विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 01 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 नवंबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 01 नवम्बर

राज्य स्थापना दिवस पर कार्यक्रमों का आयोजन हुआ, विधायक श्री हरिसिंह सप्रे ने ध्वजारोहण किया


vidisha news
मध्यप्रदेश राज्य का 66वें स्थापना दिवस संबंधी  कार्यक्रम आज जिला मुख्यालय पर आयोजित किया गया था। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे ने ध्वजारोहण किया। पुलिस परेड ग्राउण्ड पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य समारोह में मुख्य अतिथि श्री सप्रे ने प्रदेश में हुए विकास को रेखांकित करते हुए समारोह को संबोधित किया। मध्यप्रदेश गान, देशभक्ति व आत्मरक्षा पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम व खेलों का प्रदर्शन स्कूली विद्याथियों के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री हरसिंह सिंह सप्रे, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला ने विभिन्न गतिविधियों में उत्कृष्ट ख्याति अर्जित करने वाले खिलाड़ियों, युवाओं व छात्र-छात्राओं, पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया है। कार्यक्रम का समापन वंदे मातरम् गायन से हुआ। पुलिस परेड ग्राउण्ड पर सम्पन्न हुए राज्य स्थापना दिवस पर आयोजित उपरोक्त कार्यक्रम में विधायक श्री शशांक भार्गव, पूर्व मंत्री श्री राघवजी, पूर्व विधायक श्री रूद्रप्रतापसिंह, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्य डॉ राकेश जादौन, भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष राजेश जैन के अलावा अन्य जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, शैक्षणिक संस्थाओं के गुरूजन, विद्यार्थीगण मौजूद थे। 

पुलिस झंडा दिवस का समापन, शहीदों को अतिथि एवं अन्य ने नमन किया


vidisha news
पुलिस झंडा दिवस के तहत विभिन्न गतिविधियों का आयोजन जिले में किया गया था। आयोजित गतिविधियों में उत्कृष्ट स्थान हासिल करने वाले विजेताओं को कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला ने आज राज्य स्थापना दिवस समारोह कार्यक्रम स्थल पर सम्मानित किया। पुलिस परेड ग्राउण्ड परिसर में आयोजित शहीदों को नमन हेतु आयोजित दीर्घा प्रकोष्ठ गैलरी का अतिथि सहित अन्य के द्वारा अवलोकन किया गया है। पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुल्का ने बताया कि जिले में विगत एक वर्ष में जिन पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने आंतरिक सुरक्षा कायम रखते हुए कर्तव्य की वेदी पर अपने प्राणों की आहूति दी है उन सबके लिए पुलिस झंडा दिवस पर शहीदों को नमन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला ने बताया कि जिले के सहायक उपनिरीक्षक बहादुरसिंह यादव तथा आरक्षक प्रेमसिंह सिलावट और मोहम्मद इरफान शहीद हुए हैं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री हरिसिंह सप्रे सहित अन्य के द्वारा शहीदों को नमन कर श्रृद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डल, जिला क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्य डॉ राकेश जादौन, भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष श्री राजेश जैन सहित अन्य जनप्रतिनिधि के अलावा जिला पंचायत सीईओ आईएएस डॉ योगेश भरसट, सहायक कलेक्टर श्री अनिल कुमार राठौर, एसडीएम श्री गोपालसिंह वर्मा, सीएसपी श्री विकास पांडे, डिप्टी कलेक्टर द्वय श्रीमति अमृता गर्ग, सुश्री अनुभा जैन एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे। 

अब पेंशनरों को जीवन प्रमाण-पत्र जमा करने के लिए बैंक नहीं जाना होगा


जिला पेंशन अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने बताया कि भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया एक नबंवर 2021 से पेंशन धारकों के लिए एक नई सुविधा की शुरूआत करने जा रही है। जिसके तहत अब पेंशनरों को जीवंत प्रमाण पत्र जमा करने के लिए बैंक नहीं जाना होगा, बैंक की तरफ से ट्वीटर पर दी गई जानकारी के अनुसार कोई भी पेंशनभोगी 1 नबंवर से वीडियो कॉल के जरिए अपना जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकेगा। इस सुविधा से एसबीआई पेंशन धारकों को बैंक तक नहीं जाना होगा। घर बैठे ही जीवन प्रमाण पत्र भेज सकते हैं। जिला पेंशन अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने एसबीआई के द्वारा उपलब्ध कराई गई प्रोसेस की ट्वीटर लिंक भी शेयर की है।  


न्यायालयीन आदेश का कड़ाई से पालन कराना सुनिश्चित करें


सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी आदेश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के आदेश गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ राजेश राजोरा ने समस्त कलेक्टरों व पुलिस अधीक्षकों को जारी किए गए हैं। जारी उक्त आदेश में पटाखे एवं अन्य गतिविधियां प्रतिबंधित की गई हैं। जिनका अक्षरशः क्रियान्वयन कराए जाने के लिए पूर्व उल्लेखितों को अधिकृत किया गया है। प्रत्येक जिले में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक के द्वारा समस्त पटाखा निर्माताओं, भण्डारकर्ताओं एवं लायसेंसी विक्रेताओं से अंडरटेकिंग प्राप्त करेंगे। संदेहप्रद प्रतिबंधित पटाखों की स्थिति में सैम्पल लेकर मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण मण्डल की प्रयोगशाला में भेजना सुनिश्चित करेंगे। प्रयोगशालाओं द्वारा प्राप्त सैम्पल की जांच का कार्य कर संबंधित जिले के कलेक्टर को शीघ्र अतिशीघ्र रिपोर्ट प्रेषित की जाएगी। उक्त रिपोर्ट के आधार पर युक्तियुक्त विधिसम्मत कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। प्रत्येक जिले में कम से कम पांच सैम्पल मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण मण्डल की प्रयोगशाला को भेजना सुनिश्चित करेंगे। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने गृह विभाग द्वारा जारी पत्र का हवाला देते हुए बताया कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जिन पटाखों एवं गतिविधियों को प्रतिबंधित किया गया है उनमें पटाखे जिनके निर्माण में बेरियम सॉल्ट का उपयोग किया गया हो, लड़ी (जुड़े हुए पटाखे/सीरीयस फायरक्रेकर) में बने पटाखे, पटाखे जिनकी तीव्रता विस्फोट स्थल से 4 मीटर की दूरी पर 125 डेसिबल से अधिक न हो, पटाखे जिनके निर्माण में एंटीमनी, लीथियम, मरकरी, अर्सेनिक, लीड, स्ट्रोन्टियम, क्रोमेट का उपयोग किया गया हो, पटाखों का ई-कॉमर्स कंपनियां अथवा निजी व्यक्तियों द्वारा ऑनलाईन विक्रय तथा गैर लायसेंसी विक्रय, घोषित शांति क्षेत्र के भीतर 100 मीटर दूरी तक, रात्रि 8 बजे से पहले तथा रात्रि 10 बजे के बाद पटाखे चलाना इत्यादि शामिल हैं।


स्वघोषणा पत्र देना होगा

जिले में पटाखा व्यवसाय से संबंद्ध व्यापारी स्वघोषणा पत्र निर्धारित प्रारूप परिशिष्ट 4 में जानकारियां अंकित कर जमा करेंगे। यह कार्य पटाखा निर्माताओं, भण्डारकर्ताओं एवं लायसेंसी विक्रेताओं के द्वारा संपादित किया जाएगा। स्वघोषणा पत्र में उल्लेख है कि मैं शपथपूर्वक यह अन्डरटेकिंग जिला प्रशासन को प्रदान करता हूं किः- मेरे द्वारा केवल इम्प्रूव क्रेकर्स/ग्रीन क्रेकर्स का ही निर्माण/मण्डारण/परिवहन/ विक्रय किया जा रहा है। मेरे द्वारा स्वास्थ्य के लिए हानिकारक अथवा प्रतिबन्धित पटाखों का निर्माण/भण्डारण/परिवहन/विक्रय नहीं किया जावेगा। मेरे द्वारा ऐसे फटाखों का निर्माण/भण्डारण/ परिवहन/विक्रय नहीं किया जावेगा जिनके निर्माण में बेरियमसॉल्ट का इस्तेमाल हुआ है। मेरे द्वारा ऐसे लड़ी (जुड़े हुए पटाखे/सीरीयस फायरक्रेकर्स) में बने पटाखे का निर्माण/भण्डारण/ परिवहन/विक्रय नहीं किया जावेगा। जिनके निर्माण में एंटीमनी, लीथियम, मरकरी, अर्सेनिक, लीड, स्ट्रोन्टियम, क्रोमेट का इस्तेमाल हुआ हो। मेरे द्वारा विक्रय किए जा रहे पटाखे ऑनलाईन ई-कॉमर्स कंपनियों से नहीं खरीदे गए हैं। अंडरटेकिंग पत्र में उल्लेखित करेंगे। प्रत्‍येक संस्था ऐजेंसी दुकानदार को अपना नाम सहित निर्माण, भण्डारण, परिवहन, विक्रय स्थल का पता, लायसेंस क्रमांक, निवास पता व संपर्क नंबर भी निर्धारित प्रारूप में देना होगा। 


लंबित आवेदनों की समीक्षा


vididha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा के दौरान जिले में नकली खाद विक्रय के प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए दर्ज हुई एफआईआर की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की है। उन्होंने जिले में विभिन्न प्रकार के माफियाओं पर नकेल कसने के सख्त हिदायत संबंधित विभागों के अधिकारियों को देते हुए उनसे कहा कि मुझे अन्य स़़्त्रोतो से सूचनाएं प्राप्त होने से पहले विभाग का अमला कार्यवाही कर चुका हो ऐसी कार्यप्रणाली स्पष्ट रूप से वर्किंग कल्चर में परलिक्षित होना चाहिए। उन्होंने आबकारी, खनिज विभाग के अधिकारियों से कहा है कि गहन निरीक्षण अभियान सतत जारी रहें। जिले में कही भी अवैध मदिरा का क्रय विक्रय व भण्डारण कदापि ना हो। इसके लिए सूचना तंत्रों के माध्यम से जीवंत सम्पर्क बनाए रखें। इसी प्रकार जिले में अवैध खनिज का कही भी उत्खनन व परिवहन ना हो ऐसी कार्यवाही के लिए विभागीय सूत्रो के अलावा अन्य सूत्रों से जानकारी प्राप्त करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले को विभिन्न कंपनियों से प्राप्त यूरिया की आपूर्ति हेतु रेक के माध्यम  से प्रदाय खादो का वितरण समान अनुपातिक हो। बिना पौष मशीन के किसी भी कृषक अथवा अन्य को खाद का वितरण ना किया जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले के निजी विक्रेताओं को उपलब्ध कराए जाने वाले तीस प्रतिशत खाद में  भी उपरोक्त कार्यवाही क्रियान्वित की जाए। यदि किसी निजी विक्रेता के द्वारा इस कार्यवाही में कोताही बरती जाती है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही प्रस्तावित की जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए जिले में किए जाने वाले प्रबंधो का भी जायजा लिया। खासकर उपार्जन केन्द्रों पर धान परिवहन हेतु आवश्यक वारदानो की जानकारी प्राप्त की। इस दौरान बताया कि जिले में तीन हजार बैग उपलब्ध है। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले में विभिन्न प्रकार के खाद की मांग, पूर्ति, भण्डारण इत्यादि के लिए किए गए प्रबंधो के आंकडे सहित समुचित जानकारी से हर रोज अवगत कराने के निर्देश संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिए है। बैठक में एनआरएलएम के जिला प्रबंधक ने बताया कि आजीविका मिशन के तहत गठित महिला स्व-सहायता समूहों को 25 करोड ऋण वितरण के विरूद्व अब तक 20 करोड़ 54 लाख का ऋण वितरण किया जा चुका है शेष प्रकरण बैंको में स्वीकृति उपरांत विततरण की कार्यवाही क्रियान्वित है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक में आगामी कलेक्टर्स, कमिश्नर्स कांफ्रेंस का पालन प्रतिवेदन के संबंध में गहन चर्चा की गई। इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, सहायक कलेक्टर श्री अनिल कुमार राठौर, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।  

कृषक उद्यमी एफपीओ पर कार्यशाला का आयोजन


vidisha news
आत्म निर्भर अभियान के अंतर्गत पीएमएफएमई विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन शासकीय उद्यान बेतवा विदिशा में किया गया था। जिसमें कृषक उद्यमी को एफपीओ से  प्रशिक्षित किया गया है। उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक श्री केएल व्यास ने बताया कि किसानो को डीपीआर तैयार करने का विस्तृत प्रशिक्षण श्री सुनील जैन के द्वारा दिया गया है। योजना का लाभ लेने के इच्छुक कृषको से कार्यशाला में ही आवेदन दाखिल कराने की प्रक्रिया पूर्ण की गई हैं। सहायक संचालक श्री व्यास ने बताया कि प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्यम उन्नयन योजना (पीएमएफएमई) की जानकारी से अवगत कराने के उपरांत कृषकों की जिज्ञासाओं का समाधान भी मौके पर किया गया हैं इस दौरान योजना का लाभ लेने के लिए किन-किन दस्तावेंजो को संलग्न करना आवश्यक हैं अर्थात आवेदन कैसे करें तथा कौन से प्रमाण पत्र आदि ऑन लाइन आवेदन दर्ज करना आवश्यक है पर गहन प्रकाश डाला गया। प्रशिक्षणार्थियों को जिला प्रबंधक एसआरएलएम श्री सतीष बछेरिया, कृषि तकनीकी विशेषज्ञ पंजाब नेशनल बैंक प्रशिक्षण केन्द्र विदिशा श्री एसएस तोमर, चौपाल एग्रीकल्चर प्रोडयूसर कंपनी के प्रतिनिधि श्री विरजेश शर्मा ने सम्बोधित किया है। 

तेवडा रहित चना बीज की बुवाई करें किसान


वर्तमान में रबी फसल बीज बुवाई की तैयारियों जारी है ऐसे में कृषकों को सलाह दी जाती है कि कृषक भाई चना बीज की बुवाई करते समय चने का उच्च उच्च गुणवत्तायुक्त तेवडा/खेसरीरहित बीज का चयन कर बुवाई करें। विगत वर्षो में ऐेसा देखा गया है कि कृषकों की चने की उपज के साथ तेवडा मिश्रित होता है जो कि उपार्जन मापदण्डो में सम्मिलित नहीं किया गया है। जिसके कारण किसानो को चना समर्थन मूल्य पर  विक्रय करते समय बहुत समस्या होती है। अतः किसान भाई विशेष रूप से ध्यान रखें कि चने का बीज तेवडा/खेसरीरहित हो। यदि किसी कारणवश बुवाई उपरांत चने के साथ  तेवडा के पौधे भी दिखाई देते है तो तेवडा के पौधे पहचान कर खरपतवार की तरह निदाई-गुडाई कर खेत से बाहर निकाल दिए जायें। जिससे चने की उपज तेवडा/खेसरीरहित हो।


मध्यप्रदेश राज्य स्थापना दिवस का राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण


vidisha news
मध्यप्रदेश राज्य के 66वें स्थापना दिवस पर भोपाल में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण विदिशा जिले के विभिन्न स्थलों पर जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिकों एवं आमजनो के द्वारा देखा सुना गया है। विदिशा नगर में माधवगंज कांच मंदिर के समीप बडी एलईडी में राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण दिखाए जाने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए थे। दीपावली के पावन पर्व पर सामग्री खरीदने हेतु आने वाले आमजनो ने भी लाइव प्रसारण का अवलोकन रूक कर किया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री का आमजनों के नाम संदेश की प्रतियों का भी वितरण किया गया है। 


सफलता  की  कहानी : वायोवृद्ध की पहल पर बुजुर्ग दम्पतियों ने टीकाकरण कराया


vidisha news
विदिशा शहर की 75 वर्षीय श्रीमती रूकमा बाई ने प्रेरक की भूमिका निभाते हुए पड़ोस में रहने वाले बुर्जुग दम्पति जिसमें 73 वर्षीय हरिसिंह और उनकी धर्मपत्नी 70 वर्षीय रामप्यारी बाई के द्वारा कोविड टीकाकरण लगवाने की इच्छा जाहिर करने पर बुर्जुग दम्पति को श्रीराम लीला परिसर के लंका भवन में संचालित टीकाकरण सत्र स्थल पर लेकर पहुंची है। टीकाकरण कार्य हो जाने पर बुर्जुग दम्पति के चेहरो से ज्यादा खुशी रूकमा बाई के चेहरे पर नजर आ रही थी इनके द्वारा किया गया नेक काम की भूरि-भूरि प्रशंसा जिला टीकाकरण अधिकारी श्री डीके शर्मा ने बताया कि ग्राम छापखेडा के निवासी और जो अब राघवजी कालोनी में निवासरत है। स्वंय बुर्जुग होने के बाबजूद अन्य बुर्जुगो के प्रति टीकाकरण कराने की पहल करने वाली श्रीमती रूकमा बाई हम सबके लिए प्रेरणा का स्त्रोत है। 

कोई टिप्पणी नहीं: