झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 19 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 19 नवंबर 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 19 नवम्बर

नाकोड़ा की सोन पपड़ी में निकले जाले ओर इल्लियां, घटिया सामग्री बनाकर आमजन की सेहत से कर रहा खिलवाड़


jhabua news
पारा ।  सरकार की पेकिंग माल बेचने की नीति के चलते छोटे बड़े व्यापारी ओर उद्योग धंधे वाले को आम जन की सेहत से सरेआम खिलवाड़ करने का लाइसेंस मिल गया है। पेकिंग में कितना घटिया समान है इसकी जानकारी उपभोक्ता को पैकिट खोलने के बाद ही मिलेगी । इसी के चलते धंधे बाज व्यापारियों ने पेकिंग समान की आड़ में घटिया खाद्य सामग्री मार्केट में खपाना शुरू करदी। ऐसा ही मामला गत दिनों प्रकाश में आया ।  इंदौर की नाकोड़ा फूड मार्केटिंग कम्पनी इंदौर  ने दीपावली पर बाजार में सोन पपडी नाम का पेकिंग प्रोडक्ट बड़ी भारी मात्रा में उतारा  जिसका बेच नम्बर बी 08 डी अगस्त 2021 निर्मित है  जिसकी उपयोग के लिये बेस्ट फार 4 महीने है । बावजूद इस सोन पपडी प्रोडक्ट में इतने घटिया किस्म की पदार्थों के मिलावट का उपयोग किया गया कि इस बेच के प्रोडक्ट में अवसान तिथि से पहले ही जाले ओर इल्लियां निकल रही है। जो कि सीधे सीधे आमजन की सेहत के साथ खिलवाड़ है। इस प्रकार के घटिया प्रोडक्ट की जानकारी जब पारा नगर के दुकानदारों को पता चली तो उन्होंने इसकी सूचना डीलर को दी । डीलर सहित  कम्पनी ने उक्त प्रोडक्ट में जाले ओर इल्लियां निकलने की सूचना मिलने पर तत्काल दुकानदारो की मिलीभगत से बाजार सारा माल  गायब कर दिया।  वही जब इस प्रोडक्ट के उवभोक्ता ने सोना पपड़ी में घटिया सामग्री के मिलावट के साथ जाले ओर इल्लियां निकलने की सूचना जिला खाद्य प्रशासन को दी तो उन्होंने ने पारा नगर की समस्त दुकानों से नाकोड़ा के प्रोडक्ट के लिए छापा मार कार्यवाही की तो नगर में एक भी दुकान पर नाकोड़ा का कोई भी प्रोडक्ट नही पाया गया । वही दुकानदारों ने खाद्य निरीक्षक को जानकारी दी कि पारा नगर में  नाकोड़ा की माल कि डीलिंग विगत करीब चार पांच माह से नही हुई है । जबकि सही बात तो ये की नाकोड़ा के प्रोडक्ट लेकर उसका एजेंट प्रत्येक 15 से 20 दिन में अपना वाहन लेकर पारा नगर की मार्केटिंग करने आता है सारा माल खपाकर जाता हे।  साथ ही नाकोड़ा कम्पनी के मालिक की नगर में रिस्तेदारी भी है जिसके चलते  नगर के व्यापारियों ने रिश्तेदारी का फर्ज निभाते हुवे जिला प्रशासन को गलत जानकारी दी ।  भले ही आम जन की सेहत के साथ खिलवाड़ होरहा हो। इससे उनको काई फर्क पही पडता।


सलमान खुर्शीद की किताब पर भाजपा नेता ने कांग्रेस को घेरा, श्री भावसार ने कहा, हिंदुओं के खिलाफ जाल बुन रही है कांग्रेस पार्टी .


झाबुआ । कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की किताब को लेकर भाजपा के प्रदेश कार्यकारीणी सदस्य एवं पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष दौलत भावसार ने  कांग्रेस पार्टी एवं कांग्रेसी नेता सलमान खुर्शिद को कठघरे में खड़ा किया। श्री भावसार नेे कांग्रेस नेतृत्व पर नफरत की राजनीति और हिंदुओं का अपमान करने का आरोप लगाया। उन्होने कहा कि कांग्रेस हिंदुओं के खिलाफ नफरत का जाल बुन रही है। उन्होंने कांग्रेस आलाकमान एवं काग्रेस के नेताओं से सवाल किया कि क्या हिंदुओं की तुलना आईएसआईएस या बोको हराम से की जाएगी ?श्री भावसार ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता बार-बार हिंदुओं को अपमानित करने वाले बयान दे रहे हैं। इससे साफ है कि ऐसा कहीं न कहीं पार्टी नेतृत्व के इशारे पर होता है। ‘हिंदू आतंकवाद’ शब्द का आविष्कार भी कांग्रेस में ही किया गया था। पूर्व जिलाध्यक्ष श्री भावसार ने कांग्रेस आलाकमान से यह स्पष्ट करने को कहा कि क्या हिंदुत्व की विचारधारा और आईएसआईएस बोको हराम की विचारधारा एक है। उन्होनेे आरोप लगाया कि पिछले 55 वर्षों में कांग्रेस व उसके समर्थन वाली सरकारों ने देश का सांप्रदायिक बंटवारा किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नफरत भरी राजनीति को जनता बार-बार नकार रही है, लेकिन पार्टी लगातार ध्रुवीकरण की कोशिशों में जुटी है। हिंदू समाज सहिष्णु और संवेदनशील है, लेकिन वह किसी राजनीतिक दल को उसकी भावनाएं आहत करने का अधिकार नहीं देता। यह भारत की पंथ निरपेक्षता का अपमान है। श्री भावसार के अनुसार खुर्शीद की किताब को लेकर दिल्ली के एक वकील ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। वकील ने दिल्ली पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा है कि कांग्रेस नेता ने अपनी किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्या- नेशनहुड इन आवर टाइम्स’ में दावा किया है कि साधु-संतों के दौर के हिंदुत्व को इसके आक्रामक स्वरूप से बदलने का प्रयास किया जा रहा है, जो बहुत हद तक आईएसआईएस और बोको हराम की विचारधारा से मिलता है। कांग्रेसी नेता सलमान खुर्शीद की किताब सनराइज ओवर अयोध्या के लांच होने पर श्री भावसारा ने गहरा विरोध दर्ज कराते हुए कहा है कि  इस कितान में सलमान खुर्शीद ने दरअसल हिंदुत्व की तुलना आईएसआईएस और बोको हरम से की है।  इस किताब में कुछ विवादित अंश हैं, जिसकी वजह खुर्शीद पर आरोप लगाया जा रहा है कि उन्होंने इस किताब के जरिए हिंदुत्व को बदनाम करने की कोशिश की है। दरअसल, इस किताब में उन्होंने हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठन आईएसआईएस और बोको हरम से की । उनकी इस किताब पर भाजपा नेता दौलत भावसार ने जबरदस्त हमला बोला है। उनका कहना है कि बहुसंख्यक हिंदू देश में मुस्लिमों को जितना सम्मान मिला है उसके बाद भी खुश नहीं है। मन में इतना जहर भरा हुआ है क्यो ं? श्री भावसार के अनुसार किताब के जिस अध्याय में इसका जिक्र है उसको सैफ्रान स्काई का नाम दिया गया है और ये किताब का पेज नंबर 113 है। शिकायत में ये आरोप लगाया है कि ऐसा लिखकर खुर्शीद ने हिंदुओं की भावनाएं भड़काने का काम किया है। श्री भावसार ने कहा है कि देश का संविधान हर किसी को आजादी से बोलने और अपनी बात रखने का अधिकार देता है, लेकिन इसको जरिया बनाकर भावनाओं को भड़काना, राष्ट्र की गलत छवि बनाना एक अपराध है। ज्ञातव्य है कि अपनी कितान में खुर्शीद ने लिखा है कि हिंदुत्व सनातन और प्राचीन हिंदू धर्म को किनारे लगाने का काम कर रहा है जो हर तरह से आईएसआईएस और बोको हरम की तरह ही है। हालांकि इसमें उन्होंने ये भी लिखा है कि हिंदू धर्म उच्च स्तर का है। उन्होंने ये भी लिखा है कि गांधी जी ने इसको लेकर जो प्रेरणा दी, उससे बढ़कर कुछ और हो ही नहीं सकता है। यदि इस पर कोई नया लेबल लगा लेता है तो उसको मैं क्यों मानूं। उन्होंने लिखा है कि यदि कोई धर्म का अपमान करता है तो हम चुप नही रहेगें । हिंदुत्व की राजनीति करने वालों को भी उन्होंने गलत करार दिया है। अपनी इस किताब में खुर्शीद ने कहा है कि अयोध्या विवाद को लेकर समाज बंटा हुआ था जिसका समाधान सुप्रीम कोर्ट ने निकाला। इस फैसले से न किसी की हार हुई न ही किसी की जीत। उन्होंने किताब के जरिए भाजपा पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कई बार इस तरह की बातें सामने आती रही हैं कि हम जीत गए। खुर्शिद ने ये भी कहा है कि अयोध्या उत्सव को देखकर ऐसा लगता है कि जैसे ये किसी राजनीतिक पार्टी का उत्सव और उसकी जीत है। दौलत भावसार ने कहा कि सलमान खुर्शिद के इन विचारों को कांग्रेस आलाकमान श्रीमती सोनिया गांधी एवं उनके पुत्र राहूल गांधी का पपूरा समर्थन प्राप्त है। उन्होने माांग की है कि सलमान खुर्शिद की इस पुस्तक सनराइज ओवर अयोध्या को तत्काल ही केन्द्र एवं प्रदेश सरकार प्रबतिबंधित करे तथा सलमान खुर्शिद पर देश का साम्प्रदायिक महौल बिगाडने के लिये कानूनी कदम उठावे ।


जिला बाल कल्याण समिति झाबुआ एवं आलीराजपुर के सदस्यांे ने बाल संप्रेक्षण गृह का निरीक्षण किया, बंदी बालकों को मिठाई वितरण कर दीपावली की शुभकामनाएं भी दी

  • बंदी ग्रह से रिहा होने के बाद जीवनभर अपराध मुक्त रहने की समझाईश दी

jhabua news
झाबुआ। जिला बाल कल्याण समिति (न्याय पीठ) आलीराजपुर एवं झाबुआ के सदस्यांे ने 17 नवंबर, बुधवार को बाल सपं्रेक्षण गृह झाबुआ का निरीक्षण कर यहां की व्यवस्थाएं देखी। बाद यहां रह रहे बालकांे से चर्चा भी की उन्हें मिठाई का वितरण कर दीपावली पर्व की शुभकामनाएं प्रेषित की। इस दौरान सीडब्ल्यूसी अलीराजपुर जिले से श्रीमती मंजुला जोशी एवं झाबुआ जिले से युवा सदस्य प्रदीप ओएल जैन ने बाल संप्रेक्षण गृह पहुंचकर समस्त व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। यहां के अधीक्षक छगनसिंह बामनिया ने उन्हे समस्त व्यवस्थाआंे के बारे में अवगत करवाया। इस दौरान बाल संप्रेक्षण गृह के स्टॉफ में काउंसलर मनीषा परमार एवं शिक्षिका मंगला गरवाल भी मौजदू रहीं।


पुनः समाज की मुख्य धारा से जुड़ने हेतु आव्हान किया

इस दौरान सीडब्ल्यूसी झाबुआ के सदस्य प्रदीप ओएल जैन ने सभी बालकों से कहा कि आप भूलवश या क्रोधवश आपसे घटित हुए अपराधांे के कारण यहां आ गए है, लेकिन आपको यहां रहकर भी अपने जीवन में सुधार लाने के सत्त प्रयास करते रहना है। उन्हांेने बताया कि किस तरह आपकों पुनः समाज की मुख्य धारा से जुड़कर अपने जीवन को उज्जवल बनाना है। आलीराजपुर से उपस्थित श्रीमती मंजुला जोशी ने कहा कि यहां से बाहर निकलने के बाद एक अच्छा इंसान बनकर अपने तथा बडे़-बुजुर्गों का भी सामाजिक कुरीतियों से दूर रहने तथा रंजिश ना रखने हेतु समझाईश दी। अंत मंे सभी बालकांे को मिठाईयां वितरित कर दीपावली एवं सभी तैयारियांे की शुभकामनाएं दी गई। पधारे अतिथियांे के प्रति आभार अधीक्षक सीएस बामनिया ने माना।


आखिर क्यों जिला पंचायत के 5 सेवानिवृत्त कर्मचारी आंदोलन के बाद आत्महत्या करने को हो रहे मजबूर ... घ्, जनसुनवाई में आवेदन देकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री के नाम कलेक्टर को दिया आवेदन

  • सेवानिवृत्ति के बाद मिलने वाले समस्त प्रकार के लाभों से हो रहे वंचित

झाबुआ। जिला पंचायत झाबुआ (डीआरडी) के 5 सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने 16 नवंबर, मंगलवार को कलेक्टोरेट मंे जनसुनवाई में झाबुआ कलेक्टर सोमेश मिश्रा को देश के प्रधानमंत्री, महामहिम राष्ट्रपति, मप्र के मुख्यमंत्री, मप्र के महामहिम राज्यपाल, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्री, सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, इंदौर आयुक्त एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत के नाम आवेदन दिया है। दिए गए आवेदन में बताया गया है कि जिला पंचायत झाबुआ से सेवानिवृत्त हुए किशनसिंह खेपड़, मगनलाल गारी, वाहिद शेख़, बापूसिंह भूरिया एवं जानकीलाल केलवा को सेवानिवृत्ति बाद भी प्रशासन द्वारा ग्रेजुएटी, सातवें वेतनमान का एरियर, तृतीय क्रमोन्नति एवं कोरोना काल के कारण वर्ष 2019-20 में रोकी गई वेतन वृद्धि के एरियर जैसी जरूरी एवं महत्वपूर्ण भुगतान अब तक नहीं हो पाया है जिससे सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सकुशल जीवन-यापन करने में काफी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही उक्त कर्मचारी गहरे मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं।


आंदोलन के बाद अब सामूहिक आत्महत्या की चेतावनी

जिला पंचायत में सीधी भर्ती के कर्मचारियों को वैसे भी पेंशन का प्रावधान नहीं है और शासन द्वारा दी जाने वाली अंतरिम राहत भी कर्मचारियों को समय पर नहीं दिए जाने से सेवानिवृत्ति पश्चात सेवानिवृत्त के जीवन यापन की समस्या विकराल हो जाती है। जिला पंचायत (डीआरडी) के सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने जनसुनवाई में दिए आवेदन में साफ तौर पर चेतावनी दी गई है कि 15 दिवस के भीतर अगर उनके हक का भुगतान नहीं किया जाता है तो बगैर किसी पूर्व सूचना के समस्त सेवानिवृत्त कर्मचारी शासन के विरुद्ध चरणबद्ध आंदोलन करते हुए इसे सामूहिक आत्महत्या तक ले जाएंगे, जसकी संपूर्ण जिम्मेदारी मप्र ग्रामीण विकास विभाग के साथ-साथ जिला पंचायत झाबुआ की भी रहेगी।


आखिर क्यों परेशान हो रहे सेवानिवृत्त कर्मचारी

सारी जिंदगी जिस विभाग में अपनी सेवाएं देने के बाद अगर उस कर्मचारी के सेवानिवृत्त होने के पश्चात पेंशन भी नहीं मिलेगी और अपने ही विभाग द्वारा उसके हक का भुगतान भी उसे समय पर न किया जाए, तो उसकी आर्थिक स्थिति खराब होने का जिम्मेदार भी विभाग ही होगा। जिला पचंायत कार्यालय से सेवानिवृत्त उक्त कर्मचारियों को शासन द्वारा स्वीकृत सातवें वेतनमान के एरियर की किसी भी किश्त का भुगतान नहीं किया गया है। शासन द्वारा निर्देशित किसी भी अधिकारी या कर्मचारियों को उसके कुल सेवाकाल में तीन क्रमोन्नति वेतनमान का लाभ दिया जाना है, किंतु अर्द्धवार्षिक आयु पूर्ण होने पर अपने पद एवं सेवा मुक्त हो जाने के पश्चात् भी उसका लाभ नहीं दिया गया है। कोरोना काल के कारण वर्ष 2019-20 में रोकी गई वेतन वृद्धि के एरियर का लाभ भी नहीं मिला है। ऐसी स्थिति मे जिला प्रशासन के मुखिया कलेक्टर सोमेश मिश्रा एवं जिला पंचायत सीईओ सिद्धार्थ जैन को इन कर्मचारियांे के समस्त स्वत्वों के भुगतान हेतु तत्कालीन ही आवश्यक कार्रवाई करवाकर समाधान करना होगा, अन्यथा उक्त कर्मचारी ‘‘करो या मरो’’ की परिस्थिति अपनाने को भी मजबूर होंगे।


जिम्मेदारांे का कहना

- उक्त  सेवानिवृत्त कर्मचारियांे के समस्त लाभांे संबंधी मामलों का प्रकरण बनाकर भोपाल भेजा गया है। वहां से फिलहाल रूका हुआ है। स्वीकृत होने के बाद लाभांन्वित किया जाएगा। इस संबंध मंे मेरे द्वारा जिला पंचायत सीईओ को भी निर्देर्शित कर दिया गया है। " सोमेश मिश्रा, कलेक्टर झाबुआ।

- इस संबंध में जानकारी के लिए जिला पंचायत सीईओ सिद्धार्थ जैन से मोबाईल पर संपर्क करने पर उन्होंने मोबाईल रिसीव नहीं किया।


झाबुआ के श्री गौवर्धननाथजी की हवेली में राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ ने गौ-माता और बछड़े की पूजन-आरती कर बाद सभी गौ-माताओं को करवाया आहार

  • श्री गौवर्धन प्रभु के दर्षन, राजभोग लगाकर प्रसादी ग्रहण की

jhabua news
झाबुआ। शहर के आजाद चौक के समीप श्री गौवर्धननाथ मंदिर (श्री गौवर्धननाथजी की हवेली) मंे राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ के मप्र अध्यक्ष पवन दुबे के निर्देश पर आरजीएसएस की जिला इकाई द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी गौ-माता की पूजन, आरती एवं गौ-आहार का आयोजन रखा गया। बाद श्री गौवर्धन प्रभु के दर्शन का लाभ लेकर भगवान को राजभोग लगाकर सभी ने प्रसादी ग्रहण की। उक्त कार्यक्रम मंे अतिथि के रूप मंे वरिष्ठ समाजसेवी एवं वरिष्ठ रोटेरियन अजय रामावत, इनरव्हील क्लब ऑफ झाबुआ:‘शक्ति’ की अध्यक्ष ऋतु सोडानी एवं सचिव हंसा कोठारी उपस्थित रहीं। वहीं आरजीएसएस से जिला संगठन मंत्री राकेश शाह, जिलाध्यक्ष राजेश चौहान, वरिष्ठ सदस्य अश्विन शर्मा, जिला महासचिव गजरासिंह चौहान ‘दादुभाई’, जिला सह-सचिव रितेश शर्मा, जिला उपाध्यक्ष देवेन्द्र व्यास, जिला मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, जिला कार्यकारिणी सदस्य कृष्णा जायसवाल के साथ महिला इकाई से जिलाध्यक्ष रेखा शर्मा, मीना पाटीदार, विनीता सांवरिया आदि ने सम्मिलित होकर सर्वप्रथम गौ-माता एवं बछड़े को सजाकर गौ-वर्धन प्रभु के समक्ष लाया गया। बाद मोर-पंख, चुनरी से सजाकर तिलक एवं पूजन अतिथियांे ने किया। तत्पश्चात् सभी ने गौ-माता की आरती की।


प्रभु को राजभोग अर्पण कर प्रसादी ग्रहण की

इस दौरान सभी ने गौ-माता एवं श्री गौवर्धन प्रभु के जयकारे भी लगाए। बाद गौशाला में सभी गौ-माताओं को पोष्टीक आहार करवाने का पुण्य लाभ लिया। इसी बीच गौवर्धन प्रभु के पट खुलने पर संगीत वेदनी के साथ दर्शन लाभ लिए। प्रभु के सम्मुख राजभोग अर्पण कर बाद राजभोग (प्रसादी) सभी ने प्राप्त की। उक्त संपूर्ण कार्यक्रम में विशेष सहयोग मंदिर के अधिकारी बृजबिहारी तिवारी, दिलीप आचार्य, शरत पारिक, युवा कान्हा अरोरा, मुकेश कतीजा आदि ने प्रदान किया। अतिथियांे एवं सभी सहयोगियांे का आरजीएसएस ने आभार माना।


मुस्लिम पंचायत शहर झाबुआ की कार्यकारिणी की हुई घोषणा, हुसैनी चौक स्थित जमाअत खाने पर कार्यकारिणी का पदभार ग्रहण एवं स्वागत समारोह हजरत दीदार शाह वली उर्स कमेटी की जानिब से रखा गया

  • सभी का इस्तकबाल कर मुबारकबाद दी गई

jhabua news
झाबुआ। शहर के हुसैनी चौक स्थित जमाअत खाने पर 19 नवंबर, शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद दोपहर 3 बजे से हजरत दीदार शाह वली उर्स कमेटी की ओर से मुस्लिम पचंायत शहर झाबुआ कार्यकारिणी की घोषणा एवं स्वागत समारोह रखा गया। जिसमें बड़ी संख्या मंे समाजजनों ने सम्मिलित होकर सभी नवीन पदाधिकारियांे का इस्तकबाल करते हुए उन्हें मुबारकबाद दी। उक्त कार्यक्रम के आयोजक हजरत दीदार शाह वली उर्स कमेटी झाबुआ के सचिव जुनैद्दीन शेख थे। संक्षिप्त कार्यक्रम के प्रारंभ में मुस्लिम पंचायत के झाबुआ सदर हाजी अब्दुल मजीद शेख ने कार्यकारिणी  की घोषणा करते हुए नायब सदर हाजी मोहम्मद हुसैन, हाजी मोहम्मद जमा, मुश्ताक खान एवं असलम कुरैशी को बनाते हुए उन्हंे अलग-अलग क्षेत्रांे एवं व्यवस्थाआंे का दायित्व सौंपा। सचिव मो. मुज्जमिल खान, संयुक्त सचिव जैनुद्दीन शेख एवं बाबु खान के साथ सलाहकार के रूप में हाजी अनवारूलहक, हाजी सैयद हैदर अली, सैयद अली मैकेनिक, अजीजुउद्दीन काजी एवं गुलरैज कुरैशी को मनोनीत कर उक्त सभी नव-मनोनीत पदाधिकारियों का समाज के वरिष्ठजनों ने पुष्पमाला पहनाकर इस्तकबाल कर मुबारकबाद दी।


पद की गोपनीयता और कर्तव्य की ली शपथ

इस दौरान अभिभाषक संघ झाबुआ के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्ठ अभिभाषक बद्रीलाल सोनी एवं वरिष्ठ सुभाष छाबड़ा ने भी उपस्थित रहकर सभी नव-मनोनीत पदाधिकारियों का स्वागत कर उन्हंे शुभकामनाएं दी। बाद शहर सदर हाजी अब्दुल मजीद शेख ने पद की गोपनीयता एवं कर्तव्यांे के पूर्ण रूप से पालन की शपथ ली। इस दौरान नवीन पदाधिकारियांे ने तालीम कमेटी एवं मदर सा मुस्लिम पंचायत के सहयोग से मुख्य रूप से मदर-से में बच्चांे की दिन की तालिम बनाने की कार्य योजना पर अमल किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित रहे। संचालन दिलावर पेंटर सा. ने किया एवं आभार नवीन शहर सेकेट्री मुज्जमिल खान ने माना।


बहादुर सागर तालाब के सफाई महाभियान में त्रिवेणी परिवार ने प्रदान किया महत्वपूर्ण सहयोग, नगरपालिका एवं पार्षद द्वारा संयुक्त रूप से चलाया जा रहा हलमा रहेगा सत्त जारी


jhabua news
झाबुआ। शहर की शान के रूप के पहचाने जाने वाले ऐतिहासिक समय के बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) की सफाई का महाभियान सत्त जारी है। इस महाभियान की शुरूआत वार्ड क्र. 1 के सक्रिय एवं जागरूक पार्षद पपीश पानेरी ने नगरपालिका की स्वच्छता शाखा के विशेष सहयोग से की है, जो पिछले 4-5 दिनांे से सत्त चल रहा है। तालाब को स्वच्छ और सुंदर बनाने में क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर एवं कलेक्टर सोमेश मिश्रा के मार्गदर्शन के साथ नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार तथा सीएमएओ एलएस डोडिया का भी आवश्यक सहयोग प्राप्त हो रहा है। 19 नवंबर, शुक्रवार को कार्तिक पूर्णिमा के पावन अवसर पर त्रिवेणी परिवार कॉलेज मार्ग द्वारा इस महाभियान में विशेष सहयोग प्रदान करते हुए नगरपालिका के स्वच्छता शाखा प्रभारी कमलेश जायसवाल एवं सहायक स्वच्छता निरीक्षक टोनी मलिया के नेतृत्व मंे तालाब को स्वच्छ और सुंदर बनाने में प्रतिदिन लगे हुए स्वच्छता कर्मियों के साथ मिलकर तालाब से जलकुंभिया और फूल-पत्तियांे आदि का कचरा निकाला गया। बड़ा तालाब पर बने दो मुख्य घाट पुराने शिक्षा विभाग के सामने एवं ऐतिहासिक गुबंजांे के समीप बने घाट को स्वच्छताकर्मियो के साथ मिलकर त्रिवेणी परिवार के सदस्यांे में वरिष्ठ अश्विन शर्मा, गोपालसिंह कुशवाह, भरत सांवरिया, गोपालसिंह गेहलोत, दीपक अरोरा, विरेन्द्रसिंह चौहन, रमाकांत शर्मा, मोंटी सांवरिया, आरेख शर्मा, गजराजसिंह चौहान ‘दादुभाई’, कालू सांवरिया, रघु चौहान, विजय शर्मा सहित त्रिवेणी परिवार के समस्त सदस्यांे ने घाटों पर से जलकुंभिया रस्सी के सहारे बाहर निकालकर बाद उन्हें स्वच्छताकर्मियों को प्रदान की।


दो ट्रेक्टरांे में भरकर अन्यत्र फिंकवाई गई

स्वच्छता शाखा की टीम मंे जितेन्द्र रतन, गौरव पुनिया, मनीष शेरू, अजय, रोहित, कैलाश, मांगीलाल, ट्रेक्टर चालक प्रेमसिंह सिंगाड़ आदि ने मिलकर इन भारी-भरकम जलकुंभियों और फूल-पत्तियांे को बोरो से ट्रेक्टर ट्रालियो मंे खाली कर अन्यत्र स्थान पर फिंकवाई। नगरपालिका की टीम के साथ त्रिवेणी परिवार का यह अभियान सुबह 9 से शाम करीब 4 बजे तक चलता रहा। इस दौरान तालाब के दोनो घाटांे से सैकड़ांे जलकुंभियां निकालकर उन्हें ट्रेक्टरो से ट्रेचिंग ग्राउंड में खाली करवाया गया।


प्रतिदिन अलग-अलग संस्थाओं का लिया जाएगा सहयोग

पार्षद पपीष पानेरी ने बताया कि इस महाभियान में प्रतिदिन शहर की अलग-अलग सामाजिक, धार्मिक, साहित्यिक, सांस्कृतिक, रचनात्मक संस्थाओं, समाज प्रमुखांे और उनके पदाधिकारी-सदस्यांे, समाजसेवियांे, गणमान्यजनों सहित शहर की समस्त जनता का भी सहयोग लेते हुए इस महाभियान में पूरे एक दिन श्रमदान करने की अपील एवं अनुरोध किया जाएगा। पार्षद श्री पानेरी एवं स्वच्छता शाखा प्रभारी श्री जायवाल ने बताया कि सभी के भागीरथ प्रयासांे से यह तालाब ऐतिहासिक समय के पुराने स्वरूप में जल्द ही लौटेगा। इसके बाद तालाब का गहरीकरण सहित सौंदर्यीकरण के अनेकों कार्य यहां किए जाएंगे, ताकि यह स्थान शहरवासियांे के लिए मनोरमी एवं रमणीय स्थल के रूप में तब्दील हो सके।


जिला कांग्रेस ने निकाली भव्य जन जागरण (पदयात्रा), पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया ने तीन काले कृषि कानून वापस लिए जाने पर इसे देष के किसानों की जीत बताया, इंदिरा गांधी एवं किसान आंदोलन में शहीद हुए करीब 600 किसानों को दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि


jhabua news
झाबुआ। 19 नवंबर, शुक्रवार को देश की पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्रीमती इंदिरा गांधी की जयंती के अवसर पर गोपाल कॉलोनी स्थित विधायक कार्यालय पर समस्त कांग्रेसजनों द्वारा पूर्व कंेद्रीय मंत्री एवं झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया के नेतृत्व में कार्यक्रम का आयोजन कर स्व. इंदिरा गांधी को श्रद्धासुमन अर्पित किए गए। बाद यहां से भव्य जन जागरण पदयात्रा निकाली गई। यात्रा का मुख्य उद्देश्य केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जनविरोधी नीतियों, बढ़ती महंगाई, लचर अर्थ-व्यवस्था वादा खिलाफी बढ़ती बेरोजगारी से आमजनों ग्रामीणों को अवगत करवाना रहा। कार्यक्रम दोपहर 11 बजे आयोजित हुआ। जन जागरण पदयात्रा के पूर्व समस्त कांग्रेसजनों द्वारा देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को श्रद्धा ुमन अर्पित कर प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया ने इंदिराजी द्वारा देश हित में किए गए कार्यों का विस्तारपूर्वक उल्लेख किया। तत्पश्चात 11.30 बजे से जन जागरण यात्रा प्रारंभ हुई। यात्रा के दौरान सैकड़ों कांग्रेसी कांग्रेस का झंडा लिए नारेबाजी करते हुए चले एवं केंद्र सरकार के 7 वर्षों तथा राज्य सरकार के 15 वर्षों के क्रियाकलापों से आम जनता, राहगीरों को अवगत कराते हुए जिला कांग्रेस युवा कांग्रेस, ब्लॉक कांग्रेस ,एनएसयूआई के पदाधिकारी कार्यकर्ता पेट्रोल-डीजल, गैस एवं अन्य खाद्य सामग्री के बढ़ते दामों का बखान कर रहे थे।


सभा मंे कांतिलाल भूरिया ने किए विरोध के स्वर मुखर

जन जागरण पदयात्रा के बाद शहीद टंट्या भील चौराहे पर आमजन ग्रामीणों को संबोधित करते हुए विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा कि ‘‘आए थे गंगा का लाल बनकर रह गया अडानी अंबानी का दलाल बन कर कपड़ों से ज्यादा बिक गए कफन भाजपाई कहते हैं मजबूत हाथों में है वतन, कबीरा तेरे जगत में उल्टी देखी रीत अनपढ़ ढोंगी, राज करें शिक्षित मांगे भीख’’ का मुहावरा सुनाते हुए कहा कि केंद्र सरकार राज्य सरकार द्वारा जन विरोधी नीतियों, बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, किसानों की समस्याओं, लचर अर्थ व्यवस्था, जैसे मुद्दों पर सरकार द्वारा नियंत्रण ना होने से कांग्रेस को सड़क पर उतरना पड़ा है। आम जनता अगर विरोध करती है तो उस पर देशद्रोही का आरोप लगता ह।ै भाजपा सरकारों ने इन 7 वर्षों में देश की दिशा ही बदल दी। महंगाई, बेरोजगारी से आमजन का जीना दुश्वार हो चुका है।


7 सालों में देष का किया बंटाढ़ार

जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने क इंदिरा जी के देश के प्रति किए गए कार्यों को विस्तार पूर्वक बताया एवं कहा कि भाजपा ने 13 साल राज किया। कांग्रेस ने 52 साल में देश को बनाया। वहीं विभिन्न दलों ने 8 साल राज किया, पर भाजपा ने तो 7 साल में देश का बंटाधार तक कर दिया। पूर्व विधायक जेवियर मेडा ने कहा कि आज भारत देश झोली फैलाने वाले देशों में आ गया ह।ै बड़े शर्म की बात है केनिया जैसा देश जो 35 सालों तक भीख मांगता था, आज वह हमें राशन दे रहा है। देश में किसानों के खिलाफ जो कानून लेकर आए आज वही कानून इन्हें वापस लेना पड़ रहा है।


यह रहे उपस्थित

इस दौरान जन जागरण यात्रा (पदयात्रा ) को मुख्य रूप से जिला कार्यवाहक अध्यक्ष हेमचंद डामोर एवं रूपसिंह डामोर, जनपद पंचायत अध्यक्ष शंकरसिंह भूरिया, नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नू डोडियार, संभागीय कांग्रेस प्रवक्ता एवं पार्षद साबिर फिटवेल, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र बंटू अग्निहोत्री कान्हा गुंडिया, पूर्व जनपद अध्यक्ष मानसिंह मेडा, जिला कांग्रेस प्रवक्ता आचार्य नामदेव, एनएसयूआई जिला अध्यक्ष विनय भाबर, विधानसभा युवा कांग्रेस अध्यक्ष हेमेंद्र बबलू कटारा ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर धूमा डामोर, वसीम सैयद, किलु भूरिया, कैलाश भूरिया, अविनाश डोडियार, तोलिया सरपंच, भारू मावी गोपाल शर्मा, बंटी डामोर, तेरसिंह भूरिया सहित सैकड़ों कांग्रेस जन उपस्थित थे।


पटवारी हमेशा यौद्धा की भूमिका में रहते है, आपके अनुभव का सभी पटवारियांे को मिलेगा लाभ -ः तहसीलदार शक्तिसिंह चौहान

  • 40 वर्ष से अधिक की लंबी सेवा के बाद पटवारी पद से सेवानिवृत्त हुए गोपाल चौहान का विदाई समारोह हुआ

jhabua news
झाबुआ। पटवारी योद्धा की भूमिका में रहते है, पटवारी ही एक ऐसा कर्मचारी है जो सभी विभागों से जुड़ा रहता है। इतने लंबे समय और एक ही तहसील में रहकर जनता और विभाग में अपना कार्य करना निश्चित ही हम सब मे लिए एक प्रेरणादायक है। उक्त संबोधन तहसीलदार शक्तिसंह चौहान ने स्थानीय निजी होटल में आयोजित पटवारी गोपाल चौहान के 40 वर्ष और 5 महीने की सेवा से सेवानिवृत्त के अवसर पर विदाई समारोह में उपस्थित समस्त राजस्व कर्मचारियांे के बीच मे कहीं। तहसीलदार श्री चौहान ने आगे कहा कि पटवारी ही साल भर बिना थके और बिना रुके कार्य करता है। शासन और प्रशासन से जनता को सीधा जोड़ने वाली कड़ी पटवारी ही होता ह। ,सेवानिवृत्त हुए पटवारी चौहान के लंबे अनुभव को हम सभी को अपने शासकीय कार्यकाल में लेना चाहिए। सेवानिवृत्त कार्यक्रम को संबोधित कहते हुए पटवारी रूपसिंह भूरिया ने कहा कि चौहान का कार्यकाल हम सबके लिए मार्गदर्शन जैसा रहा है। जब भी मुझे या अन्य पटवारी को किसी स्थिति में चर्चा करना होती है, तो हम सब गोपाल चौहान से विचार विमर्श और मार्गदर्शन लेते थे। वही पुष्पेंद्र मेडा ने अपने संबोधन में कहा कि पटवारी की सेवा हमेशा चुनौतियांे से भरी रहती है, ऐसे में इन चुनौतियों से उभर कर सफल सेवानिवृत्त हुए चौहान पटवारी का कार्यकाल सफल रहा ।ये वास्तव में सुखदायक अनुभव जैसा है। मलसिंह डामोर ने अपने संबोधन में पटवारी गोपाल चौहान के बारे में कहा कि पटवारी की भूमिका सभी क्षेत्रों में होती है, ऐसा कोई विभाग नही जो पटवारी से जुड़ा नहीं हो। पटवारी गोपाल चौहान कर्मचारी के साथ सामाजिक और सबको साथ मे लेकर चलने वाले व्यक्ति रहे।


सभी के सहयोग से अच्छा कार्य कर सका

कार्यक्रम के दौरान सेवानिवृत्त गोपाल चौहान पटवारी ने कहा कि मेरी सफल सेवा में आप सभी का समान सहयोग रहा। मैं आप सभी के लिए उज्ज्वल भविष्य की कामना करता हूॅ। संचालन कर रहे श्यामसिंह मेडा ने कहा कि सफल और बेदाग निकलना हर कर्मचारी की लिए सपना होता है। निश्चित ही साथी सेवानिवृत्त पटवारी चौहान ने 40 वर्ष और 5महीने की चुनौती और कांटो भरी नौकरी से सफल और बेदाग निकलना, ये हम सब के लिए सदैव प्रेरणादायी रहेगा। हम सभी राजस्व कर्मचारियों को जब भी किसी सहयोग और अनुभव की जरूरत होगी तो हम सभी सेवानिवृत्त पटवारी गोपाल चौहान का मार्गदर्शन लेंगे। समापन पर सेवानिवृत्त गोपाल चौहान का सभी ने अपनी-अपनी ओर उपहार एवं पुरस्कार देकर उन्हंे सपरिवार सम्मानित भी किया गया एवं खुशी जाहिर की।

कोई टिप्पणी नहीं: