उक्त चबूतरे पर टीनशेड निर्माण कार्य मेरी विधायक निधी से करवाए जाने के संबंध में स्टीमेट तैयार करवाया जाए एवं नगरपालिका की ओर से चबूतरे का मरम्मतीकरण कार्य करवाया जाए।  नीमताल के पानी में डेंगू के लार्वा के संबंध में पानी की जांच कराई जाए।  अडानी ग्रुप के सोयाप्लांट के पीछे निर्माणाधीन रोड एवं रेलवे लाईन के बीच में पानी का भराव होने की वजह से पानी में दुर्गंध आ रही है। पूरी लाईन के किनारे पानी के भराव की निकासी की व्यवस्था की जावे। इस बात का भी अंदेशा है कि अडानी ग्रुप सोयाप्लांट से गंदा पानी इस स्थान पर मिल रहा है इसकी भी जांच कर मुझे अवगत कराया जाये। माधव उद्यान में स्थित लान में देशी घांस उग रही है, उसकों तुरन्त साफ कराया जाए।  नीमताल में कुछ जगह पुनः जलकुंभी पनप नही है उसे निकाले जाने के प्रबंध किए जाए। माधव उद्यान से लगे हुए रानी दुर्गावती उद्यान को माधव उद्यान में शामिल किया जाए एवं बीच में निकली हुई पेस पर एक रेम्प बनाकर दोनो पार्कों के लिए आवागमन शुरू किया जाए। नीमताल में पूर्व से जो फुब्बारे लगे हुए थे उनहें पुनः चालू किया जाए। माधव उद्यान में निर्मित योग केन्द्र का निर्माण कार्य तुरन्त प्रारंभ कर पूर्ण किया जाए। उद्यान के अन्दर स्थित तालाब की पार पर कुछ स्थान पर रेलिंग लगी हुई है शेष बचे हुए स्थान पर भी रेंलिंग लगाई जावे। नीमताल के बीचों बीच माधव उद्यान से इंदिरा राजीव उद्यान तक रेम्प ब्रिज का निर्माण कार्य कराया जाए।


आर्थिक मदद जारी

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने हिट एण्ड रन के एक प्रकरण में आर्थिक मदद के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि सागर जिले की राहतगढ तहसील के निवासी श्री वीर सिंह लोधी की मृत्यु सड़क में हो जाने से मृतक के पिता श्री रमेश सिंह लोधी को 15 हजार रूपए की आर्थिक सहायता जारी की गई है।


समर्थन मूल्य पर पंजीयन 14 तक


खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 के लिए समर्थन मूल्य पर धान एवं मोटे अनाज का पंजीयन कार्य 14 अक्टूबर तक जारी रहेगा। जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि विदिशा जिले में उपार्जन हेतु ई पंजीयन कार्य पोर्टल पर प्रचलित है इसके लिए जिले में कुल 37 पंजीयन केन्द्र संचालित किए जा रहे है। विकासखण्डवार पंजीयन कार्य हेतु केन्द्रो की संख्या इस प्रकार से है। विदिशा में 13, बासौदा, गुलाबगंज, ग्यारसपुर, कुरवाई सहित प्रत्येक में क्रमशः तीन-तीन, सिरोंज में चार, शमशाबाद, लटेरी एवं त्योंदा में दो-दो तथा नटेरन एवं पठारी तहसील में एक-एक पंजीयन केन्द्र संचालित किया जा रहा है। उपरोक्त केन्द्रो पर पंजीयन कार्य 15 सितम्बर से जारी है जो 14 अक्टूबर तक किया जाएगा। पंजीयन के लिए प्रातः सात बजे से सायं छह बजे तक समस्त शासकीय दिवसों में जारी रहेगा।  जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने पंजीयन स्थल पर पंजीयन किया जाएगा उनमें भू-स्वामी कृषकों का पंजीयन, एमपी किसान एप समिति स्तर पर स्थापित केन्द्र तथा सिकमीदार एवं वनाधिकार पटटाधारी कृषकों का पंजीयन समिति स्तर पर स्थापित केन्द्रो पर होगा।

                

पंजीयन हेतु आवश्यक दस्तावेंज -

विगत खरीफ एवं रबी विपणन मौसम में जिन किसानो द्वारा पंजीयन कराया गया था ऐसे किसानो को खरीफ वर्ष 2021-22 में पंजीयन हेतु दस्तावेंज देने की आवश्यकता नही होगी। किसानो के विगत वर्ष के पंजीयन में उल्लेखित आधार नम्बर, बैंक खाता, मोबाइल नम्बर में ही किसान परिवर्तन करा सकेंगे जिसमें संशोधन की आवश्यकता होने पर संबंधित दस्तावेंज प्रमाण स्वरूप पंजीयन केन्द्र पर लाना होगा। नवीन कृषकों को जिन्होंने विगत वर्ष पंजीयन नही कराया है ऐसे किसानो को समिति स्तर पर पंजीयन हेतु आधार नम्बर बैंक खाता, मोबाइल नम्बर की जानकारी उपलब्ध करानी होगी। वनाधिकार पट्टाधारी, सिकमीदार किसानो को वन पट्टा एवं सिकमी के वैध अनुबंध की प्रति उपलब्ध करानी होगी। किसानो का भुगतान सीधे बैंक खातो में किया जाएगा। इस कारण किसान पंजीयन में केवल राष्ट्रीयकृत बैंक एवं जिला सहकारी बैंक की शाखाओं के एकल खाते ही मान्य होंगे। जन-धन, ऋण,नाबालिग, बंद एवं अस्थायी रूप से रोके गए खाते पंजीयन में मान्य नही होंगे। किसान के बोए गए रकवे एवं फसल की जानकारी गिरदावरी डाटाबेस से ली जाएगी। गिरदावरी में दर्ज भूमि एवं बोई गई फसल में संशोधन हेतु गिरदावरी में दावे आपत्तियां करना होगा। आपत्तियो का निराकरण उपरांत संशोधित जानकारी प्राप्त होने पर पंजीयन किया जाएगा।


जल उपयोगिता समिति की बैठक आज


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में जिला स्तरीय जल उपयोगिता समिति की बैठक आज सोमवार 11 अक्टूबर को आयोजित की गई है। यह बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में दोपहर तीन बजे से शुरू होगी। समिति के सचिव तथा सम्राट अशोक सागर संभाग क्रमांक दो के कार्यपालन यंत्री श्री आरके जैन ने बैठक एजेण्डा के संबंध में बताया कि सिंचाई जलाश्यों में उपलब्ध जल की मात्रा का आंकलन एवं रबी सिंचाई हेतु जल उपयोग का निर्धारण। रबी सिंचाई कार्यक्रम 2021-22 का निर्धारण, नहरो को खोलने का कार्यक्रम पेयजल का अनुबंध और जलकर का भुगतान इत्यादि शामिल है। 


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना तहत आवेदन आमंत्रित


विदिशा जिला अंतर्गत जन सामान्य महिला, पुरूष सभी वर्ग के व्यक्तियों से जो मत्स्य पालन के इच्छुक है ऐसे व्यक्तियों से प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत वर्ष 2022-23 के लिए मत्स्य विभाग द्वारा आवेदन तीस अक्टूबर तक आमंत्रित किए गए है। मत्स्य उद्योग के सहायक संचालक श्री संतोष दुबे ने बताया कि प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत अनुदान प्राप्त करने के लिए नियत तिथि तक आवेदन प्राप्त होना चाहिए। इसके लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन आमंत्रित किए गए है। शासकीय दिवसों, अवधि में कार्यालय सहायक संचालक मत्स्यद्योग जो पुरानी कलेक्ट्रेट में संचालित हो रहा है में कार्यालयीन समय में सम्पर्क कर आवेदन प्रस्तुत कर सकते है।


प्रारूप

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत मत्स्य विभाग द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए है इसके लिए निर्धारित प्रारूप में जन सामान्य महिला, पुरूष अपने आवेदन जमा कर सकते है। ऐसे हितग्राही जो मत्स्यपालन, मत्स्य बीज संवर्द्धन, मत्स्य बीज उत्पादन, सघन मत्स्यपालन, मत्स्य परिवहन, मत्स्य विपणन तथा मत्स्य संपदा के सुरक्षित संधारण आदि की गतिविधियों के माध्यम से मत्स्य व्यवसाय से जुडना चाहते है एवं मत्स्य पालन करना चाहते है तो वे मत्स्य विभाग में सहायक संचालक मत्स्याद्योग विदिशा के कार्यालय में 30 अक्टूबर तक अपना आवेदन प्रस्तुत कर सकते है। क्रमांक 67/अहरवाल

कोई टिप्पणी नहीं: