न्यूज़ीलैंड ने भारत को आठ विकेट से दी शिकस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 नवंबर 2021

न्यूज़ीलैंड ने भारत को आठ विकेट से दी शिकस्त

newzeland-beat-india
दुबई, 31 अक्टूबर, न्यूज़ीलैंड ने अपने गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से भारत को आईसीसी टी 20 विश्व कप के ग्रुप दो मुकाबले में रविवार को एकतरफा अंदाज में आठ विकेट से शिकस्त दे दी और सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए अपना दावा मजबूत कर लिया। भारत का लगातार दूसरी हार के साथ सेमीफाइनल में जाने का सपना लगभग टूट गया है। न्यूज़ीलैंड ने भारत को 20 ओवर में सात विकेट पर 110 रन के मामूली स्कोर पर रोकने के बाद 14.3 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर 111 रन बनाकर दो मैचों में अपनी पहली जीत हासिल की। जसप्रीत बुमराह ने न्यूज़ीलैंड के दोनों विकेट गिराए। बुमराह ने मार्टिन गुप्तिल को शार्दुल ठाकुर के हाथों कैच कराया। लेकिन इसके बाद डेरिल मिशेल ने कप्तान केन विलियम्स के साथ दूसरे विकेट के लिए 54 गेंदों में 72 रन की मैच विजयी साझेदारी की। बुमराह ने मिशेल को लोकेश राहुल के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी को तोड़ा। मिशेल ने 35 गेंदों पर 49 रन में चार चौके और तीन छक्के लगाए। विलियम्सन का साथ देने उतरे डेवोन कॉन्वे। दोनों ने 14.3 ओवर में न्यूज़ीलैंड को जीत दिला दी। विलियम्सन ने 31 गेंदों पर नाबाद 33 रन में तीन चौके लगाए जबकि कॉन्वे दो रन पर नाबाद रहे। भारत की तरफ से बुमराह ने 19 रन पर दो विकेट हासिल किये। न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। भारत ने ओपनिंग में लोकेश राहुल के साथ रोहित शर्मा की जगह ईशान किशन को उतारा। किशन ने आठ गेंदों में एक चौका लगाया लेकिन एक बड़ा शॉट मारने के प्रयास में वह डेरिल मिशेल को बॉउंड्री पर कैच थमा बैठे। भारत का पहला विकेट 11 के स्कोर पर गिरा। तीसरे बल्लेबाज के रूप में उतरे रोहित शर्मा ने आने के साथ ही ट्रेंट बोल्ट की बाउंसर को हुक किया लेकिन बॉउंड्री पर खड़े फील्डर ने आसान कैच टपका दिया। हालांकि रोहित इस जीवनदान का फायदा नहीं उठा पाए और 14 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 14 रन बनाकर लेग स्पिनर ईश सोढी की गेंद पर मार्टिन गुप्तिल को कैच थमा बैठे। कप्तान विराट कोहली से खासी उम्मीदें थीं लेकिन 17 गेंदों में बिना किसी बॉउंड्री के नौ रन बनाकर वह सोढी का दूसरा शिकार बन गए। सोढी अपने जन्मदिन पर प्लेयर ऑफ द मैच बन गए। विकेटकीपर ऋषभ पंत ने 19 गेंदों में बिना किसी बॉउंड्री के 12 रन बनाकर एडम मिल्ने की गेंद पर बोल्ड हो गए। पंत का विकेट 70 के स्कोर पर गिरा। हार्दिक पांड्या ने कोई बड़ा शॉट नहीं खेला और 24 गेंदों में एक चौके के सहारे 23 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर गुप्तिल को कैच दे बैठे। शार्दुल ठाकुर तीन गेंद खेलकर अपना खाता नहीं खोल पाए और बोल्ट की गेंद पर गुप्तिल के हाथों लपके गए। रवींद्र जडेजा ने 19 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाये। जडेजा को आखिरी गेंद पर जीवनदान मिला। न्यूज़ीलैंड की तरफ से बोल्ट ने 20 रन पर तीन विकेट और सोढी ने 17 रन पर दो विकेट लिए जबकि एक एक विकेट टिम साउदी और एडम मिल्ने को मिला। 

कोई टिप्पणी नहीं: